एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ

छवि स्रोत,चूत की चुदाई हिंदी में बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू फिल्म सीन: एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ, अब जब भी हम चुदाई करेंगे, तो मैं आपको दिन में मैसेज करके बता दूंगी.

सेक्सी बीएफ एक्स एक्स एचडी

पारिज़ा- क्या पागलों जैसी बात कर रहे हो!मैं- देखो डार्लिंग, तुम्हारी मॉम की मृत्यु के बाद उन्होंने एक बार भी मजा नहीं किया और अंकल अभी भी एकदम फिट हैं. घोड़ा लेडीस के बीएफ वीडियोपांच मिनट हो चुके थे उसकी चूत में लंड फंसे हुए और उसको मेरे लंड पर अपनी गांड चलाते हुए.

मैं फ़ोन पर व्हट्सएप चला रहा था तो देखा कि उसने सेड सांग्स का स्टेटस लगा रखा था. एक्स एक्स सनी बीएफदरअसल रागिनी की बातों से पता चल रहा था कि वो पति के साथ चुदाई में जरा भी मजा नहीं ले रही है.

जब वो मेरे नीचे के होंठ को चूसती, तो मैं उसके ऊपर के होंठ चूसने लगता.एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ: कुछ ही देर में वो कूद कूदकर थकने लगी और मैं भी स्खलन के करीब पहुंच गया था.

उसका लंड काफ़ी लंबा था इसलिए मुझे लग रहा था कि उसका लंड मुझे मेरी अंतड़ियों में घुस रहा है.मुझे देखकर मुस्कराते हुए बोली- मार लिया मैदान?मैंने उसे कविता की कच्छी दिखाते हुए आंख मार दी तो कातिल सी मुस्कान देने लगी। मैंने उसके सामने कविता की कच्छी को अपनी जिप वाले भाग पर लंड पर रख कर रगड़ दिया.

हिंदी आदिवासी बीएफ - एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ

धीरे धीरे मेरा लंड पूरा का पूरा उसकी चूत में अंदर बाहर होने लगा और मेरी स्पीड बढ़ती चली गयी.शायद इंद्र भगवान भी उसको देख कर इंद्रलोक छोड़ कर आ जाएं … तो अतिशयोक्ति न होगी.

मैंने उसके बात से सहमत होते हुए उसे अपनी बांहों में भर लिया और हम दोनों सोचने लगे कि किस शहर में रहना चाहिए. एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ मैंने बहुत सी गर्ल के साथ सेक्स किया है और उनमें से कुछ कॉलेज गर्ल भी हैं.

खाना होने के बाद सर ने बिल पेमेंट किया और मुझे छोड़ने के लिए बोले, तो मैं राजी हो गयी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ?

मैंने अपने फोन में कठिन सा पासवर्ड लगाया हुआ था लेकिन जब फोन उसको देता था तो अनलॉक कर देता था. इस समय हम दोनों ऐसी पोजीशन पर आ गए थे कि अपनी चुदाई को रोक ही नहीं सकते थे. अब मैं दोबारा से उठने लगा तो कविता ने फिर से नीचे बैठ कर मेरे लंड को मुंह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी। अब शायद उसके अंदर सेक्स ज्वाला कुछ ज्यादा ही भड़क गयी थी.

उसकी आंखें बेहद नशीली हो गई थीं और वो चुत को लंड से कुछ यूं रगड़ रही थी, जैसे खीरा को कद्दूकस कर रही हो. फिर मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में फंसी रसमलाई के नीचे से चूत के अन्दर डाल दी और रसमलाई को बाहर निकाल कर खा गया. 4-5 मिनट तक सेक्सी गांड चोदने के बाद मेरा माल निकल गया और वो निढाल होकर मेरे ऊपर लेट गयी.

अब मैंने ब्लाउज पहना, पर तभी एक दिक्कत समझ आई कि अपनी पीठ पर डोरी कैसे बांधू. भर दे इसको अपने माल से मेरे लाल।फिर मैंने मां की गांड को थाम लिया और जोर जोर से नीचे से धक्के लगाने लगा. मोती- क्या डालूं भैनचोद?प्रिया- अरे मादरचोद … अब क्यों तड़पा रहा है … डाल दे अपना लंड मेरी चूत में और बना ले रंडी अपनी … आह जी भर के चोद दे मुझे, आह साले आज से मैं तेरी रंडी हूं.

आधा घंटे में वो दो बार अपने शरीर को अकड़ा कर मेरे मुँह पर अपनी चुत का पानी निकाल चुकी थी. मैं बोला- मेरा निकलने वाला है जान … कहां निकालूं?फराह बोली- मेरी बुर के अंदर ही निकाल दो जान … अब तुम्हारा सब कुछ मेरा भी है.

एक दिन सुषमा मैडम को पढ़ाते पढ़ाते काफी टाइम हो गया और जब हम जाने लगे तो बाहर जोरों से बारिश हो रही थी.

इसी के साथ सीमा आंटी की एक बार फिर से जोरदार चीख निकल पड़ी- मादरचोद … भैन के लंड … रंडी ही समझ लिया तूने तो … मां चोद दी एक ही धक्के में … आह बहन के लौड़े.

अब तो मेरे मुंह से स्वत: ही सिसकारियां फूटने लगी थीं- आह्ह … उम्म … आह्ह … हाह … ओओ … ओह्ह … होह … आई लव यू राजीव … आई लव यू।वो बस मुझे चोदे जा रहा था. पांच मिनट घमासान गांड पेलने के बाद मैंने पारिज़ा को घुमाकर लेटा दिया और बिना देर किए उसकी चुत में लंड पेलने लगा. वो मेरे साथ अब ऐसे रहने लगी थीं, जैसे हम दोनों एक ही घर में रहते हों.

करीब आधा घंटा की गांड चुदाई के बाद उसके लंड का रस मेरी गांड में गिरा, तो मुझे राहत सी मिलने लगी. वो किस करते करते मुझे जहां तहां काटने लगा था, इससे मुझे दर्द होने लगा. लंड चुत के अन्दर घुसा तो मैंने अपने पूरे लंड को एक ही झटके में अन्दर कर दिया.

इस वजह से मेरे मुंह से थूक बाहर निकलने लगा लेकिन फिर भी मुझे उसको मजा तो दिलाना ही था.

फ्रेंड्स मैं आपको कैसे बताऊं कि मुझे क्या मस्त मजा आ रहा था, मुझे उनको किस करने में … और उनकी एकदम गोरी गोरी भरी हुई जांघों को सहलाने में … आह. मैं थोड़ा झुका और पीछे से लिंग उसकी योनि पर सेट किया और एक बार में ही पूरा पेल दिया. हम दोनों की हाय हैलो हुई और मैंने कह दिया कि मुझे सुमन ने जो आपके बारे में बताया था मैं उसके लिये तैयार हूं.

अब मैं स्खलित होने से पहले प्यासी भाभी की गोरी चुत में लंड डालने का भी काल्पनिक आनंद लेना चाहता था. मैंने उन्हें अन्दर बुलाया और छत की सफाई करने को बोलकर उन्हें छत पर भेज दिया. दोस्तो, मैं पिछले कई सालों से विश्वविख्यात हिंदी सेक्स कहानी की साईट अन्तर्वासना का नियमित पाठक रहा हूँ.

तीन-चार मिनट में ही मेरा वीर्य निकल गया और फिर मैं चड्डी ऊपर करके आराम से लेट गया.

उसके निप्पल सुर्ख काले रंग के थे और लग रहा था कि जैसे किसी गोरे चेहरे पर किसी ने एक काली बिंदी लगा दी हो जो उसकी खूबसूरती में चार चांद लगा रही थी. दिशा दिखने में काफी अच्छी थी … लेकिन मुझे उसकी उभरी हुई गांड बहुत अच्छी लगती थी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ मैंने उसके मोटू शौहर से नजरें बचाते हुए और उस नाजनीन भाबी को दिखाते हुए अपना लंड सहला दिया. जब उसको ये अहसास हुआ कि उसके मुंह में मेरा रस भर गया है तो उसने एकदम से लंड को बाहर निकाला और मेरे रस को बाहर थूक दिया.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ मैंने थोड़ा जोर लगाते हुए आगे की ओर फिर से धक्का दिया और लंड थोड़ा सा और सरक गया. उसकी चूत में उंगली घुसा कर मैं अंदर बाहर करने लगा तो वो एकदम से मुझसे लिपट गयी.

शायद इंद्र भगवान भी उसको देख कर इंद्रलोक छोड़ कर आ जाएं … तो अतिशयोक्ति न होगी.

एक्स एक्स एक्स हॉट वीडियो बीएफ

मुझे लगा कि मेरी चूत की मांसपेशियां अधिकतम सीमा तक खिंच कर टूट चुकी हैं और चूत फट चुकी है. मैं उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा और हम दोनों के मुंह से सिसकारियां फूटने लगीं. थोड़ी देर किस करने के बाद उन्होंने मुझसे बोला- तुम चाय लोगे या कॉफी?मैंने उन्हें चाय के लिए बोला.

चलिए आज मैं आप लोगों को अपनी हॉट चूत की सील टूटने की सेक्स कहानी सुनाती हूं. मैंने उसके ट्राउजर को पैंटी सहित नीचे खींच दिया तो वो शर्म से लाल हो गयी. जब वो झड़ गई … तो मैं अपने पति को बेडरूम लेकर गई और बेडरूम में काफी देर तक अपने पति से चुदवा कर खुद को शांत किया.

सुरेश ने सुमन को जबाव दिया- बस थोड़ा सब्र रखो, हम जल्दी ही पहुंच जाएंगे.

वो मेरे पास आया और उसने पूछा- कोई परेशानी?मैंने उसे बताया, तो उसने दरवाजे को धक्का दिया और अन्दर आ गया. मैडम भी एकदम से ऊपर को उठीं … तो उनसे कैचप की बोतल मेरे ऊपर पूरी ही गिर गयी थी, जिससे मेरे सारे कपड़े गंदे हो गए थे. हँसते हुए एक साइड में डिम्पल आता था। अंजू की गर्दन सुराही जैसी थी। हाइट नॉर्मल 5’4″ थी और फ़िगर 32-28-34 का था.

मैंने उसकी तरफ देखा और उससे आंखों के इशारे से ही पूछा कि मूड है?उसने हंस कर मुझे आंख मार दी. मैं ऊपर गया लेकिन साइड के पड़ोस वाले मकान मालिक अंकल छत पर ही घूमते दिखते. अब वो मुझ पर कूदने लगी और मैं पीछे से उसके कूल्हों को देखता रह गया.

ये सुनकर मैं परेशान हो उठी- कब तक आ जाएगा?उसने लाचारी भरे चेहरे से कहा- कभी आधे घन्टे में भी आ जाता है, तो कभी एक घन्टे में. मेरे घर में मेरा लालन पालन बहुत ही संस्कारित और सनातन धार्मिक माहौल में हुआ.

मैंने उसे उधर ही टेबल पर लिटा दिया और उसकी टांगों को अपने कंधों पर रख कर उसे चोदने लगा. उनसे मैंने खाने के लिए पूछा तो उन्होंने यह बोलकर मना कर दिया कि वो बाहर से ही खाकर आये हैं. फिर जैसे ही मैंने गर्लफ्रेंड की एक बगल में मुँह डाला, मुझे बहुत अच्छी खुशबू आ रही थी.

चाची सेक्स स्टोरीज इन हिंदी में पढ़ें कि मैं अपनी विधवा चाची के सेक्सी जिस्म को भोगना चाहता था.

मैंने कहा- क्या हुआ मां?वो बोली- लगता है किसी कीड़े ने काट लिया मुझे प्राइवेट पार्ट पर!मैंने तुरंत बैग से अपना छोटा फोन निकाला और उसकी टॉर्च जलाकर मॉम की चूत पर मारने लगा. ये सुनकर सुरेश और ज़्यादा उत्तेजित हो गया और उसने मीता की सलवार भी उतार दी. तो मौसा जी मुझे अपनी पत्नी समझ कर ही मुझसे लिपट गए थे और मेरे स्तन मसलने लगे थे.

मुखिया- राम राम बेटी … कैसी हो तुम, क्या काम था, जो तुमने मुझे बुलवाया है. लगभग आधे घंटे तक हम लोगों ने एक दूसरे के शरीर से खेला और नहाने के बाद बाहर आ गए.

मैं बाइक से अपनी मौसी के घर पहुंचा, तो पता चला कि घर के सभी लोग कहीं शादी में बाहर गए हैं और घर पर केवल मेरी भाभी हैं. अब मैं पूरी नंगी उनके सामने थी, तो मैंने अपने हाथों से अपने उभार ढकने की नामुमकिन कोशिश की. वैसे तो मेरी जिन्दगी में कई सारी घटनाएं हुई हैं और हर घटना पर एक कहानी बन सकती है.

हिंदी में बीएफ चाहिए वीडियो

पहली बार मैंने किसी जवान लड़के को इतनी मस्त चुदाई करते हुए देखा था.

क्योंकि वो मैडम देखने में एकदम किसी सेक्सी मॉडल से कम नहीं लग रही थीं. दर्द को बर्दाश्त करते हुए मैंने उससे कहा- बस थोड़ी देर के लिए रुक जाओ. हार्ड सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपने घर से गर्लफ्रेंड के घर गया.

इससे तो अच्छा होता कि तू अपने बीज को किसी लड़की की चूत में ही डाल देता. वो मुझे कसके और गले लगाने लगी और उसके हाथ अच्छे से मेरी पीठ पर गड़े जा रहे थे. बीएफ सेक्स 18 सालकमरे में पहुंचने पर भाभी ने कामुकता में मेरे एक निप्पल को अपने होंठों से छुआ.

मुझे कोई दिक्कत नहीं थी बल्कि उसकी नंगी जांघें देख मेरा लंड खड़ा हो जाता था. मैंने उनकी एक चूची मसलने लगा, दीवार से सटा कर उनके होंठ, गर्दन, छाती पर चूमने लगा.

मैंने उनके कूल्हों को पकड़ा और गीली हुई चूत में एक ही झटके में लौड़ा पूरा जड़ तक अन्दर घुसा दिया. उसको देखकर कोई ये नहीं बता सकता था कि उनकी उम्र क्या होगी? मगर अभी तक उनको एक भी बच्चा नहीं था. मौसी बोली- मगर तू तो कह रहा था कि तेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं है?मैं बोला- मैंने गर्लफ्रेंड की गांड चुदाई की बात तो की ही नहीं.

मैं बोला- क्या हुआ? इतना हिल क्यों रही हो? आराम से हो जाओ, अब बहुत मजा आने वाला है तुम्हारी बुर में. उसने अपनी दोनों जांघों को जोर से एक दूसरे से चिपका लिया और मेरे सिर को ठेल कर चूत से हटाने लगी। मैंने अपना मुंह उसकी चूत से हटा लिया। उसने अपनी दोनों हथेलियों से चूत को छुपा लिया और लंबी लंबी सांसें लेने लगी।फिर वो उठने लगी. फिर एक दिन रात को खाना खाने के बाद में सोफे पर बेठा था और पारिज़ा किचन में थी.

हम दोनों चुदाई की मस्ती में इतने अधिक कामुक हो गए थे कि एक दूसरे को चाट और काट रहे थे.

क्या बताऊं दोस्तो, उस दिन निशु क्या बनकर आई थी! उसने ब्लैक कलर का टाइट पंजाबी सूट पहना था. ऐसा नहीं हैं कि उससे पहले मैंने खूबसूरत लड़कियां या आंटी नहीं देखी थीं.

कुछ ही झटके में मेरा सारा माल उसके मुँह में निकल गया और वो रांड सब पी गयी. फिर भाभी ने अपनी जीभ निकालकर कर मेरे मुँह में दे दी, जिसको मैं बड़ी तल्लीनता से चूस रहा था. उसकी सफ़ेद चड्डी में उसकी फूली हुई देहाती चूत देख कर सुरेश मस्त हो गया.

काम क्रिया मेरे लिये नया अनुभव नहीं था मगर कोई अन्जान आदमी मेरे साथ ये सब कर रहा था और दो अन्जान लोग मुझे ये सब करवाते हुए देख रहे थे. ग्यारह बजे रेस्टोरेंट में मुलाकात हुई और साथ जीने मरने की कसमें खा लीं. मैं- वो उस दिन की वजह से सविता आपसे …मयंक- क्या आपसे … पूरी बात कहो न!मैं- वो कह रही थी कि …मयंक- अरे साफ़ बता ना?मैं- प्लीज़ गुस्सा ना करना … जो भी हो हां या ना … कर देना बस … ओके!मयंक- ठीक है.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ उसकी रूममेट को सिगरेट पीने की आदत थी, तो उसने सिगरेट की डिब्बी निकाली और मेरी तरफ बढ़ा दी. फिर बहार ने मेरा लंड चूसा और लगभग 10 मिनट तक चूसने के बाद मेरा लंड फिर से पूरा तन कर खड़ा हो चुका था.

कार्टून की बीएफ सेक्सी

महक ज्यादा देर तक मेरी इस चुदाई को झेल नहीं पा रही थी … और उसने अपनी चूत का रस छोड़ दिया. फिर उससे पूछा- मजा आया?वो कुछ नहीं बोली।तो मैं बोला- फिर से करूँ??तब भी वो कुछ नहीं बोली और सिर्फ मेरी तरफ देखती रही।मैंने उसे चित होकर लेटने को होने को कहा और वो बिना कुछ बोले सीधी होकर लेट गयी। उसकी चूत पर बाल की जगह रुएँ थे. आपकी बुर पर अपना लंड रख कर धीरे से धक्का मारूंगा ताकि आपकी बुर में दर्द न हो.

फिर मैंने उठकर उसकी टांगों को फैलाकर चूत को देखा और अगले ही पल उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख लिया. मेरे घर में दो ही कमरे थे, तो अलग अलग रूम में न सोने के बजाए हम लोग एक ही रूम में सोते थे. जींस वाला बीएफ वीडियोउसने भी लोअर में हाथ डाल कर एक हाथ से मेरे लंड को पकड़ लिया और आगे पीछे करने लगी.

कमर मेरी 28 इंच की है, जिसे मटका कर जब मैं चलती हूँ, तो अपनी 36 इंच की गांड को अक्सर झटके देते हुए चलती हूं.

मैं एक हाथ से अपनी चूत सहला रही थी और एक हाथ से उसका लंड पकड़कर चूस रही थी. पांच-सात मिनट की इस कामुक मसाज के बाद उसकी योनि ने एक बार फिर पानी छोड़ दिया और अब तक उसकी गांड भी मेरा अंगूठा लेते हुए ढीली हो चुकी थी.

मुझे चाची की चूचियो पर लगा शहद तो अमृत समान लग रहा था, वैसा स्वाद ज़िन्दगी में मुझे कभी नहीं मिला था. करीब 5 मिनट के बाद उनके मुँह में ही झड़ गया और मैडम मेरा सारा माल पी गईं. मगर हम दोनों की आंखों में एकवासना की प्यासथी, जो कभी भी एक सेक्स स्टोरी बन सकती है.

फिर धीरे से उसने मेरे हाथों को पकड़ा और मेरी चूचियों से मेरे हाथों का पर्दा हटा दिया.

नगमा बोली- अंकल!! रवीना!! ये सब क्या हो रहा है? अंकल आप रवीना के साथ??मैंने बात को संभालते हुए कहा- बेटा, वो बस ऐसे ही हो गया. मैं उसको नजर भर कर देख भी नहीं पाया था कि उसने अपनी बांहों का घेरा मेरे गले में डाल दिया. मुखिया- हां ये हुई ना बात … चल अब अपनी छूट को पानी से साफ कर ले … और हां किसी को ये बात ना बताना, वरना अच्छा नहीं होगा.

घोड़े के साथ बीएफ सेक्सीये कहते हुए वो भी अपनी गांड को मुझसे बड़ी तेजी से टकरा रही थी और मैं भी उसे बड़ी तेज तेज धक्के मार रहा था. मौसा जी मेरे होंठों को चूसते रहे और मेरे दोनों उरोजों को मींडते मरोड़ते रहे, मैं बेबस पंछी की तरह उनके बाहुपाश में जकड़ी मन ही मन फड़फड़ाती रही.

लड़की की चुदाई चुदाई बीएफ

इसके आगे तो अब रोज खाना, चुदाई करना और सोना यही हुआ … पूरे एक महीने तक यही चलता रहा. मुखिया ने अपने होंठ गीता की छोटी सी चुत पर टिका दिए, जो हल्के रोंए से घिरी हुई थी. जिन्होंने मुझसे उनके सुहागरात के किस्से को शब्दों में पिरोने का कहा, तो मैंने भी उनके आग्रह को स्वीकार करते हुए ये सेक्स कहानी लिखी है.

फिर न जाने क्या हुआ, उन्होंने पलटकर मुझे इतनी जोर से अपनी बांहों में जकड़ा कि उस दिन किसी औरत की पकड़ का अहसास हुआ. अगर आपको मेरी यह आपबीती, मेरी रियल चोदा चोदी स्टोरी पढ़ने में मजा आया हो तो मुझे अपना फीडबैक मेरी ईमेल पर भेजें और मेरी क्सक्सक्स हिंदी स्टोरी पर कमेंट्स में भी अपनी राय देना न भूलें. लेकिन बाप-बेटी के जिस्मानी संबध से पारिज़ा की आम जिन्दगी में जरूर बदलाव आने वाला था.

डॉक्टर अंकल ने उनको देखा और चेकअप करने के बाद बोले कि इनकी आंतों में थोड़े से अल्सर हैं, मुझे ऐसा डाउट है। इनको मेरे क्लीनिक पर लाना पड़ेगा. खाना होने के बाद सर ने बिल पेमेंट किया और मुझे छोड़ने के लिए बोले, तो मैं राजी हो गयी. वो मना करने लगी मगर मेरी ज़िद के आगे उसको सलवार उतारनी पड़ी।अब मैंने अपने हाथों से उसकी काली पैंटी को उतारा.

लेकिन रास्ते में मेरी स्कूटी खराब हो गयी … तो मैंने आपसे हेल्प मांग ली. मुखिया- बस अब बहाने मत बना, जल्दी बता कब ला रही है उसे!सन्नो कुछ बोलती, तभी दरवाजे पर कालू ने ठक ठक कर दी.

सभी के सोने के बाद प्रेरणा भाभी उठकर चुपके से उस कमरे में आई जहाँ मैं सोया हुआ था.

मैंने पूछा- कितने दिन हो गए?उन्होंने कहा- आठ साल हो गए, आज बहुत दर्द होने वाला है. बीएफ 2016 बीएफभाभी की चीख़ फिर से निकल गयी- उइ मां मार दिया साले ने … फाड़ दी मेरी गांड!पारो भाभी दर्द से तड़पने लगीं. देहाती गांव के बीएफ वीडियोआज उनकी उम्र 60 साल है मगर अभी भी वो चालीस साल के जवां मर्द दिखते हैं. मुखिया- उहह उहह ले साली रांड आह … ले … आज मेरा ये लंड उस माल को देख कर भड़क गया है.

[emailprotected]हॉट सेक्स मॉम स्टोरी का अगला भाग:मां और बहन की चुदाई का मजा- 2.

वो जोर जोर से गाली देने लगी- साले कमीने … भोसड़ी वाले … तूने मेरी देसी बुर को फाड़ कर रख दिया. मुझे भी अगर किसी से पैसे मिलते तो मैं भी उसको अच्छी तरह खुश रख सकती थी. भाभी मेरे दायें डोले को सहलाती हुए बोली- देखिये, ज्यादा इंतजार न करवाइयेगा.

झड़ने के बाद मेरी वासना शांत हो गयी और मैंने उसकी सलवार से अपना हाथ धीरे धीरे वापस बाहर निकाल लिया. मैं अंदर जाकर सोफे पर बैठ गया और वो कपड़े चेंज करने के लिए चली गयी. एक हफ्ते के बाद मैंने पारिज़ा के साथ सेक्स करने का मूड बनाया और उसे बिस्तर में अपने साथ खींच लिया.

बीएफ बीएफ चोदने वाला

मैंने देखा कि भाभी ने वही जाली वाली ब्रा पहनी थी, जो मैंने उन्हें गिफ्ट की थी. अब मुझे परेशानी होने लगी कि अगर किसी की नजर मेरे तने हुए लंड पर चली गयी तो बड़ी शर्मिंदगी झेलनी पड़ेगी. मैंने कहा- रवीना मेरी जान … अब कुछ काम किया जाए?वह कुछ नहीं बोली तो मैंने सोचा कि मौका है इमरान, आज चोद ले, फिर पता नहीं चोद पायेगा या नहीं!इसके बाद मैंने रवीना को नीचे लिटाया और अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रखा लेकिन मेरा लंड धक्का मारते ही बार-बार फिसल रहा था.

मेरा 6 इंच का लौड़ा अब बेकरार था उसको चोदने के लिए।काफी देर तक उसकी चूत का रस चाटने के बाद मैंने कहा- अब मुझसे नहीं रुका जा रहा मिकी, चूत दे दे यार।वो मुस्कराने लगी और उसने बेड के नीचे से कॉन्डम का एक पैकेट निकाला.

फिर उसको गर्म करके उसकी सेक्स की प्यास बढ़ाई और इसी के बाद मैंने अपना आखिरी दांव चला.

मुझे भी बहुत समय हो गया था सेक्स किये हुए तो मैंने सोचा कि जब चूत घर में ही उपलब्ध है तो फिर क्यों न मैं भी चुदाई का थोड़ा मजा ले लूं. कुछ देर लंड चुसवाने के बाद मैंने उसकी पैंटी उतार दी और उसे चित लिटा दिया. एचडी एक्स वीडियो बीएफइसलिए मैंने उसको बोल दिया कि मिकी को चोदने के बाद मैं किसी और के साथ करूंगा.

उन्होंने मेरे बारे में पूछा, तो मैंने भी उन्हें अपने बारे में बताया कि मैं स्टडी के साथ पार्ट टाइम मसाज कर लेता हूं. अंत में जब बारिश तेज हो गई, तो मैंने चाची से कहा- आप नीचे चलिए … मैं बाकी के कपड़े लेकर आता हूं. प्रत्येक इंच अंदर जाते लंड के साथ पूजा के मुंह से- आह्ह, ईईई, उफ्फ, मर गयी, उईई मां, ओह्ह जैसी आवाजें निकल रही थीं.

मुझे ये भी लगता था कि मुझसे बात करते हुए वो अपनी चूत में उंगली किया करती है. पारो भाभी मुझसे बोलीं- चलिए आप टीवी देखो, मैं खाने की तैयारी करती हूं.

मैंने फ़ोन उठाया, तो मैडम कहने लगीं- विक्की क्या तुम सो गए थे?मैंने कहा- अभी नहीं … नींद नहीं आ रही थी.

Xxx इण्डिन अंकल सेक्स स्टोरी को शुरू करने से पहले मैं आप लोगों को अपना परिचय दे देता हूं. आदी ने मेरी बाइक को खड़ा किया … तो संजय और मैंने उसका खूबसूरत बला की स्कूटी को खड़ा किया. मैंने कहा- लेकिन वो तो काफी बड़े हैं मुझसे!सुमन बोली- तो क्या हुआ यार? प्यार उम्र को थोड़े ही देखता है.

भाभी बीएफ हिंदी में वैसे तो मौसी की चूत पहले ही गर्म हो चुकी थी और उसकी चूत से रिसता हुआ पानी इस बात का गवाह भी था. पता नहीं कब उसकी आंख खुली और उसने मेरे बदन में क्या देखा कि वो मेरी ओर मुंह करके लेट गया.

उसने मचलते हुए कहा- भैया अब जल्दी से लंड डाल दो … पूरे 4 महीने से लंड नहीं गया है … पेलो न जल्दी से. वो लगातार मादक सिसकारियां ले रही थीं और बोल रही थीं- आह बहुत मजा आ रहा है. एक दिन मैंने उससे उस लड़के के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि वो उसके रिश्तेदार का लड़का था, जो उसे यहां शिफ्ट करने आया था.

बीएफ कश्मीरी

मैं अपनी बहन के सेक्सी जिस्म की बातें बताकर उनका लंड खड़ा कर देती थी और फिर वो जोश में आकर मेरी ही चूत मार लेते थे. दोस्तो, मैं उसकी चुत से निकली गर्म मूत की धार को अपने मुँह में लेता हुआ सब पी गया. वो मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगी तो मैंने उनको मना कर दिया.

पूरी रात मेरा नंगा बदन उससे चिपका रहा था।एक दिन और एक रात हमने होटल में ही गुजारी. थोड़े ही धक्कों के बाद विभा भाभी फ़िर से झड़ गईं और उनके दो मिनट के बाद मैंने भी विभा भाभी की चूत में अपना माल छोड़ दिया.

तभी शैतानी में भतीजे ने उनके कमरे का दरवाज़ा खोल दिया और भाभी रात के कपड़े बदल रही थीं.

मैंने उसकी क्लिटोरिस को जीभ से जैसे ही छुआ तो उसके पूरे शरीर के रोंगटें खड़े हो गए. [emailprotected]गोवा सेक्स स्टोरी इन हिंदी का अगला भाग:गोवा टूर में ग्रुप सेक्स का मजा- 3. अगर शरीर की बात करूं तो दोस्तो मेरा शरीर गठीला है और मेरे लंड की लम्बाई 9 इंच है और मोटाई भी लम्बाई के अनुरूप ही है.

सामने मूवी में हॉरर का माहौल था, तो इधर हम दोनों में रोमांस का माहौल था. जब एक मिनट बाद मैंने सामान्य रहते हुए दूरी बार अपनी नज़र मोबाइल से हटा कर उठाते हुए उसकी तरफ देखा, तो वो अपना बुर्का उतार रही थी. विनी ऐसे ही एक दो मिनट तक मेरी योनि चाटती रही फिर उसने योनि के होंठ खोल दिए और अन्दर की तरफ चाटने लगी.

इस प्रहार से पूजा ऐसे चीखी कि उसकी आवाज शायद बाहर मौजूद लोगों तक भी पहुंची होगी.

एक्स एक्स एक्स बीएफ हॉट बीएफ: इस क्रिया मैं मेरी चूचियां रोहन के सीने से सटकर ऊपर नीचे होने लगीं. आते ही मैंने उसके सीने पर बांहें फैला दीं और उसके गालों को सहलाने लगा.

अब बारी थी फेरों की, तो अक्सर आपने देखा होगा कि जोड़ों के कपड़ों में आपस में गांठ बांधकर फेरे लिए जाते हैं, पर यहां तो कुछ अलग होना था. तो देसी Xxx चूत की कहानी के अगले भाग में सुमन की चुत चुदाई के साथ साथ कुछ और भी सेक्स आपके मजे के लिए है. थोड़ी देर बाद जब मुझे होश आया, तो मैंने सुनयना भाभी की ओर देखा, उनके चेहरे पर भी एक सुकून सा दिख रहा था.

पारिज़ा की मादक आवाज के साथ ही मैं उसके दोनों कबूतरों को सहलाने लगा.

ऐसे बिना दरवाजा लॉक किये कौन करता है?‘अब ये बता कि तुझे ये सब करने की क्या जरूरत आन पड़ी? तू तो इतनी सारी औरतों के पास जाता रहता है. ‘महक पता नहीं मैं कैसे कहूँ … लेकिन मैं आज अपने दिल की बात कहना चाहता हूँ, पता है तुम्हें, उस दिन जब हम दोनों का एक्सीडेंट हुआ था … तो तुम गुस्से में चली गयी थीं. जैसे ही मोनिषा आयी, तो मैंने उससे पूछा- रात को नींद कैसी आयी?मोनिषा ने हंस कर कहा- भैया नींद तो बहुत ही बढ़िया आयी.