बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली

छवि स्रोत,जंगल वाली बर्फ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स फिल्म इंग्लिश में: बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली, फिर वो मुझे स्टेशन पर भेजने गया और वहां सीट पर बैठा कर किस की और बाहर आ गया.

मोनालिसा का सेक्स वीडियो

रेंट बहुत कम था क्योंकि वो डैड के फ्रेंड का ही फ्लैट था, सो हमें ज़्यादा रेंट नहीं देना था. ग्रीन लेबलउसने मेरी तरफ देखा और हम दोनों ने एक दूसरे के लिए धीरे से स्माइल की, मानो हमने दिल से ही एक दूसरे को फिर से धन्यवाद कहा.

तभी नवीन कपड़ा लेकर आया- मालकिन आपके पैरों से पानी पोंछ दूँ?मॉम ने मुस्कुराते हुए कहा- रहने दे नवीन अच्छा लग रहा है. सैकसी हिदीतब तक सब नॉर्मल हो गया था, लेकिन मॉम को बहन की चीख सुनाई दी होगी तभी वो देखने आई थीं.

फिर तुम्हें तो पता नहीं, लास्ट चुदाई में उसका वीर्य भी बहुत देर तक नहीं निकला क्योंकि वो पहले कई बार निकल चुका था, इसलिए बहुत देर तक लौड़ा अपना काम करता रहा.बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली: गांड थोड़ी खुल गई थी।उसने धीरे से अपना लौड़ा अन्दर बाहर करना शुरू किया। मेरी गांड अन्दर से गर्म हो चुकी थी, मैंने रोते हुए कहा- ओह.

और इधर मुझे मेरी आपबीती आपके साथ शेयर करने का मौका मिला है, इसलिए मैं इस साईट का बहुत शुक्रगुजार हूँ.कमरे का दरवाजा अधखुला था तो मैंने हल्के से अन्दर झाँका तो मैं अन्दर का नजारा देख कर कर दंग रह गया.

नेपालीसेक्स भिडीयो - बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली

विनय की जीभ मेरी चूत में घुस गई और लंड मेरे मुँह में फिर से घुस गया.वह मेरे लंड को ऐसे चूस रही थीं, जैसे छोटे बच्चे दूध की बोतल चूसते हैं… और खास करके उनके पतले होंठों का अहसास मेरे लंड को लोहे सा कठोर बना रहा था.

मेरी पहली चुदाई की कहानी के पहले भागचुदाई की कहानी जादूगरनी आंटी की-1में आपने पढ़ा कि मेरे घर के पास रहने वाली एक जादूगरनी आंटी ने मुझे फंसा लिया, मैं उसके घर चला गया रात में और आंटी मेरे साथ चूमाचाटी करने लगी. बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली जब तुम्हारी चुदाई को देखा था तो मन कर रहा था, मैं भी तुमको चोद दूँ.

पर तभी मुझे ख़याल आया कि अभी उन दोनों को रंगे हाथ पकड़ता हूँ, पर मैंने सोचा मैं पकडूँगा और बाद में घर में ये बताऊंगा तो बहुत काम लोग मेरा यकीन करेंगे क्योंकि मेरी साली की छवि ही इतनी उजली थी कि हर कोई यही सोचता कि वो ये नहीं कर सकती.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली?

मैंने कहा- अच्छा जो मैं बोलूँगा, वो करोगी?उसने मुस्कुरा कर कह दिया- हां कर दूंगी. मैं- ठीक है, मैं तुम्हें जरूर दिखाऊँगा लेकिन इससे पहले मैं कुछ देखना चाहता हूँ।स्वाति- मुझे पहले से ही पता था कि आप पहले मेरे कपड़े उतरवाना चाहते हो! सही कहा ना मैंने?मैंने कहा- हां। लेकिन सिर्फ इतना ही नहीं!स्वाति- मैं समझती हूँ, ज़रा रुको।मैं- ज़रूर।स्वाति ने साड़ी पहनी हुई थी, उसके अपने वक्ष से साड़ी का पल्लू हटाया और अपने ब्लाउज के सारे हुक खोल दिए. वो नजारा अच्छे अच्छों का पानी छुड़वा देता है। मैं भी इस लड़की का पूरा मज़ा ले रहा था। बचपन से आज तक मुझे लड़कियों की कमर के नीचे का हिस्सा बहुत पसंद है। सबकी नजर चेहरे, बूब्स या गांड पर होती है.

करीब दस मिनट दीदी की चुदाई में दीदी फिर से झड़ गईं और उनकी चुत में जलन होने लगी, उन्होंने मेरे लंड से खुद की चुत को अलग कर लिया. तभी समधन जी ने अपना एक हाथ मेरे ब्लाऊज पे रख दिया और मेरे ब्लाऊज के हूक को खोलने लगी।मैं कुछ समझ पाती, इससे पहले उन्होंने मेरे बूब्स को नंगा कर दिया, एकदम से मेरे ऊपर आ गयी और अपने होंठों को मेरे होंठों से जोड़ दिया. जल्दी से मैंने बैग खोला, अपनी जीन्स और शर्ट निकाली और अन्दर से एक पिंक कलर की ब्रा और पैंटी निकाल कर पहन ली.

तो मैंने उसकी बुर में अपनी एक उंगली डाल दी और जोर जोर से अंदर बाहर करने लगा. मैं बाथरूम जाने बहाना कर दूसरे रूम के दरवाज़े के पीछे छुप दोनों की बातें सुनने लगा, उं दोनों सहेलियों की बातों से पता चल गया कि नाज़ अभी चुदने के मूड में है. तू अब तक क्यों नहीं झड़ा?मैंने उनको अपनी तरफ खींचते हुए उनके मम्मों को अपने हाथों में लेकर मसलना शुरू किया और कहा- मुझे नहीं पता किस वजह से लंड नहीं झड़ रहा है लेकिन आप मुझे अधूरा मत छोड़ो, प्लीज़ मेरे लंड को शांत करो.

उसके चहरे पे गुस्सा साफ झलक रहा था और गुस्सा क्यों ना हो, मैंने काम ही ऐसा जो किया था. उसके मम्मों पे किस करते करते मैंने एक हाथ से उसके सलवार का नाड़ा खोल दिया जिससे उसकी सलवार नीचे गिर गई.

अपने नवीन के लिए थोड़ा सा दर्द सहोगी?उसने बोला कुछ नहीं बस आँखों ही आँखों में देखती रही और मुझे इशारों में ही इजाजत मिल गई.

10 मिनट के इस खेल के बाद हम तीनों जूही के बेडरूम में चले गए।जूही को तो मैं कई बार चोद चुका था इसलिए मुझे नाज़ को चोदने की जल्दी थी, मैंने नाज़ को बिस्तर में लेटाया औऱ उसकी वासना को पूरा जगाने के लिए मैं उसकी चूत चाटने लगा.

वो मुझे अन्दर आने की कह कर सीधे किचन में चली गई और अपने कपड़े ठीक करके मेरे लिए पानी लेकर आई, मैंने पानी पिया और वो मेरे सामने सोफे पे बैठ गई. मेरे प्यारे दोस्तो, मैं बैड मैन आप लोग के सामने अपने जीवन की वो हॉट सेक्स स्टोरी बताने जा रहा हूँ जिसके बारे में मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि ऐसा हो सकता है. मैंने बुआ को खटिया पर औंधा लिटाया और उनकी गांड पर बैठ कर लंड हिला हिलाकर घिसा.

कुछ मिनट उसे पूरी तरह से चाटने और किस करने के बाद, मैंने उसकी पेंटी को छुआ तो पेंटी गीली हो रही थी. काफी देर बाद सैम अपने सारे कपड़े निकाल कर केवल कैप्री में आया और फिर हमने काफी मजा किया. वो धीरे धीरे चुत से धक्के लगा रही थीं और मेरे बालों को सहला रही थीं.

उधर अब्बू का लन्ड अम्मी के मुंह में था और वो लपलप कर के लन्ड को चूसे जा रही थी.

जब मैं उनके घर पंहुचा तो वो काम में बहुत ज्यादा बिजी थी तो उन्होंने मुझे आते हुए नहीं देखा वो घर की सफाई ब्लाउज और पेटीकोट में कर रही थी।भाभी बहुत सेक्सी लग रही थी, मैं उन्हें बहुत ही गौर से देख रहा था कि अचानक उनकी नज़र मुझ पर पड़ गयी तो वो एकदम घबरा सी गयी और अपने शरीर को ढकने की कोशिश करने लगी. लेकिन वो मेरे साथ ही चिपका रहा। मैं बेसुध होकर दर्द सहने लगी, उसने अपना सारा माल मेरी गांड में निकाल दिया।उसकी पिचकारी ने मेरी गांड में आग सी लगा दी। मुझे उसका गाढ़ा पानी अपनी गांड में निकलता हुआ फील हुआ. मैं सीधे आंटी के पास जाकर बैठ गया और बोला- आंटी, मैं आपको बहुत पसंद करता हूँ.

जैसे ही नीचे होता जा रहा था, वैसे ही उसकी सिसकारियां और जोर से बढ़ने लगी. मेरा शरीर तो लंड का साथ दे रहा था पर मस्तिष्क विरोध करते हुए कहने लगा कि भैया ये क्या कर रहे हैं?वे शरारत से पूर्ण मुस्कुराते हुए बोले- आपने ही तो गरमा गरम खाने पर बुलाया है और पूछ रही हैं कि क्या कर रहा हूँ. भाईसाहब बोले कि रूम में तो चलिए फिर दिखाते हैं कि साठा कितना पाठा है.

लेकिन मैंने देखा कि उसका मूड वाकयी खराब था और उसने मेरी विश का जवाब भी थैंक्स कह कर दिया.

उसने चार्ट में कहीं टिक किया और मुझे हैप्पी जर्नी विश करता हुआ चला गया. फिर मैंने उसका टॉप निकाला तो वो शर्मा रही थी और अपने स्तनों को हाथ से छुपा रही थी.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली तभी मुझे भी लगा कि मैं भी झड़ने वाला हूँ तो मैंने भाभी की गांड को ज़ोर से भींच लिया और चाटने लगा और भाभी के मुख में ही झड़ गया और भाभी ने सब गटक लिया।अब हम शांत हो गए और फिर से बिस्तर पर आकर लेट गए।भाभी का सिर मेरे सीने पर था और मैं उनके सिर को सहला रहा था और वो मेरे लंड को हाथ में लेकर ऊपर नीचे कर रही थी. चूंकि डैड घर में नहीं थे… इसलिए मैंने माँ को रात लगभग दस बजे ये गिफ्ट दिया और उन्हें हैप्पी बर्थ डे कहा.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली मैं भी अपने चूतड़ों को हल्के हल्के ऊपर नीचे करके उस गाँव की लड़की का मुख चोदन कर रहा था. और हाँ दोस्तो, अगर आप किसी लड़की से सेक्स करते हैं तो उसकी इज्जत जरूर करें… क्योंकि औरतों की इज्जत करने से ही हमारा मान समाज में बढ़ता है.

इधर मेरे लंड का हाल भी बुरा हो रहा था, लेकिन मैं बिल्कुल भी जल्दबाजी नहीं करना चाहता था.

छोटे बच्चों के लहंगा चुन्नी

वहाँ पे मुझे उलटी सी आई तो डॉक्टर ने मुझे भी चैक किया और उसकी जांच से कुछ बात पता चली है कि मैं माँ बनने वाली हूँ. रात धीरे धीरे गुजर रही थी और राजधानी अपने पूरे दम से दिल्ली की ओर भाग रही थी जिसके किसी डिब्बे में भीतर ससुर बहू के नंगे जिस्म सनातन यौन सुख का रसपान करते हुए एक दूसरे में समा जाने को मचल रहे थे. मीडिया वाले और पत्रकार वाले इसे स्कैंडल कहने लगे और सबका जिम्मेदार कानूनगो साहब को माना गया.

फिर मैंने उसको जोर से चूमना शुरू किया, उसके होंठों को फिर पीना शुरू किया. मैं किस तरह से इस बात का सामना करूँ।तभी उन्होंने आँख मारते हुए कहा- कब मरवाओगी बताओ?उनके द्वारा मुझे मुस्कुरा कर आँख मारने की बात से मुझमें भी थोड़ी हिम्मत आई और मैंने अपने मन में सोचा कि चलो जीवन के अनुभव का मजा भी ले ही लिया जाए।मेरे पति भी चार दिन के लिए कहीं गए हुए थे. मम्मी की वो सहेली हमारे पड़ोस में रहती हैं और उनका हमारे घर में आना जाना लगा रहता है.

’ और मजे से पता नहीं क्या-क्या कहते हुए मेरे उत्साह को बढ़ाने में लगी हुयी थी।अब मैं थक गया था और गांड चटाई के कारण मेरे लंड में तनाव पैदा हो गया था इसलिये मैं सिंधु से अलग होकर चित होकर सिंधु के बगल में लेट गया.

माल गिराने के बाद मैं उसके ऊपर ही गिर गया और हम थोड़ी देर ऐसे ही लेटे रहे. पहले तो मैंने इन दोनों के लंड को चूमा और तुरन्त ही लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी क्योंकि मुझसे अब सब्र नहीं हो रहा था. तभी उन्होंने अपनी रफ़्तार बढ़ दी और आअह्ह हहह हहहह कर के झड़ने लगी- लव यू शिव… लव यू शिव… बोल कर मेरे ऊपर गिर गयी.

मैं आपका रूम दिखा देती हूँ। मैंने अपने कमरे के साइड वाले कमरे में ही आपका इन्तजाम किया है।वो जल्दी से खड़ी होकर चल दी। मैं भी उसके पीछे चल दिया। अब मेरा ध्यान सिर्फ उसके चूतड़ों पर था. और मॉम की चुत से नवीन के लंड का पानी निकल कर मॉम की जांघों पर बह रहा था. पूजा और भाभी दोनों ने मुझसे अपनी खूब चूत चुदाई करवाई, बहुत चोदा और मजा भी हर बार दुगना हो जाता.

एकदम से दीदी मेरी तरफ पलटीं मैं डर गया, मुझे ऐसा लगा कि जैसे वो जाग गई हों. कोई एक घंटे बाद मेरी ड्रिंक्स खत्म हुई तो बहूरानी ने खाना निकाल लिया और बर्थ पर अखबार बिछा कर कागज़ की डिस्पोजेबल प्लेट्स और कटोरियाँ सजा दीं.

मैंने माँ की चूचियों को कस कर दबाना शुरू किया, फिर माँ ने धीरे से आह्ह किया. अब मेरी दुल्हन भी धीरे धीरे गरम होने लगी थी और उसके मुँह से ‘आआअहह. फिर एक महीने बाद हमने तीनों का एक टेस्ट लिया, मेरा किंग साइज़ का पलंग होने के कारण वह लोग काफी दूर दूर बैठ कर टेस्ट दे रहे थे.

फिर मैं बाथरूम में जाकर अपना चेहरा साफ करके आई और मिरर के सामने बाल ठीक करने लगी.

मैं फिर से उसकी गांड पे हाथ फिराने लगा और वो मुझे नाश्ता खिलाए जा रही थी. रोशनी क्या तुमने कभी अपनी झांटें साफ़ नहीं की?”उसने मासूम सा चेहरा बना कर मेरी तरफ देखा और ना” में सर हिला दिया. उस समय मेरी भी बॉडी और हाईट से पता नहीं चलता था कि मेरी उम्र क्या है, मैं पूरा 22 साल का बांका मर्द लगता था.

मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि मैं अपनी सेक्स स्टोरी आपके साथ शेयर करूँगा पर आज वो मौका मिल ही गया. पल-भर के लिए मैं स्तब्ध रह गया- यह… यह क्या कर रही हो… प्रिया?कहते हुए मैंने प्रिया को दोनों कांधों से पकड़ कर उठाया।देखा तो काली कजरारी आँखों में आंसू बस गिरने की कगार तक भरे थे.

कुछ समय बाद दोनों एक साथ झड़ गए मैं खड़े खड़े ही उनको पकड़ कर निढाल हो गई, न पकड़ती तो गिर ही जाती. उसने दूसरी बार झड़ने के बाद दो पैग दारू के लगा कर तीसरी बार भी मुझे पेला. अब वो सिर्फ ब्लैक कलर की फ्रेंची में थी, उसका मोटा लंड साफ़ नज़र आ रहा था.

सपना चौधरी की सेक्सी गाने

इतने नजदीक शहर में रहने के बावजूद इससे पहले मैं अपनी चाची से सिर्फ एक बार मिला था, लेकिन तब मैं बहुत छोटा था और मुझे तब कुछ भी सही से मालूम नहीं था.

मैं सोचने लगा कि ये तो साली रांड निकली, मैं बेकार में इसको अब तक शरीफ समझ रहा था. मैं उसकी चुत को किस करने लगा और उसने भी अपनी कमर उचकाना चालू कर दिया. तभी मैंने उसे खड़ा किया और पास में एक बिना हत्थे वाली चेयर पर बैठा दिया.

वो जोर जोर से मेरी कमर पर नाख़ून चुभो रही थी और गर्दन पर किस कर रही थी. कुछ देर बाद परीक्षित ने अपने लंड को मेरी चूत में डाला और फिर चिंटू ने गांड में पेल दिया. राजस्थानी सकसी विडियोमैं अपने घुटने के बल फर्श पर बैठ गया था और मेरे सामने वह चुपचाप खड़ी थी.

बहूरानी जी बार बार अपना चेहरा अपनी हथेलियों से छुपाने का जतन करती लेकिन मैंने उसकी एक न चलने दी और अब उसके दोनों स्तन अपने अधिकार में करके अपनी मनमानी करने लगा. दीदी थोड़ा ऊपर उठाकर पूरा लंड बाहर निकालतीं और फिर धच से बैठकर पूरा लौड़ा अपनी चुत में घुसा लेतीं.

मैं बिल्कुल तड़पने लगी; मुझसे रहा नहीं जा रहा था; मेरे मुंह से अपने आप आवाज निकालने लगी- ऊंहहह आहहहह… मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा! कुत्ते क्या कर दिया!टीवी की आवाज़ तेज थी इसलिए आवाज वहीं रुक गई. उसने अपने बदन पर एक बिल्कुल पतला सा गाउन डाल कर रखा था, जो रेखा के बदन को ढकने की एक नाकाम कोशिश कर रहा था. वहां नवीन बिना मॉम की परवाह किए मॉम की कमर पकड़ कर मॉम को कुतिया की तरह चोदे जा रहा था.

जब उसका लंड कुछ देर तक खड़ा नहीं हुआ तो मैंने दोबारा से उसके लंड को मुँह से चूसना शुरू कर दिया. उसने आँखें खोल कर हमारी तरफ देखा और फिर मुस्कुरा दी और फिर बोली- आप लोग किचन में जाकर कुछ स्वादिष्ट तैयार कीजिए, मैं थोड़ा सा आराम करना चाहती हूँ!तुम चिंता मत करो डार्लिंग!” मैं उसके सिर को सहलाता हुआ बोला- तुम आराम से लेटो, जब तक जी करे… और जब तुम आओगी, तुम्हें किचन में सब कुछ तैयार मिलेगा!जवाब में मेरी महान पत्नी सिर्फ मुस्कुराई और फिर करवट बदल कर लेट गई. जैसे ही उसने गेट खोला और हम अन्दर आए, उसने मुझे पकड़ कर डोर बंद किया और किस करने में लग गई.

धीरे से मैं उसकी गर्दन पे हल्के से काट लेता, फिर उसकी गर्दन पर किस करता.

फिर तुम्हें तो पता नहीं, लास्ट चुदाई में उसका वीर्य भी बहुत देर तक नहीं निकला क्योंकि वो पहले कई बार निकल चुका था, इसलिए बहुत देर तक लौड़ा अपना काम करता रहा. फिर दूसरी तरफ से पता नहीं क्या हुआ… दीदी दोबारा बोलीं- हाँ बोल… यहीं हूँ सुन रही हूँ… आ गई न लाइन पे… चल अब बता ये अचानक प्रमोशन कैसे…थोड़ी देर दूसरी तरफ से सुनने के बाद दीदी अचानक चौंक उठीं- क्या बात कर रही है… ओ माय गॉड… सच में? आई कांट बिलीव दिस यार… तूने उस बुढ्ढे से चुदवा लिया?यह कह कर दीदी का मुँह खुला का खुला ही रह गया.

आप मेरे जीवन के प्रथम-पुरुष हैं, मैं मन ही मन आप को पूजती हूँ और मेरे दिल में हमेशा आप की एक ऊंची और ख़ास जगह है और हमेशा रहेगी। इस के साथ ही यह भी सच है कि आप का और मेरा साथ किसी भी सूरत संभव नहीं. मैं- क्या हम बेस्ट फ्रेंड बन सकते हैं?माँ- फ्रेंड्स तो हम हैं ही!मैं- ऐसे वाले नहीं… बेस्ट फ्रेंड्स जिनके साथ हम कुछ भी शेयर कर सकें… अपनी प्रॉब्लम्स, अपनी फीलिंग्स… चाहें वो कैसी भी हों!माँ- कैसी भी फीलिंग शेयर करने के लिए तुम अभी बच्चे हो. शायद ब्रा की लेस उनकी पीठ को चुभ रहा था, इसलिए उनके मुँह से एक तेज चीख निकल गई ‘आआ… आहहह्ह्ज…’मैंने जैसे तैसे करके उनकी ब्रा फाड़ कर उतार दी थी.

वैसे भाभी ने उस समय गाउन डाल रखा था तो मैंने उनके होंठों को चूमते हुए अपना हाथ उनके गाउन में हाथ डाल दिया. उसकी चिकनी चूत पर झांट का एक भी बाल नहीं था… इतनी गोरी चुत को देखकर मैंने झट से उसे पलंग पर चित लिटा दिया और उसकी चुत के पास अपने मुँह को ले जाकर चाटने लगा. वो बस मज़े मज़े में सिसकारियाँ लेती जा रही थी उम्म्ह… अहह… हय… याह…”ऊपर ऊपर से चूसने के बाद मैंने उसकी ब्रा को खोलना चाहा.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली इधर मैं जूही की चूत चाट रहा था, उधर नाज़ मेरा लंड चूस रही थी और मैं नाज की चूत सहला रहा था. इसी दौरान अंजलि चाय लेकर कमरे में आ गई पर मैं तो उस समय बाथरूम में अंजलि की चूत चुदाई का सोच कर मुट्ठ मार रहा था.

इंग्लिश में कहानियां

एक मिनट बाद वो थोड़ी संयत लग रही थी तो थोड़ा सा पीछे हो के मैंने वापस एक झटका मारा. तब मैंने मॉम की चुत में लंड अन्दर डाले हुए ही बांहों में उठा कर बाथरूम से अटॅच बेडरूम के बेड पर ले आया. मैंने विनय को बोला- प्लीज विनय मेरी चूत को और मत तड़पाओ… जल्दी से पेल दो.

रेंट बहुत कम था क्योंकि वो डैड के फ्रेंड का ही फ्लैट था, सो हमें ज़्यादा रेंट नहीं देना था. वो रिक्वेस्ट करती रही- खा लो!मैंने चुपचाप खाना खाया और बैडरूम में आ गया. 𝖘𝖊𝖝 𝖛𝖎𝖉𝖊𝖔अगले दिन मैंने ऑफ़िस में सबसे पहले विनय से बाहर किसी कॉफ़ी शॉप पर चलने को बोला.

उस नाइट मॉम ने मुझे अपने रूम में भी एंट्री नहीं दी, मैं दूसरे रूम में सोया.

” निकल गई।मैंने सोचा मेरी तेज आवाज से कहीं बच्चा ना उठ जाए। मुझे दर्द बहुत हो रहा था. अचानक एक दिन बातों बातों में उसने बताया कि उसकी रूममेट कुछ दिन के लिए अपने घर चली गई है और वो आजकल बिल्कुल अकेली है.

पिंकी ये गलती तुम्हारी है, अब तुम्हें गोलू के लंड को प्यार से एक किस करनी पड़ेगी. एक दिन शाम को मैं गार्डन में बैठा था तो एक छोटा सा करीब 5 साल का लड़का मेरे पास आया और मेरे बगल में बैठ गया. मैं देर से इसलिए झड़ा क्योंकि एक बार में उसकी चुत में लंड डालने से पहले ही झड़ चुका था.

नताशा ने अपने कूल्हों को नीचे की तरफ बिठाना शुरू कर दिया और जुड़वा टोपों तक ले आई!हाँ, थोड़ा और…” मैं बोला.

फिर इतना मज़ा आएगा कि आज जो भी हुआ, उससे कई गुना ज्यादा मज़ा आएगा।उसको मेरे जाल में फंसते देर न लगी।‘और मज़ा…’ का सुन कर वो खुश होते हुए तुरंत बोली- आज का मज़ा तो वैसे भी मैं कभी नहीं भूलूंगी। लेकिन अब अगर ‘और मज़ा. मेरा जी तो करता था कि साले को अभी पकड़ कर पटक दूँ और खुद अपनी साली पर चढ़ जाऊं. अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे कैसे दीदी को चोदा और हमने सेक्स किया.

कुंवारी लड़की का फोटोवे लोग पति पत्नी ही थे, साथ में उन आंटी का कोई भतीजा भी कुछ दिनों के लिए रहने आया था. भाभी पूरी नंगी हो गईं और कहने लगीं- घर पर कंडोम नहीं है, आज सिर्फ गांड की चुदाई कर ले, चूत नहीं दूंगी.

সেক্স ইংলিশ ভিডিও

अब मेरा हाथ उनकी चूत को सहला रहा था और वो आंखें बंद किये पूरा मजा ले रही थी. नदी के नजदीक आते ही उसने सीधा ही मुझे आदेश दिया- चलो जल्दी से अपने कपड़े उतार दो. एक दिन मेरा होने वाला पति घर आया तो मेरी मां हम दोनों को अकेले छोड़ कर चली गयी.

अगर तुमसे 40000 मिल भी जाएंगे तो भी बाकी की रकम मुझे ही पैदा करनी है. तो उस लड़की को मैं ना बुलाऊं ना?यह सुन कर उसका मुँह देखने लायक बन गया, वो बोला- जब तक शादी नहीं हो जाती, तब तक तो मुझे जो चाहूं करने दो ना. मैं- आप बाहर ब्वॉयफ्रेंड क्यों नहीं बना लेतीं… बस कंडोम यूज करो और मजा करो.

दिन भर में भाई तो मेरा मस्त दोस्त बन गया और उसकी दीदी भी फ्रेंडली हो गई. अब तक की चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा था कि उस हरामखोर अधिकारी ने मुझे दम भर चोदा और उसने मेरी चूत में ही अपना निकाल दिया. मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया और चूत के ऊपर रगड़ने लगा और अपना काम-रस उसकी चूत के ऊपर गिरा दिया उसने भी मेरे लंड रस को अपनी पूरी चुत पर मल लिया.

मैंने उसकी चूत की लकीर को दोनों अंगूठों से फैलाया, फिर अपनी उंगली से ऊपर की परत को अलग किया. बिंदु ये सुनकर बहुत डर गई और बोली- मैं अभी ही तेरे साथ चले चलती हूँ मगर पहले मेरे सामने उस पिक्चर को डिलीट करो और मुझे वो फोन दिखाओ कि मुझको फंसाने के लिए उसमें कुछ और तो नहीं है.

चूँकि ये सब अनुभव मेरे लिए नया था तो मैं सब काम बड़ी तसल्ली से कर रहा था.

लेकिन जान पहचान वाले लड़के मेरे जिस्म से खेल कर मुझे बदनाम भी करेंगे. पिक्चर नंगा पिक्चरमैं न्यू मार्केट में अपनी इंडिगो कार की डिग्गी से टिक कर खड़ा हुआ था, जो कि मैंने रोड की पार्किंग में पार्क की हुई थी. जवान औरत की images xxxअगर अब ना होता तो शादी के बाद तो होना ही था, इसलिए वो सब भूल जाओ और रियलिटी में जियो. हिंदी सेक्स कहानी की बेहतरीन साईट अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ने वाले सभी पाठकों को मेरा नमस्कार।दोस्तो, मैं आपको आज अपने जीवन की सत्य घटना बताने जा रहा हूँ। मेरा नाम राजेश (बदला हुआ नाम) है और मैं छत्तीसगढ़ का रहने वाला हूँ। अभी मैं बीए में हूँ.

अब धीरे-धीरे मिलने-जुलने का कार्यक्रम होने लगा। चुम्मा-चाटी से होते हुए बात बढ़ी.

फोन लेते हुए बोलीं- किसी ने दिल तोड़ा है क्या?मैं- आपको ऐसा क्यों लगता है?वो- गानों का कलेक्शन बता रहा है. उनकी इस बात से मुझे अहसास है कि मुझे आंटी और बॉबी दोनों की चुत की सेवा करते रहते हुए ही जिन्दगी बिताना है. उसने कामिनी के गले पर किस करना शुरू कर दिया, पहले दायीं तरफ, फिर बायीं तरफ… कामिनी भी उसके सीने में जीभ चलाने लगी.

वो कंप्यूटर के माउस को को चलाना सीख रही थी, उसको थोड़ी प्रॉब्लम हो रही थी. मैंने उससे ब्रा हटा कर फोटो भेजने का कहा तो उसने पूरे नंगे दूध तो नहीं पर अपने निप्पल तक ब्रा को सरका कर गुआबी निप्पलों की हल्की सी झलक दिखती हुई एक फोटो भेजी. उसका लंड मेरी चूत के रस से गीला होने की वजह से इतनी जल्दी मेरी गांड की दीवार को चीरता हुआ अन्दर तक पहुंच गया कि मुझे समझ ही नहीं आया.

इंसान जानवर सेक्सी वीडियो

मैं समझ गया कि मीशा में अभी शर्म बाकी थी, यदि वो खुद से ही मेरा लंड चूसने लगती तो शायद मुझे लगता कि साली बिल्कुल रंडी है, जो आते ही मेरा लंड चूसने लगी. मुझसे रहा न गया और मैंने उसे बेड पे लेटा दिया और उसके ऊपर आ कर उसे पागलों जैसे चूमने लगा. मैं आपको दे दूँगी।मैं बोला- वो तो ठीक है परन्तु तुम मिलोगी कहाँ?वो बोली- मैं घर से बाहर तो आ नहीं सकती। इसलिए आपको मेरे घर ही आना होगा। कैसे.

अब वो सिर्फ़ पेंटी में रह गई थी, उस 34 इंच के टाइट चूचे क़यामत लग रहे थे.

इसके बाद मैंने उसे मोबाइल में एक सेक्स वीडियो दिखाया, जो मेरे दोस्त ने मुझे पहली बार दिखाया था और उसी वक्त मैंने इस वीडियो को अपने मोबाइल में ले लिया था.

अब मैं आराम से बिस्तर पर लेट गया और दिव्या को अपने ऊपर लेकर उसके लबों को चूमने लगा. अभी एक साल पहले वो मुझसे कहने लगी कि वो घर में बोर हो जाती है और वो जॉब ज्वाइन करना चाहती है. बाल घने करने के उपायउसने भी एक हाथ से मेरा अंडरवियर नीचे किया और मेरे कड़क लंड देख कर एकदम से खुश होकर बोली- वाउ इतनी कम उम्र में इतना मस्त लंड.

मैंने अपने लंड को हाथ में पकड़ा और उसकी चुत के निचले हिस्से में लगा दिया. मैं उसे देखने लगा, उसकी नज़र मेरे ऊपर पड़ी तो मैंने झट से अपनी नज़र को दूसरी तरफ किया, पर शायद उसको मालूम चल गया था कि मैं उसी को देख रहा था. फिर मैं नीचे बैठ गई और उसने मेरे मुँह मैं अपना सारा वीर्य झाड़ दिया.

इस पर भाभी ने मुझसे एकदम से बोल दिया- भैया रूको थोड़ा… आज नहीं, यह सब बाद में करेंगे, यहाँ कोई आ जाएगा!और भाभी खाना बना कर मुझे अपना मोबाइल नंबर देकर चली गयी और मुझे यह बोल कर गयी कि मैं कल मायके जा रही हूँ, और आपको कॉल करूँगी वहाँ से!तो मैं मन ही मन में खुश होने लगा और उस रात को मैं भाभी की नाम की मुठ मार के सो गया. वैसे उसके घर वाले मॉडर्न ख़यालात वाले थे और वो काम्या के कहीं भी आने जाने पर कोई रोक नहीं लगाते थे.

साले हरामी मार डालेगा क्या? जा जाकर अपनी बीवी की गांड मार भोसड़ी के…पंकज ने धक्का मारते हुए कहा- अरे जान, स्मिता तो चूत भी सही से नहीं देती.

मैंने इक निःश्वास भरी- ठीक है प्रिया! जैसा तुम चाहती हो वैसा ही होगा. वो भी मजे से ‘आआह्ह्ह ओह्ह्ह ह्म्म्म…’ की आवाजें निकालने लगीं, मुझे भी अब बहुत मजा आ रहा था. उसे शुरू में थोड़ा दर्द हो रहा था क्योंकि उसकी पहली चुदाई हो रही थी.

घाघरा डिजाइन हम दोनों यूं ही देर तक चूमा चाटी करते रहे; मैं उसके मम्में नाइटी के ऊपर से ही दबाता रहा और वो मेरी पीठ को सहलाती रही. चूँकि ये सब अनुभव मेरे लिए नया था तो मैं सब काम बड़ी तसल्ली से कर रहा था.

विनय- नेहा तुम तो चुदी हुई हो फिर भी दर्द हुआ? बॉस तो तुमको हमेशा चोदते हैं ना?मैं- हां… पर बॉस ने काफी दिनों से मेरी चूत नहीं मारी. रास्ते में मैंने स्मिता को समझा दिया था कि घर पर कोई ओवर रिएक्शन ना करे. मैंने लंड उसकी गांड से निकाला और एक टांग हाथ में लेकर उसकी चुत में शॉट लगाने लगा.

मटका सागर गोल्डन

मेरी मॉम के व्यभिचार की कहानी का पहला भाग:मेरी मॉम है या रांड-1मालकिन आपकी चुत है या हमारे गांव की नदी का बांध है. हाय दोस्तो, आप सभी को मेरा नमस्कार! मैं शिव राज हाजिर हूँ!मेरी पुरानी कहानीदिल्ली वाली भाभी की चूत चुदाईको आप सभी का बहुत प्यार मिला, उसके लिए थैंक्स!आज फिर मैं आप सब चूतों को हेल्लो करता हूँ और सारे लंड को नई नई चूत मिलती रहे… ऐसी कामना करता हूँ. वो भी शर्माते हुए हां में सर हिला देती है और मैं उसे बांहों में भरके क्लिनिक के पिछले कमरे में ले जाता हूँ और उसे चूमता चाटना शुरू कर देता हूँ.

मैंने उसके दोनों चूचों के बीच में बहुत सारे चुम्बन किए और साथ में ही अपना हाथ उसके पीठ पर ले जाकर उसकी ब्रा को भी खोल दिया. जैसे ही मैंने लंड को चूत की दरार में रखा, मैं तो मानो आसमान में चला गया.

मैंने फिर से एक और झटका मारा और इस बार मेरा लंड उसकी चूत को चीरता हुआ पूरा अन्दर चला गया.

क्या बुर थी उसकी गुलाबी गुलाबी… बुर के दोनों होंठ आपस में चिपके हुए थे जैसे अभी सील बंद हो!और मैंने अपनी एक उंगली उसमें डाल दी और बोला- चोरी का माल इसके अन्दर छुपाया है क्या?और उसकी बुर को मैं अपनी एक उंगली से सहलाने लगा. नमस्कार दोस्तोसबसे पहले आप सभी का तहे दिल से धन्यवाद कि आप लोगों ने अपने कीमती समय में से कुछ समय निकाल कर मुझे मेल किये, मेरी पहली सेक्सी कहानीमस्त पड़ोसन ने मेरा बड़ा पाइप माँगाआप लोगों को मेरी कहानी अच्छी लगी, उसके लिए एक बार फिर से धन्यवाद. वो भी मेरे साइड में बैठ गईं और पूछने लगीं- कौन सी मूवी है?मैंने बोला- हॉलीवुड की है.

मैंने एक झटके से अपना अंडरवियर नीचे कर दिया और मेरा लंड ने झटका मारते हुए उसके एक बल्ब को छूते हुए उसके होंठों के सामने पेशी कर दी. यह कहानी आप लोगों को पसंद आई होगी… प्लीज़ मेरी मेल आईडी पर ज़रूर लिखिएगा कि चुदाई की कहानी कैसी लगी ताकि मैं अगली कहानी भी लिखने की सोचूँ, वरना यह मेरी आखिरी कहानी ही होगी. ’ आने वाला है तो मैं हर दर्द को बर्दाश्त करने को तैयार हूँ। जो करना है कर लो।इतना बोल कर उसने अपनी टांगें खुद ही फैला दीं।मैंने भी अपना खड़ा लंड बिना देर किए उसकी चूत में घुसाने के लिए चूत पर टिकाया और धक्का लगा दिया। मगर सब बेकार.

फिर उसने भी मेरे मुहँ को अपनी चूत पर दबाना शुरू कर दिया था, वह भी बहुत ही मज़े ले रही थी।फिर थोड़ी देर के बाद मैंने भी अपना लंड उसके मुख में दे दिया था.

बीएफ सेक्सी वीडियो में चुदाई वाली: पंकज के बारे में आपको बता दूँ कि वो बहुत ही सीधा सादा इंसान है, जबकि स्मिता एक बहुत ही खूबसूरत औरत है. लंड चूत के टकराव से बनने वाला म्यूजिक माहौल को अलग ही नशा दे रहा था.

कसम से जब मैं अपने कूल्हे ऊपर करके लेटा हुआ था, तब तो मैं पूरी लड़की लग रहा था और उसने भी मेरी गांड के आस पास काफी मालिश की. एकदम परफेक्ट साइज़ के तने हुए मम्मे थे, जिन पर छोटे छोटे गुलाबी निप्पल तो क़यामत ही ढा रहे थे. मैंने कहा- अब मैं क्या करूँ?तो बोली- जो मर्जी, वो करो!मैंने उनकी ब्रा खोल दी और बूब्स को मुख में लेकर चूसने लगा.

दोस्तों के नाम पर केवल एक लड़का और मेरे घर में मेरे माता पिता के अलावा चाचा चाची की दो बच्चों की फैमिली भी थी.

मैं बोला- तुम बेड पे लेटी रहो मैं लंड से तुम्हारा मुँह को चोदता हूँ. इसी लिए तो उस दिन कहा था कि मैं तुम्हारे लिए एक दूसरा चोदने वाला ढूँढता हूँ. जब हम उसके रूम में पहुँचे तो मैंने उससे नेहा की मुलाकात करवाई और यह कहा कि यह मेरी सबसे अच्छी फ्रेंड है और इससे मैं कुछ भी नहीं छुपाती, यहाँ तक कि मैंने आपके साथ कल रात में क्या क्या किया, वो भी इसे बता दिया है.