मसाज करने वाली बीएफ

छवि स्रोत,नर्स वाला बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ફિલ્મ સેક્સી: मसाज करने वाली बीएफ, कुछ और ऑर्डर करना चाहेंगे सर?” वेटर ने पूछा।मैंने उन दोनों सहेलियों की तरफ देखा तो उन्होंने ‘ना’ में मुंडी हिला दी.

बीएफ फिल्म मारवाड़ी

बात शुरू करने के लिए पढ़ाई की बात करना ही सबसे बेहतर तरीका होता है क्योंकि इससे सामने वाला मना भी नहीं कर पाता है. 10 साल की बीएफउसे खड़े रहने में प्रॉब्लम हो रही थी लेकिन मैंने उसके दोनों हाथों को बाइक की सीट पर रख दिया जिसे वो खड़ी भी रहे और मेरे झटके से संभल सके.

जब मैंने उसका लंड देखा तो उसका लंड बहुत ही ज्यादा लम्बा और मोटा था. अटल बीएफ अटल बीएफपहली बार जब भाभी को शादी वाले दिन चोदा था तो इतना मजा नहीं आया था मगर आज जब भाभी पूरी नंगी थी और मैं भी पूरा नंगा था तो चुदाई का मजा भी अलग ही आ रहा था.

देखने में बिल्कुल ऐश्वर्या राय जैसी लगती है। गुलाबी सा बदन, नीली सी आंखें, भूरे मगर चमकदार बाल (सिर के).मसाज करने वाली बीएफ: वो दिन मेरे खुशी का पहला दिन था … क्योंकि उन्होंने भी मुझे इशारा किया.

मैं उसके चेहरे को देख पा रहा था, उसके चेहरे पे कामुक भाव थे … माथे पे हल्की सी शिकन थी.वह भी मेरे साथ चालाकी दिखाने की कोशिश कर रही थी कि कहीं मुझे ये पता न लग जाये कि उसने कॉन्डोम के पैकेट को देख लिया है.

ससुर बहू का सेक्सी बीएफ हिंदी - मसाज करने वाली बीएफ

फिर बाहर जाकर कुछ स्नैक्स और बीयर और रेड वाइन की बोतल ले आई और मुझे कहा सर्व करने को!और वो वाशरूम में चली गयी.चूत बहुत ही ज्यादा टाइट थी इसलिए आनंद विभोर होकर मेरे लंड ने जल्दी ही वीर्यपात उसकी चूत में कर दिया.

मुस्कान भी बहुत खुले विचार वाली लड़की थी, इसलिए मेरी और उसकी गहरी दोस्ती हो गई. मसाज करने वाली बीएफ उसके बाद मैंने उसे ऊपर से नीचे तक चूमते हुए उसके पूरे कपड़े उतार दिए.

जब भी वीर्य निकलता है, उसके बाद के पहले पेशाब में भी थोड़ा वीर्य आता है.

मसाज करने वाली बीएफ?

जहाँ चाह वहाँ राह … तीसरे दिन ही वो महिला बॉलकनी में तौलिया फैलाती दिख गई. मेरी चूत के पानी की गर्मी से उनके लंड का भी पानी निकलने को हो गया था. इसके एक साल पहले ही मैंने अन्तर्वासना पर सेक्स कहानी पढ़ना शुरू किया था.

इसके बाद मैं अपनी अगली सेक्स स्टोरी में लिखूंगा कि नताशा भाबी, जो कि अब तक अपनी बेस्ट फ्रेंड प्रिया के घर कुछ दिन रहने के लिए गई थीं. अब तुझे जो करना है सो खुद कर, मैंने तुझे सही रास्ता दिखा दिया है बस!” डॉली ने बात ख़त्म की. ये मेरी पहली चुदाई थी इसके बाद तो मैं मामा की पत्नी जैसी बनकर रोज़ चुदी.

मैं अपनी दोस्तों के साथ खाने के पंडाल में थी तो संजीव भी वहां आ पहुंचा. स्वाति भाभी के इस तरह पीछे हो जाने से मेरी हालत अब बिल्कुल वैसी हो गयी जैसे किसी छोटे बच्चे के मुंह से उसकी पसंदीदा चीज खाते खाते अचानक उससे वो चीज छीन ली हो. मैं बेड पर ऐसे लेटने का नाटक कर रहा था जैसे कि मैं गहरी नींद में हूं.

बस मैंने पात्रों के नाम बदल कर और थोड़ा रोमांटिक बना कर आप सभी चुदक्कड़ भाभियों, आंटियों और लड़कियों और तगड़े लंड वाले मर्दों की खिदमत में ये मेरी दूसरी कहानी पेश है. भाबी- मुझे ऐसे देखते हुए तुम्हें शर्म नहीं आती क्या? ऑश … सॉरी में तो भूल ही गई थी … शर्म और तुम्हें … जो कि अपने भाई की वाइफ को ऐसे चोदता हो, उसे शर्म किधर से आती होगी.

सोनू शांत होकर ठंडी पड़ने लगी तो मेरे लंड पर रखे उसके हाथ पर मैंने अपना हाथ भी रख दिया और उसके हाथ को नीचे दबा कर अपने लंड पर खुद ही चलवाने लगा.

लंड चुत के अन्दर आने के बाद 30 सेकंड हम दोनों रुके, फिर उसने धीरे धीरे धक्के देना शुरू किए.

ये तो मुझे बाद में पता चला कि मेरी माँ को सारी बात पता थी और वह अपने भाई को खुश रखने के लिए यह सब करती थी ताकि भाई उसे पैसा देता रहे. कुछ और ऑर्डर करना चाहेंगे सर?” वेटर ने पूछा।मैंने उन दोनों सहेलियों की तरफ देखा तो उन्होंने ‘ना’ में मुंडी हिला दी. आंटी भी मेरे सामने ब्रा और पेंटी में खड़ी थी।मैं बोला- आंटी आप ब्रा और पेंटी में बड़ी अच्छी लगती हो मुझे.

उन्होंने बोला- नहीं रहने दो, वैसे भी हमें कौन सा यहां हमेशा के लिए रहना है. ज्योति के चेहरे से तो लग रहा था कि जैसे वह बहुत उदास हो गई है मगर मैं जानता था कि वह मन ही मन खुश हो रही होगी. उसके बालों को हटा कर उसकी पीठ पर अपने गर्म होंठ रख कर उसको चूमा और फिर से उसको सीधी करते हुए उसकी ब्रा को उसके कंधों से निकाल कर अलग कर दिया.

अपनी जवान कमसिन भतीजी के सारे कपड़े उतार कर नंगी करने के बाद अब ताऊ जी बेड से उतर कर खड़े हो गए और कोमल को पेशाब करने जाने के लिए उठने के लिए बोला.

फिर यह सोचकर कि अस्पताल के नियम के हिसाब से वो मोबाईल बंद नहीं कर सकता उसने मोबाईल ऑन कर दिया और सो गया. अब मैंने अपना मोबाइल निकाला और इमरान हाशमी की आशिक़ बनाया वाली वीडियो देखने लगा. फिर उसने उसी टेबिल पर लेटकर अपनी दोनों टांगों को हवा में उठा लिया और एक हाथ की उंगली चूत में चालू कर दी.

मैंने कहा- ये क्या कर रहे हैं अंकल?कुछ नहीं, साइज चेक करने के लिए ऑर्डिनरी क्वालिटी लाया था, अब इसी साइज में अच्छी क्वालिटी ला दूंगा. तो वो बोली- वैसे तो मुझे पता है कि तुम क्या कहना चाहते हो … पर फिर भी तुम्हारे मुँह से सुनना चाहती हूँ. साथ ही उसने मुझे बसंती की निखरी जवानी और खूबसूरती को लेकर भी बताया कि तूने देखा नहीं कि तेरी बहन कितनी खूबसूरत बन कर गई.

उसकी शादी को भी 2 साल हो गए हैं और उसको अभी तक कोई बच्चा नहीं हुआ है.

मेरे कॉलेज टाइम में ही एक लड़की साथ में पढ़ती थी, जिसका नाम चारू शर्मा (बदला हुआ) था. मैंने ज़बरदस्ती दीदी के पज़ामे का नाड़ा खोल दिया और अन्दर हाथ डाल कर उनकी चूत को सहलाने लगा.

मसाज करने वाली बीएफ मैंने पूछा- अच्छा, अब कब मेरे लण्ड की सवारी करोगी? कल फिर आऊं क्या?भाभी बोली- ना बाबा ना … अब तो एक हफ्ते तक मैं किसी से भी नहीं चुदवाऊंगी। मेरा अब मन नहीं है।मैंने कहा- अच्छा जब भी मैं गांव आऊंगा तो मुझे अपनी चूत चोदने का मौका तो दोगी न?वो बोली- हां क्यों नही … अगर मौका मिला तो जरूर दूंगी। चलो अब जाओ यहां से, मैं बहुत थक गई हूं. उसने पूछ लिया- तुम्हारे कितने बॉयफ्रेंड हैं?मैं- कितने से क्या मतलब है तुम्हारा? एक ही तो होता है और फिलहाल मैं अभी सिंगल ही हूं.

मसाज करने वाली बीएफ मुझे तो आज तूने पक्का अपनी रांड बना लिया रे … बोल तेरे लिए क्या करूं. इसलिए मैंने भी उसके इस मजाक में हुई छेड़खानी को ज्यादा गम्भीरता से नहीं लिया.

मेरा 2017 में वह आखरी साल था … तो मैंने सोचा कि इस साल थोड़ी मस्ती मजा करते हैं, कहीं घूमते फिरते हैं.

सेक्सी बीएफ भेजिए ना

मैं उठा और उसको कुतिया सा झुका कर लंड उसकी चुत पर सैट करके झटका दे मारा. उसके बाद मैंने उसको दोबारा से नीचे पटका और दूसरा धक्का दिया तो सोनू की चीख निकलने को हुई और मैंने उसके मुंह पर हाथ रख कर उसके चूचों को काटा और फिर उसके होंठों को चूसने लगा. अब शादी प्रिया की हो रही थी, मेरे शहर में हो रही थी ऊपर से मेरी रहनुमाई में हो रही थी और मैंने अपने जान-पहचान वाले फ़्लोरिस्ट से जय-मालाएं और बाकी हार बुक किये थे, इसलिए अब यह कार-सेवा तो मुझे ही करनी थी.

मैंने कहा- नैना कितने दिनों से भूखी हो?वो बोलीं- बहुत दिनों से … मेरे उनसे कुछ होता ही नहीं … आकर खाना खाकर सो जाते हैं, इसलिए तो मैं तुम्हारे पास आ गयी हूँ. इसके बाद मैं अपनी अगली सेक्स स्टोरी में लिखूंगा कि नताशा भाबी, जो कि अब तक अपनी बेस्ट फ्रेंड प्रिया के घर कुछ दिन रहने के लिए गई थीं. मुझे उसके होंठ इस समय इतने मस्त लग रहे थे कि मैंने उसके होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और उसके होंठों का रस चूसने लगा.

तभी भाभी ऊपर आ गई और उन्होंने मुझे ऐसा करते हुए देख लिया और बोली- क्या सूंघ रहे हो रामू? और ये तुम्हारे हाथ में क्या है?मेरी चोरी पकड़ी गई थी.

फिर सौरव मेरी चूत में लंड डाल कर नीचे से धीरे-धीरे धक्के मारने लगा। अब मुझे भी चुदाई का असली मज़ा आने लगा. उसने पैग नीचे रख कर एक मादक अंगड़ाई ली, जिससे मुझे उसकी चुदास साफ़ दिखने लगी. गर्मी के कारण मैंने हल्के कपड़े की लोअर डाली हुई थी इसलिए लंड की बैंगन जैसी शेप मेरी लोअर में उभर आई थी.

उसके मुंह से निकल गया- तुम्हारा तो काफी बड़ा है!मैंने कहा- जितना बड़ा होगा, तुम्हें मजा भी उतना ही देगा. दोस्तो, बताइएगा कि आपको मेरी ये अनाल सेक्स स्टोरी कैसी लगी … आपके प्रोत्साहित करने वाले मेल मिले तो मैं आपसे अपने और भी अनुभव शेयर कर सकूंगा. बस वो लंड चूत न कह कर अंग्रेजी में बूब्स और लॉलीपॉप सकिंग फकिंग जैसे शब्द यूज कर रही थीं.

जब मेरी शर्ट उतरी तो मैंने नीचे से रेड कलर की ब्रा पहन रखी थी जो मेरे गोरे बदन पर कहर ढहा रही थी. मैं राधिका को बीच बीच में किस कर रहा था और मौका मिलने पर उसके मम्मे भी दबा देता था.

मेरी लाल रंग की ब्रा जैसे ही उसने देखी तो वह उस पर टूट पड़ा और उसके ऊपर से ही मेरे चूचों को चूसने लगा. पांच मिनट तक चूसने के बाद चाची ने मेरे सारे कपड़े उतरवाकर मुझे नंगा कर दिया. मैंने बहाने से पीछे हाथ किया तो मेरे हाथ पर कुछ तनी हुई आकार वाली चीज़ छू गई.

मैं- क्या मेरा लंड चाचा से भी बड़ा है?चाची- तुम्हारे, चाचा का भी कोई लंड है? लंड तो तुम्हारा है.

जब वो चली गयी तो मैंने उसकी पैंटी जा कर देखी तो वही मार्केट में बिकने बाली कोई बेकार सी पैंटी थी पर उसमें से एक गजब की सुगंध आ रही थी. श्वेता मैडम मेरे सर पे से हाथ घुमाते हुए प्यार से मुझे रसपान करते हुए निहार रही थीं. मैं देखना चाहती थी कि यह माल नीचे से कैसा है?मेरा मन कर रहा था कि मैं उसको पहले नीचे से नंगा देख लूँ एक बार.

मैंने मुस्कुराते हुए उनके गाल पर एक किस किया, तो उन्होंने भी मेरे गाल पर किस किया और एक हाथ स्कर्ट के अन्दर डाल कर मेरी चुत को पैंटी के अन्दर से सहला दिया. फिर मेरे पूरे जिस्म को चूमते हुए नीचे की तरफ आयी और मेरे लंड को अपनी मुट्ठी में भर लिया और मुठ मारने लगी.

हम घर आ गए।मैं लड़की बन जाऊंगी क्या?”नहीं मेरी जान, लण्ड तो रहेगा तुम्हारे पास पर मेरी प्यारी गर्लफ्रेंड एकदम माल बन जाएगी।फिर अंशु की बड़ी अच्छी नौकरी लग गयी। मैंने अपनी जॉब छोड़ दी। अब मैं बहुत खुश थी।शादी के करीब 2 महीने बाद…शाम को, मैं एक कुर्ती और टाईटस पहन के बैठी थी, अंशु आयी- कामिनी, आज तेरे लिए बड़ी खुशी का दिन है. मगर फिर उसकी जांघें मेरे हिप्स को टच करते हुए मेरे करीब होकर मुझसे सटने की कोशिश कर रही थी. फिर उसने मेरे निक्कर को इलास्टिक से चुटकियों से पकड़ा और ऊपर उठाया और झुक कर मेरे लंड को देखने की कोशिश करने लगी.

बीएफ ब्लू पिक्चर ब्लू

ऊपर उठती तो आधा लण्ड चूत से बाहर निकल आता, नीचे जाती तो लण्ड का सुपारा उसकी नाभि से टकराता.

मैं काफी सोच में पड़ गया, लेकिन जब वह आई … तो उसने बताया कि उसने मूवी की टिकट ऑलरेडी बुक कर दी थी. उरोजों पर मेरे कपड़ों का डीप कट होता है ताकि मेरे चूचों की दरार ऊपर से दिखती रहे. खैर काम निपटाते हुए वो समय भी आ गया, जब मैं और नम्रता दोनों ही एक दूसरे के आमने-सामने हुए.

फिर मैं जल्दी मिलने का वादा करके वहाँ से निकल गया।वो मुझे गेट तक छोड़ने आई।तो दोस्तो, कैसी लगी कहानी?अपनी मेल और फेसबुक आईडी यहाँ दे रहा हूं सुझाव जरूर दें! आपके कीमती सुझाव से ही कहानी में और सुधार हो पाता है. भाबी- अच्छा तो इसका मतलब ये हुआ कि तुम सीधा अन्दर आ जाओगे और कल भी तुम आए थे ना?मैं उनके मुँह से ये सुनकर चौंक गया. बीएफ बीएफ बंगालीअन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार! चूत की रानियों को मेरे लण्ड का प्यार भरा चुम्बन.

फिर मैंने उसके टॉप को उतरवा दिया और उसकी ब्रा को निकलवा कर उसके सेब जैसे बूब्स को नंगा कर दिया. हम एक दूसरे में इतने खो गए थे कि एक दूसरे का साथ छोड़ ही नहीं रहे थे.

मैं एक हाथ से उसके स्तन को मसल रहा था और एक हाथ से उसकी चूत को सहला रहा था. झूला कोई ठोस स्थिर वस्तु थी नहीं होती है, इसीलिए यहां बैलेंस बनाना काफी मुश्किल था. वो मुझसे तीन बार प्रेग्नेंट हुई, लेकिन उसने हर बार बच्चा गिरवा लिया.

नौकर बोला- आह्ह … मैंने तो सोचा भी नहीं था कि तू मेरा लंड अपने मुंह में ले लेगी. वो अपना लंड मेरी चूत पर रगड़ रहा था तो कभी मेरी चूत में अपनी उंगली डाल कर मेरी चूत को चोद रहा था. मैंने छुप कर देखा तो भाभी ने एक काले रंग की ब्रा और कच्छी पहनी हुई थी.

मेरी पत्नी मुझे बताने लगी- भाभी बोलती बहुत हैं, अभी दस दिन हुए हैं और अपना पूरा इतिहास बता चुकी हैं कि मेरा नाम भूपिन्दर कौर है, वैसे सब मुझे बेबी कहते हैं.

एक दिन मैंने उसको इशारा किया कि रात को बारह बजे अपने घर के पीछे आना, तो उसने मना कर दिया. [emailprotected]इससे आगे की कहानी:मकान मालकिन की बड़ी बेटी भी चुद गयी.

इसी बीच एक और लड़की, जो कि कोचिंग के कैश काउंटर पर बैठती थी, उसका नाम श्यामली था. दोस्तो, मेरी यह कहानी आपको कैसी लगी इसके बारे में मुझे मेल करके जरूर बताना. वो झट से बोली- चाचू आप मुझे 69 पोजिशन में आने को कह रहे हो?पहले तो मैं चौंक गया, फिर उसकी तरफ देखा तो वो मुस्कुरा कर बोली- अरे यार चाचू, मैंने वैसी वाली एक दो मूवी देखी हैं.

यही सोच कर मैं अपने दोस्तों के साथ कई बार कुल्लू मनाली भी घूमने निकल गया था … क्योंकि आखरी साल में पढ़ाई का इतना प्रेशर नहीं होता है. मैंने कभी किसी लड़की की चूत पर ऐसे अपनी आंखों के सामने व्हीस्पर लगा हुआ नहीं देखा था. मैंने पेरेंट्स से पूछ लिया- मैं बबीता को बुला लूँ क्या?पेरेंट्स ने बबीता को बुलाने के लिए हाँ कह दिया और मैंने उसको बुला लिया.

मसाज करने वाली बीएफ अब मैंने अपना हाथ उसकी चूत से हटा लिया और उसको गोदी में उठाकर उसी कुर्सी पर बैठा दिया और कुर्सी के हत्थे पर एक पैर को टिका कर लंड को नम्रता के नजर के सामने रखते हुए लंड को तेजी-तेजी फेंटने लगा. कितना सेक्सी फिगर था अम्मी का … और उनकी लैगी भी उनकी नाभि से नीचे थी.

बीएफ वीडियो मुस्लिम

साहिल उठ कर दरवाजा खोलने के लिए गया तो दरवाजे पर समीरा बानू खड़ी थी. इसलिए मैंने कई नाम से फ़ेसबुक पर सर्च किया, तो मुझे कुछेक दोस्त मिल गए. मैंने अपनी लोअर के अंदर हाथ डाल दिया और लंड को हाथ में लेकर मुट्ठ मारने लगा.

मुझे बतायें कि क्या आशीष को बिना बताये मैंने जीजा और लॉज के मैनेजर से चूत चुदवाकर जो मजा लिया वो कहां तक सही था. उसके मुंह से आह … आह … की आवाजें आने लगीं।मैंने कहा- मेरी रंडी, अभी तो थोड़ा सा गया है. गुजराती बीएफ सेक्सी गुजरातीशायद उनका लंड भी मुझे इस तरह से मस्ती में चुदाई करवाते हुए देख कर दोबारा से चोदने के लिए जिद करने लगा था.

करीब बीस मिनट की चुदाई के बाद में मैं छूटने वाला था और वो भी झड़ने वाली थी.

पहली बार किसी लड़की ने मेरे बदन को इस तरह से गर्मजोशी में चूसा था जिससे मैं पागल सा होने लगा था. बड़ा मजा आएगा इस पोजीशन में, साथ में तेरे चूतड़ों पर हाथ से चाटें मार कर भी मजा लूँगा.

अब तो वो मुझे देख कर घूंघट भी नहीं करती थी, बल्कि मेरी तरफ गुस्से से देखती थी. मन करता कि बस आँखें बंद करके लेट जाऊं और अपना क्लाईटोरिस या मोती सहला लूं और झड़ जाऊं. मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि पता नहीं कमल मेरे बारे में क्या सोच रहा होगा.

मधु ने मुझसे मेरे सारे कपड़े निकालने को बोला, तो मैंने कपड़े उतार दिए.

उसके मुंह से ऊंह … ऊंह … की आवाज बाहर निकलने की कोशिश कर रही थी मगर मेरे होंठ उसके होंठों से मिले हुए थे इसलिए उसकी आवाज को अंदर ही दबा कर रख रहे थे. एक दिन मैंने भी रूपाली की तरह ही अपने रूम में फोन को छिपाकर रख दिया. मैं वापस कार के अंदर आ गई, लेकिन इतनी तेज बरसात के कारण में पूरी तरह भीग चुकी थी।वो वापस बोनट की तरफ गया, मैंने कांच में अपना चेहरा देखा तो मेरा फेस पाउडर पूरी तरह भीग चुका था तो मैंने छोटा सा तौलिया अपने बैग से निकाला और मुंह को साफ किया.

बीएफ सेक्स वीडियो देहाती हिंदीअदिति मेरे फ्लैट की तारीफ कर रही थी और मैं बस उसे देखने में ही खोया था. जी! मुझे पता है लेकिन अपना आबाद होना या फना होना … ये तो खुद के इख्तियार में ही है और सपने देखने पर तो कोई पाबंदी नहीं.

इंसान जानवर की बीएफ

मैंने अपना बायां हाथ थोड़ा सा और पेटीकोट के अंदर घुसाया, तत्काल मेरी उंगलियां जाली जैसी संरचना से टकराई. पहले मैं अमृता के बारे में शार्ट में बता दूं; अमृता पैसे वाले बड़े बाप की घमण्डी टाइप की लड़की थी, उसके कामुक स्वभाव से भी हम सब स्टूडेंट्स परिचित थे. हम दोनों अपनी वासना में बहे जा रहे थे।अब मैं धीरे से उसकी पैंटी की तरफ बढ़ा.

हम दोनों ने उठकर मौसी से पूछा, तो हमें पता चला कि हमारी नानी को दिल का दौरा आया है और उन्हें तुरंत पास के एक हॉस्पिटल में दाखिल करना पड़ा है. वह हंसने लगा … और उसने झट से दरवाजा खोल कर मुझे हाथ पकड़ कर अन्दर खींच लिया. भाबी बोली- ये बेडसीट मैं संभाल कर रखूंगी … तुम्हारे प्यार की निशानी है.

अगले दिन मैं जब गांव में बोर हो रहा था, तो सोचा क्यों ना जोधपुर जाकर कोई मूवी देखी जाए. मैंने उसके कान में धीरे से पूछा- क्या फिगर साइज बना रखा है तुमने?तो उसने शर्माते हुए बोला- खुद ही चैक क्यों नहीं कर लेते. कंडक्टर आवाज देते हुए कहा कि जिसको बाथरूम जाना है या नाश्ता करना है, कर लो … फिर बस नॉन स्टॉप जाएगी.

फिर मैंने उसके चूचों को जोर से दबाते हुए उसकी चूत को सहलाया तो वो बोली- स्स्स … बस हिमांशु … अब अंदर डालो जल्दी. मैं बहुत दिनों से कंचन की तरफ आकर्षित था और आज जब वो मेरे साथ यह सब करने के लिए तैयार हो गई थी तो मेरा सब्र हर पल कम होता जा रहा था.

वो लंड की हर थाप के साथ ‘उम्म्मम्म हूम्म हम्म उम्ममम…’ की आवाजें निकालते हुए चुत चुदाई का मजा ले रही थी.

जी!” पल भर में ही सपनों की दुनिया से वसुंधरा भी तत्काल हक़ीक़त के कठोर धरातल पर आ गयी. वीडियो बीएफ फुल एचडी हिंदीमैंने कहा- आप अंकल के साथ टहल रही थीं, अंकल चले गए क्या?अम्मी ने कुछ सोचा और कहा- हां वो चले गए … चलो अब सोते हैं. घोड्याची सेक्सी बीएफरात के करीब दस बजे भाभी का मैसेज आया- क्या हो रहा है … खाना खा लिया कि नहीं?मैंने रिप्लाई किया- नहीं यार … अभी तो बियर पी रहा हूँ, खाना रखा हुआ है अभी खाऊंगा. जैसे ही उसका सुपाड़ा मेरी बीवी की गांड में घुसा तो वो चीखने लगी उम्म्ह… अहह… हय… याह… लेकिन अजय ने अपना दबाव बनाना जारी रखा.

हम दोनों लोग जल्दी जल्दी एक दूसरे का साथ देने लगे और उसके बाद हम दोनों लोग जल्दी जल्दी सेक्स करते करते झड़ गए.

उसने पूछा- तेरा पसंदीदा फिगर क्या है?तो मैंने हंसते हुए कहा- ये तो छू कर ही बता सकता हूँ. मैं बोला- हां चाची मेरा भी होने वाला है, मैं अपना वीर्य कहां निकालूं?वह बोलीं- मेरे अन्दर ही कर लो, अब तुम्हारा सब कुछ मेरा है. जब मैं उसको देख कर स्माइल करता था तो वो भी मुझे देख कर स्माइल करने लगी थी.

मेरा एक हाथ उसका एक बोबा मसल रहा था, तो दूसरा हाथ उसकी साड़ी खोलने में लग गया. प्लीज मजे लेने दो न मुझे।भाभी- अरे जाओ … कोई देख लेगा तो मेरी बड़ी बदनामी होगी।मैं- अरे भाभी जी अभी कौन सा कोई है घर में या आस-पास? भाई भी 3 घंटे बाद ही आएंगे। बच्चे तो शाम से पहले आते नहीं। आप नहाओ न, कोई नहीं आता।थोड़ी देर मनाने के बाद भाभी मान गयी। उन्होंने अपने कपड़े उतारने शुरू किए। साड़ी और ब्लाऊज उतार कर अलग किया. तेरी उम्र में मेरा भी हाल कुछ ऐसा ही था मगर खुद पर थोड़ा काबू करना भी सीख.

भाभी की बीएफ भाभी की बीएफ

राहुल के लिए यह पहला अनुभव था जब किसी ने उसका लंड खाली किया हो और वो ही उसको पी गयी हो. दीदी की आह निकल गई- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मार दिया … भैनचोद … धीरे पेल साले तेरा लंड तेरे जीजा से बहुत बड़ा है. क्योंकि मैंने नशे में उन्हें गले तो लगा लिया था, पर अब मुझे उनकी सांसें मेरी छाती पर महसूस होने लगी थीं.

दीदी की आह निकल गई- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मार दिया … भैनचोद … धीरे पेल साले तेरा लंड तेरे जीजा से बहुत बड़ा है.

मैंने मधु के हर हिस्से को अच्छी तरह किस किया और मधु की चूचियों को चूसने लगा.

मैंने बिस्तर पर से उठ कर तनाव के कारण कड़कड़ाते हुए अपने लिंग को अपने अंडरवियर के अंदर हाथ डाल कर अंदर ही अंदर अपने पेट के साथ-साथ ऊपर नाभि की तरफ सेट किया. एक तरफ तो लंड मुझे उत्तेजित कर रहा था और दूसरी तरफ मुझे डर था कि कहीं आंटी देख न ले. इंग्लिश बीएफ मूवी सेक्सीमैंने सीमा से पूछा- सीमा डियर कुछ उदास लग रही हो?सीमा- नहीं यार, बस ऐसे ही तबियत ठीक नहीं लग रही है.

नीचे देखा तो भाभी ने पैंटी ही नहीं पहनी थी मतलब वो चुदाई के लिए पूरी तैयारी कर के आयी थी. लेकिन खाली मुँह में लंड चुसा कर पूरा मजा कहां आता, कुछ देर बाद में उठ कर मैं उसे चोद दिया करता. आंटी भी हांफते हुए जोर जोर से सांसें लेते हुए वहीं नीचे कारपेट पर लेट गईं.

फिर वह बोली- मेरी चूत में जलन होने लगी है। यह कॉन्डम निकाल लो अपने मोटे लंड से बाहर। सिम्पल कंडोम लगा लो. उसके बाद उसने भी मेरे साथ फ्लर्ट करना शुरू कर दिया और कुछ-कुछ पूछने लगा.

दोस्तो, मेरा नाम नीतू है, मेरे परिवार में सिर्फ माँ पापा और छोटा भाई हैं.

ये सब पारुल भाभी, जो तीसरे फ़्लोर पे रहती थीं, वो नोटिस कर रही थीं. राहुल ने उसकी जांघें पकड़ कर उसे सपोर्ट दी तो पीछे से आकर रीमा ने उसके कान में कहा- इसकी बड़ी चिकनी है, हाथ लगा लो कुछ नहीं कहेगी, ये तो तुम्हारी दीवानी हो गयी है. मैं आपको बता दूँ कि यहां हरियाणा में हमारी जात बहुत बहादुर मानी जाती है.

सेक्सी बीएफ मूवी फुल एचडी तभी उसका जिस्म अकड़ने लगा, उंगलियां तेजी के साथ अन्दर बाहर होने लगी थीं. जिसका ध्यान मैंने चुदाई के वक्त नहीं दिया था, पर सुमन भाभी की ये पहले से ही प्लानिंग थी.

मैं जब भी पढ़ाई पर ध्यान केन्द्रित करती तो मन सेक्स की ओर भटक जाता और मेरी चूत चूने लग जाती, पैंटी गीली होने लगती. संगीता हंस पड़ी और उसने अगले ही पल अपनी ब्रा उतार फेंकी और राहुल के हाथ अपने उरोजों पर रख दिए. एक बार जो लड़की या औरत मेरे नीचे आ जाती है, वो भी मुझे भूल नहीं सकती क्योंकि मैं चुदाई से पहले फोरप्ले बहुत करता हूँ.

बीएफ सेक्सी में बीएफ सेक्सी में बीएफ

पहले यहां सब आंटियों और भाभियों को मेरे लंड की तरफ से भरपूर प्रणाम. उसके बाद ज्योति उठी और बोली- बस, अब अंदर डालो, मैं और नहीं रुक सकती. वो अब दोनों उंगलियों को धीरे धीरे मेरी गांड में अन्दर बाहर करने लगा.

रास्ते में ही मैंने उसे फोन करके सब बता दिया और वह मेरे पहुंचने से पहले ही दरवाजा खुला छोड़ बाहर चला गया था. मैंने भी उसको बांहों में भर लिया और अपना एक हाथ नीचे ले जाकर उसके तने हुए लंड पर रख लिया.

थोड़ी देर में मुझे थोड़ा आराम लगा और जैसे ही मैंने हिलने की कोशिश की, तो उसे लगा कि मैं ठीक हूँ.

फिर अपने ब्लाउज को उतारा, ब्रा और पेटीकोट में खड़ी थी, अचानक मेरी नजर उस पर पड़ी वह केवल मुझे ही बाहर से देख रहा था और अपने लंड को पैन्ट के ऊपर से मसल रहा था, मेरे बूब्स भी जोर जोर से ऊपर नीचे होने लगे. मेरा मन कर रहा था कि इसके स्वाद को चाट कर देखूं कि भाई के लंड से निकला हुआ माल चखने में कैसा है. आआ उम्म्ह… अहह… हय… याह… मम्म्मम्… रोमीईईई … इस तरह की सिसकारियां लेते हुए वो मेरे मुंह को अपनी चूत में दबाने लगी.

उन्होंने मेरे लंड का साइज़ पूछ लिया, तो मैंने बताया आठ इंच लम्बा है. मैं जोर से चाटते हुए चुत की फांकों को फैला कर बहुत तेजी से चुत के दाने को जीभ से चाटने लगा. मॉल में पहुंच कर ज्योति ने पहले मेरे लिए एक शर्ट और जीन्स पसंद की फिर हम लेडीज़ कपड़े के सेक्शन की ओर गए.

इससे तो मेरी बीवी की चुदास अब पूरी जाग चुकी थी। अब वह मेरे अब्बू यानी अपने ससुर के सिर को हाथों से पकड़ कर चूत में दबा रही थी।फिर अब्बू को और जोश चढ़ा गया, वे ऊपर की तरफ सरके और मेरी बीवी के गाउन को उतार दिया.

मसाज करने वाली बीएफ: सुचिता बोली- हम दोनों सहेलियाँ आपस में सारी बातें शेयर करती हैं, आप चिंता मत कीजिएगा, ये राज, राज ही रहेगा. अब जब उसको पता चला कि मेरी सेक्सी बहन घर में अकेली है तो वो फिर से खड़ा हो गया.

पर न जाने क्यों मुझे मोनिषा के चेहरे पर वो मस्ती नहीं दिखी, जो मुझे हमेशा दिखाई देती थी. मैंने रश्मि की चुत पर अपना लंड लगाया और एक बार में ही पूरा अन्दर डाल दिया. जिससे ज़ायरा कामुक सिसकारियां ले रही थी- ओह्ह यशसस … इस्स … ऐसे ही और जोर से चूसो डियर … यस!फिर मैंने उसे बेड पर लिटाया और उसके शॉर्ट्स को निकाल दिया.

मैंने मेनगेट का ताला खोला और कार पोर्च में ले जा कर खड़ी की और कार का वसुंधरा वाली साइड का दरवाज़ा खोला और उससे कहा- आइये.

मैं उस वक्त तक अपने पति के साथ एक बार सेक्स कर चुकी थी और उस रात भी वो रोज की तरह दारू पी कर सो गए थे. जब उसने ऐसा कर लिया, तो मैंने उसको अपने सीने से लगाकर उसके कूल्हे को दबाते हुए बोला- जान मजा आया?नम्रता- बहुत मजा आया और सबसे ज्यादा अपनी गांड के अन्दर तुम्हारे लंड को लेने का अहसास और उसके बाद चुदाई का मजा. 30 बज रहे थे, राहुल को पहनने के लिए सीमा ने अपने पति की शॉर्ट्स और टी शर्ट दीं.