बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ

छवि स्रोत,एक्स+एक्स+एक्स+बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ख्वाब में मजार देखना: बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ, नीति मैडम का शादी के बाद एक दिन फोन आया, वो बोली- सर, मैं आपके लंड को बहुत ही याद करती हूँ.

बीएफ 2019

उनको चाय देने के बाद कहा कि भाईसाहब आप चाय पी लें, खाना भी तैयार है, जब तक क्या मैं नहा लूँ. सेक्स बांग्ला सेक्स वीडियोपिंकी ये गलती तुम्हारी है, अब तुम्हें गोलू के लंड को प्यार से एक किस करनी पड़ेगी.

”ठीक है भैया मैं कल से टी-शर्ट और जीन्स ही पहना करूंगी, वैसे भी मेरी मम्मी को कोई ऐतराज नहीं है. सेक्सी बीएफ हिंदी ब्लूतभी राजेंद्र अंकल भाभी के पापा को बोले- आप वहीं बैठना, आरती की मम्मी आए तो बताना। हम लोग किचन में आरती की हेल्प कर रहे हैं.

मैं ऐसी औरतों को, जो मोटी और नाटी किस्म की होती हैं, उनको डीजल माल कहता हूँ.बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ: हमने काफी ऑर्डर की और आराम से बैठ कर काफी पी।तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्सी कहानी दो प्यासी औरत की चुत चुदाई की… आप लोगों को मेरी कहानी पसन्द आई, मजा आया या नहीं… मुझे मेल करके जरूर बताना![emailprotected]मैं आपके मेल की प्रतीक्षा करूँगा और अगली कहानी में बताऊंगा कि जयपुर जाकर मैंने फिर अंजलि और पारुल की कैसे चूत और गांड चुदाई की.

कुछ देर बाद मां सिसकारी भरने लगीं- उम्मआहह आआहह आअहह उफ़ उईई उफ्फ उफ्फ…चुदाई का यह नजारा देख कर मेरा मन भी हो रहा था कि मैं भी अपनी चुदक्कड़ मां को चोद दूँ.तभी मैंने उसके झुके हुए होंठों के मौके का फायदा उठाया और उसके बाल में हाथ डाल कर सर दबाये रखा.

सेक्सी बीएफ चोदने वाली - बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ

उसमें से बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी और आज उसने वाइट कलर का टॉप और ब्लू जीन्स पहनी थी.बीच बीच में वो सिसकारियां ले रही थी ‘आह… उह्ह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… ओहह… उम्म्म्म…’अब मैंने उसे जोर से अपनी बाँहों में जकड़ लिया और चूमना शुरू कर दिया.

जैसे जैसे शॉट लग रहे थे हम दोनों एक दूसरे के होंठों चूमते और चूसते जा रहे थे. बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ मैं अपनी हथेली पर प्रिया के जवान और मदमस्त जिस्म की झुलसा देने वाली गर्मी साफ़ महसूस कर रहा था.

थोड़ी देर इसी तरह झड़ने के बाद दीदी सुस्त पड़ गईं और वहीं चेयर पे बे सुध होकर दोनों हाथ अपने बालों में डाले हुए हांफते हुए पड़ी रहीं.

बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ?

अब मुझे पता लग चुका था कि मैं किसी को भी मुँह दिखाने के काबिल नहीं रही. 15 मिनट बाद जब मैंने उनका रिचार्ज करा दिया तो तुरंत बाद की भाभी की मेरे पास कॉल आ गयी और मुझे थैंक्स बोला।फिर धीरे धीरे हम दोनों में नार्मल बाते होने लगी।एक दिन अचानक उन्होंने मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछा तो मैंने मना कर दिया कि मेरी अभी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है तो उनको मेरे पर विश्वास नहीं हुआ तो मैंने ऐसे ही झूठ बोल दिया- है… मेरी एक गर्लफ्रेंड है. अब मेरे दिमाग में बस चाची ही चाची थीं, मैं अब सिर्फ उनको भोगना चाहता था.

हालांकि उसे डीजल माल नहीं कह सकता क्योंकि वो न तो मोटी है और न ही अभी उम्रदराज है. बीच में मम्मी एक बार वॉशरूम गईं तो मैं मौका देख कर किचन में घुस गया और पीछे से उसे ज़ोर से हग कर लिया, वो डर गई और मुझसे छुड़ा कर दूर हो गई. मेरी साली ने उसे अपने हाथ से हटाने की कोशिश की मगर उसने हाथ नहीं हटाया तो मेरी साली ने अपनी कोशिश छोड़ दी और वो अब चूचे दबवाने के मजे लेने लगी.

अब मां ने जो लंड उनके मुँह में बिना कंडोम का था, उन्होंने उस लंड को आइसक्रीम की तरह चूसना शुरू कर दिया और वे अपनी जीभ से लंड चाटने लगीं. वो जैसे ही मुझसे अलग हुई उसने कहा- होंठों पर किस के मामले में तो तुम इमरान हाश्मी के भी बाप हो. अब मुझे पता लग चुका था कि मैं किसी को भी मुँह दिखाने के काबिल नहीं रही.

मेरे दो एग्जाम हो चुके थे, मेरे वो दोनों एग्जाम काफ़ी अच्छे गए थे लेकिन अगला एग्जाम ईको का होना था, जिसमें मैं इतनी अच्छी नहीं थी. जब भी मैं घूम कर बहू से बात करती तो दूसरा हाथ भाई साहब की जांघों पर रख देती थी.

एक दिन वो कोई बहाना बना कर आशीष के कमरे में रात को रहा और जैसे ही आशीष मेरे कमरे में दाखिल हुआ, वो दरवाजे पर इस तरह से खड़ा हो गया कि वो तो मुझे देख पाए मगर मैं उसको ना देख सकूँ.

अब मैं आपको सबके सामने माँ जैसा आदर दे भी दूँ मगर आपको अकेले में आपके नाम से ही बुलाऊंगी और आपको अपनी फ्रेंड मानूँगी ना की माँ.

फिर मयूर शनिवार की रात मुझे अपनी बाइक पर बिठा लाया और कानूनगो साहब के बंगले पर छोड़कर वो चला गया. भाई के साथ सेक्स कैसे मुमकिन है?मैंने कहा- मुमकिन तो सब है, पर तुम्हारी रजामंदी के बिना कुछ भी नहीं है. तभी सुहानी की माँ आईं और उन्होंने सुहानी को बोला कि वो पहले नहा ले.

मैंने देखा रेस्टोरेंट खाली था, तो धीरे से उसके गाल में किस कर दिया. यह बात आज से कुछ समय पूर्व की है, जब मैं बारहवीं कक्षा में था और महक ग्यारहवीं कक्षा में पढ़ रही थी. जब मैं ज़ोर से चूचे में दांत गाड़ देता तो अलका रानी की चीख निकल जाती और तब वो ज़ोरों से चूतड़ उछाल के धक्का मारने की चेष्टा करती.

ये असली चुदाई का मेरा पहला मौका था तो मैं देखना चाहता था कि एक पूरी तरह से तैयार लड़की या औरत की चूत कैसी लगती है.

या अपना विचार ही बदल लिया है?मैंने जवाब दिया- क्या बताऊं अशोक जी?अशोक- फिर मैं आपकी हां समझूँ ना?मैं चुप रही, तो वो बोला कि ओके. मैं अपनी ज़ुबान से उसकी चुत चाटने लगा और उसकी चुत के होंठों को अपने होंठों में दबा के चूसने लगा. उन्होंने भी अपने पैरों से मुझे जकड़ लिया था, जैसे कोई अजगर अपने शिकार को पकड़ लेता है.

सुहागरात को रात 11 बजे जब मैं अपने रूम में पहुँचा तो वो बेड पर मेरा इन्तजार कर रही थी. इस बार मैंने आंटी की टाइट गांड में आइसक्रीम डाल कर गांड को फाड़ दिया. दरअसल ये मेरे लिए एक गाली न होकर मेरी योग्यता को दर्शाने के लिए लिखा है.

इतने समय से मेरी प्राणप्यारी पत्नी की गांड मारते हुए आर्थर ने अभी तक अपनी गति कम नहीं की थी, और मेरी देवी जैसी पत्नी भी पूरे मनोयोग से उसके गधे जैसे लंड को अपनी गांड में घुसवाते हुए नहीं थकी थी.

देखने वाले का लंड एकदम से खड़ा होकर उनकी चुत में घुसने को मचल उठेगा. मैं होती तो इसको हमेशा मुँह में ले कर रखती और सुबह शाम इसकी आरती उतारती.

बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ तभी कुछ दिनों के भीतर ही हार्ट अटैक में चाचा की मौत हो गई, सभी बहुत दुखी हुए लेकिन इस पर किसका जोर चल सकता है. पर मैं सब बेइज्जती बर्दाश्त कर लूँगा सिर्फ और सिर्फ रचना के लिए…”वो इतना बोले और दूसरी तरह मुड़ गए.

बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ आपके पति भी होंगे, तो आप उनके साथ सेक्स नहीं करती हैं क्या?वो बोली- हाँ हैं मेरे पति लेकिन वो बाहर ही रहते हैं और उनकी उम्र भी काफी हो गई है. उसने यहाँ तक बोला है कि उसकी शादी होगी तो पहला बच्चा हमारे प्यार की निशानी होगा.

मेरा पूरा मुँह उसके चुत रस से भर गया और मैं वो सारा नमकीन जूस पी गया.

बीएफ सेक्सी ब्लू बीएफ सेक्सी फिल्म

जैसे ही जीजा की जीभ मेरी चूत की रेखा पर चलती जा रही थी वैसे वैसे मुझे कुछ अजीब सा होता जा रहा था। उनका लन्ड मेरे चेहरे के पास टकराने लगा, तभी जीजा मेरी टांगों को और चौड़ा करके बोले- वन्द्या, क्या मस्त चिकनी सुर्ख लाल चूत है तुम्हारी! ओह माय गॉड!और जमकर अपने होठों से जीभ से चूमने और चाटने लगे. वो रोज़ मुझे नई नई ब्लू फ़िल्में दिखाती थी, जिसका असर ये हुआ कि मुझ पर जवानी की चुदास उम्र से पहले ही चढ़ गई. भाभी की चूत लगातार पानी छोड़ रही थी और मेरा लौड़ा बड़े आराम से अन्दर बाहर आ जा रहा था.

पापा सुबह ड्यूटी पर निकल गए, मम्मी सुबह 10 बजे निकल गईं और मैं अकेला घर पर रह गया था. माँ- और सेक्स कितनों के साथ किया है?मैंने माँ को गरम किया- तीन को चोदा है. तो अब उससे भी नहीं रहा जा रहा था, उसने मुझे ऊपर की तरह खींच लिया था और मैंने अपना खड़ा हुआ लंड उसकी चूत के ऊपर 5-10 मिनट तक रगड़ा.

अब वो मेरे मम्मों को दबाने लगा और मेरे निप्पलों को मुँह में भर भर कर पीने लगा.

क्यूंकि हम उस रेस्टोरेंट में वापस जा नहीं सकते थे क्यूंकि जिस मैनेजर को वो जानता था, उसकी शिफ्ट आठ बजे तक ही थी. मैंने माँ की चूचियों को कस कर दबाना शुरू किया, फिर माँ ने धीरे से आह्ह किया. फिर धीरे से अपने लंड को उसकी चुत पे रख कर उसके बालों को सहलाने लगा.

बहूरानी चेंज करने के बाद मेरे सामने ही बैठ गयी और किसी मैगज़ीन को पलटने लगी. अब मैं टेबल के सहारे खड़ा हो गया और वो नीचे बैठ कर मेरा 8 इंच का लंड अपने हाथ में लेकर सहलाने लगी और आगे पीछे करने लगी. फिर उसने कुछ देर बाद मेरे मुँह पर उसकी चूत ने एक जोरदार पिचकारी छोड़ दी जिससे मेरा पूरा मुँह भीग गया जिसे रेहाना ने अपनी जीभ से चाट चाट कर साफ कर दिया.

मेरे भैया के न आने का कारण था कि बंगलौर में एक कम्पनी में छोटी नौकरी लग गई थी मैंने आपको बताया था. उनकी आँखें बंद थीं और वो जोर जोर से सिसकारी भर रही थीं- आ आ आ आ ऐसे ही चूसो.

उसकी साथ की सभी मैडमों को हमारे अवैध रिश्ते के बारे में पता चल गया था. मुझे भी तो अब ही गांड मारनी थी तो मैंने चुत की तरफ से लंड हटा कर फिर गांड के छेद पे रख दिया. जिससे मेरा हाथ सीधा उसकी हिंदी चुत पर चला गया। चूत बिल्कुल चिकनी थी.

मैंने अपने लंड को हाथ में पकड़ा और उसकी चुत के निचले हिस्से में लगा दिया.

मुझे तो कोई चिंता थी ही नहीं क्योंकि मेरे घर पर कोई नहीं था, पर मंदिर के कार्यक्रम की वजह से काम्या को भी बाहर जाने का बहाना मिल गया था. फिर मैं तैयार हुआ और जैसे ही स्मिता तैयार होकर आई, मैं तो बस उसे देखता ही रह गया. उस एग्जाम में मुन्नालाल सर (मेरे ईको के टीचर) की ड्यूटी लग गई और जब सर सभी स्टूडेंट्स की चैकिंग कर रहे थे तो वे मेरे पास आए और मेरी चैकिंग करने लगे.

साथ ही मैंने अपनी ब्रा को भी खोल दिया और उसकी पीठ पर अपने बोबे दबाने लगी. फिर एक महीने बाद हमने तीनों का एक टेस्ट लिया, मेरा किंग साइज़ का पलंग होने के कारण वह लोग काफी दूर दूर बैठ कर टेस्ट दे रहे थे.

मैंने इसी बात का फायदा उठाने की सोची और उससे कुछ नहीं कहा बल्कि इस पोज़िशन में लेट गया कि वो मेरे मम्मों को आराम से सहला सके और किसी को पता भी ना चले. मैं वहां पहुँच गया और पीछे से उसकी चुत‌ के नीचे से अपना पैर लगा कर उसकी चुत को अपने पैर के अंगूठे से रगड़ दिया. मैंने दीदी की चिल्लपों की परवाह न करते हुए उनके लटकते मम्मों को अपने हाथों में भरा और दीदी की गांड की धकापेल चुदाई शुरू कर दी.

साली सेक्सी बीएफ

मैं जब जवान हुआ ही था तब से सेक्स के बारे में सोचता आ रहा हूँ लेकिन किस्मत ऎसी कि चूत के दर्शन काफी बाद में हुए.

आप यहाँ इतने कपड़े क्यों खरीद रही हैं? लाई नहीं है क्या?मैंने कहा- नहीं. फिर उसने कमरे की डिम लाइट जला दी।मैं- अब क्या करना है बताओ?वो- चाची आप घोड़ी की तरह हो जाओ।मैं वैसे ही हो गई. निशा- यार मैं फैमिली प्रॉब्लम की वजह से पढ़ाई में 3 साल लेट हो गई इसीलिए 10th क्लास में हूँ, मेरी उम्र अभी सवा अठारह साल की हो चुकी है.

प्रिया ने हाथ बढ़ा कर मेरा मुंह अपनी ओर किया और मेरी आँखों में आँखें डाल कर बोली- लाखों, करोड़ों दुआएं क़ुबूल होने पर मिली मुराद जैसा उस रात का मिलन… एक बार! सिर्फ़ एक बार और… फिर से मुझे दे दीजिये. तभी चिंटू ने मेरी चूत को चाटना छोड़ दी और अपने लंड को मेरे हाथ में पकड़ा दिया. ലൈവ് സെക്സ് വീഡിയോजैसे ही बनता है, मैं बता दूँगी।ऐसे ही हमारी रोज बात होती रही और मधु भी अब बिना शर्म के खुलकर बात करती और हम सेक्स चैट करते। परन्तु मिलने का कोई प्लान नहीं बन पाया। ऐसे ही एक दिन मधु का फोन आया वो बोली- यार सुनो.

अचानक मैंने धक्कों की स्पीड कम कर दी और बहुत ही हौले हौले लंड पेलना शुरू किया. आंटी हैरान रह गईं और बोलीं- ये क्या है विकी?मैंने कहा- आंटी, बियर और सिगरेट है.

मैंने उनको फिर पकड़ कर गांड मारने की कोशिश की, मगर वह मुझे धक्का देकर अपने कपड़े सही करने लगीं और नीचे जाने लगीं. पर मैंने जब ज़ोर दिया तो बोली कि आज मेरी शादी की सालगिरह है और मेरा पति साथ नहीं है, इसलिए मूड खराब है. वैसे तो मैं एक शर्मीले किस्म का इन्सान हूँ, जिसके चलते मैं ज्यादातर लड़कियों से कम ही घुलमिल पाता हूँ.

मैं ऐसे ही 5-6 दिन तक पार्क में रोज़ नियम से जाता रहा, इस उम्मीद में कि शायद वो दिख जाए, पर वो नहीं दिखी. इसी तरह एक दिन वो मेरे बाजू में बैठ कर मुझसे बातें कर रही थी और मम्मी किचन में खाना बना रही थीं. ये मेरी एकदम सच्ची चुदाई की कहानी है, आपको कैसी लगी मुझे मेल जरूर करें.

मुझको कुछ गड़बड़ लगा, फिर दिल मानने को तैयार नहीं हुआ, मैं गाड़ी के पीछे पीछे चलने लगा.

तो ये घर आज शाम तक खाली कर देना।मैं तो डर सी गई, मैंने हाथ जोड़े और कहा- प्लीज़ कोई और सेवा बता दीजिए. यही भाभी इस स्टोरी में महत्वमपूर्ण भूमिका है, वो आज भी मेरे इस लंड पर फिदा है.

लंड देख कर भाभी पागल होकर लंड पर टूट पड़ीं… मेरे लंड पे किस करने लगीं फ़िर मेरे लंड की चमड़ी को खींच कर टमाटर जैसे लाल सुपारे को बाहर निकाल कर चारों तरफ़ जीभ से चाटने लगीं. मैं अपने दोस्त के साथ रहता था, आज वो दूसरे दोस्त के कमरे में सोने गया था. मुझे थोड़ा अजीब सा लगा लेकिन मन में एक जोश भी था और मेरी कामवासना भी काफी बढ़ी हुई थी तो मैंने उसका पूरा लंड अपने मुंह में ले लिया.

पर मैं पूरे जोश में था और उसको गिरे हुए पोज़ में ही बेतहाशा चोदे जा रहा था. मैंने उसे बेड पर उल्टा लेटने को कहा और धीरे से उसकी कमर को सहलाना शुरू किया. उसके आने के बाद मॉम भी थोड़ा मुझसे ठीक से बोलीं, तो मुझे लगा शायद मॉम आज अपनी चूत देना चाहती हैं.

बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ मेरे प्यारे दोस्तो, मेरी एक फ्रेंड की संगत के कारण ये मेरी रियल सेक्स स्टोरी बन गई है. मेरी मॉम हमेशा मॉर्डन ड्रेस जैसे सूट लेगिंग्स, कभी कभी जीन्स भी पहनती हैं.

डब्ल्यू डब्ल्यू सेक्सी बीएफ बीएफ

लेकिन छोटी मुझे देख कर घबरा गई, फिर उसकी माँ ने बहुत समझाया- हम दोनों तुम्हारी मालिश करेंगे तुम्हें अच्छा लगेगा. मैंने अपना सारा वज़न अपनी कोहनियों पर ले लिया और अपनी कमर को बिजली की सी तेज़ी से चलाने लगा. उसके पुष्ट स्तन मेरे सीने से दब गये और मैंने अपनी बाहों का घेरा उसके गिर्द कस दिया.

”कहो…!”आप बुरा ना मानना… प्लीज़!”अरे नहीं… तुम बोलो?” मैंने घूम कर एक नज़र प्रिया की ओर देखा।नज़र झुकाये, अपने दोनों हाथों में मेरा हाथ थामे, प्रिया ग्रीक की कोई देवी की मूरत सी लग रही थी. मॉम एकदम से गुस्सा करने लगीं, हम दोनों अलग हो गए, वो काम वाली आंटी अपनी साड़ी ठीक करके जाने लगी तो मॉम ने उसको बोल दिया कि दुबारा काम पर मत आना. बीएफ ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ बीएफभाभी के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह…उनकी पेन्टी गीली हो चुकी थी, तभी मैंने एक उंगली उनकी चूत में घुसा दी, जिससे वो चिहुँक उठीं.

मैं इतना गया गुजरा भी नहीं हूँ और न ही मुझे लड़कियों की नजर का पता लगता है.

उसकी चूची ऐसी थी जैसी स्पंजी रसगुल्ला… मैं उसका निप्पल चूस रहा था और वो आनन्द से जोर जोर से तड़फ़ रही थी. थोड़ी देर बाद दीदी अपने एक हाथ से अपने एक पैर को पकड़ कर फैलाने लगीं ताकि चुत थोड़ी और खुल जाए और दूसरे हाथ से दोबारा करेले को पकड़ सीत्कारियां लेते हुए उसको अपनी चुत में अन्दर बाहर पेलने लगीं ‘ओह फ़क… ओ माय गॉड… आह आह ओह…’थोड़ी ही देर में दीदी की हाथों की रफ़्तार मशीन की तरह बढ़ गई थी और दीदी चेयर की पीछे की ओर गर्दन झुकाये हुए चिल्लाते हुए अपनी चुत चोदे जा रही थीं.

मैंने विनय को बांहों में ले लिया और नंगी ही उसकी बांहों में सिमट कर उसके होंठों को चूम लिया. मैं ऑफिस में चुपचाप अपने काम में लग गई और किसी से कोई खास बात नहीं की. 20-25 मिनट बीत गए, कामिनी नहीं आई, मुझको बहुत तेज गुस्सा आ रहा था, मैं बाहर के कमरे में जाने के लिये निकला तो उन दोनों की हंसने की आवाज आ रही थी, मैं चुपचाप देखना चाहता था कि क्या हो रहा है.

पर अब तक मैं यह भी समझ चुका था कि वो नाटक कर रही है और उसे इस खेल का पूरा मजा आ रहा है.

वो सब मेरी तरफ आए, मेरे करीब आकर ठहरे, इतने करीब कि मैं एक लड़के की तो साँसें महसूस कर सकती थी और तभी वे मुझे देखकर पलट कर वापस चले गए. मैंने उसको अगले 5 मिनट तक अपना लंड चुसवाया और फिर मैंने उसको डॉगी स्टाइल में करके पीछे से उसकी चुत पे अपना लंड रख कर एक जोर का धक्का दे मारा. इसके बाद मैं उसकी कमर से किस करते हुए उसकी चुत पर आया… उसकी चुत पूरी गीली हो गई थी.

देवर भाभी की सेक्सी पिक्चर वीडियो मेंऔर मैं उसके गाल, उसके चुचे भींच भींच कर उसके होंठों को चूस चूसकर उसे मदहोश करता रहता हूँ. उस दिन पूरा दिन मेरे हाथ कुछ नहीं लगा, लेकिन रात में सोने की प्राब्लम सामने खड़ी हो गई.

बीएफ चुदाई वीडियो सॉन्ग

वो खुद की मुठ मारने वाली क्लिप देख कर गिड़ागिड़ाने लगा- मेमसाब मेरी शिकायत ना कीजिएगा. पूरे रूम में मिरर ऐसे लगे हुए थे कि अपनी झलक एक के बाद एक नजर आ रही थी. अगले ही पल मैंने अपनी पैंट को घुटने तक सरका दिया और मैं नंगा हो गया.

मैं अभी 22 साल की उम्र का हूँ और एक लेडी डॉक्टर के क्लिनिक में काम करता हूँ. दीदी- वैसे ये अचानक प्रमोशन कैसे… विजिटिंग स्टाफ से परमानेंट स्टाफ… कुछ तो बात है!दीदी- कुछ तो बात है… जो तू बता नहीं रही है… अगर नहीं बताना तो आज के बाद मुझे फ़ोन मत करना. वो बोला- इसके लंड से चुदने के बाद मेरे कमरे आओ तो सही, फिर देखता हूँ.

इसी लिए तो उस दिन कहा था कि मैं तुम्हारे लिए एक दूसरा चोदने वाला ढूँढता हूँ. मेरा दिल भर आया, जैसे ही मैंने उसे खींच कर अपने गले से लगाया तो मानो कोई बाँध ही टूट गया. मैं विनय की बातों से उत्तेजित होने लगी और मैंने देखा विनय का लंड भी वासना से खड़ा हो गया है.

यारो… रानी के हर धक्के पर इधर उधर उछलते चूचे, रानी के बिखरे हुए बाल, उसके होंठों पर छायी हुई अनंत सुख की मुस्कान, लंड के अंदर बाहर होने पर फचाक फचाक फचाक की आवाज़ें और अलका रानी की ऊँची ऊँची आवाज़ में सिसकारियां इत्यादि सब मिल के वातावरण को अत्यधिक कामुक बना रहे थे. वो बनारस की रहने वाली थी और एकदम से देसी इंडियन गर्ल लग रही थी, इंडियन साड़ी में बहुत खूबसूरत लग रही थी। उसके बदन की खूबसूरती, जिस्म का आकार, चूची का आकार, चूतड़ों का साइज़ बढ़िया दिख रहा था.

अगली कहानी में रात को बुआ के मम्मों को चूसना और उनकी बड़ी सी गांड मारने का खेल लिखूंगा.

अब मैंने अपना बरमूडा भी उतार दिया और दीदी के हाथों में अपना लिंग पकड़ा दिया. दिल्ली की सेक्सी बीएफमैंने उससे कहा कि क्या वो मुझे बाहर लेकर जाएगी?यह सुन कर उसने कहा कि उसके लिए पहले वो मुझसे मिलना चाहेगी. नौकरानी की बेटी की चुदाईमॉम भी झटके से लंड घुसने पर करीब एक मिनट तक शांत आँख बंद करके लेट गई थीं. मैंने उससे ब्रा हटा कर फोटो भेजने का कहा तो उसने पूरे नंगे दूध तो नहीं पर अपने निप्पल तक ब्रा को सरका कर गुआबी निप्पलों की हल्की सी झलक दिखती हुई एक फोटो भेजी.

उसने मुझसे कुछ पीने को पूछा तो मैंने कोल्ड ड्रंक मांगी, लेकिन वो उसके रूम में नहीं थी.

मैं- क्या हम बेस्ट फ्रेंड बन सकते हैं?माँ- फ्रेंड्स तो हम हैं ही!मैं- ऐसे वाले नहीं… बेस्ट फ्रेंड्स जिनके साथ हम कुछ भी शेयर कर सकें… अपनी प्रॉब्लम्स, अपनी फीलिंग्स… चाहें वो कैसी भी हों!माँ- कैसी भी फीलिंग शेयर करने के लिए तुम अभी बच्चे हो. पूरी टी-शर्ट ही छोटी लग रही थी और नीचे से उसकी नाभि भी बाहर नजर आ रही थी. मैं एक दिन अपनी बीवी को चोद रहा था, तो मैंने देखा कि मेरी वाइफ को अबसेक्स में मज़ानहीं आ रहा है.

गोरा रंग, उसका 32-26-33 का माप, 5’3″ का कद और डिज़ायन में कटे हुए कंधों से थोड़ा नीचे तक के बाल. उसने मेरी शर्ट उतार दी और पेंट खोल कर लंड को मुँह में ले लिया और बहुत अनुभवी खिलाड़ी की तरह मुँह में लंड लेकर गपागप लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी. तुम्हें वहां सोफे पर बैठना है और देखना है क्या होता है और चुत कमाई कैसे करती है.

हिंदी सेक्सी बीएफ 2020 की

जब मैं अंदर गया और पेमेंट इश्यू पर मैंने मना कर दिया और उठ कर चला आया. मैंने धीरे से उसका कुर्ता उतार फेंका और उसको गोदी में उठा कर बेड पर ले गया और उसको बेड पर चित लिटा दिया. कुछ आंटी और लड़कियों ने मेरे साथ सेक्स चैट भी की और कुछ लड़कियों ने अपने शहर मिलने के लिए इच्छा जताई, पर मेरे लिए यह संभव नहीं था.

तो विवेक बोला- अब तो तुम ही हो मेरी जान!और उसने कामिनी को पलटा कर उसकी ब्रा के हुक खोल दिए, कामिनी के गोरे गोरे 36डी के मम्में आजाद होकर इधर उधर झूलने लगे.

अगर तुम चाहो तो मेरे एक दो दोस्त भी हैं जो तुम्हारी जवानी का मज़ा लूटना चाहते हैं.

थोड़ी देर में मैंने देखा कि उसकी चूत में से पानी निकल रहा है और मेरे लंड पर आ रहा है. कुछ देर बाद रमेश अंकल का वीर्य भी निकल गया, लेकिन उनका लंड कंडोम में बंद था इसलिए अंकल का रस मां की चूत ने नहीं चख सका था. ब्लू पिक्चर ब्लू सेक्सलेकिन वो दोनों नहीं माने, फिर हम तीनों साथ में कॉलेज के पीछे चल दिए.

चिंटू ऊपर की बर्थ पर सो रहा था, जो मुझे मिली थी, क्योंकि और कोई भी आने वाला नहीं था तो नीचे की बर्थ मैंने ले ली. मैंने उसकी बुर और अपने लंड को साफ किया और अब उसे डॉगी स्टाइल में खड़ा कर दिया. मैं भोपाल का रहने वाला हूँ, मेरी हाइट 5 फीट 6 इंच है, बॉडी एथलेटिक है, देखने में स्मार्ट हूँ, बहुत आकर्षक तो नहीं पर अच्छा दिखता हूँ.

थोड़ी देर बाद उनको भी इस जंगली सेक्स में मज़ा आने लगा और वो मेरे लंड का स्वागत चूतड़ उठा कर करने लगीं. ओके तुम पहले मेरी झांटों की डिजायन देखना चाहोगी?”उसने धीरे से हाँ कहा.

मैंने नोटिस किया कि रोशनी पिंकी को साइड में ले जाकर उससे कुछ बात कर रही थी.

फिर मयूर शनिवार की रात मुझे अपनी बाइक पर बिठा लाया और कानूनगो साहब के बंगले पर छोड़कर वो चला गया. कुछ देर बाद दीदी की चुत का दर्द खत्म हो गया और वो चिल्लाने लगीं ऊऊ. मैं जब तक उसको सॉरी बोलता, मेरे फ़ोन की बैटरी खत्म हो गई तो मैंने अगले दिन उसको कॉल किया और उसको सॉरी बोला.

एक्स एक्स वीडियो न्यू एचडी जैसे ही वो रुकी, मैंने अपन स्पीड तेज कर दी और उसको जोर जोर से चोदने लगा. मैंने तो उसकी बुर पर अपना मुंह लगाकर चाटना शुरु कर दिया, कुछ ही सेकंड में नीलम के मुंह से गर्म सिसकारियां निकलने लगी.

मैंने अब रोशनी को धीरे से उठाया और कहा कि अपनी चूत को बाथरूम में पानी से साफ़ करके आओ. मैंने कहा- मैं क्यों किसी से कहूँगा, मैं तो यहाँ से दो तीन दिन बाद चला जाऊंगा. शिवम बोला- बिल्कुल जैसा तुम बोलो आशीष, क्या मस्त माल पटाया है तुमने यार! उसके होंठ नाक और आंखें कितनी खूबसूरत है लगता है बहुत चुदासी है! मैंने वन्द्या से सेक्सी लड़की आज तक नहीं देखी, बहुत मजा आएगा।जब रूम में आ गई वन्द्या और मैं लिपट गया, वन्द्या के होंठ चूसने लगा, फिर बूब्स दबाने लगा तो वन्द्या गर्म होने लगी.

बीएफ वीडियो सेक्स दिखाएं

तो मैं 69 की पोजीशन में हो गया, मतलब मिंकी के मुँह में अपना लंड डाल दिया और मैं मिंकी की चूत चाटने लगा तो कुछ समय बाद ही मिंकी कहने लगी- साहब, अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है इसलिये अपना लंड मेरी चूत में डाल दो!तो मैंने भी देर करना मुनासिब नहीं समझा और झट से मिंकी के मुँह से अपना लंड निकल लिया और उसकी चूत पर अपना लंड घिसने लगा. दोस्तो, वो मेरा पहला किस था और आप जानते हो पहली बार किस की तो बात ही कुछ और होती है, चाहे वो पहला किस हो या पहला सेक्स या पहला कुछ और. मैं हंसने लगी और बोला- ये कबसे सीखा तुमने?वो ‘सॉरी सॉरी’ बोलने लगा.

थोड़ी देर इसी तरह पड़े रहने के बाद दीदी ने करेला अपनी चुत से बाहर निकाला और वहीं किचन काउंटर पे रख दिया. अब मैंने उसके होंठों का चुम्बन लिया, उसे होंठों पर जीभ फेरी और उसके एक होंठ को चूसने लगा.

जब मैंने कॉलेज जाना शुरू किया तो मैं पढ़ाई के चलते कभी कभार की जिम जा पाता था और ज्यादातर कसरत मैं अपने घर के सामने के आंगन में ही करता था.

फिर चिंटू ने मेरी गांड मारने को कहा तो मैं चाहता था कुछ ऐसा करना लेकिन मैंने मना कर दिया क्योंकि मुझे डर लग रहा था कि गांड में दर्द होगा और न जाने क्या हो जाए!उसने कहा- ठीक है या, लंड गांड के अन्दर मत लेना, पर सिर्फ़ गांड पर टच करवा ले. इतना दर्द हुआ कि मुझे कुछ होश नहीं रहा, मैं पूरी ताकत से चिल्लाने लगी, रोने लगी. ऐसा देख कर पहले तो वो थोड़ा नर्वस हुई लेकिन मैंने उसे उठाया और किस करने लगा.

ईमेल-[emailprotected]और आप मुझे फ़ेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट सेंड कर सकते हैं, मेरा FB प्रोफाइल है https://www. कभी कभी तो सबके मौजूदगी मैं बाथरूम जाती तो देवर अपने रूम से उस बाथरूम में घुस आते और हम दोनों चुदाई कर लिया करते थे. मैंने उसे हाय बोला तो उसकी मुस्कराहट से पता चला कि वह मेरे घर ही आ रही थी.

मेरी स्टोरी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेरी मेल आईडी पर मेल करके बता सकते हैं।[emailprotected].

बीएफ मूवी बीएफ मूवी बीएफ: इस तेज झटके के बीच अचानक लगा जैसे मेरी मूत निकल गई और मैं धड़ाम से माँ के ऊपर गिर पड़ा. मैं- विनय ऐसी बातें कॉफ़ी शॉप में नहीं करनी चाहिए, किसी ने सुन लिया तो गलत हो जाएगा.

मैं उसे नोट्स लाकर देने लगा तो देखा कि वो मेरी बुक्स के बीच में पड़ी एडल्ट पिक्स वाली बुक को ध्यान से देख रही थी. इसी बीच मैंने उस के कपड़े उतारने शुरू किए और उसके सलवार सूट के दोनों हिस्सों को उतार दिया. मैंने भी उसके लंड के हर धक्के का जवाब अपनी गांड उठाते हुए तगड़े धक्कों से देना शुरू किया.

उसकी बात सुनकर मैंने अपने एक दोस्त को फ़ोन किया, उसको चुदाई का काफी अनुभव है.

मैं थोड़ा सा डर गया, पर न जाने क्यों मैंने दीदी के मम्मों से हाथ नहीं हटाया. अब तक उसकी न सील टूटी होने की वजह से उसे दर्द हो रहा था, इसलिए दो मिनट तक मैं ऐसे ही रुका रहा और उसकी पूरी बॉडी को किस करता रहा. वो जैसे ही चर्च से बाहर निकला, मैं ऐसे उसके पास चली गई, जैसे यह कोई इत्तेफाक हो.