बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो

छवि स्रोत,चोधाचोधी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो लड़कियों की: बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो, मेरा नाम सुलेखा है, मैं ग्वालियर की रहने वाली हूँ। मेरी उम्र 35 साल है.

सेक्सी सेक्सी व्हिडीओ दिखाइए

वो अपने मुँह को उसकी गर्दन पर दबाते हुए अपने जीभ को उसकी गाल पर फेरते चाटते… उसका लंड वहीं फांक में काफी देर तक फंसा रहा. बांध क्यों बनाए जाते हैंअब वो इधर उधर की बातें कर रही थी, लेकिन आज वो चुत चटाई की बात नहीं कर रही थी.

उनकी सलवार समीज चुस्त थी, तो शरीर की सारी बनावट साफ साफ समझ में आ रही थी. पूजा सेक्सी वीडियो हिंदीअब आगे:उसने सीमा के घर के पास में ही गाड़ी खड़ी की, मैं गाड़ी से उतरी, वह पीछे से बोला- मैं आप को सात बजे लेने को आऊंगा.

उधर मनोरमा ने उस लड़के से पूछा- जैसा कहा था, फिल्म बनाई थी क्या?उस लड़के ने कहा- आपका कहना हो सकता है कि ना माना जाए.बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो: अब जब भी वो मुझे देखा करती तो मैं जानबूझ कर उसके सामने अपने लौड़े को मसलता और ज्यादातर बिना शर्ट के रहता.

जब मैंने उनकी पेंटी पर हाथ लगाया, तो मैंने महसूस किया कि वो अब तक पूरी तरह गीली हो चुकी थी.तो वो बोली- जब मैं यहां आ कर बैठी तो तुमको पढ़ते देख कर मुझे भी कुछ हुआ.

आही रे माई - बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो

फिर जब भी भाभी सामने आतीं, तो हम दोनों एक दूसरे को देख कर मुस्कुरा देते.मैं खाना खाकर अपने कमरे में चला गया और सोने की कोशिश कर रहा था मगर अपनी सौतेली बहन डॉली के बर्ताव की ओर दिमाग़ जा रहा था.

”चलो देर आई, दुरूस्त आई!- अब खूब जमेगा रंग, जब मिल बैठेंगे पति-पत्नी संग! अब तो हम हर वीकेंड पर ऐसा ग्रुप सेक्स सेशन किया करेंगे… क्या कहती हो?” मैंने खुश होते हुए नताशा का समर्थन किया. बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो इसका तो बॉयफ्रेंड है… मेरा तो 4 महीने से उंगलियों से काम चल रहा है.

अच्छी तरह से उसके लंड को अपने थूक से तर करने के बाद मेरी पोर्न वाइफ ने उसे अपनी कमर के पीछे लेट कर लंड गांड में घुसेड़ने को कहा.

बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो?

मैंने उससे कहा कि आज कल पापा बहुत टेन्शन में रहते हैं, क्या कोई ऑफिस की प्राब्लम है या कुछ और बात है?पहले तो झिझक कर कुछ भी बोलने से ना करने लगा. मैंने अभिलाषा को बेड पर लिटाया और उसकी टांगों के बीच आकर अपने लंड को उसके चूत के चिकने छेद पर रखा. कहकर दोनों हंस पड़ते। अगर कोई दोनों की पसंद का होता तो- हाय! हंक है यार.

तो लालजी आ गया, मैं पेटीकोट में थी और ब्लाउज का पीछे बटन बंद करना था. मनोरमा ने उससे कहा- देखो, जब मेरे साथ रहोगी तो तुम्हारी चुत की कीमत मुझसे आधी ही होगी. अपनी दो जवान बहनों को इस अधनंगी हालत में देख कर मेरा सात इंच का लंड पत्थर से भी ज्यादा कड़क और टाइट हो गया, उसे मैंने अपने हाथ से नीचे दबा लिया ताकि वो कुछ गलत न समझे.

मेरे जीजा ने मेरी दीदी को घुटनों के बल बिठा कर उसके मुँह में अपना लौड़ा दे दिया. वो मुझे देख कर कमेंट करने लगा- अगर तुम्हारी जैसी मेरी गर्लफ्रेंड हो होती नेहा. जब तक भाभी फिर से गरम हो गईं और मेरे ऊपर आकर लंड अपनी चुत में लेकर कूदने लगीं.

मेरे दोस्त ने उसको पटाया था, ये उसने मुझे बाद में बताया कि ये है तो उसकी जुगाड़, लेकिन मैं इसकी चूत का मजा तेरे को भी दिला दूंगा. फिर उसने मुझे जबरदस्ती मेरे बेड पर भेज दिया।उसके कुछ देर बाद मैंने जीजा को जगाया और उनके साथ स्टेशन चला आया.

अब मेरा फ्रेंड अपना लंड मेरी वाइफ के मुँह में दे कर चुसवाने लगा और रंजीत मेरी वाइफ की चुत चाटने लगा.

कुछ ही देर की चुदाई में उसकी चूत रसीली हो गई जिससे लंड ने चूत में सटासट अन्दर बाहर होना शुरू कर दिया.

उसने मेरे ऊपर आके मेरे लंड को अपनी चूत में लिया और धीरे धीरे हिलने लगी मगर उसको ऐसे जम नहीं रहा था. दीदी बोली- मेरा तो सिर्फ आइडिया है तू किसी देसी कपल को भी सैट कर सकता है, पर वो हमारे लिए अजनबी होना चाहिए. अब अपने मन में पद्मिनी बोली- हाय राम… बापू तो शुरू हो गया… मैं क्या करूँ अब… चलो देखती हूँ कि कहाँ तक उसकी पहुँच होती है.

तुम बोलो ये सब छोटी मेमसाब से करना चाहते हो?वो बोला- राम राम मेमसाब, हम तो यह सोच भी नहीं सकते… वरना साहिब हमको जान से मार देंगे. फिर उन्होंने मुझसे पूछा- सेक्स की लत कब से लगी?तो मैं बोला- नहीं, लत तो नहीं लगी, बस कुछ लोग ऐसे मिले जिन्हें इसकी काफी जरूरत थी तो मैंने मदद की बस!वो बोलीं- अच्छा ऐसी बात है. दूसरे दिन सुबह मेरे पुलिस ऑफिसर भाई का फोन आया- जब तुम्हारा पासपोर्ट बन जाए तो तुम मुझे बताना, मैं तुम्हारा वीज़ा लगवा दूँगा और तुम्हें उधर नौकरी भी मिल जाएगी.

पर वो मानी ही नहीं, भाभी बोलीं- अमित तुमसे एक मदद चाहिए, मुझे बच्चे नहीं हैं.

पूरी मस्ती से मेरे लण्ड को सुकन्या रानी खाये जा रही थी … मैं एकाध बार उसके मुंह पर ही कुछ देर के लिए बैठ जाता था जिसकी वजह से उससे सांस लेना भी दूभर हो जाता था … लेकिन इसीमें तो मज़ा है … उसकी मुंह की गर्मी और इस उत्तेजना भरे माहौल में मेरा लण्ड भी चरम पर पहुँचने लगा … मैंने उसके मुंह में झटके मारने की क्रिया को लगभग दोगुनी कर दी और आँखें बंद करके वीर्य को उसके मुंह में ही छोड़ दिया. मैं भी उस चूतिये को झेलता हुआ हूँ हाँ हूँ हाँ किये जा रहा था जबकि मेरा पूरा ध्यान रेखा पर केंद्रित था. और थोड़ी देर बाद जब लंड महाराज फिर से टाइट हो गये तो मैंने आरुषि को बेड के सहारे झुका कर खड़ा करके पीछे से लंड उसकी फुद्दी के मुँह पर लगाकर मैं एक बार थोड़ा पीछे को हुआ और एक झटका लगाते हुए लन्ड को फुद्दी में धक्का मारा तो लंड थोड़ा सा उसके अंदर घुस गया.

ये क्या … बहू ने पैंटी तो पहनी ही नहीं थी तो उसकी रसीली नंगी चूत मेरे सामने थी. बड़ी हॉल नुमा झोपड़ी थी, एक हिस्से में दो भैंसें बंधीं थी, दूसरे में पुआल बिछा दिया था, उस पर दरीनुमा फर्श बिछा था. फिर, उसको अच्छा नहीं लगा क्योंकि उसकी पेंटी से उसके लंड पर रगड़ खाते हुए दर्द हो रहा था, तो उसने धीरे धीरे पद्मिनी की पेंटी को आहिस्ते आहिस्ते उतारना शुरू किया.

फिर मैंने उनको उल्टा होने के लिए कहा और वो अपनी मोटे मोटे चूतड़ दिखा कर उल्टा हो गयी.

फिर कुछ देर बाद उनके मम्मे के गुलाबी निप्पल को अपने मुँह में लेके चूसने लगा और अंत में उनके निप्पल को हल्के से दांतों से काट लिया. कि तभी सुकन्या रानी अपनी गांड उछाल उछाल कर मेरी उंगलियों के ताल से ताल मिलाने लगीं और थोड़ी देर में सुकन्या चीखते हुए आंखें बंद करके चरमानंद का सुख महसूस करने लगी.

बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो मैंने कहा- ठीक है, गाड़ी निकालो और तुम अभी मेरे साथ मार्केट में चलो. ये नाम मैंने प्यार से रखा है, वैसे उसका नाम कुछ दूसरा है… जो मैं लिखना नहीं चाहता.

बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो रमेश बोला- क्यों रीना रानी, बड़ा मज़ा आ रहा है भैया के लंड से? कई बार बोल चुकी थी कि भैया से अपनी चूत चुदवानी है. बेटी पूजा, अब हम किसी दूसरे स्टाइल से चोदते हैं!”पूजा बोली- अब मैं आपके ऊपर चढ़ कर आपको चोदूँगी.

मेरी सेक्सी एडल्ट स्टोरी के पहले भागमेरा नौकर राजू और मेरी बहन-1में अपने पढ़ा किमेरे घर के बुजुर्ग नौकर छुट्टी पर गए तो अपने भतीजे को काम करने के लिए छोड़ गए.

बीएफ वीडियो चुदाई बीएफ

मेरे अजीज पाठको और मेरी प्यारी पाठिकाओ मैंने सच कहा न?चलिए अब स्टोरी आगे बढ़ाते हैं; आप सब भी अपने अपने हाथों से मेरे साथ साथ मजे लेना शुरू करो. तब मैं कल का इन्तज़ार करने लगा, सुबह मैंने नहा कर लंड के बाल साफ किए. पर आाप साहिबान ने सपोर्ट कर मेरा हौसला बढ़ाया, शुक्रिया।जीजाजी भी सुन रहे थे, मैंने उनकी ओर देखा, मुस्करा दिया।हम जीप से स्टेशन पंहुचे, मैं उतरा, दिनेश बोला- भाई साहब! आपके साथ दिन गुजरा याद रहेगा।मैं- दिनेश भाई! मुझे भी आप हमेशा याद रहोगे, आपके साथ बहुत मजा आया.

अब मंजू से सहा नहीं गया, उसने मुझे अपने ऊपर खींचने की कोशिस की लेकिन मैं टस से मस नहीं हुआ! अब बेचैन मंजू मुझे नीचे लेटाकर खुद मेरे ऊपर आ गयी और मेरी पेंट खोल कर नीचे करने लगी. मैंने तुरंत अंकल को लोगों की मदद से अपनी कार की पीछे वाली सीट पर लिटाया और आंटी को आगे सीट पर बैठा कर सीधे अस्पताल ले कर आ गया. मैंने दुबारा फिर वही पोजीशन ली और उसकी चूत पर लण्ड टिका कर धीरे धीरे अन्दर करने लगा.

वहां पर मेरे अम्मी के चाचा के बेटी यानि मेरी खाला नूरी भी आयी हुई थी.

फिर मैंने कहा- मेरा आज का क्या होगा?अभिलाषा कहने लगी- राज जी, आज आपको रेस्ट करना होगा. वो अभी भी नहाने की जगह पर खड़ी थी और उसके भीगे भीगे से बाल उसके गाल से चिपके हुए थे, जो क़यामत बरपा रहे थे, दीदी बहुत मस्त लग रही थी. कौन तुम्हें कुछ कह रहा है?मैं चुप हो गया और कुछ सोचते हुए बोला- ये साड़ी का थान कैसे खुलेगा?मुझे क्या पता, ये तुम्हारा काम है तुम जानो.

भाबी मदमस्त सिसकारियां लेने लगीं और मेरी गांड पकड़ कर अपनी चूत पर दबाने लगीं. पी में।मैंने पूछा कि गगन कब तक आएगा तो सागर ने बताया कि वो किसी डॉक्टर के पास गया हुआ है. फिर मैं नीचे आया और उनके एक मम्मे को अपने मुँह में लिया और दूसरे हाथ से उनके दूसरे मम्मे को दबाता रहा.

मेरी स्टोरी पड़ोस की भाभी और उनकी भाभी की चुदाई करके किस तरह मैं जिगोलो बना. मैंने दराज से क्रीम निकाली और उनकी गांड के छेद पर और उन्होंने मेरे लंड पर क्रीम लगा दी.

मैंने भी उसको अपने ऊपर ले लिया, मैं उसके होंठ चूस रहा था और वो अपनी नंगी फुद्दी मेरे लंड पर कच्छे के ऊपर से ही रग़ड रही थी. मैं तो कई महीनों से परेशान हूँ कि काश कोई मुझे चोद कर कली से फूल बना दे, पर मैंने बदनामी के डर से कभी किसी लड़के को लिफ्ट नहीं दी. तभी भाईजान ने भी अपने लंड को बाहर निकाला और फिर एक तेज़ शॉट के साथ लंड की मलाई को मेरी चूचियों पर गिराने लगे.

पहले तो वो कहता था कि नहीं ऐसा नहीं कर सकता क्योंकि यहाँ से तो मूत निकलता है.

जब बोबों से मेरा मन भरा तो मैंने उनकी पेंटी उतारी और उनकी टांगों को अपने दोनों हाथों से फैलाकर उनकी योनि के होंठों पर अपने होंठ रखे और अपने मुंह से उनकी योनि को चोदने लगा. मैं फूफा जी की तरफ़ चेहरा करके उनके गले में बाहें डालते हुए उनकी छाती के साथ अपने बूब्स दबा कर उनके लंड पर बैठ गयी; उनका लंड फिर से मेरी चूत में समा गया और वो मुझे अपनी गोद में उठा कर खड़े हो गये और खड़े खड़े ही मुझे अपने लंड पर अपनी दोनों बांहों से उठा उठा कर चोदने लगे. कुछ देर बाद मेरे भैया मेरी नंगी भाभी के साथ नंगे ही चिपक कर सो गए।इतना सब देखने के बाद मेरा लंड लोहे की तरह सख्त हो गया था और मैंने वहीं सीढ़ी पर ही बैठे बैठे मुठ मारकर अपना वीर्य निकाल दिया।फिर मैंने अपना मोबाइल निकाल कर टाइम देखा तो रात के 1:30 बज रहे थे, मैं अपने कमरे में आकर लेट गया।दोस्तो, उसके बाद भैया ने सुबह के समय दो बार फिर से चुदाई की थी.

मेरी बहन रीनू सिर्फ पारदर्शी नाईटी में थी उसमें से उसकी चूचियाँ साफ दिखाई दे रही थी, मोटे मोटे चूचों के ऊपर काले निप्पल और नीचे चूत भी… काफी कुछ दिखाई दे रही थी. पहले तो उसने ना नुकुर की लेकिन मेरे जोर देने पर वो मान ही गई और मैंने उसका टीशर्ट उतार दिया। उसकी अर्धविकसित गोलाइयाँ देख कर मेरा मुंह खुला का खुला रह गया था। कम रोशनी में अर्धनग्न अवस्था में वो कमाल लग रही थी.

जो ब्रांडी मैं लाया था, वो आधी आधी मैंने दोनों मगों में डाल दी- अलका मैडम जी आपकी बढ़िया नींद का जुगाड़ यह रहा… अब कॉफ़ी पीजिए और मस्त होकर सोइये. भोसड़ी के खुद पड़ा ही रहेगा क्या?मैं बेड पर से खड़ा हुआ और दोनों को बांहों में भर लिया. क्योंकि उसके चेहरे में वो बात नहीं थी, वो गोरी तो थी लेकिन ठीक ठाक ही थी, उसके बूब्स भी छोटे छोटे थे.

बीएफ सेक्सी वीडियो सील तोड़ने वाली

तुम्हें मज़ा आया?उसने मेरे माथे को चूम कर कहा- मुझे भी बहुत मज़ा आया.

इससे मेरी पेंट में मेरा लंड एकदम खड़ा हो चुका था और मेरा मन कर रहा था कि भाभी को अभी ही चोद दूँ. भाभी ने अपने दोनों हाथों से सेल्फ को पकड़ लिया और सिसकारियों के साथ ही बोलीं- रोहण, अभी जाने दो वरना प्राब्लम हो जाएगी, प्लीज. बाप के लंड को अपने हाथों में लिए अपने मुँह में लेकर जीभ से चाटते चूसते हुए एक अलग सा मज़ा मिल रहा था, जो पद्मिनी अपनी ज़िन्दगी में पहली बार महसूस कर रही थी.

उसकी आँखों के इशारे को देखते हुए मैं महसूस कर रहा था कि वो भी वासना की आग में जल रही है और धीरे धीरे मैं ऊपर की तरफ आने लगा. पीछे से जकड़ेगा तो ज़्यादह ताक़त लगा पायेगा… समझ ले तुझे इनका कीमा बनाना है. दिल्ली का हिंदी सेक्सीमैं एक बड़ी कंपनी में अच्छी पोस्ट पर हूँ, इस वजह से काम बहुत रहता है.

मैंने उसके दोनो बूब्स पकड़े और लंड उसकी गान्ड में पूरा घुसा कर बहन की गांड मारनी शुरू कर दी. फिर कुछ देर बाद मेरा लंड एक बार फिर से तैयार हो गया था वैशाली के लिए…वो भी पूरी तरह गर्म हो चुकी थी.

उन्होंने कुछ नहीं कहा, मैंने तुरंत कहा कि वो आफिस में लैपटॉप की जरूरत पड़ेगी, अगर आपको जरूरत न हो तो लैपटॉप. झड़ने के बाद भाभी वैसे ही मेरे सीने पर सर रखकर लेट गईं, उनकी साँसें धौंकनी की तरह चल रही थीं. रेखा रानी ने धीमे धीमे चूतड़ और चूत हिला हिला कर चोदना शुरू किया और आगे को जितना झुक सकती थी, उतना झुक गई.

मेरी सहेली अक्सर किसी नए कॉलब्वॉय बुलाती है, जब उसके घर कोई नहीं होता है. वो बोला- मगर जब तक यह पानी निकाल कर ढीला नहीं होता, तब तक मैं लंड बाहर निकाल कर क्या करूँगा. मैंने उन्हें मोबाइल देकर बोला- सर किसी का वीडियो बनाकर उसे धमकाकर सेक्स करना.

” बस मैं ऐसे ही चिल्लाती रही और उसने अपने लंड को मेरी गांड की छेद में घुसा दिया.

उसने कहा कि एक काम करते हैं, जब घर पर कोई नहीं होगा, तब हम आराम से मज़े से करेंगे. मैं समझ गया था कि इसका होने वाला है और मैंने अपनी स्पीड बरकरार रखते हुए धक्के लगाता रहा, इसी बीच वो सिसकारी लेती हुई झड़ गयी.

अन्तर्वासना डॉट कॉम पर यह मेरी पहली कहानी है, जो मेरे साथ घटित हुई है. फिर मैं उसको ऊपर वाले कमरे से से नीचे लाया क्योंकि मुझे लाइट ऑन करके चुदाई करने का मन था. थोड़ी देर बाद जीजाजी बाहर झाँकने लगे और मुझे टीवी देखता देख वापिस अन्दर चले गए.

हां बेटा जी, अभी लो!” मैंने कहा और लंड को उनकी चूत से बाहर निकाल कर पास पड़े घाघरे से अच्छे से पौंछा और फिर उनकी चूत को भी बाहर भीतर से अच्छे से पौंछ दिया और फिर से उनकी दहकती बुर में धकेल दिया. फिर मेरी गांड पर क्रीम लगा कर फिर उसने अपने लन्ड को मेरी गांड पे टिकाया और इतना जोरदार झटका मारा कि मैं दर्द के कारण लेट गयी और जोर-जोर से चिल्लाने लगी- साले… बहनचोद निकाल लन्ड… मेरी गांड को फाड़ दिया।लेकिन उसने नहीं सुना और लन्ड धीरे-धीरे आगे पीछे करने लगा. रात को खाना खा कर उनके घर गया और उस रूम में सोने गया, जिसमें आंटी और अंकल सोया करते थे.

बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो मेरी गर्म कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि कैसे मेरे उसके निप्पल का कलर पूछने पर मेरे दोस्त की बीवी नाराज हो गयी थी, लेकिन रात के तीन बजे उसने व्हाट्सअप पर ‘ब्राउन’ के रूप में कलर लिख भेजा था।जिसे पढ़ कर मेरा स्ट्रेस जाता रहा था और नीचे मैंने बस इतना लिख दिया था कि ‘मुझे भी यही लगा था।’बहरहाल, यह पहली बाधा थी जो उसने सफलतापूर्वक पार कर ली थी और मैं आज के लिये इतने पर ही खुश था।दिन गुजर गया. वो कामुक सिसकारियां ले रही थी, आह… प्लीज़… ऊं… आह ऊंउनह… कर रही थी.

ऑंटी बीएफ सेक्सी व्हिडिओ

मैं समझ गया कि अब ये वाईल्ड सेक्स चाहती है, तो मैं भी उसी हिसाब से तैयार हो गया. मैंने देखा कि मेरी बड़ी बहन सोनिया टाँगें फैलाकर अपनी चूत रगड़ रही है और आँखें बंद करके सिसकारियां ले रही है. कैसी रही रात?पद्मिनी आँख मसलते हुई बोली- आज आप अभी तक यहीं हो बापू, खेत नहीं गए और अभी तक लुंगी में हो.

ऐसा लग रहा था जैसे कुछ लावे की तरह उबल रहा है तन बदन में… जो अपने किनारों को तोड़ना चाहता है, लेकिन क्या… कैसे… यह मेरी समझ से परे था और यही बेचैनी मुझे रात भर जगाती रही।सुबह ग्यारह बजे तक मैं सोती रही। किसी के जगाने पर भी न जगी. फिर मजा आने लगता है, फिर शौक हो जाता है फिर बिना मराए चैन नहीं पड़ता।यह अलग बात है कि दोस्त कभी कभी उस दोस्त को खुश करने के लिए उससे भी खुद गांड मरवाते रहते हैं। उसे किसी और चिकने की दिलाते हैं और वह लौंडा लौंडेबाज भी हो जाता है. xxx काटूनमैंने महसूस कर लिया था कि शायद वह परखना चाहती है कि मैं भरोसे के लायक हूँ या नहीं.

और मोटा होने के साथ ये बहुत मजबूत भी है, क्योंकि मैं रोज सरसों के तेल से अपने लंड की मालिश करता हूँ.

आंटी ने कहा- ठीक है बेटा, कोई बात नहीं… पर इसकी आदत मत डालना और तुम्हारी तो शादी नहीं हुई तुम यह सब देखकर क्या करते हो? तुम यह सब मत देखा करो, वरना गलत रास्ते पर चले जाओगे. नेहा ने वैसा ही किया और कॉलेज में कुछ काम है, ये बोल कर वो घर पर रुक गयी.

उसको शायद यह बात पसंद आ गई और बोली- अगर आपकी चुदाई में रात को देर ना लगे तो मैं आपके साथ चलूंगी. इसके बाद अब मैं और वो रोज रात में सेक्स की बातें करने लगे और मुठ मारने लगे. मैंने कहा- वो तो देखूँगी मगर पहली चुदाई मेरी तुम अपने सामने नंगी हो कर उसी तरह से उससे अपनी चुदाई करवाओगी, जैसे उस दिन आशीष से करवाई थी.

दोस्तो, यह थी मेरी और मेरी गर्लफ्रेंड की मां जागृति आंटी की चुदाई की कहानी!इस चुदाई के बाद अब तक मैंने और दो भाभियों और एक आंटी को भी चोदा है पर मेरी प्यारी गर्लफ्रेंड नेहा को अभी तक चोद नहीं पाया हूं, बस उसके होंठ चूम कर और चूचियां दबा कर ही संतोष कर लेता हूं.

मेरी वाइफ गर्भवती होने के कारण नहीं जा सकी लेकिन उसने मुझे कहा- मम्मी घर पर अकेली होंगी तो आप जाओ!तो मैं वहाँ चला गया. मैं आज तक यह कला ठीक से नहीं सीख पाया, कई बार मामला बिगड़ गया, जूते पड़े सो अलग… मेरे दोस्तो, मेरी मदद करें. एकता अब स्पीड से ऊपर नीचे होने लगी थी और उसकी चुत से रस बहने लगा था, जो उसकी गांड तक और लंड पर पता चल रहा था.

सेक्सी छोटी लड़की सेक्सीमैंने उसको एक फोन लेकर दिया, जिसको वो छुपा कर अपनी पेंटी में रखती थी. अगले कुछ पलों में हम दोनों 69 की पोजीशन में हो गए भाबी मेरे लंड को चूसने लगीं और मैं भाबी की चूत को और जोर से अपनी जीभ अन्दर डाल कर चोदने लगा.

हिंदी भाभी सेक्सी वीडियो बीएफ

भाभी ने गुस्सा होते हुए कहा- ये तुमने क्या आम आम लगा रखा है, अभी तक तो मैंने उसको खाया भी नहीं है. मैंने उनसे पूछा- मैं आपका सामान ला दूँगा, पर मुझे क्या मिलेगा?भाबी ने कहा- जो आप कहो. इतना कहते ही उसने तुरंत मेरे पेंट की जिप खोली और लंड को तुरत खींचकर बाहर निकाला.

किचन के पीछे का दरवाज़ा जो बैकयार्ड में खुलता है, अक्सर खुला रहता है. मेरे सपनों की रानी मेरे साथ थी दुल्हन बन मेरे से चुदने को तैयार!मैंने फिर से कहा- आप सबसे सुन्दर, गोरी मस्त माल हो. झड़ने के बाद मैंने उसके चेहरे को देखा, उसके चेहरे पर एक अजीब तरह की सुकून भरी मुस्कान थी.

मगर उसने जब पापा से बोला था कि बच्चा है जब लंड खड़ा होगा तो चुत को ही देखेगा ना… और उससे और उसके दोस्त से चुद कर बिंदु अपनी इसी बात का नतीजा खुद भी भुगत चुकी थी. घर में हम दोनों के अलावा मम्मी और पापा हैं, यह कहानी आज से लगभग 4 साल पहले शुरू हुई. आज उसने जो पैंट पहनी थी वह इतनी टाइट थी कि उसमें से उसकी जांघों के बीच उसकी चूत साफ उभरी हुई दिखाई दे रही थी.

अगले दिन मैं घर में बैठकर खाना खा रहा था और दीदी उसी समय नहाने लगी. रीना- यार, रणविजय की बात अलग थी। यह सब हमने सम्मिलित रूप से किया था और इसमें हम सब भागीदार थे लेकिन श्लोक मेरा भाई है मुझे ऐसी बातें करना अच्छा नहीं लगता।मुझसे नाराज होकर तथा डांट कर रीना सो गई.

फिर शाजिया अप्पी को ब्लैकमेल करूँगा कि वह चच्ची को ले के कहीं बाहर टहल आयें रिश्तेदारी में। या सुहैल समेत तुम्हारे ननिहाल ही हो आयें.

उसका 34-30-32 का फिगर मेरे लंड में हलचल पैदा कर रहा था, मुझे बार बार यही ख़याल आ रहा था कि वह अपनी चूचियाँ और गांड हिलाते हुए कैसे चुद रही होगी. செக்ஸ் பிக்சர்क्योंकि उनको कुछ भी काम होता था या बाहर से कुछ लाना होता था, तो मैं ही वो सारे काम करता था. गांव की सेक्सी लड़की की चुदाईअब मनोहर ने मेरे मुँह से अपना लंड निकाला, मुँह से लंड निकलते ही मैं चीखने लगी, रोने लगी, बोलने लगी कि चाचा छोड़ दो मुझे, मुझे नहीं करवाना बहुत दर्द हो रहा है, मैं मर जाऊंगी मुझसे दर्द बर्दाश्त नहीं हो रहा. तभी मेरी मुलाकात बघेल नाम के एक हट्टे कट्टे और मोटे लंडधारी से हुई.

भाबी तो जैसे पागल ही हो गईं और बड़बड़ाने लगीं क्योंकि उनकी चुत पहली कोई बार चाट रहा था.

कैसे मैंने पड़ोस की भाभी और उनकी मुँह बोली भाभी की जमकर चुदाई की और फिर उनकी भाभी ने मुझसे अपनी सहेलियों को चुदवाकर मुझे जिगोलो बनवा दिया. वह भी उसकी पीठ की तरफ से आ कर सटा तो रज़िया ने मुझे छोड़ दिया और उसी अंदाज़ में नितिन से चिपक कर उसे रगड़ने लगी।कुछ देर बाद हाँफते हुए रुक कर मुझे देखने लगी- उस दिन की तरह कुछ मलाई वगैरह भी रखे हो क्या?हाँ-हाँ!” जवाब मेरी जगह नितिन ने दिया. उसकी खूबसूरती पर, उसकी लम्बे काले बालों पर, उसके उभरे हुए चूचों पर, उसकी थिरकती कमर पर, उसके जिस्म के हर एक हिस्से पर और उसकी अदाओं पर गहरी नजरें इस तरह से गड़ाते थे, मानो उसको समूचा निगल जाना चाहते हों.

भाभी का फिगर तो ऐसा जानलेवा था कि बस जो एक बार देख ले, तो उसका लंड खड़ा न हो जाए तो कहना. अब उसकी बारी थी मेरी चूत को चाटने की, तो इस काम में वो बहुत ही माहिर था. उसने बड़ी गर्मजोशी से मेरे पूरे बदन पर किस किया और फिर मेरा लंड चूसने लगी.

सेक्सी फिल्म व्हिडिओ बीएफ

मैं मन ही मन आपको प्यार करती थी और चाहती थी कि मेरे प्यारे भाईजान ही सबसे पहले मुझे चोदकर मेरी जवानी का मज़ा लें. इतनी सुन्दर नूरी खाला मुझे अता फरमाने के लिए मैंने अल्लाह का शुक्रिया अदा किया और बोला- मेरी जान, अपनी आँखें खोलो और मुझे देखो!उन्होंने आँखें खोली और हल्की से मुस्करायी मैंने उनके ओंठों पर एक नर्म सा चुम्बन ले लिया. सोनिया ने झुक कर अपने गोरे गोरे मम्मे दिखाए और कहा- पहले आप कसम लो.

उसके रशीले होंठों का रसपान करते हुए मैं धीरे धीरे अब अपने शरीर से ही उसके बदन पर दबाव भी डालने लगा जिससे वो धीरे धीरे सीधी होने लगी और मैं उसके ऊपर चढ़ने लगा.

मैं अपना लंड कड़क करके उसके सामने जाता, जिससे मेरे पजामे में तंबू बना रहता और बिना अंडरवियर के मेरे लौड़े का आकार और लम्बाई अच्छे से दिखाई देती.

धीरे से मैंने अपने लोअर को नीचे किया और अपना मोटा तगड़ा लंड अभिलाषा के सामने खोलकर उसके हाथ में पकड़ा दिया. तो उन्होंने रोकते हुए कहा- अरे मुझे केवल आम चाहिए, गुठली (पैकेट) अपने पास रखो. चाइनीस सेक्सी वीडियो डाउनलोडअब मैंने प्लान बनाना शुरू कर दिया कि कैसे उसकी चूत का रस पियूँगा और अपना लंड उसके हाथ में दूंगा और मेरा लंड किस करेगी.

उसने हां बोलने में एक मिनट भी नहीं लगाया, बोली- मैं रोज़ ही उसे तुम्हारे कमरे में भेज दूँगी यार. तभी एक दबी हुई चीख के साथ भाभी ने अपनी चूत का सारा पानी मेरे मुंह पर छोड़ दिया और उठ के मुझे किस करने लगी, किस करते हुए, मेरे मुँह में भाभी की कामुकता का जो पानी था वो मैंने भाभी के मुँह में छोड़ दिया।अब मैंने फिर से भाभी की टांगें फैलाई और अपना लंड ले जा के भाभी की चूत पर रख दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा। भाभी तो जैसे अब पागल सी होने लगी और अजीब अजीब आवाजें निकालने लगी. चूँकि मैं यह चाहता था कि जब मोटी का नंबर आए तब तक वह ताजी ताजी झड़ी हो और पतली भी यहाँ अपनी कुछ जरूरत से ज्यादा टाइट योनि के साथ मजे ले रही थी.

एक दिन मेरे एक दोस्त का जन्मदिन था तो उसकी पार्टी में मैंने भी शराब पी ली. चूंकि मेरे पापा हार्ट के मरीज़ थे और एक बार छोटा सा अटैक आ भी चुका था.

फिर भैया ने भाभी कि ब्लाउज की डोरी पकड़ कर खींच दी और ब्लाउज उतारकर अलग कर दिया, मेरी दुल्हन भाभी अब ब्रा में थी।दोस्तो, मैं आपको भाभी के बारे में बताना ही भूल गया.

तीन चार दिन पहले जब हम लोग बैंगलोर से साथ चले थे तो बहू की चूत एकदम चकाचक सफाचट क्लीन शेव्ड थी पर आज चूत के चहुँ ओर नाखून के बराबर झांटें उग आयीं थीं. मैं यह बात सुनकर खुश हो गई और बोली- मजाक तो नहीं कर रहे हो? सच नहीं हो तो मत बोलना।जीजा बोले- पक्का वादा, ड्रेस दिलवाऊंगा!मैं बोली- कल मैं अपने घर जा रही हूं, आप कल की जगह परसों आओ, मैं मम्मी को बता दूंगी कि सुरेन्द्र जीजा मुझे ड्रेस दिला रहे हैं. उस अंडरवीयर को देख कर मैं विचलित होने लगी कि इतना बड़ा लड़का नंगा नहा रहा है…मैं उत्सुकतावश उसकी ओर मुंह करके राज का दरवाजे से निकलने का इंतजार करने लगी.

ब्लू सेक्सी दे दो मैंने अभिलाषा को अपने सीने से लगा लिया, मेरा लंड उसकी चूत से टकराने लगा. मेरे जीजा ने मेरी दीदी को घुटनों के बल बिठा कर उसके मुँह में अपना लौड़ा दे दिया.

उस फ़िल्म में दो महिलाएं एक पुरुष का लंड हाथ में लेकर आगे पीछे कर रही थीं. अब मैं भी देर न कर करते हुए भाबी के ऊपर चढ़ गया और अपना लंड उनकी चुत पर रगड़ने लगा. जबकि वह अपने लिंग को अपने दोनों हाथों में दबाने छुपाने की कोशिश करता एकदम नीचे उकड़ू बैठ गया था।यह क्या है?” मैंने अपने कुरते पर आये सफ़ेद लसलसे पदार्थ को उंगली से छूते हुए कहा- क्या हो गया तुझे? और यह क्या है सफ़ेद-सफ़ेद?तुम जाओ.

हिंदी बीएफ सेक्सी देसी बीएफ

मैं ये सोच ही रहा था कि उसने फ़ोन नंबर लिया या नहीं कि तभी मेरे व्हाट्सएप पर मैसेज आया. रंजीत ने एक तेज धक्का मारा तो आधा ही लंड मेरी वाइफ की चुत में जा पाया. उनके चूचे काफी बड़े थे और वेल शेप्ड थे कि बस देखते ही चूसने का मन करता था… मैं उनसे कुछ कह तो नहीं पाता था, लेकिन उनकी मटकती आँखों से मुझे लगता था कि आग उनकी चुत में भी लगी थी.

गगन मेरे पीछे-पीछे आया और बोला- सॉरी यार… लेकिन वैसा कुछ भी नहीं है जैसा तू सोच रहा है. दोनों ने अपनी बहुत सी सहेलियों से भी मिलवाया और फिर उनकी भी चुत दिलवाई, जो मैं आगे की कहानियों में लिखूँगा.

मुझे ख़ास कर विवाहित, आंटियां, अधेड़ उम्र की महिलायें बहुत पसंद हैं.

मैं अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड को चोदने की दास्तान सुनाने जा रहा हूं. मैंने उनकी बात ना सुनते हुए एक और झटका मारा और पूरा लंड भाभी की चुत में घुसा दिया. देखते ही देखते एक तेज स्वर के साथ के साथ मैं पहले स्खलित होने लगा मेरे स्खलन से हुए लन्ड के तनाव और गर्म वीर्य से मंजू भी मेरे साथ साथ में स्खलित हो गयी, उसकी सिसकारियों से कमरा गूंज उठा.

एक दो बार बैठने के बाद जैसे उसने बैठना चाहा तो मैंने कहा- मोटी मुझे जान से मारेगी क्या? इतना मोटी हो, मैं तो मर जाऊंगा, मेरे ऊपर मत बैठ!तब जाकर वो मानी, अब वो और वाइल्ड हो गई और धान कूटने जैसा मेरे लंड को कूट रही थी, जब थक जाती तब थोड़ा रुक जाती, फिर से धान कूटने जैसा मुझसे अपना गांड मरवाती रही. वो ऐसे किस कर रही थीं कि मैं अपने आपको रोक नहीं पाया और उन्हें अपनी बांहों में पकड़ लिया. चूँकि मामी की हालत तो बिगड़ी हुई थी तो मैंने उन्हें उठाया, चादर बदली, वीर्य वगैरह साफ किया और कपड़े पहनाकर सुला दिया.

मैंने उससे कहा- मुझसे शादी करोगी?उसने कहा- इसके बारे में बाद में बात करेंगे.

बीएफ मूवी डाउनलोड वीडियो: तब जूसी रानी को एक बार चोद के सुला दिया और चले गए घर में ठहरी हुई रानी की आगोश में. मैंने जैसे तैसे अपने आप को संभाला और दोबारा अपनी आंख किवाड़ की दरार से लगा कर अन्दर का नज़ारा देखने लगा.

मैं इंटरनेट पर फेसबुक सबसे ज्यादा चलाता हूं, वहीं से मुझे इस कहानी की हीरोइन मिली. थोड़ी देर बाद उसे सीधा लेटाकर उसकी जुबान अपने मुँह में ले ली और भयंकर तरीके से चूसते हुए उसको किस करने लगा. जैसे ही मैं बाजार से वापस आया तो मैंने सीधे अपने कमरे में जाकर आंटी की नाम की मुठ मारी.

इसलिए मैं चुपचाप आपके सामने लेट गयी और आपने अपना काला हब्शी लंड मेरी चूत में पेल दिया.

फिर हमने गेट बंद किया और मैंने उससे अपनी बांहों में उठा कर ‘बेडरूम कहां है?’ ये पूछा. जैसे ही उससे आँखें चार हुईं, मुझे फ़ौरनमालूम हो गया कि इस क़यामत को चोदना तो पड़ेगा ही, वर्ना चैन नहीं मिलेगा. मेरा नाम तुषार है, मैं महाराष्ट्र के जलगांव का रहने वाला हूँ, बात आज से 15 साल पुरानी है, मेरी उम्र तब 22 साल की थी, हम किराये के मकान में रहा करते थे, घर में मैं, बड़ा भाई, मम्मी पापा थे, मम्मी पापा भाई जॉब करते थे तो 10 बजे घर खाली हो जाया करता था।हम नीचे के फ्लोर पर रहते थे और ऊपर डॉक्टर मकान मालिक अपनी बीवी, एक बेटा और एक बेटी के साथ रहता था.