सी वीडियो बीएफ चुदाई

छवि स्रोत,बीएफ एक्स सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

भारतीय लंड: सी वीडियो बीएफ चुदाई, तब तक दूसरी महिला ने पूछा- क्या आप सब सारिका को पहले से जानते हो?तब कांतिलाल ने उत्तर दिया- हां कल रात से तीनों सारिका को अच्छे से पहचान चुके हैं.

फिल्म देखने बीएफ

तभी मैंने अपनी उंगली उसकी चूत में डाली तो वो दर्द से उछाल गई और बोली- उंगली डालने से दर्द हो रहा है तो लंड कैसे झेलूँगी?मैंने कहा- डरो नहीं मेरे जान, मैं उंगली से तुम्हारी चूत को सहलाउँगा तो वो थोड़ी गीली हो जाएगी और शुरू में थोड़ा सा दर्द होगा. इंडियन बीएफ सेक्सी एक्स एक्स एक्सकोई 5 मिनट उसने मुझमें इस तेजी में धक्के मारे कि मैं खुद को रोक न सकी और सोफे को पूरी ताकत से पकड़ कर जोर लगाती हुई झड़ने लगी.

हम सब जब पेशाब करने जा रही थी तो कमलनाथ ने कहा- सबका पेशाब एक धार में होना चाहिए और रेत के बीच में एक ही जगह गिरना चाहिए, इधर उधर धार नहीं जाना चाहिए. मूवी के बीएफ सेक्सीपर जैसे ही रमा तैयार हो गई, उसने मेरी उलझन दूर करने में सहायता तो की, पर वो सब उसकी मर्जी से था … न कि मेरी मर्ज़ी से.

उसने मुझे सिखा दिया कि कैसे किसी मर्द के साथ अधिकांश उच्च वेश्याएं मोल भाव करती हैं.सी वीडियो बीएफ चुदाई: मुझे ऐसा महसूस हो रहा था, जैसे जिंदगी की सारी खुशियां मुझे मिल गई हों.

कमलनाथ- क्यों तुम्हारी दीदी तुम्हें नहीं बताती क्या?राजेश्वरी- नहीं.अन्दर सलमा की अम्मी थी … उसने पीले रंग का एक चुस्त सलवार कमीज पहना हुआ था.

सेक्सी बीएफ ओपन वीडियो में - सी वीडियो बीएफ चुदाई

मुझे वहां उस जगह रहने में कुछ दिनों तक कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा क्योंकि उस जगह के बारे में मुझे कुछ भी मालूम नहीं था.उसके गले पर चूमा लेने लगा और बोला- शराब क्या पीऊँगा अब … तेरी इस बीवी में तो इससे भी ज़्यादा नशा है.

पहले तो मैं सोचती थी कि शायद मैं ही तुम्हारे बारे में गलत सोच रही हूं लेकिन फिर जब मैंने तुम्हारी तरफ ध्यान देना शुरू किया तो मुझे यकीन हो गया कि तुम मेरी तरफ ही घूरते रहते हो. सी वीडियो बीएफ चुदाई पांच मिनट के बाद वो मुझे अपनी बांहों में कस कर पकड़ने लगी और उसकी बुर मेरे लंड पर कसने लगी.

मैं आप लोगों के लिए आगे भी अपने साथ हुई चुदाई की घटनाएं लेकर आता रहूंगा.

सी वीडियो बीएफ चुदाई?

तो क्या मैंने भाभी को चोदा?नमस्ते दोस्तो, मेरा नाम विशाल है, मैं पंजाब का रहने वाला हूं और चंडीगढ़ में रहता हूं. तो मैंने कुछ इंतजाम किया और उसे मैंने अपने शहर जाने वाली बस में बिठा दिया. मैंने उस वक्त तक नहीं सोचा था कि मैं उसके साथ पहली बार सेक्स करूंगी.

फिर दीदी ने खुद ही अपने हाथ से मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ लिया और अपनी चूत पर लगवा दिया. स ऐसे ही, कुछ नहीं।मुझे कुछ सूझ ही नहीं रहा था कि क्या जवाब दूं?वो फिर हल्का सा मुस्कराये और उन्होंने अपनी गर्दन नीचे कर ली. कविता ने अपनी पसंद का एक गाना लगा दिया और अपने पति को अपने साथ पकड़ झूमने लगी.

लंड घुसवाते ही वो झटके से हिली, पर अगले ही पल उसे लंड का मज़ा आने लगा. फिर मैंने धीरे से अपने लंड को उसकी बुर में एक ही झटके से पूरा अन्दर डाल दिया. मैं उधर के एक होटल में एक रूम बुक करने के बाद काजल को लेने निकल गया.

हालांकि इस तरह की परिस्थिति में एक तरीका ये होता है कि खुद को बचाते हुए निकलना, भले ही मम्मे रगड़ रहे हों, लेकिन खुद से ऐसा शो करना कि मजबूरी है. मेरा लंड सोच रहा था कि आज फिर एक पुरानी उम्र की बड़ी औरत को चोदने का मौका हाथ आ रहा है.

वो पिचकारी इतनी जोर से निकली थी कि आगे वाली सीट के बिल्कुल ऊपर तक गई थी.

मैंने चूत खोल दी थी तो उसने मेरी चूत की फांकों पर अपना लौड़ा टिका दिया.

वो ऐसे मचल रही थी जैसे मछली बिन पानी … उसे मैंने इतना गर्म कर दिया था कि उसकी चूत का पानी मेरे मुंह में आ गया था. मां बोली- आह्ह … मैं तो बहुत दिनों से इस तरह की चुदाई के लिए प्यासी थी बेटा. मैंने उसकी चूत की दरार को उंगली से फैला कर अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटना शुरू किया.

भाभी भी हॉट हो चुकी थी और उसके लंड को मजे से चूस रही थी क्योंकि नीचे से भाभी को चूत चटवाने का मजा भी साथ में ही मिल रहा था. फिर उसके बाद उसने अन्दर से ही आवाज लगाई कि आप दूध ले आओ ना … तब तक मैं बाहर निकल कर कपड़े पहन कर आपके लिए खाना लगा देती हूं. आंटी की पैंटी को चूसने के बाद मैंने आंटी की पैंटी भी निकाल कर अलग कर दी.

तभी मुझसे राहुल बोला- आज तक तुम मुझे क्यों नहीं मिली … मुझे पहले ही मिल जाती, इतनी अच्छी चीज मेरे सामने थी और मैंने पहचाना नहीं.

[emailprotected]दोस्तो, आपको गर्म आंटी के साथ मेरी चुदाई स्टोरी कैसी लगी मेल जरूर करें. मेरे घर के सभी लोग जॉब करने गए थे और बाकी बचा एक किरायेदार और उसकी पत्नी भी जॉब पर गए हुए थे. मैंने उस दिन अपने घर पर बता दिया था कि मैं मेरे फ्रेंड के घर पर जाने वाली हूँ.

आंटी फिर कहने लगी- तुम इतना शरमाते क्यूं हो?मैंने कहा- बस ऐसे ही, मैं बचपन से ही ऐसा हूं. अब हम दोनों प्यार में खो गए और एक दूसरे के बदन के साथ खेलते हुए और अलग अलग तरीकों से चुदाई चालू हो गई. मेरे अंडरवियर में हाथ डालकर उसने मेरे आधे सोये हुए लंड को बाहर निकाल लिया और एकदम से मुंह में लेकर चूसने लगी.

उसने मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया और हम दोनों अब 69 की पोजीशन में एक दूसरे को मजा देने लगे.

मैंने कहा- क्या भाई साहब इस सबके लिए राजी होंगे?उसने कहा- वह तो कब से फिदा है तेरे पर … मैं अक्सर ये बात नोटिस करती रहती हूं. एक लेखक के रूप में अन्तर्वासना पर यह मेरी पहली कहानी है लेकिन मैं काफी समय से इसकी कहानियों को पढ़ कर ही मजा ले रहा था.

सी वीडियो बीएफ चुदाई मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू किया और अपने हाथ से उसकी चुचियों को दबाने लगा जिससे उसके अंदर भी वासना भर गई और वो मेरा भरपूर साथ देने लगी. मैंने भी उसको बोल दिया- लाओ मैं अच्छे से तेल लगा कर मालिश कर देता हूं.

सी वीडियो बीएफ चुदाई वो बोलने लगा- मुझे भी तेरे जैसा मजा चाहिए, तुम मेरे लंड को एक बार किस तो करो. वह बहुत ही गोरी भी हैं देखने में। मतलब कि उन्हें देख कर किसी भी मर्द का लंड खड़ा हो सकता है.

कुछ समय बाद मेरी आंख खुली और मैं बाथरूम में गया तो मुझे कुछ आवाजें आईं.

एक्स एक्स एक्स बीडीओ

कविता की योनि की दरार को कांतिलाल ने हाथों से फैला कर जहां तक संभव था, अपनी जीभ को उसमें घुसाने का प्रयास किया. मेरी यह कहानी मेरे और मेरे दोस्त की अम्मी के बीच बने शारीरिक संबंध की कहानी है. मैंने मेम से कह दिया कि मेम आपने सर को तो वो वाली बात नहीं बताई ना?मेम ने कहा- नहीं बताई है … लेकिन बताने वाली हूँ.

सुबह हुए मेरी बीवी अपनी भाभी को डॉक्टर के यहां रूटीन चैकअप कराने ले गई. वो मुझसे लिपट गई और मेरे बदन को बांहों में भरते हुए यहां-वहां चूमने लगी. वो जब ऊपर उठती, तो उसके चूतड़ मेरे लंड को छू जाते और जब वो नीचे जाती, तो मेरे दोनों हाथ थोड़ा फिसल कर उसके मम्मों को छू जाते.

रवि भी इतना अनुभवी था कि एक ही सीमा तक लिंग बाहर खींचता और एक ही ताकत से धक्का मारता … मानो जैसे उसे इस तरह की आदत हो.

लेकिन अब मुझे यकीन होने लगा था कि इस लड़की के साथ मेरी देसी कहानी परवान चढ़ने वाली है. उनके स्पर्श से मेरा साढ़े छह इंच लंबा और सवा दो इंच मोटा लौड़ा मेरी जींस में खड़ा होता जा रहा था. मेरी ये नंगी गर्ल की चुदाई कहानी आपको कैसी लगी, अपने कमेंट्स मुझे मेल जरूर करें दोस्तो.

पांच-सात मिनट तक उसकी चूत की चुदाई मैंने उसी तरह की और फिर मैंने उसको उठने के लिए कहा. उसने फुसफुसाते हुए कहा- मेरे पति आ गए हैं … अब हम अन्दर फंस चुके हैं. फिर रात को असली खेल शुरू होने से पहले मां ने कहा- चलो, पहले नहा लेते हैं.

मैंने गौर किया कि रवि का लिंग रमा की योनि में अभी भी फंसा हुआ है और उसके अंडकोष धीरे धीरे सिकुड़ कर छोटे हो गए थे. भाभी ने बल्लू के गले में बांहें डाल दीं और बल्लू के लंड पर उछलना शुरू हो गई.

सर्दियां शुरू हो गई थी इसलिए दोनों ने एक कम्बल ले लिया। लेकिन अचानक से वो उठ कर दूसरे रूम में चली गई. और अब मैंने भी धक्कों की स्पीड तेज कर दी जिससे अब मेरा लन्ड सीधा आंटी की बच्चेदानी को ठोकर मार रहा था जिससे आंटी को और मज़ा आने लग गया. लंड उसकी बीवी के मुंह में जाते ही मुझे मजा आने लगा और मेरी सारी हिचक कम होती चली गई.

वो वैसे तो मेरे नाप के ही थे, मगर मैंने ऐसे कपड़े कभी नहीं पहने थे … सो मुझे बहुत कसाव सा महसूस हो रहा था.

वो झट से वैसे ही बैठ गई फिर मैं उसके मुँह की तरफ गया और अपने लंड को हाथ से पकड़ कर उसे लंड को चूसने को कहा. मैंने उसकी बात को टालते हुए कह दिया कि इस बारे में हम कल बात कर लेंगे अब थोड़ी कैमिस्ट्री की पढ़ाई कर लेते हैं. ब्लाउज थोड़ा कसा सा था, जिसकी वजह से मेरे स्तन उभर कर बाहर निकलने जैसे हो रहे थे.

बस फिर क्या था … मैं मामी पर टूट पड़ा, उनके चूचों को चूसने काटने लगा और मामी मेरे बालों में हाथ फिराने लगी. वह तो मुझे ठीक से चोद भी नहीं पाते! मैं हमेशा से ही तुम्हारे बारे में सोचती रहती थी कि पता नहीं कब तुम्हारे लंड से अपनी चूत की प्यास बुझा पाऊंगी.

मुझे काफी दर्द होने लगा लेकिन उसने बिना देरी किये मुझे चोदना शुरू कर दिया. आपके मेल की प्रतीक्षा में आपका धर्मेंद्र[emailprotected]चोदाई की कहानी का अगला भाग:मेरी पहली चोदाई की कहानी-2. मैं- बहन की लौड़ी, मजा आ रहा है न!सीमा- बहुत मस्त मजा आ रहा है भोसड़ी के.

हिंदी ओपन सेक्सी बीएफ

वैसे मेरी साराह से कोई मुलाकात नहीं हुई थी, मुझे तो कम्पनी के एच आर ने ज्वाइन करवाया था.

कई मिनट तक लंड को चुसवाने के बाद उसने मेरे मुंह में ही अपना पानी निकलवा दिया. वो बोला- हां मेरी रंडी … तुझे दो दिन तक में अपनी रांड बना कर चोदूंगा. जब मेरे सीने से उसके मम्मे लग गए, तो मुझे ऐसा लगा, जैसे मेरे शरीर को मलाई लग रही हो.

मेरे चेहरे पर जिज्ञासा के भाव देख कर वो भी समझ गया था कि मुझे उनकी बात समझ नहीं आ रही है. उस दिन मैंने दीदी की योनि को चाटा भी और चूसा भी। मगर सेक्स तो उस दिन भी पांच मिनट से ज्यादा नहीं चल पाया. इंडिया में सेक्सी बीएफरात को अक्सर इस तरह की आवाजें मुझे उनके कमरे से सुनाई दिया करती थीं.

चाची- हरामजादे किसी लड़की से नहीं किया क्या कभी … या लड़कों की ही मारता रहा?मैं- भोसड़ी की, तेरी तो आज गांड ही बजेगी. थोड़ी देर में कांतिलाल मेरे ऊपर से उठकर बिस्तर पर लेट गया और मैं वैसी ही पड़ी रही.

कुछ देर बाद प्रिया सोने के लिए छत पर आयी और मैं और चाचा का लड़का एक साथ सोये थे. फिर सोचने लगी कि दोस्त के कमरे पर कहीं मेरे साथ कोई गड़बड़ न हो जाए … या वो मुझसे सिर्फ मिल कर ही चला जाए, मेरे साथ मेरी कामना को पूरा ही न करे. क्या नंगा बदन था उनका … सब कुछ एकदम कड़क।फिर मैंने अपनी जीन्स और चड्डी उत्तर दी और नंगा हो गया। मेरा लंड फुदकता हुआ बाहर आ गया।तब मैंने उनको बोला- बुआ मेरा लंड चूसो!तो उन्होंने चूसना शुरू किया.

उनके चूचों को देखते ही उस वक्त भी मेरा लौड़ा तो जैसे फटने को हो रहा था. इतना सुनने के बाद वो अपने पजामे के ऊपर लिंग को हाथ से सहलाते हुए बोला- चल थोड़ा तैयार कर … बहुत दिन हो गए है मुझे. वो बोली- सर कुछ होगा तो नहीं ना?मैंने कहा- बिल्कुल नहीं, छूने से कुछ नहीं होता है.

मेरी योनि की मांसपेशियां अकड़ने लगीं और योनि की दीवारों से तेज़ तरल रिसने लगा.

मतलब?कमलनाथ- तुम्हें नहीं पता चोदने का मतलब क्या होता है?राजेश्वरी- नहीं मुझे नहीं पता चोदना क्या होता है. भाभी ने बादाम का दूध पीने को दिया और बोली- अबी तो पहले वाली शैतानी तो नहीं करते हो?मैं एकदम डर गया और बोला- नहीं भाभी, अब नहीं करता।भाभी बोली- तुम्हारे भैया भी बचपन से यही करते आ रहे थे; अब उनमें कमजोरी आ गई और अब उनसे बच्चा पैदा नहीं होता।कुल मिला कर सोने का समय हो गया और हम एक ही बेड पर सो गए.

नेता 60 साल से ऊपर का ही होगा, पर लिंग सामान्य मर्दों की ही तरह बालों से भरा पड़ा था. सुपारे को अंदर घुसाने के बाद मैंने कुछ देर ऐसे ही लंड को रोके रखा और फिर दबाव बनाना शुरू किया. वो मेरे लंड को पकड़ कर सहलाने लगी तो मैंने अपने कपड़े निकालने शुरू कर दिये.

लेकिन अचानक मेरे बॉयफ्रेंड राहुल का फोन आया कि उसके घर बहुत जरूरी काम है, जिससे वो नहीं जा सकता. कोई 15 मिनट बाद मैंने उसे अपने नीचे किया और उसकी एक टाँग तो अपने कंधे पर रख लिया. कई मिनट में मां संभली और मुझे पीछे धकेलने लगी लेकिन तब तक मैंने पूरा लंड गांड में घुसा दिया था.

सी वीडियो बीएफ चुदाई मैंने सिर पीछे घुमा कर देखा, तो सुर्ख लाल आंखें … और उन आंखों में आक्रामक वासना की भूख थी. राजेश्वरी भी बहुत अधिक गर्म थी, सो वो ज्यादा देर अलग होकर न रह सकी.

ट्रिपल एक्स बीएफ व्हिडीओ हिंदी

अपने लण्ड पर कॉण्डोम चढ़ा कर मैंने नमिता की बूर में डाल दिया और उसके कबूतरों से खेलने लगा. रमा ने मुझे बताया कि मैं कपोल कल्पना करती हुई एक वेश्या का किरदार करूं. मेरे लंड की मुठ मारते हुए उसके मुंह से सिसकारियां निकल रही थी- आह्ह … क्या लंड है तुम्हारा, इस लम्बे हथियार से तो मेरी चूत का भोसड़ा बन जायेगा.

कमलनाथ जैसे जानता था कि अब क्या होने वाला है, इसलिए बिना किसी बात के, वो पीठ के बल चित लेट गया. वो भाभी भी वैसे तो देखने में थोड़ी सी मोटी थी जैसी कि मुझे पसंद आती हैं. बिहारी बीएफ वीडियो सेक्समेरे मन में डर भी था कि कहीं ये कुछ घर पर जा कर बता ना दे तो मेरी भी गांड फट रही थी।उसके बाद मैं घर पर आ गया और मोनिका के साथ हुई उस घटना को याद कर करके मैंने दो बार मुठ मार डाली.

उसने मेरे कहने पर मेरे लंड को अपने कोमल से हाथ में भर लिया और उसको दबा कर देखने लगी.

उसके पहले भी दो बॉयफ्रेंड रह चुके थे … जिनसे उनका ब्रेकअप हो चुका था. दीदी बोली- अचानक से तुझे क्या हो गया? तू ऐसी बात क्यों कह रहा है?मैंने दीदी से कहा- वो … दीदी, मैंने आपकी सहेलियों की बातें सुन ली थीं.

अल्पना और उसका बॉयफ्रेंड विवेकसोना और उसका बॉयफ्रेंड सनी औरमेरी एक क्लासमेट है रुचि. मेरी चुदास बहुत ज्यादा बढ़ चुकी थी और मेरी आहों ने कमरे के माहौल को एकदम वासना से रंग दिया था. मैं भी अपना लंड और जोर जोर से हिला कर उन्हें कामुक निगाहों से देखने लगा और वो भी कामुकता से मुझे देखने लगीं.

मैंने उसे देखा, रमा में पहले के मुकाबले थोड़ा बदलाव आया था, अब उसके स्तन पहले की तरह सुडौल नहीं थे बल्कि झूल रहे थे, उसके चूचुक भी काफी लंबे दिख रहे थे.

राहुल ने मेरी साड़ी का पल्लू थोड़ा सा हटाकर गर्दन के पीछे से किस करना चालू कर दिया. फिर उसकी मां ने कहा- तुम शाम को सात बजे के करीब हमारे घर ही आ जाना और यहीं पर खा लेना. उसका लंड मेरी गांड की दरार पर सट कर जैसे अंदर ही घुसने के लिए मेरे कपड़े फाड़ने वाला था.

सेक्स बीएफ व्हिडिओ बीएफफिर जैसे ही वो झड़ने वाली थी, उसकी अकड़न को महसूस करते ही मैं समझ गया था कि इसका दूसरी बार झड़ना होने वाला है. मैं बिना कोई परवाह किये पूरा का पूरा लंड भाभी की रसीली चुत में डालने लगा.

सेक्सी हिंदी रंडी

मैंने धीरे-धीरे मैक्सी को ऊपर उठाना शुरू किया और कमर तक मैक्सी ऊपर कर दी. मैं उठा तो भाभी ने मेरी लोअर में तना हुआ मेरा लंड देख लिया और फिर टीवी की तरफ देखने लगी. मैंने उसकी चूत में धक्कों की स्पीड इतनी तेज कर दी कि कुछ ही देर में उसकी चूत से पानी निकल गया.

उसके दोनों मम्मों को मैंने कस कस कर दबाया। मगर इससे ज़्यादा मैं उसके साथ और कुछ नहीं कर पा रहा था क्योंकि रूपा तो हमेशा ही घर में होती थी. मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसकी बुर में पीछे से अपने लंड को रख कर उसे अन्दर घुसेड़ने लगा. उस दिन छुट्टी का दिन था और वो लोग वहां पर आये हुए थे क्योंकि स्कूल उन्हीं के पिताजी का था.

मैंने हैरानी से पूछा- तुमने कब देखा बहू?बोली- जब आप ड्रिंक लेते हैं और सासूजी को रुलाते हैं तो मैं दरवाजे के छेद से देख लेती हूं. वो जोर जोर से चिल्ला रहे थी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआह्ह ऊऊह्ह हाहा हा!उसने अब मेरा सिर में अपनी उंगली फेरनी शुरु कर दी।5 मिनट तक चूत चाटने के बाद वो अब मेरा सिर अपनी चूत पर दबा रही थी। मैं समझ गया था कि ये झड़ने वाली है तो मैंने उसे और जोर चूसना शुरू कर दिया। वो इतनी जोर से झड़ी कि मेरा मुंह उसके कामरस से पूरी तरह भीग गया था।वो अब शांत हो गई थी. मैंने आते ही उसको दबोच लिया क्योंकि मैं चूत का प्यासा था और उसे चोद देने के लिए कई दिन से तड़प रहा था.

दोस्तो, आपको मेरी मौसी की चुदाई की कहानी पसंद आई या नहीं … मुझे बताना. मैंने कहा- मम्मी, आप हमें इतना प्यार करती हैं, तो थोड़ा सा प्यार तो हम भी कर सकते हैं.

भाई का मोटा लंड चूत में लेकर चुदने के कारण सुबह मुझसे चला भी नहीं जा रहा था.

सलवार को निकाला तो भाभी की गोरी जांघों में फंसी हुई नीले रंग की पैंटी दिखाई देने लगी. देहात के बीएफ हिंदीदोनों पूरी तरह सुस्ताने के बाद अलग हुए, तो एक दूसरे को देख ये लगा कि हमने काफी मेहनत की है. पत्नी का बीएफमैंने भी आंटी के मम्मों को बातों ही बातों में कभी टच किया, तो कभी हाथ लगा दिया. उसके बाद मुझे याद आया कि मैं उनके लिए खाने का कुछ सामान लाना तो भूल ही गयी.

जब उन्होंने मुझे यह बात बताई कि मुझे ही भाभी को एग्जाम के लिए लेकर जाना है तो मेरे मन में तो जैसे लड्डू फूटने लगे थे.

राजशेखर भी अब अन्तिम क्षण के लिए पूरे जोश में दिख रहा था और मेरी जांघों को पकड़े हुए पूरी ताकत से मुझे धक्के मार रहा था. दोस्तो, आप सभी को आर्यन अग्रवाल का नमस्कार। मेरी आयु 35 साल, रंग गेहुंआ, सामान्य कद-काठी का और मुझे जिम जाने का शौक है, इसी कारण मेरी शरीर गठीला है। मैं हरियाणा के पानीपत का रहने वाला हूं. मैंने उससे कहा- मैं अकेली इतनी दूर पहले कभी नहीं गई, मुझे डर लगता है और लंबा रास्ता भी है.

करीब 5 मिनट मेरे लंड को चाटने के बाद उसने लंड को मुँह से निकाला और कहा- मामा जी, बहुत मोटा है, मेरा मुँह दुख रहा है … अब नीचे कुछ करो ना प्लीज. फिर ऐसा हुआ कि एक दिन अम्मा ने कहा- मैं थोड़ी देर के लिए बाहर जा रही हूँ … मार्किट में होकर आती हूँ. छोटा भाई मतलब मेरे लंड से है जो 7 इंच लम्बा और 3 इंच मोटा है।चलिए मामला शुरू करते हैं.

एक्स पोर्न फिल्म

वो सिर्फ एक लाल रंग के शनील के गाउन में थी जिसकी पतली सी स्ट्रिप उसके कंधों पर पड़ी थी. देख कर सो जाऊंगा।सभी लोग छत पर जाकर सोने लगे। कुछ समय बाद प्रिया छत से नीचे आयी और मेरे बगल में बैठ गयी. वो फिर से तड़फ कर बोली- आअह्ह्ह … राकेश कभी मेरी चुचियां इतनी ज़ोर से नहीं मसलता … इसलिए मुझे दर्द हुआ कमीने.

वो बोली- हट बेशर्म!उसकी बातों से लग रहा था कि उसके मन में भी कुछ चल रहा है.

मैं बाथरूम में गया, नहाते वक्त मैंने जानबूझ कर दरवाजा थोड़ा खुला रखा और मुठ मारने लगा.

वो बोली- आह चोद दो मुझे … जल्दी से … आह मेरे पति के आने से पहले मुझे तृप्त कर दो. मैंने भी उसे पकड़ कर चुम्बन में साथ देते हुए उसके होंठों को बारी बारी से चूसने लगी. बीएफ हिंदी एक्स एक्स एक्स एक्समैंने वापस सीमा जी के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और एक हाथ से उनके ब्लाउज के हुक खोलने लगा.

मेरा बॉयफ्रेंड जगेश मुझे बिस्तर पर ले गया और मेरी चूची को चूसने लगा. मैंने उठकर पीछे मुड़ उसे देखा, तो वो हाथ से अपने लिंग को हिलाते हुए मुस्कुरा रहा था. पीछे से उसकी बड़ी सी काली चूत में अपने लंड को पेल दिया और उसकी चुदाई शुरू कर दी.

वो दरअसल वो एक रिसॉर्ट था और उन्होंने एक अलग तरह का कमरा ले रखा था, जो किसी भी होटल का बहुत महंगा होता है. मेरा काम ही ऐसा है कि मैं अपने इस काम के लिए कहीं भी कभी भी चला जाता हूं.

मान लिया गया कि शादी हो चुकी थी और दूल्हा दुल्हन का सुहागरात का सीन होना बाकी था.

उसने हाथ पैंट के ऊपर से ऐसे लग रहे थे, मानो वे अपने कड़क होते लिंग को अपनी अपनी जांघियों के भीतर ठीक कर रहे हों. पर मैंने अपने होठों से उसकी आवाज को दबा दिया।थोड़ी ही देर में वह मेरे लण्ड को मजे से अपनी चूत के अंदर लेने लग गई और उसका पूरा मजा लेने लगी. नहाने के बाद वो कपड़े बदलने के लिए उसी स्टोर रूम में जाती थी और दरवाजे को अंदर से बंद कर लेती थी.

कार्टून बीएफ वीडियो अब आगे:वो कुछ देर तक हंसती रही और मैं बेबस हैरान सा चुपचाप उसे देखता रहा. उनके घर में मेरी काफी खातिरदारी हुई और फिर आखिरकार सोने का समय भी आ ही गया.

मेरा ये मैसेज पढ़ कर वो हंसने लगा उसने कहा- तुम कहां रहते हो?मैंने बता दिया कि मैं पटना में रहता हूँ. मेरी बात सुन राजशेखर राजेश्वरी के ऊपर से उठ गया और बिना समय गंवाए हम दोनों संभोग की अवस्था में आ गए. वे मुझसे बोली- निखिल, यह गर्म दूध पी लो, इसमें हल्दी भी डली हुई है.

भोजपुरी बीएफ सेक्सी वीडियो

फिर धीरे-धीरे मेरे लंड के झटकों की स्पीड बढ़ने लगी, तो उसने मुझे रोक लिया. मैंने चाची की चुदाई कैसे की?नमस्ते दोस्तो, मेरा नाम सनी है और मैं उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूं. मैंने उसकी नाइटी में ऊपर से हाथ डाल दिया और उसकी चूचियों को भींचने लगा.

अगर आप इस बारे में गहन जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो अपने डॉक्टर से ही संपर्क करें. नमिता की गांड के छेद की मसाज करते करते मैंने अपना अँगूठा उसकी गांड में डाला तो उचक गई.

जब उससे धक्का लगाना असंभव सा होने लगा, तो वो ऊपर से लुढ़क कर बिस्तर पर गिर गई.

दूसरा कारण यह कि मेरी मां ने अपने बदन को काफी मेंटेन करके रखा हुआ है. उसके होंठ खुल गये और मुंह से सिसकारी निकल गई- आह्ह … आराम से करो।मगर मुझे आराम कहां था. सभी के बात व्यवहार और कपड़ों के पहनावे से लग रहा था कि वे सब काफी उच्च घराने से थे और काफी अमीर थे.

करीब दस मिनट तक मुख चोदन के बाद मैं उसके मुंह में ही झड़ गया वह मेरा सारा पानी पी गई।उसके बाद निधि ने मुझे अपना चूत चाटने के लिए इशारा किया. कमलनाथ का लिंग भी इस तरह से चूसे जाने की वजह से कठोर हो कर पत्थर सा दिखने लगा था. कांतिलाल ने भी उसके चूतड़ों में 3-4 जोरदार चांटे मारे और पहले से कहीं ज्यादा जोर से धक्के मारने लगा.

उसके घर आकर मैंने बिल्कुल नई दुल्हन की तरह लाल साड़ी पहन ली और गहरे लाल की लिपस्टिक लगा ली.

सी वीडियो बीएफ चुदाई: वो ऐसे सो रही थी जैसे एक बेफिक्र इंसान किसी की बांहों में जा कर मस्ती से सो जाता है. चूंकि मेरे पति शहर से बाहर गये हुए थे तो मेरे पति ने उनको बोल दिया था कि अगर मुझे किसी चीज की जरूरत हो तो मैं विकास से कह दूं.

डॉली की एक मदमस्त आह निकल गई और उसने मेरे सर को दबाते हुए मुझे अपने मम्मों का रस पिलाने लगी. अब हम हफ्ते में 3 बार चुदाई करते, लेकिन शनिवार की रात में पूरी रात सेक्स चलता. मैंने पूछा कि लड़की की उम्र क्या होगी?उन्होंने कहा- अभी उन्नीस साल की हुई है.

फिर वो मेरी बात सुन कर मुस्कराने लगी और अपने बैग से चिप्स का एक पैकेट निकाल कर उसे खोला और चिप्स खाने लगी.

वो मेरे लंड की ऐसे प्यासी लग रही थी जैसे दस दिन के भूखे शेर के सामने किसी ने बकरी को रख दिया हो. कोई 15 मिनट बाद मैंने उसे अपने नीचे किया और उसकी एक टाँग तो अपने कंधे पर रख लिया. मैं उसके ऊपर अपनी दोनों जांघें फैला कर चढ़ी हुई थी और मुझे उसका सख्त लिंग मेरी योनि पर जांघिये के भीतर से चुभ रहा था.