बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन

छवि स्रोत,हॉट सेक्स एचडी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ सुंदर लड़की: बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन, वह भी मेरी मोटी चूचियों से खेलते हुए भोसड़ा बन चुकी मेरी चूत को रौंदना चाह रहा था.

हिंदी सेक्सी वीडियो स्टोरी

मैं विक्की का लंड मुँह में लेती कि मुझसे पहले ही निहारिका ने लंड को अपने मुँह में ले लिया. न्यू सेक्सी देहातीमैंने कहा- फोटोज नहीं चाहिए?वो मुस्कुरा कर बोली कि आई लव यू … मुझे अब उन फ़ोटोज का कोई डर नहीं है.

मेरी कभी हिम्मत नहीं हुई बोलने की, पर आज न जाने कहां से हिम्मत आ गयी, सो बोल दिया. ऑस्ट्रेलिया सेक्सी मूवीमैंने पेपर जेब में डाला, फ़्लैट पे आके फ़्रेश होके खाना खाने बैठा, तो पेपर की चिट निकाल के पढ़ने लगा.

मैंने उसकी तरफ देख कर ओरल करने का इशारा करते हुए उसकी चूत के रस से भीगी उंगली को निकाल कर अपने मुँह में ले कर चूस ली.बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन: कुछ देर उसका लंड अन्दर ही रहा, फिर उसने लंड बाहर निकाल के मुझे अपनी बांहों में दबा लिया और वो सो गया.

फिर मामा ने मुझे गोद में उठाकर बिस्तर पर चित्त लिटाया और मेरी दोनों टांगों के बीच बैठ कर टांगें अपने कन्धों पर रख लीं.इसी बीच ताऊ जी ने चाची के होठों को चूसना शुरू कर दिया और उन्होंने जोर जोर से झटके लगाने शुरू कर दिए.

फनी सेक्सी हिंदी - बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन

भाभी ने नशीली नजर से मुझे देखते हुए कहा- वहां बेड पे रख दो और बैठो, मैं तुम्हारे लिए पानी लाती हूँ.मैंने कहा- आपको नंगी देख कर किसकी नीयत खराब नहीं होगी भाभी?वो बोली- हे भगवान, आज तेरे भैया से तेरी शादी की बात करनी ही पड़ेगी। इससे पहले मैं कुछ और कहता वो अपने कमरे में भाग गई।भाभी से इस तरह की सेक्सी बातें करने और उनकी कच्छी को उनके सामने ही सूंघने के बाद मेरे अंदर की प्यास बहुत ज्यादा बढ़ गई और मेरा लंड तन गया.

उसमें गोरी विदेशी लड़कियां काले मोटे साउथ अफ्रीकन लौड़ों के साथ चुदाई करते हुए दिखाई गई थी. बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन मैं सनी जी को किस करने लगा, तो बंटी जी मेरा मुँह अपनी अपनी तरफ खींचा और मेरे होंठों को चूसने लगे.

कुछ ही देर में सनसनी बढ़ गई और अब मैं उसके होंठों को चूसे जा रहा था.

बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन?

जितनी गति से उसके हाथ चूत पर चल रहे थे, उतनी ही गति से वो अपने दोनों दानों को मसल रही थी. हम दोनों एक साथ कितनी जगहों पर अकेले गए और आज भी हम दोनों एक ही बिस्तर पर लेटे हैं. मैंने उससे कहा- कब तक पैसेन्जर ट्रेन चलाओगी, राजधानी एक्सप्रेस चलाओ.

मैंने देखा कि मेरे चूचों को देखते हुए उसका लंड तन गया है जो मुझे पैंट में साफ दिखाई दे रहा था. ”गिरने में कोई बुराई नहीं, बुराई … गिर कर उठने से इंकार करने में है. मैं- अगर तुम्हारे शेर ने तुम्हारी चूत के साथ-साथ तुम्हारी गांड में भी लंड पेला तो?नम्रता- मैं कोशिश करूँगी कि अभी कुछ दिन वो मेरी गांड में हाथ भी न लगाये, फिर भी अगर उसने मेरी गांड मारने का मन बना लिया, तो जो होगा देखा जाएगा.

बात राहुल ने शुरू की और बोला- जैसा आपको पता ही है कि हमारे साथ क्या प्रॉब्लम है. हीना- हां, मैं उससे बात करती थी लेकिन मुझे ये नहीं पता था कि उसको मेरा नम्बर अरमान मामा ने दिया है. अब दीदी मुझे बोलने लगी- रॉकी प्लीज़ अब सहा नहीं जा रहा है … जल्दी से अपनी दीदी की चूत को अपने लंड से भर दो और अपनी दीदी की चूत को चोद दो.

फिर उसने मुझसे कहा- मुझे भी देखना है … क्यों मुझे भी नींद नहीं आ रही है. पति ने कहा- नौ और दस दिसंबर को तो हमारे बैंक की दो नई ब्रांच का उद्घाटन अपने शहर में होने वाला है.

जब वापिस उसे उसके फ्लैट पे छोड़ने आया, तो वो मुझे ज़बरदस्ती अपने फ्लैट में ले गयी.

सुचिता बोली- हम दोनों सहेलियाँ आपस में सारी बातें शेयर करती हैं, आप चिंता मत कीजिएगा, ये राज, राज ही रहेगा.

मेरी आप सभी से एक प्रार्थना है कि मुझसे किसी लड़की या औरत का पता या फोन नम्बर पूछने का कष्ट ना करें. मैं जैसे ही पंहुचा, वो मेरे गले लग गयी उसके मस्त चूचे मेरे सीने में गड़ने लगे. सुनते ही बेबी उठी और मेरे लण्ड को चाट कर, चूस कर गीला कर दिया और लेट गई.

फिर दीदी से मेरी पेंट की तरफ इशारा किया, तो दीदी ने झट से मेरी पेंट और अंडरवियर निकाल फेंका. मेरी पिछली दो कहानियां थीमुंबई की एक बड़ी मॉडल की चुदाई की कहानीगांव वाले चाचा की बेटी की चढ़ती जवानी का मजाअब यह नयी कहानी मेरे एक दोस्त ने मुझे बतायी थी अपना ख़ास दोस्त मान कर …उसी से इजाजत लेकर उसकी सच्ची कहानी पेश कर रहा हूँ उसी के शब्दों में…सभी पात्रों के नाम बदले हुए हैं. मैं- अरे आंटी … कैसी बात कर दी, यह भी कोई कहने की बात है? आप बेफिक्र होकर जाओ.

लण्ड का सुपारा चूत के मुंह पर रखा और अन्दर धकेला लेकिन इस पोजीशन में उसकी चूत और भी टाइट हो गई थी.

मैंने भाभी से कहा- छेद कहां है, मुझे समझ नहीं आ रहा, अपने हाथ से लंड पकड़ कर उस पर लगाओ. आज के समय में जिन लोगों को लगता है कि सिर्फ भला इंसान होने से कुछ मिल सकता है, तो वह गलत है. मैंने कहा- साहिल और हीना, तुम दोनों बातें करो, मैं एक जरूरी फोन कॉल अटेंड करके वापस आता हूँ.

मेरी बीवी की चड्डी उसकी चूत की दरार में घुसी हुई थी, चूत से चिपकी हुई थी। मेरी बीवी की पूरी चूत जैसे मेरे अब्बू के सामने नुमाया थी. उसने चोदते समय बहुत ही गंदी गंदी बातें बोलीं, वो भी ठीक मेरे कान में कहीं. मेरे दिमाग में एक फैंटेसी थी कि मैं मधु को रश्मि के सामने भी चोदता रहूँ, तो रश्मि मुझसे गुस्सा नहीं, सिर्फ प्यार करे.

आहह … उफ्फ उम्म … आहह ओह बेटा आह आह चोद दे अपनी रंडी माँ को चोद … फाड़ दे मेरी चूत … आह बेटा आआह …”वंश बोला- साली तुझे जिन्दगी भर रखैल बना कर रखूंगा.

पर नम्रता ने भी मेरी बात कट कर अपनी बात पूरी की- वो भी परसों पूरी रात और कल पूरी रात सोने नहीं दिया. मैं जान गयी थी कि वो मुझ पर लाइन मारने की कोशिश कर रहा है लेकिन मैंने इस बात को नॉर्मली ही लिया.

बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन दोस्तो, यह मेरी पहली कहानी उस वक्त की है, जब मुझे गांड मरवाने का शौक लगा. चाची- धीरे धीरे … आआह … ऊऊह … ये सब गलत है जीशान … अपनी चाची के साथ ऐसे नहीं करते.

बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन एक दिन की बात है जब भाभी मुझे पढ़ा रही थी और भैया अपने कमरे में लेटे हुए थे। रात के दस बजे का समय हो रहा था। इतने में भैया ने आवाज दी- कंचन और कितनी देर लगेगी? जल्दी आओ न!भाभी भी मेरे पास से जाना नहीं चाहती थी लेकिन भैया के बुलाने पर उनको जाना पड़ा।भाभी उठते हुए बोली- बाकी पढ़ाई कल करेंगे क्योंकि तुम्हारे भैया आज ज्यादा ही उतावले लग रहे हैँ. खाना बन गया था, नेहा ने मुझे आवाज़ लगायी लेकिन मैं हैडफोन लगा कर फिल्म देख रहा था तो सुनाई नहीं दिया.

फिर मैं धीरे धीरे उसकी यादों से खुद को दूर करने लगा और सोचा कि अब किसी से दिल नहीं लगाऊंगा.

गोवा की सेक्सी बीएफ

उसके बाद मैंने उसके पेट पर बैठ कर उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. अजय ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और फिर दोनों ही गांड चुदाई का मजा लेने लगे. उसने धक्का देकर मुझे बेड पर गिराया और मेरी जींस खींच कर उतारने लगी.

वो कभी कभी मुझे किस करते करते, कभी मेरी गांड को अपने दोनों हाथों में लेकर मेरी साड़ी के ऊपर से मेरी गांड को मसल देते थे. तभी बीच में रुक कर उसने अपना लंड मेरी चूत से बाहर निकला और उसके बाद मेरी चूत को हाथ से सहलाने लगा. भाभी बोली- क्या कर रहा है रामू? छोड़ दे मुझे।लेकिन मैंने अपना खड़ा हुआ लंड भाभी के मोटे चूतड़ों पर सटा दिया.

कोमल खाना देने के लिए जैसे ही नीचे को झुकती थी, तो ताऊ जी उसके मम्मों को देखने लगते थे.

अंकल के हाथ अम्मी के मम्मों पर थे और वो उन्हें बेदर्दी से मसल रहे थे. पांच-सात मिनट की चुदाई के बाद ही मेरा पानी निकलने की कगार पर पहुंचने को हो गया. दोस्तो, जब भी उसकी नंगी पीठ को देखता हूँ न, तो मैं उत्तेजित हो उठता हूँ.

मैं एकदम से डर गया क्योंकि वो एकदम से मेरे पास आकर मेरे साथ सोफे पर बैठ गई. मैंने कहा- चूसो इसे!इस पर वो बोली- ठीक है, लेकिन ज़्यादा नहीं!मैंने कहा- हाँ!और उसने मेरे लंड का चिकनापन अपनी साड़ी से साफ किया और मुँह में लेने लगी. आंटी बोलीं- वाओ … क्या मस्त चुदाई करता है … मेरा राजा … कहां से सीखा ऐसा तरीका.

उसी समय अमित के चाचा की लड़की, जो बाहरवीं में थी, वो आते जाते मुझे देखती … तो मैंने पहले उसे पाने की सोची. अंदर डालने के तुरंत बाद ही वो उनको आगे पीछे करते हुए मेरी चूत में अंदर और बाहर चलाने लगा.

मैंने कहा कि अब क्या शर्माना, अब तो आपके बच्चे (वीर्य) मेरे अन्दर हैं. मधु ने मुझसे मेरे सारे कपड़े निकालने को बोला, तो मैंने कपड़े उतार दिए. उसने महसूस किया कि संगीता को आराम मिल रहा है और उसने आँखें बंद कर रखी थीं.

शुरुआत में तो अनुषी में मेरी ज्यादा रूचि नहीं थी … क्योंकि मैं अपनी गर्लफ्रेंड के साथ ही ज्यादा व्यस्त रहता था.

मेरी देसी कहानी आपको कैसी लगी?[emailprotected]इससे आगे की कहानी:सलहज को चोदा पत्नी जैसे यात्रा में. उसके बाद तीसरे राउंड के लिए मैंने उसके लंड को चूस कर तैयार कर दिया. अब मेरे दिल में विचार आया कि क्यों न मैं भाभी को अपने विशाल लंड के दर्शन करवा दूँ.

उसने मुझे एक कागज दिया और कहा- आज के लिए बस इतना ही समय काफी है, मेरा कल टेस्ट है, मुझे तैयारी करनी है टेस्ट की … सॉरी!मैंने कहा- कोई बात नहीं, कल मिल लेंगे. मैं उससे बाहर से बार बार कह रहा था- जल्दी निकलो यार, मुझे नहाना है.

उसने मुझे बाहर आने को बोला और खुद अपने रूम की तरफ गया, बाहर बरामदे की लाइट ऑन की और रूम का ताला खोलने लगा. जैसे जैसे लंड अंदर जाता गया मेरा लौड़ा उसके खून से फिर से लाल हो गया. अब हम दोनों इशारों इशारों में एक दूसरे से बहुत सारी बातें भी करने लगे थे.

गुजराती ब्लू बीएफ

उसके मुंह से ऊंह … ऊंह … की आवाज बाहर निकलने की कोशिश कर रही थी मगर मेरे होंठ उसके होंठों से मिले हुए थे इसलिए उसकी आवाज को अंदर ही दबा कर रख रहे थे.

मुझे दूसरी तरफ यह भी विश्वास था कि वह शायद अपने घर वालों के सामने इस तरह कोई बात नहीं बतायेगा. अब आगे की कहानी का मजा लें!पढ़ाई खत्म हो गयी … उपिंदर कहीं और चला गया … धीरे धीरे उन सब बातों की यादें धूसर हो गयी।मैं नौकरी करने लगा, फिर से अजय बन गया। फिर कोई उपिंदर जैसा नहीं मिला।घर वालों ने मेरे लिए लड़की देखनी शुरू कर दी। शादी करने में मेरी कुछ खास रूचि तो नहीं थी पर सोचा ठीक है जो हो रहा है. मैं जब भी उनको कनखियों से देखता, तो उन्हें अपनी तरफ देखता हुआ ही पाता.

उसके पति के लम्बे और मोटे लंड से चुद कर मैं अपनी प्यास बुझाती रहती हूँ. काफी देर बाद जब मेरी नींद खुली … तो सब लोग खाना खाने के लिए मुझे बुलाने लगे. फिल्म वीडियो सेक्सी फिल्म वीडियोइस तरह लंड चुत की चुदाई कर रहा था और उंगली से उसकी गांड की चुदाई हो रही थी.

फिर अपने ब्लाउज को उतारा, ब्रा और पेटीकोट में खड़ी थी, अचानक मेरी नजर उस पर पड़ी वह केवल मुझे ही बाहर से देख रहा था और अपने लंड को पैन्ट के ऊपर से मसल रहा था, मेरे बूब्स भी जोर जोर से ऊपर नीचे होने लगे. उस दिन मैंने उनसे वादा किया कि वो अपना दोस्त समझ कर कभी भी मुझसे फोन पर बात कर सकती हैं.

वह मेरे मुंह में लंड को देकर मेरे मुंह को गांड उठा-उठा कर चोदने लगा और उसके मुंह से आनंद भरी आहें निकलने लगीं. चूंकि मुझे देर हो रही थी, तो मैंने सोचा कि ये बाथरूम से देर से निकलेगा, तो मैंने नहाना अभी कैंसल कर देता हूँ. शायद अब वह भी मेरे शरीर की सुंदरता के दर्शन करना चाहता था।मैं अब उसके सामने ही तौलिए से अपने शरीर को पौंछने लगी और बालों को सुखाने लगी.

एक कहावत है कि अगर औरत संतुष्ट है तो कितनी भी भीड़ में छोड़ दो वो कुछ नहीं करेगी. अब तो यह बातें हम लोगों के लिए आम हो चुकी थी, लेकिन मेरा मन अभी तक नहीं भरा था. जल्द ही भाभी की चूत का पानी निकल गया और वे झड़ कर निढाल हो कर लेट गईं.

अब शादी आ गई है तो अपना वादा भूलना नहीं और पूरे परिवार के साथ चार-पांच दिन पहले पहुँच जाना और शादी की जिम्मेदारी संभालो आकर!मैं भी बहुत उतावली हो रही थी अपने भाई की शादी में जाने के लिए तो मैंने चाचा और चाची को बोला- ठीक है, हम सब पांच दिन पहले पहुंच जाएंगे.

मामा ने मेरी मम्मी को 5-6 दिन रुक जाने को कहा, तो मम्मी ने मुझसे पूछा. हमारे फ्लैट के सामने वाले फ्लैट में एक लड़की रहती थी, उसका नाम अर्चना था.

भाभी ने मुझसे पूछा- क्या नींद नहीं आ रही है?तो मैंने हामी भरते हुए कहा- हां भाभी, नींद नहीं आ रही है इसी लिए तो मूवी देख रहा हूँ. फिर भोला ने मेरी गर्दन पकड़ ली और अपने लौड़े को तेजी के साथ पूरी ताकत लगाकर मेरी चूत में घुसा कर अंदर-बाहर करने लगा. दोनों छेद की मुलायम दीवारों के बीच मेरा लंड घर्षण की रगड़ से पस्त होने लगा था और किसी समय भी अपनी हार मान सकता था.

थोड़ा मुँह चुदाई के बाद, उसको पहले वाली पोजिशन में किया और चूत और गांड एक साथ बारी बारी से लंड पेल कर चोदने लगा. मेरी पिछली दो कहानियां थीमुंबई की एक बड़ी मॉडल की चुदाई की कहानीगांव वाले चाचा की बेटी की चढ़ती जवानी का मजाअब यह नयी कहानी मेरे एक दोस्त ने मुझे बतायी थी अपना ख़ास दोस्त मान कर …उसी से इजाजत लेकर उसकी सच्ची कहानी पेश कर रहा हूँ उसी के शब्दों में…सभी पात्रों के नाम बदले हुए हैं. उसके बाद उसने कहा- मैडम, अगर आपको और भी चुदाई करवानी है तो आपको उसके लिए एक्सट्रा चार्ज देना होगा.

बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन वो बोली- बताओ किधर और कैसी ख़ुशी चाहिए?मैंने लिखा- मुझको तुमसे मिलना है. क्या करूं मेरे मूसल लंड की जान ही ऐसी थी कि मैं जितना अपने दोस्त को चोदता, उतना ही मन करता था कि मैं बाबा को और चोदूं.

बीएफ सेक्सी हिंदी चलने वाला

अंदर आने के बाद मैं मेन डोर बंद कर दिया और उसके बाद उसको अपने बेडरूम में ले गयी. तभी वो कुछ गर्म ज्यादा हो गई और बोली- आह … और तेज़ तेज़ करो … फाड़ दो मेरी चुत को … यस यस औह यस. तो मैंने उससे कहा- मोनिषा, अगर मैं आपकी कोई हेल्प कर सकता हूं तो आप मुझे बताओ?वो मेरी तरफ बड़ी वासना भरी नजरों से देखने लगी.

वे चूत में लंड लिए बोल रही थीं- आह … राजा … और अन्दर डालो न प्लीज़ … और अन्दर तक पेल दो … आह आह. जैसी उसने मुझे फोन में फोटो दिखाई थी उससे ज्यादा ही आकर्षक लग रहा था उसका शरीर. बेगराउड वालपेपर डाउनलोडमैंने उसे क्लास में काफ़ी बार देखा था क्योंकि मेरी क्लास का ही था, लेकिन हमारी बात नहीं होती थी.

फिर जब दूसरी बार हम अकेले में मिले तो मैंने उसके गालों पर हल्का सा किस कर दिया.

”उसने मेरी साड़ी, ब्लाउज और ब्रा उतार दी।हाय … इतनी प्यारी चुचियाँ!”और वो ज़ोर से मसलने लगा- कामिनी आज मेरी तमन्ना पूरी होगी तुम्हारी लेने की!मैंने तो तुम्हें एक बार बेलिबास भी देखा है. वो जैसे कहते हैं बूँद-बूँद से सागर बन जाता है, वैसे ही मैंने यहां से भी अपने सेक्स ज्ञान में बहुत वृद्धि की है और अपने आप में सक्षम बना हूँ.

कुछ देर ऋतु की चूत को चाटने के बाद उसने मेरी चुदासी हो चुकी बीवी को बैठा दिया और अपना लंड उसके मुंह में डाल दिया. खैर मैंने दीदी के निप्पल को देखते हुए उसको सब बताया और उससे अभी के अभी चलने को कहा. उसके बाद मैंने उसको दोबारा से नीचे पटका और दूसरा धक्का दिया तो सोनू की चीख निकलने को हुई और मैंने उसके मुंह पर हाथ रख कर उसके चूचों को काटा और फिर उसके होंठों को चूसने लगा.

मेरे प्यारे दोस्तो, मैं रॉकी एक बार फिर हाज़िर हूँ आपकी सेवा में, सभी को मेरा नमस्कार!मेरी पिछली कहानीइंजीनियरिंग की लड़की की पहली चुदाईपर आपके आये ईमेल के लिए सभी का शुक्रिया अदा करता हूँ.

शान्ति के बारे में आपको बता दूं कि उसकी उम्र 50 या उससे एक-दो साल ऊपर, शरीर पांच फीट आठ इंच की लम्बाई से कुछ ज्यादा ही लगता है, वज़न 90 किलो से ज्यादा ही होगा, 48 इंच का सीना आज भी कसाव लिये हुए है और जब मदमस्त हथिनी की तरह चलती है तो एक दूसरे से रगड़ खाते कूल्हों को देख कर लंड फुंकार मारने पर मजबूर हो जाता है. उसने झट से अपना साड़ी का पल्लू ठीक किया और बोली- क्या हुआ बाबूजी?मैं जैसे सोते से जागा. इसलिए वो हीना के मस्त चूचों को अपने हाथों से दबाने में संतोष प्राप्त करने की कोशिश करने लगा.

एचडी सेक्सी वीडियो पंजाबीअब शादी प्रिया की हो रही थी, मेरे शहर में हो रही थी ऊपर से मेरी रहनुमाई में हो रही थी और मैंने अपने जान-पहचान वाले फ़्लोरिस्ट से जय-मालाएं और बाकी हार बुक किये थे, इसलिए अब यह कार-सेवा तो मुझे ही करनी थी. फिर हमने मूवी के ख़त्म होने से पहले एक लम्बी स्मूच ली, अपने कपड़े सैट किए और हॉल छोड़ कर बाहर आ गए.

सनी लियोन बीएफ सेक्सी एचडी

मैडम ने मुझे टॉवेल दे कर फ्रेश होने को बोल दिया और वह किचन में लग गईं. कुछ टाइम बाद मैंने उन्हें कुतिया के पोज में बनाया और उनके पीछे से चुत में लंड पेल कर चुदाई शुरू कर दी. फिर मैंने प्यार से उसके मुंह को पकड़ा और उसको होंठों को पूरा का पूरा अपने मुंह में ले लिया ताकि बाहर किसी तरह की आवाज न निकल सके.

अजय किसी कम्पनी में जॉब करता था और अक्सर 3-4 दिनों के टूर पे जाता था. मैं चन्दन सिंह, उम्र 58 साल नौकरी करने के बाद रिटारयर्ड हो चुका हूँ. वो भी मेरे सर को अपने हाथों से दबा कर मुझे अपने दूध चूसने का पूरा मजा दे रही थी.

उसने बोला कि कहां ठीक रहेगा?मैंने बोला- रुको मैं अपने एक दोस्त से पूछता हूं. मैंने पहली बार किसी मर्द के कामरस का स्वाद अपनी जीभ पर महसूस किया था. उनके करवट लेने से मेरी गांड फट के हाथ में आ गई और मैं हड़बड़ाहट से बाहर निकलने की कोशिश करने लगा, जिससे दरवाजे के पास टेबल पर रखा ग्लास गिर गया.

उसने भी आज छत का दरवाजा लॉक नहीं किया था, इसलिए मुझे अन्दर जाने में दिक्कत नहीं हुई. उसके ऊपर स्लीवलेस फिट टॉप में से उसके बूब्स उसकी फिगर को परफेक्ट बनाते थे.

आह्ह … फिर मैंने उसको नीचे लिटा दिया और खुद उसके ऊपर लेट कर उसके चूचों को अपने मुंह में भर लिया.

मधु- राज जी ऐसे न बात कीजिये, मुझे आपसे प्यार हो रहा है और मेरा प्यार आपके लिए इतना गहरा है कि दुनिया में कोई किसी को इतना प्यार नहीं कर पाएगा. देसी ओल्ड सेक्सइसलिए भाभी मुझे देखते ही सबसे पहले अपनी मैक्सी का गला ठीक करती थीं. बीम के प्रकारपहले मैं उनकी तरफ ज्यादा देखती भी नहीं थी, पर अब उसने नजर मिलाना और उनका मेरे बदन को निहारना, मुझे अच्छा लगने लगा था. सोनू शांत होकर ठंडी पड़ने लगी तो मेरे लंड पर रखे उसके हाथ पर मैंने अपना हाथ भी रख दिया और उसके हाथ को नीचे दबा कर अपने लंड पर खुद ही चलवाने लगा.

उसके चूचे देख कर मेरा मन तो कर रहा था कि अभी राधिका के मम्मे मसल दूँ और ब्रा फाड़ डालूँ, लेकिन मैं ऐसा नहीं कर सकता था.

मैं उसकी चूत को चाट रहा था जबकि वह मेरे लण्ड को मुंह में लेकर फिर से खड़ा करने की कोशिश कर रही थी. उसमें उन्होंने अपना गांड के छेद पर थूक गिरा कर उंगली से अन्दर करने लगे. कामवर्धक दवा ने अपना पूरा असर किया था मौसी की चुदास पर इसलिए मौसी बस मेरे लंड से चुद कर शांत होना चाह रही थी.

मैं ‘ऊह्ह आआह्हह …’ करते हुए नीचे से चूतड़ों को उछाल उछाल कर ‘हाय अंकल आह …’ कर रही थी. वो बोली- वापस कर मेरे कपड़े।मैंने तकिये के नीचे से भाभी की कच्छी निकालते हुए कहा- भाभी, ये तो अब मैं वापस नहीं दूंगा।भाभी बोली- क्यों, अब तू औरतों की कच्छी पहनेगा क्या?नहीं भाभी” मैंने कच्छी को सूंघते हुए कहा. वापस आने के अगले दिन में लंच में कीर्ति से मिला, तो देखा वो कुछ उदास थी.

हिंदी की आवाज में बीएफ

मैं समझ गया कि कौसर जान को बड़े लंड का मजा मिल गया है और अब्बू को कसी जवान चूत का … अब से ये दोनों चुदाई का मौक़ा तलाश करते रहेंगे और मौक़ा मिलते ही चोदमचोद का खेल खेलेंगे. दीक्षा इस तरह मेरे बांहों में थी कि उसकी बड़ी-बड़ी चूचियां मेरी छाती से बिल्कुल चिपक गयी थीं. मैं दावे के साथ कह सकता हूँ कि देखने वाले की नजर सबसे पहले उनके चूचों पर जरूर पड़ेगी.

सीमा भाबी गुस्से से कहने लगीं- देव, तुम्हें इस तरह मेरे कमरे में अन्दर आकर मुझे देखते हुए शर्म नहीं आई?मैं- भाबी सॉरी … वैसे भी मैंने आपको आवाज़ दी थी.

अगले दिन मैं जब गांव में बोर हो रहा था, तो सोचा क्यों ना जोधपुर जाकर कोई मूवी देखी जाए.

मैंने अपने ऊपर से नम्रता को हटाया और वहीं बैठते हुए नम्रता से छत पर चलने की फरमाईश कर दी. फच-फच की आवाज तेज हो चुकी थी, मेरे धक्के के कारण रेखा का जिस्म हिल रहा था और साथ ही उसकी चुचियां भी हिल-डुल रही थीं. रेयान कोनरआह्ह आहह आअह्ह बेटा धीरे … आअह्ह्ह जान निकाल देगा क्या तू? आआह …’पूरा कमरा हमारी आहों से गूंज रहा था.

वो अपनी सिसकारियों को दबा रही थी … या यूं कहें कि जितना हो सके, वो धीमी आवाज कर रही थी. मैं भी वहां से हट कर वापस सोफे पर आकर लेट गया और सोने की एक्टिंग करने लगा. मैं घर में बोर हो जाती, माँ से भी कितनी बातें करती, छोटा भाई भी अपने खेल कूद और स्टडी में बिजी रहता.

अपने कपड़े खरीदते समय वो मुझसे बार बार पूछ रही थी कि कैसी है?मेरा हर बार एक ही जवाब होता था. उसने पूछ लिया- तुम्हारे कितने बॉयफ्रेंड हैं?मैं- कितने से क्या मतलब है तुम्हारा? एक ही तो होता है और फिलहाल मैं अभी सिंगल ही हूं.

मैं झटपट उठा, मार्केट गया, कल के लिए सब्जी वगैरह खरीद कर, होटल से सभी के लिए खाना ले आया.

वो सिसकारी भरने लगी और बड़बड़ाने लगी- ओह चाचू मत करो … ये ग़लत है स्सस आह चाचू प्लीज़ रुक जाओ. फिर हांफते हुए बोली- कर न, रुक क्यों गया!मैंने उसके बाल पकड़ के खींचे और उसे घुमा दिया. मैंने दोनों हाथ उसके कमर पकड़ के खींचा, वो मेरे नंगे बदन से और सट गयी.

సెక్సీ వీడియో తెలుగు मुझे दूसरी तरफ यह भी विश्वास था कि वह शायद अपने घर वालों के सामने इस तरह कोई बात नहीं बतायेगा. मैंने कहा- मम्मी मुझे तो घर जाना है और मैं भी निहारिका और विक्की भाई के साथ अपने घर जाऊँगी.

उस दिन मैंने पहली बार शमा जैसी खूबसूरत लड़की की चूत इस तरह नंगी देखी थी. मैंने सोचा कि मौका अच्छा है, मैं एक शॉप पर गया एक ब्रांडेड पैंटी और ब्रा खरीद लाया और अपने पास रख ली. मेरे हाव-भाव देख दीदी ज़ोर से हंस पड़ी और उसने खुद से मेरा हाथ अपने कंधे से लेकर अपने स्तन पर रख दिया.

बीएफ सेक्सी एचडी फुल हिंदी

मेरे छूटने की कोशिश में गलती से मेरा हाथ उनके लुंगी पर आ गया और मैं शॉक हो गयी. वो कुछ समझ पाती, इससे पहले मैंने उसे सीधा बैठा कर उसके हाथ सोफे से बांध दिए. मैं रश्मि के मम्मों को ब्रा के ऊपर से चूसने लगा और थोड़ी देर बाद मैंने ब्रा को भी उतार फेंका.

मैं अपनी लम्बी जीभ निकाल कर आंटी की गांड से चाटते हुए चुत तक आता और चुत से गांड तक जाता. मैं उसकी चुत को जांघों से लेकर उसके पेड़ू तक किस करता रहा और वो टेढ़ी होती बार बार!अब वो चुत के अंदर जीभ के जाते ही तेज़ सिसकारी लेती- ससीईई ईईईई अहह हहाह हहह!काफी समय हो गया था ये सब करते करते … तो मैं उठा और उसकी ब्रा का हुक खोल दिया, उसके बूब्स उछल कर ऊपर आ गये.

वो कभी कभी अपना लंड मेरे मुंह में अन्दर बाहर भी कर रहा था और हम दोनों बीच बीच में कभी कभी एक दूसरे को किस भी कर रहे थे.

मैंने उसको चिढ़ाते हुए ऐसे ही बोल दिया- फिर तो तुम्हारे हाथ में भी दर्द होने लग गया होगा. वो मेरी गांड चाटने लगा और गांड को गीला करके मेरी गांड में अपना मोटा लंड एक ही झटके में पूरा डाल दिया. फिर वो बेड के कोने पर जा खड़े हुए और मेरे पैर खींच कर मुझे एकदम कोने पर कर दिया और मेरी टांगें उठा कर मुझे पकड़ा दीं.

मैं अपनी सहेली के पति से अपनी चुदाई की कहानी आपको बताने जा रही हूँ. सोनल- पर भाभी हम दोनों भाई बहन ऐसा कैसे कर सकते हैं?दिशा ने सोनल की तरफ देखकर कहा- अब टास्क है … तो करना तो पड़ेगा ही. वो बोला- ट्रक उधर ही जा रहा, तो चलो साथ में … रास्ता लंबा है, तो रात को खाना बनाने के लिए और सोने के लिए कहीं रुकेंगे.

हम दोनों ने सेक्स करने के बाद अपने आपको साफ़ किया और उसके बाद शिशिर अपने कपड़े पहन कर अपने घर चला गया.

बीएफ एचडी वीडियो सनी लियोन: चूस लो इसे भाभी।मेरे कहते ही उसने मेरे लंड को अपने मुंह में भर लिया और तेजी के साथ उसको चूसने लगी. मामा बड़े लाड़ से मेरी चादर में घुसा और चुपचाप लेट कर मुझे सिर्फ सहलाता रहा.

चूंकि मुझे देर हो रही थी, तो मैंने सोचा कि ये बाथरूम से देर से निकलेगा, तो मैंने नहाना अभी कैंसल कर देता हूँ. वो बोला- क्या? सच में?मैंने कहा- नहीं, वैसे ही बोल रही थी।वो बोला- वैसे मेरे में क्या कमी है?मैंने कहा- कमी तो कुछ नहीं है. ये सब देखने सुनने के बाद बॉयज की तरफ से मेरा मन खट्टा और भयभीत हो गया और मैं सभी लड़कों को डर और अविश्वास की नज़रों से देखने लगी और मन पक्का कर लिया कि मैं जीवन में कभी भी कोई बॉयफ्रेंड नहीं बनाऊँगी और न ही कभी किसी लड़के से अन्तरंग दोस्ती करुँगी.

जब मेरी आंख खुली, तो गाड़ी जयपुर पहुंचने वाली थी, सुबह के 4 बज चुके थे.

मैंने उसके कान में धीरे से पूछा- क्या फिगर साइज बना रखा है तुमने?तो उसने शर्माते हुए बोला- खुद ही चैक क्यों नहीं कर लेते. खैर … मैंने अपने एक जानने वाले को बोला कि कोई काम वाली हो, तो बताना. नम्रता- बिल्कुल मेरी जान, मुझे भी तो देखना है कि मेरा शेर, कैसे मेरी चूत मारता है.