सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ पिक्चर चोदने वाली दिखाओ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी फोटो सेक्सी लड़की: सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ, वायग्ररा के असर और दीदी के ब्लो जॉब से मेरा लंड बहुत टाइट हो गया था.

बीएफ सेक्सी चुदाई लड़की

इसलिए आज मैंने भी सोचा कि मैं भी अपनी रियल सेक्स कहानी आपको सुनाऊं. स्टूडेंट की सेक्सी बीएफमैं बोला- वादा किया।भाभी- मुझे भी संभोग करना है तुम्हारे साथ!मैं बोला- भाभी, अभी मेरी बिल्कुल ताकत नहीं बची है।भाभी बोली- कोई बात नहीं.

हथेली पर तेल लेकर मैंने अपने लण्ड की मसाज की और थोड़ा सा तेल अपनी बाईं हथेली पर डालकर मैं बिस्तर पर आ गया. हिंदी बीएफ गाने बीएफज़ेबा ने आधी अधूरी तैयारी के साथ जैसे तैसे एग्जाम दिया और सेकेंड डिविजन से पास भी कर गयी.

आकाश- तुम दोनों यहां पर?नीरज- जीजा जी, आप यहां पर?नताशा- जिया, तुम दोनों तो लंडन जाने वाले थे राइट!नीरज- यस दीदी … लेकिन लास्ट टाइम मेरी मीटिंग कैंसिल हो गई.सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ: उन्होंने रात में पहनी जाने वाली एक पारदर्शी मैक्सी पहन ली थी, जिसमें से उनका शरीर साफ़ दिख रहा था.

मैंने उनको अपनी बांहों में ले लिया और धीरे से हाथ आगे करके उनके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया.ज़ेबा ने जैसे ही बाथरूम के दरवाजे को नॉक किया, मैंने दरवाजे ओपन कर दिया.

बीएफ गाना वाली सेक्सी - सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ

फिर हम तेजी से मुठ मारने लगे और तीनों टिश्यू पेपर में झड़ गए और चैन की श्वास लेने लगे.”नहीं कल नहीं, व्हिस्की का मजा शाम को पीने में है, सात बजे पीना शुरू करो तो दस बजे तक पीते रहो.

निष्ठा की चूत फटते ही भयंकर तेज बिजली देर तक कड़कती रही जिसकी चकाचौंध तेज रोशनी में कमरा नहा उठा और लगा जैसे निष्ठा का कौमार्य भंग देख स्वयं इन्द्रदेव हर्षित हो रहे हों. सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ अनिल भैया- तू किसी भी बात की चिंता मत कर … मैं हूँ न अब तेरे लिए … किसी भी बात के लिए मैं सदा तेरे साथ हूँ.

उसमें पानी होता हुआ पाइप में होता हुआ भाभी के गांड में जाने लगा और भाभी की गांड बढ़ने लगी।भाभी बोली- सचिन क्या कर रहे हो? मेरा पेट भर रहा है पानी से!मैं बोला- चुप रहो, अभी तुम्हारी गांड की सफाई कर रहा हूं।और जब भाभी को बर्दाश्त नहीं हुआ तो बोली- सचिन बस करो.

सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ?

मेरे होंठों को चूसने के बाद उन्होंने मेरी मैक्सी में दिख रही मेरी वक्षरेखा पर अपने होंठों को रख दिया. ”क … क्यों?” उसने हैरानी भरी नज़रों से मेरी ओर देखा।अरे बताता हूँ पहले होओ तो सही?”नहीं … नहीं मैं पीछे से नहीं करवाऊंगी … उसमें बहुत दर्द होता है. कुछ पल तक मेरे वक्षों को मसाज देने के बाद उसने अपने मजबूत हाथों से मेरी जांघों को मसाज देना शुरू कर दिया.

कुछ दिन कॉलेज में सब ठीक ही था मैं रीतेश सर को घूर घूर के देखती थी और वो भी मुझे चोर निगाहों से देखते थे. इस समय कोमल की हालत बहुत पतली थी और वो दर्द को सहते हुए मेरे धक्के झेल रही थी. मैं अपने लंड को आंटी के पजामे के ऊपर से ही उनकी चुत में भौंके जा रहा था.

‘हैंअ … जब इसमें कुछ कुछ होता है, तो ये बड़ा हो जाता है … और जब कुछ कुछ नहीं होता, तो ये छोटा बन जाता है. उसने मुझे रोका और कहा- अगर तुम नहीं रुके, तो मैं आज तेरी गांड मारे बिना नहीं मानूंगा. एक बात तो पक्की थी कि इन दो दिन में मैं कोमल की चुत और गांड दोनों खोल दूंगा.

अब तक की मेरी इस मस्त सेक्स कहानी में आपने पढ़ा था कि मैं अपनी बहन चित्र को चोद रहा था, तभी मेरे डैड का फोन आया और उन्होंने दीदी से मेरी शादी की बात की. अपने से दूर जाती वसुंधरा के सुडौल नितम्बों की ऊपर नीचे हिलौर देख कर मेरे मन में एक वहशी सवाल आया कि आज इस काली साड़ी-ब्लाउज़ के नीचे वसुंधरा ने अंडरगारमेंट्स कौन से रंग के पहन रखे होंगें?तत्काल मेरे दिल ने कहा ‘काले रंग के.

मैंने ही अपने पैरों को पूरा फैलाते हुए कोशिश की कि फांक थोड़ा और फैल जाए, तो उंगली अपने आप अन्दर चली जाएगी.

सुहास ने मुझे हग करते हुए कहा- बेबी तुम्हें तो मैं जिंदगी भर प्यार दे सकता हूँ.

मेरी चुत पर हाथ फेरते फेरते वो मेरे चेहरे को सामने से बड़ी वासना से देख रहा था. अगर आकाश ने देख लिया, तो उसको जरूर शक हो जाएगा कि मैं किसी और के साथ सेक्स के मजे ले रही हूँ. उसने लंड चुसवाते हुए मुझसे पूछा- गांड मारवाएगा क्या, प्लीज मरवा ले!पर मैंने मना कर दिया.

मेरा हाथ भी रवि के पेट से होता हुआ उनके पायजामे के अंदर उनकी चड्डी में चला गया. धर मेरा लोहे जैसा अकड़ा हुआ लंड देख कर, सूंघ कर उसकी कामोत्तेजना बढ़े जा रही थी. मैं कॉफ़ी बनाती हूँ … आप आईये और मेरे साथ चल कर किचन में बैठिये, दोनों बातें करेंगे.

इतना कहकर मैंने उसे बेड पर लिटा दिया और उसके होठों पर अपने होंठ रखकर उसकी चूचियां मसलने लगा.

इसके लिए आप सभी को ऊपर छत की ओर जाना पड़ेगा, जहां से फिर बाहर निकलने का रास्ता पता चलता है. सिर्फ निप्पल सख्ताये हुए थे क्योंकि रानी पर अब चुदास पूरी तरह चढ़ चुकी थी और चुदासी लड़की के निप्पल सख्त हो ही जाते हैं. कई बार तो ये सोच कर कि जब मेरी ही आंखों के सामने कोई और मर्द मेरी बीवी की चुदाई करेगा तो कैसा लगेगा, ये सोच कर मेरी भी लुल्ली खड़ी हो जाती थी.

रोहित बेहद कसमसा रहा था … और संजू ‘उम्ह … उम्हअअ…’ करते हुए रोहित के आंड चूसे जा रही थी. उस्ताद बोले- शाबाश! ऐसे ही ढीली करे रहो बस…अह्ह।इतना कह कर उन्होंने पूरा लंड मेरी प्यासी गांड में पेल दिया. दोस्तो, मैं ‘आजाद गांडू’ अपने साथ हुई एक और घटना को आपके सामने बताने जा रहा हूं.

”अब तो शाम में मर्द लोग भी मेरे घर में जमने लगे थे, पर मैं दारू सिगरेट एकदम से बंद कर रखा था.

लौड़ा जब खड़ा हो गया तो उन्होंने लंड को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. अब बारी थी नीरज की, इसलिए वो अपनी बहन नताशा के बारे में सोच रहा था.

सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ रोशन ने पीछे हट कर खुद को मेरी पकड़ से छुड़ाया और अपने होंठों को हाथ से पोंछते हुए बोला- अरे … अरे … बस! आपको लौंडिया दिलवा दूंगा. फिर धीरे धीरे वो मुझे अपनी चूत की तरफ खींचते हुए लंड को अपनी सुविधानुसार अन्दर कर रही थी.

सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ मेरे मुँह से कराहने की जगह मादक आवाजें निकलने लगीं- आह भाई … हम्म भाई जोर से करो भाई … बहुत मज़ा आ रहा है. लाल मैरून रंग का सुपारा अम्मी की गुलाबी गांड में जाने के लिए बेकरार हो रहा था.

साथ ही उसने तकिया के ऊपर एक मोटा वाला तौलिया भी बिछा दिया, क्योंकि वो जानती थी कि चूत से खून निकलेगा ही.

सेक्सी बहन की

मैंने लंड का पानी उनके मुँह में ही गिरा दिया, वो भी किसी भूखी रंडी की तरह सारा वीर्य गटक गईं. वो भी परम संतुष्टि के भाव से हट कर बाथरूम में जाकर फ्रेश होकर बाहर आ गयी. मैंने उसके पूरे चिकने मदमस्त बदन को चूमते हुए धीमे से उसकी गीली पैंटी निकाल दी.

मुझे परेशान होता देख कर भाभी बोली- तुमने इतने मजे लिये हैं तो थोड़ी सज़ा भी मिलेगी. मम्मी दोनों के बीच में बैठी हुई थी और दोनों मम्मी की जाँघें सहला रहे थे. उसने अपना नाइट सूट पहना हुआ था जिसकी कुर्ती उसकी कमर के ऊपर तक आ गयी थी.

उसके बाद दस मिनट तक हम एक दूसरे के मुंह में जीभ डालकर किस करते रहे.

मैंने जल्दी जल्दी चार छह धक्के मारकर अम्मी की गांड से अपना लण्ड निकाल लिया और रुकैय्या के करीब आते हुए पूछा- गांड मरायेगी?अपने दोनों कानों को पकड़ कर रुकैय्या ने इन्कार कर दिया और बोली- न बाबा न, तुम्हारा लण्ड अम्मी की गांड नहीं झेल पाई, अम्मी चिल्ला पड़ीं, तुमसे गांड मरा कर मुझे सारा मुहल्ला नहीं जगाना है. फिर उसने कहा- चलो घर चलते हैं, वैसे भी ये कोई कॉफी पीने का टाइम नहीं है कुछ और पिलाती हूं. जैसी कहानियां मैंने उनकी पढी थीं उनसे कहीं ज्यादा मजा चुदाई का मुझे वो दे रहे थे.

मनीषा भाभी ने अपने दोनों हाथ अटेंडेट वाली सीट पर रख लिए और अपनी गांड पीछे कर ली. मुझे बाजार घूमने का मौका भी मिल जाता और भाभी को देखने का अवसर भी मिल जाता. वहां बैठी सभी लड़कियां मेरी बेबसी का मजा ले रही थीं और मुस्कुरा कर तमाशा देख रही थीं.

हालांकि इतना टाईम कभी नहीं मिलता था कि कुछ ज्यादा कर पाएं … पर हम ज्यादातर किस विस कर लेते हैं. मैंने फिर कहा- घबरा मत डार्लिंग, प्रियंका से पूछ कर देख कितना मज़ा आता है.

एकाएक संजू बोली- अब बस …एक आज्ञाकारी कुत्ते की भांति रोहित ने चुचियों को चूसना छोड़ दिया. फिर एक मिनट के बाद मैंने भी उसकी चूत में वीर्य की धार मार दी और उसके ऊपर गिर गया. वहां उसने मुझे उल्टा झुकाया और मेरी पैंटी मेरे शरीर से अलग कर दी और एक जोर का थप्पड़ मेरे चूतड़ों पर दे मारा.

उसने सोनम की पैंटी को धीरे धीरे करके उतार दिया और मेरी बीवी की क्लीन चूत शेव नंगी हो गयी.

वो बोला- वाह … साली। तेरी जैसी दो टके की रंडी कहीं नहीं मिलेगी जो अपनी ही गांड से निकले हुए वीर्य को फर्श पर से चाट ले. कुर्सी पर बैठी एक हाथ से एक चूचा निचोड़ रही थी, तो दूसरे हाथ की उंगली से भगनासा ज़ोर ज़ोर से रगड़ते हुए हाय हाय हाय चिल्ला रही थी. स्कर्ट निकलने के बाद दीपिका मेरे सामने सेक्स की देवी की तरह पूरी नंगी पड़ी थी.

कोई भी सफलता … जिम्मेवारी लाती है और बड़ी सफलता तो … बड़ी जिम्मेवारी लाती है. आगे की मौसी की चुदाई कहानी अगले भाग में!आपको मौसी की चुदाई यह कहानी कैसी लगी आप अपने विचार और सुझाव मुझे भेज सकते हैं.

भाभी ने भी अपनी कमर थोड़ी ऊपर कर दी जिससे मुझे उसकी पैंटी उतारने में दिक्कत नहीं हुई और मैंने उसकी पैंटी निकाल दी।अब भाभी मेरे सामने पेट के बल लेटी हुई थी पूरी नंगी. फिर उसका पेट और धीरे धीरे मैं उसकी चूत पे आ गया। चूत पर जीभ रखते ही वो पागल सी हो गयी वो गीली होने लगी।मैंने उसकी चूत को दो उंगली से खोला और फिर एक उंगली से उसको अंदर बाहर करने लगा।वो मचल रही थी। उससे भी चुदास सहन नहीं हो पा रही थी. वे दोनों आपस में झगड़ा हो जाने पर एक दूसरे को मनाने के लिए मेरा सहारा लेते थे.

आदिवासी हिंदी सेक्सी पिक्चर

ज़ेबा ने आधी अधूरी तैयारी के साथ जैसे तैसे एग्जाम दिया और सेकेंड डिविजन से पास भी कर गयी.

इसलिए पहले मैं उस पानी को थोड़ा सा पीती हूं … और अगर तुझे पसंद आए … तो तू भी पी लेना. तीन दिन लगातर उसे हचक कर चोदने के बाद मैंने उससे कुछ दिन रेस्ट करने की कहा. इसके आगे की सेक्स कहानी में जेबा का निकाह मुझसे हुआ और मैंने उसकी सील पैक चुत को तोड़ने की कहानी लिखूंगा.

जब मैं चाची के घर गया, तो वहां पर मेरे और चाची के अलावा कोई और नहीं था. फिर रूम में जाकर धीरज ने रीना को बेड पे गिरा दिया और उसके ऊपर आकर जोर जोर से चूचे चूसने लगा. चूत चूत बीएफफिर मैंने उसकी चूत में उंगली डाल दी और उसकी चूत में उंगली चलाने लगा.

मैंने कहा- सोच क्या रही हो? अब इस बेचारे को अपने होठों की गर्मी का भी अहसास करा ही दो।अब हीना जैसे होश में आई, और उसने नजर हटाते हुए कहा- जाइये सर आप हल्का हो लीजिए!मुझे खुद पर गुस्सा आ रहा था क्योंकि मैंने हीना का ध्यान भंग किया था. संजना झड़ने की वजह से पूरी तरह से कांप रही थी और उसने उत्साहित होकर शीना की चूत को पूरी तरह से चबा दिया … जिस वजह से शीना भी झड़ गई और उसकी भी चीख निकल गयी.

मेरे मुंह से दर्द भरी आवाज निकली और भाभी के मुंह से भी हलकी सी चीख निकल गयी!कविता भाभी मेरे लंड पर कूदते हुए मुझसे कह रही थी- हां सचिन, कब से मैं तुझसे चोदना चाहती थी। आज आया है तू मेरी चूत के नीचे. फिर मैं नताशा को उठाकर हॉल वाले कमरे में ही ले गया और आकाश, मेरी चित्रा दीदी को उठाकर हॉल में पड़े सोफे पर ले गया. तब मुझे मालूम हो गया कि उसने मेरी चुत में ही अपना वीर्य छोड़ दिया है.

उनका भी शायद मूड हो गया था तभी गढ़ों में से और ब्रेक लगा लगा के बाइक लेकर गए. उसकी मांसल गोरी टांगें मेरे समक्ष उजागर हो गई, मैं बौराने लगा।वो मेरे ऊपर आई और कमर के दोनों ओर पैर डालकर मेरी जँघाओं पर बैठ गई. वो खुश हो गया और बोला- यार तू कहां था आज तक? अब मिला है मुझे और वादा कर कभी छोड़ कर नहीं जायेगा.

प्रियंका ने काफी लेकर डोर लॉक कर दिया और उसने एक एक करके सभी को काफी सर्व करनी शुरू की.

मायरा ने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और मेरे होंठों को चूसने लगी. रमेश- अच्छा, आ जा साली कुतिया आ। ये काम अभी पूरा नहीं हुआ है। तुम्हारी और तस्वीरें लेनी है मगर बाद में लेंगे इससे भी मज़ेदार तरीके से। अभी प्यास बुझा ले अपनी चूत में लंड लेकर मेरा।रिया कुतिया की हालत में थी.

वहां पर भैया ने डॉक्टर से पूछा- क्या हम अभी भी सेक्स कर सकते हैं?डॉक्टर बोली- हां कर सकते हो लेकिन पांचवे महीने तक ही कर सकते हो. मैंने उसे लन्ड गीला करने को कहा जिसे सुन कर वो उठ गया और लन्ड साफ करते हुए चूसने लगा. भाभी बोलीं- अब सब समझ में आ गया तुझे?मैं- हां मुझे अब सब समझ में आ गया है … अब मैं सब कर सकता हूं.

धीरे धीरे मेरा इंटरेस्ट मेरे देवर में और बढ़ने लगा क्योंकि वो मेरी हर बात मानते थे. जो दूसरे वाले अंकल थे, जो नए आए थे, उन्होंने मम्मी को घोड़ी बनाकर चूत में लंड डाल दिया. और रही बात तेरे घर वालों की, तो उनसे मैं तुझे तीन दिन की छुट्टी दिलवाकर लाया हूँ, तो तू बस मजे कर.

सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ उसके बाद तो वैसे भी नहीं मिल पाओगे।तो उसने बोला- आ जाओ, मिल लो मेरे घर पे!मैंने बोला- घर पर कैसे आऊँ … सब होते हैं।वो बोली- रात को 1 बजे के बाद!पर मैंने मना कर दिया।उसके बाद मैंने उससे उसका फ़ोन नंबर लिया और बात करने लगा।1 दिन में ही हम काफी खुल गए थे तो मैंने हिम्मत की और बोला- आज रात आ जाऊँ घर पर?वो बोली- आ जाओ. उसके लंड की सभी नसें पूरी उभर कर सामने आ गई थीं, लग रहा था … जैसे अभी फट कर उससे खून निकल आएगा.

മലയാളം സെക്സ് സ്റ്റോറി

मैंने भी एक जोर का धक्का लगाया और मेरा लंड उनकी चूत के अन्दर घुस गया. सुहास ने मेरे लिए कुछ अलग से ब्रा पैंटी के सैट भी पसंद किए और फिर हम लोग वहां से निकल गए. वैसे भी तुम्हें तो और एक चूत चोदने को मिलेगी … बस झेलना तो हमें ही है.

अब आज की चुदाई को यहीं विराम दें, कल मां जी के साथ दिन में इसी कमरे में चुदाई कराऊँगी. वो अपने हाथ से ही अपना लंड हिलाने लगा … और भार्गव कार चलाते चलाते ही मेरे उछलते हुए मम्मों देखे जा रहा था. सेक्सी बीएफ भेजें हिंदीफिर सुबह 7:00 बजे के करीब मैं जागा तो देखा कि मम्मी वापिस नहीं आयी थी, मैं अकेला ही सो रहा था.

बेड पर आकर मैं रुकैय्या की टांगों के बीच आ गया, दूधिया रोशनी में रुकैय्या की चूत का फाटक मुझे साफ दिख रहा था, अपने लण्ड का सुपारा निशाने पर रखकर मैंने लण्ड को ठोका तो सुपारा मेरी बहन रुकैय्या की चूत में घुस गया, मेरे लिए यह अनूठा अनुभव था.

बाबू के दिमाग में क्या चल रहा था, ये न तो मेरे … और न माई को पल्ले पड़ रहा था. स्नेहा कसमसाते हुए बोली- उन्हह … इतनी भी जल्दी क्या है … आराम से कर लेना.

अब मैं अक्सर उस वीडियो को देख कर सोचता था कि वो कौन खुशनसीब होगा, जो ज़ेबा की चुत चुदाई करेगा. इसी क्रम में कभी वो संजू के होंठों को किस करता, कभी उसके मम्मों को चूसता, तो कभी गर्दन, कान को चूमता. मैं चुपचाप पड़े आंखें बंद करें इस आनंद का मजा लेता रहा।फिर वे मेरे पेट कमर और नितंब की मसाज करने के बाद भाभी मेरी जान घर पर मसाज देती रही।15 मिनट मसाज करने के बाद भाभी ने मुझसे बोला- अब पीठ के बल लेट जाओ।मैं उनकी बात मानते हुए पीठ के बल लेट गया.

मैंने पूछा- क्यों?तो सामने से पायल की बड़ी बहन आंचल ने कोट उतार कर देने का इशारा किया.

तो वो बोली- मैं समझती हूँ यार, मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है।मैंने पूछा- तुम्हें क्या हुआ?तो वो बोली- मेरे पति अब मुझे प्यार नहीं करते जैसे पहले करते थे. मैंने चूचों को पूरी ताकत से भींच रखा था और मैं अपने पंजे चूचुक में गड़ा गड़ा केगुड्डी रानी को लपक लपक केदनदन दनदन चोदे जा रहा था. कमरे के एक हिस्से में सेफ रखी थी, दूसरी तरफ गैंग बैंग चुदाई के लिए जगह थी.

बीएफ सेक्सी चुदाई वीडियो बीएफ सेक्सीकेवल श्लोक और मुझे (राजवीर) को इस पूरी पृष्ठभूमि के बारे में पता था. उसका पूरा लन्ड मुँह में लेना और फिर जीभ फेरना मुझे आनंदित कर रहा था.

పోలీస్ ఎక్స్ వీడియోస్

कभी-कभी वे पूरी जीभ अंदर घुसा देते, फिर बहुत प्यार से बाहर के हिस्से पर जीभ फिराते. पर मैं ठहरा हरामी … मैंने उसके कान पर काट लिया और उसके निप्पलों को ज़ोर से मसल दिया. अब पायल ने कान पकड़कर कहा- सॉरी दीदी, पर इन्हें भी कहो ना कि मुझे ठीक से पकड़ें.

मैं उससे बोला- फाइनल तो मैं तुम्हें कर ही चुका हूं … और रही सेक्स की बात, तो मैं तुम्हें बता दूं कि मुझे बिल्कुल खुल कर सेक्स करने में मजा आता है. हम दोनों किस करने लगे और जल्दी ही हम दोनों ने एक दूसरे के टी-शर्ट उतार दिए. उसके मुंह से रंडी सुनकर मुझे अच्छा नहीं लगा तो मैंने उसे मुझे रंडी बोलने को मना किया.

जीजू का लंड चूत में लेते ही मुझे बहुत तेज दर्द हुआ और मैं जोर से चिल्ला कर छटपटाने लगी. बीच बीच में मैं सीमा को किस भी कर देता था। मैंने उसकी पैंटी से हाथ बाहर निकला और उसको बैड पर लिटा दिया. वहीं नीचे शीना हम दोनों की चूत और लंड चाट रही थी और साथ ही साथ अपने दोनों छेदों में उंगली भी कर रही थी.

हर धक्के के साथ उसके नाखून मेरी पीठ पर गड़ते चले गए, जो मुझे दर्द नहीं … उसके प्यार की निशानी दे रहे थे. धीरे धीरे मैंने गिन्नी को पूरी नंगी कर दिया और उसके एक एक अंग को चूमने, चाटने, सहलाने लगा.

सीमांशी नहीं चाहती थी कि मै वीर्य अंदर डालूं, उसने मुझे हटाने की कोशिश भी की लेकिन मैं उस पर हावी हो चुका था.

और इस वजह से यश को बहुत गुस्सा आता। कई बार तो वो उससे बातें भी नहीं करता. baap bete बीएफ सेक्सीमैं पीछे जा कर गर्दन पर प्यार कर रही थी, तो साथ ही साथ शर्ट का बटन भी खोलते जा रही थी. बंगाली बीएफ सेक्सी हिंदी मेंछटपटाहट भी ऐसी कि कभी दिल जोरों से धड़कने लगता, तो कभी योनि से रक्त बहने का डर सताने लगता. दस मिनट की धुंआधार चुदाई के बाद हम दोनों एक साथ ही शान्त हो गये।हम दोनों अपनी साँसों को नियंत्रित करने लगे।फिर हमने थोड़ी देर रुक कर आराम किया मैंने उसको पानी पिलाया और एक दर्द की गोली खिला दी.

जब मास्टर जी दुकान पर नहीं होते थे तो उनकी गैरमौजूदगी में वो लौंडे ही दुकान को संभालते थे.

शीला जब मेहमान के कमरे में जाने लगी तो उसने खिड़की से मेमसाब के कमरे में झाँका तो देखा साब और मेमसाब पूरे नंगे हैं और साब नीचे लेटा है. भाभी मेरे सामने लाल ब्रा और रेड पेंटी में थी।अब बारी भाभी की थी।मैं लोअर टी शर्ट में था तो भाभी ने सबसे पहले मेरी टी-शर्ट उतारी और उसके बाद लोअर उतार दिया।भाभी मेरे पास आ गई और मुझे कस कर जकड़ लिया अपनी बांहों में … मैंने भी उनको कसकर जकड़ लिया. मैंने मुस्कान की कमीज़ को उतार दिया था और मुस्कान ने नीचे फैंसी वाइट ब्रा पहनी हुई थी.

फिर रात को रोज की तरह चुदाई का माहौल बन गया और दोनों अंकल ने मम्मी को खूब दबाकर चोदा. जब मुझे वो नहीं दिखा, तो मैं उसी को ढूँढने की बात कहता हुआ उठा और भाभी के पास जाकर बैठ गया. उसने फिर से पानी छोड़ दिया।लेकिन मैंने अपना काम चालू ही रखा। धीरे-धीरे मैंने भी अपने लण्ड के धक्कों की स्पीड बढ़ा दी। मेरा लण्ड उसकी चूत में काफी तेजी से अन्दर-बाहर हो रहा था।आखिरकार मेरे झड़ने का वक्त आ ही गया, मेरी साँसें तेज़ होने लगी। पूरा शरीर पसीने से तर था। सपना भी तीसरी बार झड़ रही थी.

రాశి సెక్స్

उसकी सेक्सी बातें सुन कर मेरा भी मन कर रहा था उससे मिलने का!लेकिन दिक्कत जगह की थी कि उससे मिला कहां पर जाये. वो भी बोले- हां मेरी रंडी साली … ले मां की लौड़ी लंड ले … साली आज तेरी चुत का भोसड़ा बना कर रहूँगा. मायरा ने मुझे अपनी बांहों में जकड़ लिया और मेरे होंठों को चूसने लगी.

उसने अपनी टाँगों से अरविन्द की कमर पर घेरा बना कर उसकी गर्दन में बाहें डाल लीं.

मुझे ये तो मालूम था कि चाची मेरे पास आ सकती हैं, मगर ये नहीं मालूम था कि वो कब अपनी चुत लेकर मेरे पास आ जाएं.

वो गीले कपड़े सूखने डालने के लिये साथ ले गईं और अपने घर से पिंकी की दूसरी ड्रेस ले आयी. फिर मैंने उसे पास ले आया और उसके कान के पास दांतों से टच किया वो डर गई और मुझे और कस के पकड़ लिया।मैंने इस बार उसकी गर्दन पर किस किया और वो पीछे होके मुझे देखने लगी। मैं उसके पास गया तो वो घूम गयी. रानी मुखर्जी बीएफ सेक्सीहमारे होंठ एक दूसरे के होंठों को ऐसे चूस रहे थे जैसे होंठों के रस से हम एक दूसरे की प्यास बुझाना चाह रहे हों.

धीरे धीरे मैंने दीपिका की स्कर्ट को पूरा ऊपर उठा कर उसके चूतड़ों को नंगा कर दिया. मेरी लम्बाई 5 फुट 8 इंच है, शादीशुदा भाभियां मेरी तरफ बड़ी जल्दी आकर्षित हो जाती हैं. ” आलिजा मुस्कुराते हुये मजाक में बोली।उसके कहे अनुसार मैंने सारा पानी उसकी गांड में उड़ेल दिया।थोड़ी देर बाद हम अलग हुये, फ्रेश होकर एक दूसरे की बांहों में सो गये।कहानी पूरी तरह काल्पनिक है। पाठक सिर्फ कहानी से संबंधित मेल ही करें, फालतू मेल ना करें।[emailprotected].

उसकी बांहों के घेरे में कैद वो लड़की तो दिखाई नहीं दे रही थी लेकिन इतना जरूर पता लगा रहा था कि चुम्मा चाटी चल रही है. पीठ और कमर की मालिश हो जाने के बाद मैं उनकी जांघों की और पैरों की मालिश करने लगा। पैरों की मालिश खत्म हो जाने के बाद में वापस उनके दायीं ओर आकर बैठा।मैं- भाभी, अपनी चड्डी उतार दो।कविता भाभी हंसती हुई बोली- तू ही उतार ले मेरी पेंटी.

इधर मैं अपनी निक्कर उतार कर कोमल के पास आ गया और उसको इशारे से ब्लोजॉब करने को कहा.

मुझे देखते ही वो बोला- वाह मेरी जान, तुम तो कमाल लग रही हो!मैंने उसे थैंक्स बोला और अंदर आने को कहा. पर हम सब यही कहते रहे साली कुतिया तू हमारी सबसे अच्छी सहेली बनती है और इतनी बड़ी बात हमसे छुपा कर रखी. जैसा बेबी ने आर्डर किया मैंने वैसा ही किया, अधलेटा सा हो गया और टाँगें चौड़ी कर लीं.

पहली बार का बीएफ गिन्नी मदहोश होने लगी थी और मेरा लण्ड लोअर के अन्दर फड़फड़ाने लगा था. फिर बेड पर फूल से थोड़ा कलाकारी की और उसको फोन किया कि वो आ जाये।वो आयी.

मैंने लन्ड पहली बार देखा था तो मैंने सोनल से पूछा- ये क्या है?तो वो बोली- इसे लन्ड कहते हैं, यहाँ से लड़के सुसु करते हैं. तभी रीना ने मुझे अपने पास बुलाया और बोली- सिगरेट का जो टुकड़ा आपने फेंक दिया, अगर मुझे दे देते तो मेरी बरसों की अधूरी तमन्ना पूरी हो जाती. अब वो मेरे सामने सिर्फ एक छोटी सी ट्रांसपेरेंट ब्रा और एक छोटी सी थोंग में थी.

ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो वीडियो

हैलो फ्रेंड्स, मेरी पहली स्टोरीअन्जान भाभी की चूत और मेरा लंडको इतना पसंद करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत शुक्रिया. मैं भी ज़ोर-ज़ोर से उसे चोदने लगा और फिर अचानक मेरे लण्ड ने 8-10 झटकों में पिचकारी की तरह पूरी गर्मी को आंटी की चूत में भर दिया। आंटी भी पूरी ताकत से मेरे सीने से चिपक गयी। हम दोनों आधे घंटे तक वैसे ही पड़े रहे।तो आंटी … कैसी रही चुदाई, मजा आया या नहीं?” मैंने पूछा. इस तरह 10 मिनट बाद भाई स्खलित हो गया और उसने अपना गर्म गर्म लावा मेरे मुँह में उड़ेल दिया.

और मेरा जीजा मेरी बहन को ना कभी फोन करता है और ना ही कभी पैसे भेजता है।मैंने उससे उसके जीजा का नाम और फोटो मांगा. मैं- तो क्या हुआ, वो भी तो अपनी भाभी के चुदने की आवाज सुने … और वैसे भी अब तो उसका भी नंबर लगने वाला है.

उसके घर की बिल्डिंग पर पहुंचने के बाद मैंने स्थिति का जायजा लिया और वाचमैन को हजार रूपये देकर उसे इस बात के लिए राजी कर लिया कि वो मेरे आने जाने की सूचना अपने रजिस्टर में नोट न करे.

फिर मैंने धीरे से वहां एक गर्म सांस छोड़ी जो सीधे उसकी चूत को टकराई. चाची बुरी तरह छटपटाने लगीं- अआहा आह … आह आहह उहह …मैं चाची की चूत चाट रहा था और अपनी जीभ से उसे कुरेद रहा था. मैंने भाभी से कहा- भैया क्या इतनी जल्दी आ जाएंगे … और क्या आज भी मैं आपके घर से भूखा ही जाऊंगा?उन्होंने हंसते हुए मेरा लंड पैन्ट से निकाला और मेरा खड़ा लंड देखते ही खुश हो गईं.

बड़ी दर्दनाक कहानी है तुम्हारे चाचा जी की, इतना बदनसीब मैंने तो कभी नहीं देखा. अब मेरा एक हाथ उसकी चूचियों पर पहुंच गया था और मैं उसकी चूचियों को मसलते हुए उसकी चूत में उंगली कर रहा था. अब आप अपना अपना पार्टनर बना लो आपस में देख कर!मेरी बात सुन कर प्रियंका फिर बोली- यार, आप फिर चीटिंग कर रहे हो.

अब शीला हिम्मत करके आगे बढ़ी और विशाल का पैर छूकर देखा, कोई प्रतिक्रिया नहीं.

सेक्स बीएफ बीएफ सेक्स बीएफ सेक्स बीएफ: उसी वक्त दीपिका ने ड्रिंक में अपनी उंगलियां भिगोकर अपनी चूचियों पर लगा दीं. नए पाठकों के लिए मैं एक बार फिर से बता देती हूं कि मेरी उम्र 29 साल है.

कुछ देर मुझे लगा कि अब ससुर जी अपना वीर्य निकालने वाले हैं, तो मैं झट से सामने आ गई. दोस्त के रूम पर होम थिएटर था तो उस दिन हम लोगों ने गाने चला कर खूब मस्ती की।कुछ देर बाद उसकी सहेलियां चली गयी. मगर रमेश ने फिर से रिया को उठाया और उसकी गांड पर दो-तीन थप्पड़ लगाये और बोला- अभी ठीक से अपनी गांड को मेरे लंड के सामने रख दे क्योंकि तेरी गांड मुझे बहुत पसंद है।रमेश- फ्री के पैसे नहीं दिए मैंने.

मगर मैंने उसकी कमर को पकड़ लिया और थोड़ा जोर लगाकर आधा लंड उसकी गांड में उतार दिया.

अम्मी ने जल्दी से अपने चूतड़ उठाकर एक तकिया अपने चूतड़ों के नीचे रखकर अपनी टांगें चौड़ी कर दीं. सच में नताशा की गांड देखकर बॉलीवुड की हिरोइन अनुष्का शर्मा की याद आ गई. उससे जो प्रीकम निकल रहा था उसने मेरे अंडरवियर को भिगोने के बाद मेरे पजामे पर भी अपनी छाप छोड़नी शुरू कर दी थी.