पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म

छवि स्रोत,अमेरिका बीएफ अमेरिका बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बाथरूम में नहाती औरत: पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म, जिससे उनको थोड़ी दिक्कत तो हुई लेकिन सुगंधा भाभी मुझसे दूर जा नहीं सकती थीं, तो वो मुझे कुछ नहीं बोलीं.

बीएफ कुंवारी लड़कियों की चुदाई

सुनील ने बनावटी गुस्सा दिखाते हुए कहा- दीपा, अगर भाईसाहब बनाना है तो मैं चला. जूही चावला के बीएफ सेक्सीमगर मैंने देखा कि आस पास के लड़के लड़कियां एक दूसरे से चूमा-चाटी कर रहे थे और किसी ने किसी का लंड पकड़ रखा था, तो किसी ने उसके मम्मों को दबा दबा कर उसकी मीठी मीठी आवाजें निकलवा रहा था.

पहली बार के प्रयास में उसका लंड मेरी गांड के अन्दर जा ही नहीं पाया. भुवनेश्वर बीएफदो अभी ठंडी थीं, मतलब ठंडी तो पाँचों थीं लेकिन फ्रिज में रखने से मतलब ये था कि वो ठंडी बनी रहेंगी.

तब मैं घर पर अकेली ही रहूंगी।अब मेरे मन में हवस पूरी तरह से हावी हो गयी थी.पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म: फिर मैंने उसे बांहों में भर के अपनी गोद में उठाया और बेड पर बैठ गया.

मेरी स्पोर्ट्स बाइक पर रेखा मेरे पीछे बैठी तो बाइक की बनावट के कारण मेरे ऊपर लदी हुई थी.मेरा लंड पूरा तना हुआ था और बार बार झटके देकर सोनाली की चूत से टकरा रहा था.

बिहार वाले बीएफ - पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म

धीरे-धीरे ऊपर की तरफ आया तो उससे कहा कि सलवार गंदी हो जायेगी क्योंकि सलवार पर बार-बार तेल के हाथ लग रहे थे.पर इतने में एक दूसरी सेल्सगर्ल जो कि काउंटर पर खड़ी थी, वो बोल पड़ी- मैम साईज क्या है?शायरा तो अब शर्म से पानी पानी ही हो गयी थी … मगर फिर भी मुझे मजा आ रहा था.

चाची- अरे क्या हुआ?मैं- एक ही पोजीशन में कितनी देर तक चोदूं … अब ऊपर उठो. पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म वैसे मेरे क्लाइंट्स की ओर से भी मुझे बहुत सारे ऑफर आ रहे थे लेकिन मैंने अपने बॉयफ्रेंड के साथ वफादारी निभाई और किसी को भाव नहीं दिया.

मीना- अमित मेरी जान … तुम्हारे लन्ड के पानी ने तो चूत शांत कर दी मेरी। बहुत मज़ा आया तुमसे चुदवा कर। मगर अभी भी दर्द हो रहा है और जलन भी।मैं- कोई बात नहीं जान.

पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म?

सबसे खास बात ये थी कि वो एक हब्शी किस्म का लंड था … और उसका सुपारा पूरा का पूरा खुला हुआ था, जो कि बहुत ही मोटा था. जब मैं वहां से रवाना हुआ, तो उसी वक्त साले साहब की लड़की अनिता को मुझे मेहसाणा में उसके घर तक छोड़ना था. आप लोगों के सामने में अपनी नई सेक्स कहानी लेकर दोबारा आऊंगा, जब मेरी मॉम और एक जिम के मालिक के बीच चुदाई हुई.

मेरे लिए इस समय ऐसा अहसास था कि आम के पेड़ के नीचे खड़ी हूं … लेकिन आम नहीं ले पा रही हूं. इसके बाद क्या हुआ?लेखक की पिछली कहानी:कच्ची कली खिल गईगोपाल मेरा सिर्फ पड़ोसी ही नहीं बल्कि अच्छा दोस्त भी है. वहां से निकल कर सोचने लगे कि किसी नजदीक के ही होटल में ठहरना पड़ेगा क्योंकि यदि अस्पताल से फोन आता है तुरंत पहुंचना पड़ेगा.

अभी मैं न्यासा की मस्त चूचियों को मसलते हुए ज़ोर ज़ोर से उसकी चुत में शॉट मारने लगा था. मैं आप लोगों की प्रतिक्रियाओं के आधार पर कहानी आगे लिखने के बारे में सोचूंगा. करीब दस मिनट बाद राहुल चरम पर आ गया उसके मुँह से कामुक आवाजें निकलने लगी थीं.

थोड़ी देर अपने शरीर को उसी तरह रगड़ने और दीदी के स्तनों को चूसने और काटने के बाद मैंने अपने हाथों से उनकी साड़ी को कमर के ऊपर उठा दिया. तो मैंने लोशन अपनी उँगलियों पर लगा कर तीसरी उंगली भी उसकी चूत में डाल दी.

मगर एक रात करीब ग्यारह-साढ़े ग्यारह बजे होंगे, जब मकान मालकिन ने मुझे जगाकर बताया कि शायरा के पेट में दर्द हो रहा है.

हमारी बेटी ही थी, जिसकी वजह से हम दोनों एक दूसरे का साथ निभा रहे थे.

मुझको पता था कि उसकी पहली बार है, तो उसे शांति से चोदना पड़ेगा, वर्ना उसे बहुत दर्द होगा. उसने बड़ी अदा से सिगरेट का कश खींचा और धुंआ के छल्ले उड़ाते हुए कहने लगी- आज कई साल बाद बियर पी रही हूँ … पहले बार हस्बैंड ने पिलाई थी … उनके साथ ही पी लेती थी. तो मैंने फिर से उसको पकड़ लिया और बोला- तूने बताया नहीं … तेरी हां है या ना!जब उसने कोई जवाब नहीं दिया.

वो यहाँ आकर हमें मसाज दे सकता है और मेडिकल मसाज सिखा सकता है और पैसे भी नहीं लेगा. यह कहानी मेरी पिछली कुछ कहानियोंमस्त पड़ोसन भाभी दिल खोलकर चुदीट्रेन में मिली महिला की सेक्स की प्याससे जुड़ी हुई है क्योंकि मेरी पिछली कहानीमालकिन के साथ नौकरानी के मजेयहां पर नहीं छपती, तो शायद यह अनुभव मुझे सच में नहीं मिल पाता. अब मेरी स्पीड बढ़ भी रही थी, मैं तेजी से मॉम की चुत चुदाई कर रहा था.

अब इसी तरह रात भर हमारे प्यार का सिलसिला चलता रहा और सुबह तक हम‌ एक दूसरे से प्यार करते रहे.

मुझे हिलता देखते ही अनामिका तुरंत लंड छोड़ कर फिर से सोने का नाटक करने लगी. शुरूआत में मैंने लिखा था कि मुझे दो ईमेल आई थीं, दूसरी ई-मेल वाली सेक्स कहानी भी मैं जल्दी लिखूंगा. कभी वो केवल एक पैंटी में दिख जाती थी, तो कभी कमरे के बाहर बने ओपन बाथरूम में नंगी नहाते दिख जाती थी.

विकी बोला- बिना लंड लिए ही झड़ गई तुम तो!मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और सर को पकड़ कर चूमने लगी. मैं बोली- तो अब?उसने कहा- अब क्या? ये पहली बार सेक्स करने में टूटती है. वो ‘आह ऊऊऊ ओह हाये मम्मी मर गयी … संजू लंड बाहर निकालो … उई बहुत दर्द हो रहा है … मैं मर जाऊंगी … प्लीज़ निकाल लो आह आह.

मुझे आये हुए आधा घंटा हो चुका था।फिर रोहित कहने लगा- बताओ नीलम क्या खाओगी पिज़्ज़ा, बर्गर, मोमोज, डोसा जो भी खाना हो बता दो.

धन्यवाद, आप सब मुझे अपने प्यार से नवाजें और मैं अपनी जिंदगी के और हसीन पल आप लोगों के साथ साझा करूं. कुछ देर बाद मैंने उसे पीठ के बल लिटाया और उसकी टांगें ऊपर करके उसकी कच्छी उतारने लगा.

पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म मुझे लगा कि वह मुझे सामने से चोदता तो मैं उसकी कोली भर के झड़ जाती. अब मैं एक हार्डवेयर के स्टोर पर गयी और मैंने वहां से एक डक्ट टेप, नायलॉन की रस्सियां, मोमबत्ती और कुछ क्लिप ले लीं.

पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म इसके बाद शिल्पा ने जोश में आकर राहुल को बेड पर बैठा दिया और सेक्सी स्माइल करके उसके सामने घुटनों के बल बैठ गई. वो मेरा फूला हुआ लंड देख कर बोली- हाआ … इतना बड़ा … ये तो फिल्म जितना ही है.

मैं तेजी से उसकी चूत में जीभ चलाने लगा और अब उसके हाथ मेरे सिर पर आ गये.

लव स्टोरी फिल्म सेक्सी

शादी के बाद आज पहली बार ऐसा हुआ था कि संजू किसिंग के दौरान ही झड़ गई थी. मैं- क्या हुआ भाभी!सुगंधा भाभी- यह तुम्हारी गलफ्रेंड है?मैं- हां क्या आप जानती हैं इसे!सुगंधा भाभी- नहीं … वैसे दिखने में ये मुझसे भी ज्यादा खूबसूरत है. फिर थोड़ी देर करने के बाद मैं बेड पर लेट गया और उसे लंड के ऊपर बैठा लिया.

मैंने उसकी चुत से मुँह हटा लिया और अपनी चड्डी उतार कर उसके पीछे आ गया. मैंने कॉन्डम उतार कर गांठ मारी और उसे एक कागज में लपेटा और जेब में डाल लिया. जैसे जैसे लण्ड की ठोकर पड़ती … मालू आह … आह … कहकर मेरा जोश बढ़ा देती.

पिंकी बोली- मैं दो मिनट के लिए लाईट बंद कर रही हूँ, सब लोग अलग अलग हो जाएँ, म्यूजिक चलेगा और फिर जिसके पास जो आ जाएगा, अगले दो मिनट वो उसी के साथ डांस करेगा.

करीब 20 मिनट मेरी गांड मारने के बाद वह मेरी गांड के अन्दर ही झड़ गया. भाभी को मैंने अपनी ओर खींचा और उसको कसकर अपनी बांहों में भींच लिया. ताजमहल की तरह बेदाग़ चुत थी उसकी … जिसको मैंने उंगलियों से खोलने की कोशिश की.

मैं जोर जोर से उसके लंड को हिला हिला कर हाथों को ऊपर नीचे कर रही थी. मेरे बड़े पापा यानि ताऊजी मेरे स्वयं के पिताजी से उम्र में 10 साल बड़े हैं. स्वाति भाभी ने भी अब एक दो बार तो अपनी गर्दन व होंठों को छुड़ाने की कोशिश की मगर फिर वो भी शांत हो गयी.

उस लड़के का नाम राकेश था, वो साला प्रोफेशनल गांडू था … मेरा मतलब गांड मराने का उसका एक तरह से साईड बिजनेस था. कुछ देर बाद मैंने भाभी की टांगों को जबरदस्ती अपने कंधों पर ले लिया और एक जोरदार प्रहार की चूत की जड़ तक कर दिया.

उसकी आवाज सुनकर मेरे दिल की धड़कन अचानक बढ़ गई और मैंने अपने दोस्त को एक चिकोटी काट ली. वो बोला- हां कहो?मैंने कहा- आप मुझे पसंद करते हो क्या?वो बोला- हां, तुम बहन हो मेरी, ये भी कोई पूछने की बात है क्या?उससे मैं सीधे तौर पर पूछना चाहती थी. मैंने नोट किया वो दोनों लगातार बिना आंखें खोले और रुके 15-20 मिनट से चूमाचाटी किए जा रहे थे.

मेरे पति को शहर की हवा लग गई थी।मेरी चूत की चुदाई ना कर पाने के कारण वो रंडियों के पास जाने लगे।और इधर मेरे घर से जाते ही पापा ने मां को चोद कर उन्हें भी गर्भवती कर दिया।कुछ महीनों के बाद मैंने एक प्यारे लड़के को जन्म दिया।उसका नाम सुमित रखा.

उसने जैसे ही अपने रसीले होठों से लंड के सुपारे को चूमा, मुझे करंट सा लग गया. उसकी इस बात पर मुझे हंसी आने लगी तो मैंने अपना मुंह दूसरी तरफ कर लिया और हंसने लगी. उनकी आंखों में वो बात नहीं थी कि उसे एक ऐसी लड़की की चाह है, जो पूरी तरह से फ्रेश हो.

अंशिका अब मेरे मुंह पर अपनी चूत को आगे पीछे करके मेरी जीभ पे रगड़ रही थी।मेरा लंड अभी भी सपना को चोद रहा था। सपना झड़ने के कगार पर थी. मेरे इतना बोलने के बाद वो भी चुप हो गईं और उन्होंने अपने हाथ पैर हिलाना बन्द कर दिए.

ये सब सोच कर पिंकी ने अपना मन अनिल से हटा लिया और रवि को सेक्स में साथ देने लगी. सर के मुँह से ये सुनकर रीमा भी मुझे देखने लगी कि सर ने आज तेरी तारीफ की. मेरी चूत में बहुत जलन हो रही थी लेकिन भाई के लंड से चुदकर मुझे मजा भी बहुत मिला.

देहाती सेक्सी चूत चुदाई

शायरा को अब गुस्सा आ गया- तुम पागल …इससे पहले शायरा कुछ कहती, मैं बीच में ही बोल पड़ा- इसमें गुस्सा होने वाली क्या बात है.

बड़ा कठिन फैसला है लेकिन करना यही पड़ेगा और गोपाल को इसकी भनक भी नहीं लगनी चाहिए. दूसरे भागपति के सामने यार का लंड चूसामें आपने जाना था कि मेरी बीवी सुमन ने मेरे दोस्त का लंड मस्त होकर चूसा. यह बात सही है कि इस अवैध संबंध को बनाने में मेरा योगदान ज्यादा है … भाभी की तो बस मौन सहमति थी.

मैंने उससे ऐसे जवाब की उम्मीद नहीं की थी, लेकिन इतने में वो औरत बोली कि तू भी 500 रुपए देगा, तो मजे कर सकता है. अब मेरे हाथ उसके बूब्स पर पहुंच गये और मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा. हिजरा का बीएफ सेक्सीमैं- क्या हुआ भाभी!सुगंधा भाभी- यह तुम्हारी गलफ्रेंड है?मैं- हां क्या आप जानती हैं इसे!सुगंधा भाभी- नहीं … वैसे दिखने में ये मुझसे भी ज्यादा खूबसूरत है.

मुझे भी भाबी की चूत में अपना लंड डालने के लिए तड़प मच रही थी, पर हम ऐसा नहीं कर सकते थे. वो बोला- ये उफान पर आ गया है … इसका क्या करूं?मैंने बोला- मैं चूस लेती हूं.

आज भी हम दोनों मिलते हैं।उसके अलावा भी मैंने कुछ लोगों से रिश्ता जोड़ा है. कुछ देर बाद मैंने उसे पीठ के बल लिटाया और उसकी टांगें ऊपर करके उसकी कच्छी उतारने लगा. मैं बार बार लंड उसकी फुद्दी में डालने की कोशिश करता, लेकिन वो हर बार फिसल कर बाहर आ जाता.

मैं एक टॉर्चर सेक्स आपको बताना चाहती हूं जब मैं एक जिम प्रशिक्षक के रूप में काम कर रही थी. ऐसी मजबूरी में शुरू हुई थी सिस्टर की चुदाई … जो लड़की को बार बार चुदाई करवाने की चाहत में बदल गया था. इससे ज्यादा तो मॉम पर बहुत गुस्सा आया कि वो लड़के ये सब कर रहे थे और मॉम उनको कुछ नहीं बोल रही थीं, बल्कि उन्हें ऐसा करने के लिए हंस हंस कर और उकसा रही थीं.

गर्ल ऑनलाइन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी दोस्ती एक वेबसाइट पर एक मैरिड लड़की से हुई.

फ्री हिंदी Xxx कहानी के पिछले भागचलती बस में खूबसूरत भाभी के साथ चूमा चाटीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं चलती बस में भाभी को गर्म कर रहा था. जिस तरह से लंड को वो चूत के अन्दर डाल रहा था, उससे ऐसा लग रहा था कि चूत के अन्दर आरी चल रही है.

उनके बीमा के चलते मुझे अच्छी ख़ासी रकम मिल गई थी जिससे मुझको काम करने की नौबत नहीं आयी. संगीता को अपने बेटे चिराग के सामने अपनी चूचियां हिलती हुई महसूस हुईं तो वो सोचने लगी कि उसका बेटा न जाने क्या सोच रहा होगा. उन दिनों विवेक और लूसी अपने नाना नानी के साथ यानि हमारे बड़े पिताजी के घर रहते थे.

अंदर जाने के बाद वो बोली कि अभी कामवाली है घर में, वो आधे घंटे के बाद जायेगी. उसके होंठों को चूस चूस कर उस रस को पहले तो मैंने खुद पिया … फिर उस रस को शायरा के मुँह में अपनी जीभ डालकर मैं वापस शायरा को ही पिलाने लगा. मैं दिन में 10-12 घंटे पढ़ाई करता … एकाध घंटे खेलता और एक दो घंटे टीवी देखता … बाकी समय सोता था.

पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म मैंने उसे अपने मोबाइल में वीडियो दिखाया और समझाया कि ऐसा कुछ नहीं होता. फिर धीरे धीरे मैंने लंड हिलाना शुरू कर दिया, वो भी लंड को झेलने लगी.

रियल एम एम एस

मैं कस्बे के किराना स्टोर के सेठ से सामान लाया था, लगभग पन्द्रह दिन हुए थे, सामान ज्यादा था. थोड़ी देर बाद मैं बोला- ज़ारा!ज़ारा- हम्म?मैं- चुदाई करें?ज़ारा- मेरा मन नहीं है जान!मैं- लेकिन मेरा है!ज़ारा- रहने दो ना जान!मैं- मान जाओ प्लीज!ज़ारा- ठीक है!अब मैंने उसकी टीशर्ट निकाली और उसे किस करने लगा. मैंने ना‌ तो टिकट‌‌ व पैसों को उठाया … और ना ही अपने पर्स को उठाया.

इसलिए मैंने अब लास्ट के कुछ एक धक्के अपनी पूरी तेजी व ताकत से मारे और शायरा को कस कर अपनी बांहों में भींच लिया. फिर मैंने उसे बांहों में भर के अपनी गोद में उठाया और बेड पर बैठ गया. सेक्सी वीडियो एचडी मूवी बीएफवो बोल रही थीं- शालिनी तू कहां पर है … चलो हमें अब चलना है और सरकार भी कहीं दिखाई नहीं दे रहा है.

मैंने भाबी से पूछा- भाबी मैंने क्या गलती कर दी थी!भाबी- मैं तुम्हें कितना जगाने की कोशिश की मगर तुम जागे ही नहीं.

फिर कुछ मेकअप किया और टेबल लगा कर इंतजार करने लगी।कुछ देर बाद बेल बजी. अनीता खूब जोर से जीभ को जीभ लड़ा कर चूसने लगी … साथ ही अपनी तरह से वहशियाना तरीके से मेरे एक हाथ सर के पीछे दूसरा हाथ मेरे सीने पर रस कर सख्ती से मेरी एक घुंडी को मसलने लगी.

मैं बोला- अभी जब तुम अपनी चूत में उंगली कर रही थी तो क्या तब शर्म नहीं आ रही थी?तो वो बोली- साहब जी, मेरी शादी को आठ साल हो गए और शादी के दो साल बाद मैं यहां आ गयी. कुछ देर उसकी चूत से चिपके रहने के बाद जैसे ही लौड़ा निकाला तो बिन्नी की चूत से लावा बह निकला और बिन्नी के चूतड़ों के छेद को भिगोते हुए स्लैब पर गिरता रहा. सुबह जब मेरी नींद खुली तो मेरी सास एक ब्लैक साड़ी में मेरे सामने चाय लेकर खड़ी थीं.

शिल्पा बिना कुछ बोले घोड़ी बन गई क्योंकि इस समय वो मेरी बीवी कम राहुल की गलफ्रेंड ज्यादा थी और उसे चुदने में मजा भी आ रहा था.

मैं पहुंचा तो सीमा बेहोश हो चुकी थी और घबराई हुई मीरा पास में बेबस खड़ी थी. करीब 10-15 दिन बीतने के बाद एक दिन योगा सिखाते टाइम उसने मेरे पेट को छुआ. दर्द से चिल्लाने की जगह वो उल्टा ये बोला- एक बार में पूरा डाल दें … संकोच न करें.

रवीना सेक्सी बीएफअपने पति को काबू में करें, उसे चुत चटा चटा कर अपना पालतू शेरू बना लें. मेरी दोनों टांगों को पकड़ कर उसने खींचा और मेरी जांघों को फैला दिया।फिर बोला- देख कर लगता नहीं कि इस चूत की चुदाई भी हुई है।मैंने कहा- जल्दी से अपना लन्ड डाल और अपनी रण्डी बना ले।उसने अपने लंड को चूत से छुआया और झट से अंदर डाल दिया.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी देखना है

हम दोनों एक दूसरे से इतनी जोर से चिपक गए थे कि हमारे बीच से हवा ही निकलने में असमर्थ थी. थोड़ी देर बाद उन्होंने खुद ही अपने आप को हल्का सा पीछे किया और दीवार का सहारा लेते हुई अधलेटी स्थिति में आ गयी. दिल तो मेरा भी नहीं कर रहा था उसको छोड़ कर जाने का, इसलिए मैंने उस पर अहसान दिखाते हुए घर पर फोन कर दिया.

उसने गुलाबी कच्छी पहनी थी।जब वो पिशाब करके आने लगी तो मैं भी मूतने लगा. मैं भी अपने होंठ चबाते उसके लन्ड पर बैठ कर चुद रही थी।उसने मुझे कुतिया बनने को कहा. कभी कभी जब उसकी जीएफ नहीं आती, तो हम दोनों कोचिंग का गोला मार कर सेक्स कर लेते.

मैंने पूछा- बोल खुश है ना!वो बोला- जी, आपने इसे पता नहीं क्या खिला दिया है. वक़्त की नजाकत को देखकर हम दोनों फटाफट तैयार हुए और अपनी अपनी बेटियों की स्कूल से पिकअप करने एक के पीछे एक घर से निकल गए. फिर थोड़ी देर बाद मेरे बदन में अकड़न सी हुई और पूरे वेग के साथ मेरे लंड से वीर्य छूट पड़ा.

मैंने बिना एक पल की देरी किए उसे चुदाई की पोजीशन में लिया और अपने लंड का सुपारा उसकी चुत की फांक में सैट कर दिया. मेरे साथ मेरा एक साथी रहता था, जो अपनी गर्लफ्रेंड के लिए बाजार में स्थित एक गिफ्ट कॉर्नर से गिफ्ट वगैरह लिया करता था.

साथ ही उसकी चूचियों को दबा दबा कर मैंने फुला दिया, जिससे कि उसकी सीत्कार भी निकलने लगी.

अगर पापा को पता चला तो आपका क्या होगा!मॉम बोलीं- मुझे तुम्हारे पापा की कमी खलती है, इसलिए ऐसा हो गया. इंडियन बीएफ ओपन सेक्समैंने उसकी नाइटी उतार फेंकी और ब्रा के ऊपर से ही भाभी के मम्मों को दबाने लगा. सेक्सी वीडियो बीएफ बीएफ सेक्सअब तक आपने पढ़ा था कि मैं शायरा को छेड़ रहा था और वो मेरी बात पर हंस रही थी. इधर बैठ कर मैं कुछ नहीं कर सकता था … मेरे पास उन दोनों की चुदाई देखने के अलावा कोई और आप्शन नहीं था.

मगर यहां तो कुआं खुद आ रहा है पानी पिलाने … तो पी लेना चाहिए।तभी मैंने वो नम्बर फोन में डायल कर लिया और कागज फाड़ दिया.

मैं भी कानपुर में पढ़ाई करता हूं तो मैं भी छुट्टियों में घर गया हुआ था। सब मजे में एक दूसरे के साथ मस्ती करते हसी मजाक करते घूमते फिरते। छुट्टियां अच्छी बीत रही थी. आज तक इतनी बढ़िया चूत चटाई और इतनी मस्त चुदाई नहीं हुई।और फिर हम एक दूसरे को बहुत देर तक चूमते रहे।उस रात सीमा की दो बार चुदाई की। वो जब तक मुंबई में थी हमने ख़ूब चुदाई की।आपको यह भाभी की चूत की चुदाई की कहानी कैसी लगी?अपने विचार अवश्य लिखें,[emailprotected]आप मुझे telegram app पर भी सम्पर्क कर सकते हैं बस उसमें @mayank0301 सर्च करें. मैं अब अपने कंधे से उसके कंधे की तुलना कर ही रहा था कि तब तक कंडक्टर ने मुझे टिकट और बाकी के पैसे वापस थमा दिए.

अब तक मैं भी मुठ मार चुका था और मैंने अपना वीर्य बाथरूम के दरवाजे पर मार दिया था. चूचियों की घुंडियां (निप्पल) एकदम से ऐसे तन गये थे जैसे किसी ने उसकी चूचियों पर कंचे रख दिये हैं. लेकिन बस चुदने के चक्कर में मैं अपनी गांड फड़वाने और उसके लंड से चुदवाने के लिए राजी हो गयी.

मराठी कामवाली सेक्सी व्हिडिओ

दरअसल मेरी कोई अपनी सगी बहन नहीं है इसलिए सोनाली और मेरे बीच बहुत प्यार था. उसने कमरे में आते ही जल्दी से अपनी जींस उतार दी और अंडरवियर उतार कर पलंग पर औंधा लेट गया. और इस बात की भी क्या गारंटी है कि हममें से किसी ने उस दिन सेक्स भी कर लिया हो तो?बात में दम था.

लेकिन वो रुका नहीं … बस मेरी टांगों को और तेज़ से पकड़ कर वो लगातार धक्के देता चला गया.

फिर बस वालों को कॉल किया, तब पता चला के बस में कम बुकिंग होने के कारण कैंसिल कर दी गई है.

मेरी दीदी की शादी दूसरे शहर में हुई है जहाँ जाने में तीन से चार घंटे लगते हैं. रेखा का हाथ मैंने अपने लण्ड पर रखा जो रेखा के छूते ही हरकत में आ गया. एक्स एक्स एक्स एक्स फुल एचडी बीएफउसने ‘ठीक है’ बोलकर फोन काट दिया।मैंने पूरे घर की खिड़कियां बंद की.

अब दुकान वालों का तो काम ही ये होता है कि कैसे भी अपनी सेल बढ़ानी है और उसके लिए ही वो सेल्सवर्कर रखते हैं. अब मैंने पूछा- तुम क्या करतीं, अगर मैं ये सब करता?उसने थोड़ा रुक कर रिप्लाई दिया- मैं भी अपने हाथों से तुम्हारे गालों को पकड़ कर तुम्हारे होंठों को चूम लेती. वो बोली- राज … मेरे राजा … फिर से बजा दे एक बार … बहुत मन कर रहा है.

मैंने बीच की दो उंगलियों को चूत में डाला और थोड़ा ऊपर करके उसके जी-स्पॉट पर प्रेशर दिया. पिंकी समझ पाती, इससे पहले उसने थूक से भीगी अपनी उंगली पिंकी की गांड में कर दी.

अनिल ने एक ही धक्के में अन्दर तक लंड पेला और उसका पिंकी के साथ ही रस निकल गया.

हॉट लेडी सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि एक दिन मैं कॉलेज से जल्दी घर आ गया तो मैंने क्या देखा. वैसे तो मैंने कभी अपनी बीवी पर शक नहीं किया है … लेकिन पिछले कुछ दिनों से मुझे उस पर शक हो रहा है. उससे मेरी पैंटी सरक नहीं रही थी तो उसने फाड़ दी और मेरी चिकनी चूत के दर्शन किए.

करवा चौथ की चुदाई बीएफ हाय तौबा … बचा लो मां … मुझे बचा लो … आईईईई ओओओह हाययययय मैं मर गई रे!बस इसी के साथ संगीता के भोसड़े का गर्म गर्म झरना फूट पड़ा. इसी तरह आधे घंटे तक मेरी फुद्दी मारने के बाद अभिषेक ने मुझे नीचे बिठा दिया और अपना लंड एक बार फिर से चुसाने लगा.

मैंने उठ कर धीरे से पोजीशन बनाई और अपने खड़े लंड को उसकी चूत की फांकों पर घिसने लगा. थोड़ी देर बाद जब उन्होंने सर ऊपर उठा कर मेरे हाथ को आजाद किया तो उनकी निगाहें मेरे चेहरे पर थी और होंठों पर एक हल्की सी मुस्कान तैर रही थी. चुदाई करते हुए काफी समय हो गया था। हम थक चुके थे और एक दूसरे से चिपक कर एक दूसरे का ज़िस्म सहलाने लगे.

इंडियन सेक्सी वीडियो प्लीज

उस चुतचटा ने एक बार न्यासा की चुत को चाटा और उसकी चुत में एक ही बार में अपना पूरा लंड डाल दिया. हालांकि अभी तक मेरा किसी लड़की के साथ कोई चक्कर नहीं था, तो बहुत ज्यादा ख़ुशी की बात भी नहीं थी. उसकी पोजीशन अब ऐसी हो गई थी कि उसका एक पिछवाड़ा सीट पर था और एक पिछवाड़ा ड्राइवर साइड में हवा में था.

मैं- तुमने मुझे जगाया क्यों नहीं?ज़ारा- पहले चाय पी लें?मैं- ठीक है ले आओ!मैं अंदर चला गया, कपड़े बदले. हमारे बीच अब जोश बढ़ने लगा था और जवान जिस्मों को अपनी आग बुझाने की ललक लगने लगी थी.

वो हँसते हुए मेरे पास आए और मेरी कमर में हाथ डालकर मुझे अपनी तरफ खींचा और मेरे होंठों से अपने होंठ मिला दीए.

मैं उसके लन्ड के ऊपर बैठ के उसके लन्ड को अपने चूत से दबा रही थी।सूरज- रुक जा … तू तो रण्डी की तरह कर रही है।उसका लंड थोड़ा खड़ा हुआ. फिर थोड़ी देर चाची ने बाथरूम की दीवार से खुद को टिकाया और अपनी टांगें ऊपर उठा लीं. चाची अब ऊपर उठ गईं और मुझे मारने लगीं- साले चूतिये … तुझे मैंने अपनी चुत दी, मेरा सब कुछ दिया, फिर भी तू मुझे रंडी की तरह मेरा मुँह चोदने लगा … रानी बोल रहा था.

कुछ देर बाद वो अपने शरीर को ऐंठते हुए बोली- आह … मेरा होने वाला है. देसी कजिन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने चचाजान की जवान कुंवारी बेटी की कुंवारी बुर को फाड़ा. वो बड़बड़ाने लगी- आह इस राजधानी एक्सप्रेस रेल को बुलेट ट्रेन बना लो, चोद दो मुझे … बिल्कुल भी रहम मत करो मेरी इस गुलाबो पर … इसको गुलाबो से लाली बना दो.

करीब 20 मिनट के बाद मैं बोला- मामी मेरा लंड झड़ने वाला है … लंड का माल चुत में निकालूं या पीना है?मामी बोलीं- अभी चूत में ही छोड़ दो … मेरा भी निकलने वाला है.

पाकिस्तानी बीएफ सेक्सी फिल्म: क्योंकि दोनों बहनें अगर ज्यादा उत्तेजित हो गईं … तो मुझे बीच में ही रुकना पड़ेगा. उसकी चूत की फांकों को मैंने अपने मुंह में लिया हुआ था और उन्हें दांतों से रगड़ रहा था इसलिए वो ज्यादा चिल्ला रही थी- उई आह आह आह … मर गयी … मज़ा आ गया … साली मरवा दिया आज … मादरचोद उई आह आह सी सी सी सी!इधर मेरे मुंह से भी सिसकारियाँ निकल रही थी- आह आह आह सी सी सी सी बहनचोद … मादरचोद रांडो चुद गयी आज तुम सालियो … आह आह चुदो चुदो चुदो कुत्तियो … आह सी सी सी सी सी.

हम लोग उसे संग्रहित करके व्यापारियों को बेच देते हैं और फिर उनको व्यापारी लोग कोल्ड स्टोर में रखकर कुछ महीनों के बाद जो शराब बनाते हैं उनको बेचते हैं।ये हम जंगल वासियों के लिये रोजगार का साधन जैसा होता है. अब सीमा अपनी असली बात पर आई, बोली- इसी तरह अगर हम लोग पार्टनर्स बदल कर सेक्स भी कर लें तो क्या फर्क पड़ेगा. कुछ ही देर में मेरा दर्द बहुत ही कम हो गया और मैं प्यार से चुदती रही.

भाभी मेरे सीने पर गिर गईं और हांफते हुए कहने लगीं- आह राज … मेरी चुत में जलन होने लगी है.

करीब 3-4 इंच लंड अंदर गया था और मैं 3-4 इंच ही अंदर बाहर कर रहा था. सर मेरे माथे पे किस करके बोले- पहली बार में सबके साथ ऐसा ही होता है … तुम डरो मत. अरे … ये बेचारा तो तुम्हारी मदद कर रहा था‌, नहीं तो तेरी साड़ी फट जाती.