देसी भाभी की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बफ सेक्सी वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी सेक्सी तस्वीर: देसी भाभी की सेक्सी बीएफ, ये कह कर मोनिका अपने कपड़े पहन कर बाहर निकल गई और कोमल दीदी से बात करने लगी.

अंग्रेजी सेक्सी बीएफ

इसके बाद मेरी रिया जी हैंगआउट पर चैट हुई, जो मैं नीचे तरतीब से लिख रहा हूँ. सेक्स हिंदी बफलंड को अंदर बाहर करते हुए मुझे इतना मजा आ रहा था जिसको लिखने के लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं.

मेरी मैक्सी उतारकर सबसे पहले मेरी चूतड़ों को फैलाकर मेरी गांड के छेद में अपनी ज़ुबान डालकर मुझे मस्त कर देता है. ओपन बीएफ चाहिएफिर एक दिन भाभी ने कहा- आप मेरी बात से नाराज हो गए हो क्या?मैंने कहा- नहीं, मैं क्यों नाराज होऊंगा.

उनको देखते ही मैंने अपनी बांहें फैला दीं और भाभी ने अपनी बांहें भी मेरी तरफ खोल दीं.देसी भाभी की सेक्सी बीएफ: मैंने जींस उतारी, तो नीचे सिर्फ एक फ्रेंची में पहने भाभी के सामने रह गया.

जैसे ही मेरा लंड कपड़े से बाहर आया वो प्रिया के मुँह से टकरा गया क्योंकि प्रिया बैठी हुई थी मेरे लंड के पास.ये कहते हुए उसने आसिफ के कंधे और सीने पर कई जगह अपने दांत गड़ा दिये.

बीएफ फिल्म दिखाइए ना - देसी भाभी की सेक्सी बीएफ

कुछ देर बाद विवेक ने अपना अंडरवीयर उतार दिया और उसका काला बड़ा लण्ड एकदम मेरी आँखों के सामने आ गया जो कि बहुत मोटा और लंबा था.मैंने मां से कहा कि वेटर का लंड चूस लो नहीं तो ये इस बारे में फिर बाहर जाकर बोलेगा.

कुछ देर बाद भाभी ने लंड झेल लिया और कराहते हुए लंड को अन्दर बाहर करवाने लगीं. देसी भाभी की सेक्सी बीएफ उसके चूचे बड़े ही आकर्षक हैं और उसकी गांड की तो क्या बताऊं दोस्तो … जब भी मैं बहन की गांड को देखता था, तो मन करता था कि बस अभी उस पर चढ़ जाऊं और चोद दूँ.

मैं उसको कार से पिक्चर दिखाने ले गया।वहां हमने एक दूसरे का हाथ पकड़ा और एक किस किया.

देसी भाभी की सेक्सी बीएफ?

उसके साथ मैंने सेक्स तो किया, मगर किसीरंडी की चुदाईकरना बस लंड का पानी निकालने से ज्यादा कुछ नहीं होता है. हम सब जानते हैं कि सेक्स करने की उम्र और सेक्स के लिए दोनों तरफ की कोशिश जरूरी होती है. राजू मुझसे बोला- मां, क्या क्या खरीदना है?मैं बोली- बेटा, मुझे कुछ नाइटी वगैरह खरीदना है और कुछ इनरवियर भी लेने हैं.

मेरी रीयल सेक्स कहानी में पढ़ कर मजा लें कि कैसे फेसबुक पर मिली एक अविवाहित लड़की को मैंने चोदा. शादी के कुछ दिन बाद होली का त्यौहार आया तो बहू मनीषा की मम्मी रीना मिठाई व कपड़े आदि लेकर हमारे घर आई और हम लोगों के साथ होली भी खेली. मेरे आने से पहले दीदी ने काम वाली बाई को भी एक हफ्ते की छुट्टी पर भेज दिया था.

वो भी बिना कंडोम के!मेरे हर धक्के पर आंटी आह्ह उफ्फ आइइइ ईईईई करके कराह उठती थी और पूरे जोश में अपनी गांड को नीचे से उठा उठाकर मेरा लन्ड अपनी चूत में ले रही थी।20 मिनट की जोरदार चुदाई में आंटी दूसरी बार झड़ने वाली थी और मेरे लन्ड का पानी भी निकलने वाला था. उसके बाद फिर तुम चाहो तो वहीं रह लेना, अगर नहीं चाहो तो यहां घर पर वापस आ जाना. वीडियो कॉल शुरू हुई तो मुझे उसके गोरे गोरे चूचे और चूतड़ देख कर मेरा लंड पूरा टाईट हो गया था.

एक रात उसने मुझे अपने घर बुलाया तो …मेरा नाम आर्यन (बदला हुआ) नाम है, मैं प्रयागराज से 100 किमी दूर रहता हूँ. मैं उसकी बात मानते हुए बिस्तर के किनारे पर पीठ के बल लेट गया और उसने नीचे खड़े होकर मेरी टांगें हवा में खोल कर मेरी गांड में लंड डाल कर चोदने लगा.

मेरी सेक्सी स्टोरी के पिछले भागबहन की ग़लती, मां का राज़-4में आपने जाना था कि मैंने अपनी बहन की मांग में सिंदूर भर दिया था.

इस एकत्रित हुए वीर्य और थूक के मिश्रण ने आहत हुए मेरे लिंग पर किसी मरहम का काम किया और जलन में राहत अनुभव हुई.

अब विवेक ने अल्पना के सिर को पकड़ कर नीचे झुका दिया और लण्ड को मुंह में लेने को बोल रहा था. वो चुत दिखाते हुए बोली- देखो, खून निकलने लगा … अब क्या होगा?मैंने कहा- अब और मज़ा आएगा. कुछ ही देर पहले दीदी शिवम के लंड से चुद कर आयी थी इसलिए गांड काफी चिकनी थी अंदर से.

उसके बाद मैं फिर से उनको उठा कर अपने रूम में ले आया और फिर से उनको नंगी कर लिया. फिर दोनों ही रीना की चूत और गांड में ही झड़ गए।ये सब देख कर मैंने भी अपना लंड हिला-हिला कर अपना माल निकाल दिया। जब मेरा माल निकला तो मुझसे खड़ा नहीं रहा जा रहा था क्योंकि मेरा इतना माल कभी नहीं निकला था जितना अपनी बीबी की चुदाई देख कर उस वक्त निकला। उस रूम में वो तीनों उस बेड पर गिर गये और मैं अपने रूम में आकर गिर गया. तो इस बार मैंने उसे लगभग डराते हुए कहा- अगर तुमने मुझे किसी लड़की से नहीं मिलाया तो मैं तुम्हारा ही नंबर लगा दूंगा।इस बात से वह थोड़ा डर गई और उसने मुझे कहा- मैं तो आपकी मदद करना चाह रही थी.

इसी दौरान जब उसकी नजर मुझसे मिल जाती थी, तो मैं नजरें घुमा कर बोर्ड पर कर लेता.

करीब पंद्रह मिनट से सुराज मनुषा की गांड मार रहा था और बीच बीच में उसकी गांड पर चपत भी लगा रहा था. तभी जेनिफर ने खाना बनाकर डाइनिंग टेबल पर रख दिया और हम दोनों को आने के लिए आवाज़ दे दी. मैंने मिस्त्री से पूछा- क्या चाहिए तुम्हें?वो भी तुरंत समझ गया और बोला- मुझे भी तुम्हारी बीवी को चोदने दो … नहीं तो मैं ये वीडियो वायरल कर दूँगा.

पीठ पर चुम्बन के एहसास से दिव्या गनगना गई और अपने चूतड़ आगे पीछे करते हुए लण्ड का मजा लेने लगी. फिर मैंने क्या किया?दोस्तो, मैं सोनू कुमार एक बार फिर से अपनी कहानी का अगला यानि कि तीसरा भाग आपके लिए लेकर आया हूं. निकिता भाभी- अरे नीलेश बेटा, ज़रा बैडरूम में आना तो!मैं- क्या हुआ माँ? कल रात को भी बैडरूम से तुम्हारी आवाज़ आ रही थी, तुम ठीक तो हो ना?निकिता भाभी- मेरी जांघों में दर्द हो रहा है, ज़रा मालिश कर देना तो.

घर पहुंच कर मैंने मेरी बीवी को बोला कि हरप्रीत को फ़ोन करके बोल दो कि मैं घर पहुंच गया हूं.

पांच तारीख को प्रभा आंटी भोर में ही जाग गईं और नहाकर छह बजे तैयार भी हो गईं।आंटी ने होटल के रिसेप्शन पर फोन करके पूछा- आसपास शंकर जी का कोई मन्दिर है क्या?रिसेप्शन से जवाब मिला कि करीब डेढ़ किलोमीटर दूर है. मैंने मां से कहा कि वेटर का लंड चूस लो नहीं तो ये इस बारे में फिर बाहर जाकर बोलेगा.

देसी भाभी की सेक्सी बीएफ कई बार मैंने उसको गर्म करने की कोशिश इसीलिये भी की थी कि ताकि उस जवान लड़की की चूत चुदाई का मजा ले सकूं. ये कह कर फिजा को उसने गोद में उठाये हुए ही अंधेरे में ही अपने कदमों को अपने बेडरूम की ओर बढ़ा दिया.

देसी भाभी की सेक्सी बीएफ मोनिका ने हामी भर दी और मेरे लंड से हट कर वो फोल्डिंग से नीचे उतर गई. वो मना करने लगी … पर मेरे फ़ोर्स करने पर वो उठी और मेरे लंड को देखने लगी.

मैंने उसकी गर्दन को चूमा और उसकी सफेद ब्रा के ऊपर से ही उसकी मस्त मोटी चूचियों को भींचने लगा.

गांव वाली सेक्सी वीडियो फिल्म

उन्होंने एक हाथ से टी-शर्ट ऊपर की और अपनी लैगी नीचे करके बोलीं- देखो. मैं दरवाजे की झिरी से उससे बोली- बेटा, ये तुम रहने दो, यह मैं खुद देख लूंगी. मेरे लंड की दमदार ठोकरों से दीदी अपने आपको रोक न सकीं और वे कुछ ही समय में झड़ गईं.

वैसे अभी मेरा मूड नहीं है … इसलिए आज तुमको अपनी दीदी के बिना ही सोना पड़ेगा … आज नो सेक्स. उसका कारण ये था कि बहन ने आज पूरी तरह से खुद को मुझे सौंपने का सोच लिया था. शायद रिंकू को बताने जा रही थी कि उसके मोबाइल का सिम तोड़ दिया गया है.

मैंने उससे पूछा तो वो बोला- मेरे लंड में कोई कमी नहीं है, बस मुझे गांड मराना अच्छा लगता है.

अपना मुंह साफ करने के लिए रिशा ने टॉवल उठाया तो मैंने उसे रोकते हुए कहा- बहुत महंगा केक है, इसे टॉवल से पोंछ कर बरबाद न करो, लाओ मैं चाट लेता हूँ. कहानी पर अपनी राय दें और आपको कहानी के बारे में कुछ और कहना है या अपने विचार साझा करना चाहते हैं तो मुझे नीचे दी गयी ईमेल पर मैसेज भी कर सकते हैं. ऊई मां, क्या खाते हो ताऊजी? आपका लण्ड है या मूसल?”क्या हो गया, मनीषा?”कुछ नहीं, ताऊजी.

मनु मेरी ओर घूमा और मैंने अपनी जांघ हटाते हुए अपना हाथ उसकी जाँघों में घुसा दिया और अपनी उंगलियों को उसके लंड और झांटों की ओर किया. मैंने पैंटी साइड में करके उसकी गांड के छेद पर अपनी जीभ लगा दी और गांड चाटने लगा. अगले ही पल जेनिफर ने मेरे लंड को हाथ में ले लिया और स्माइल करके लंड को आगे पीछे करने लगी.

मैंने बिना कोई जवाब दिए लंड को चुत की फांकों में फंसाया और एक करारा धक्का लगा दिया. दिशा की नेकर का हूक खोलकर मैंने उसकी नेकर घुटनों तक खिसका दी और उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा.

मैंने कहा- क्यों?सौम्या बोली- पहले आप मेरी कसम लो कि कभी मुझे धोखा नहीं दोगे. आसिफ के जाने के दूसरे दिन के बाद ही जफर साहब ने अपनी बीवी को कहा कि वो दोनों बच्चों को अपने साथ में सुला ले. टाइम काफी हो गया था तो रूम में सामान रख कर तुरंत खाना खाने निकल गए.

मैंने उनकी चूत के रस को मुँह में ही ले लिया और चुत को चाट चाट कर साफ़ कर दिया.

उस नाइटी में मेरी आधे चूचे दिख रहे थे और घुटनों के नीचे का पूरा इलाका नंगा था. कुछ देर बैठने के बाद कब हम दोनों फिर से एक दूसरे से लिपट गए कुछ मालूम ही नहीं चला. अब संगीता भी लंड का मजा ले रही थी और उसके कंठ से मादक आवाजें निकलना शुरू हो गई थीं ‘अहहह अहह … आआ … ऊऊ.

फिर मैंने अपनी जिन्दगी की कहानी की तुलना उससे की और देखा कि मेरी कहानी तो इतनी लम्बी नहीं है. फिर उसके लिप्स को किस करते हुए उसके 34D के बूब्स को उसकी नाइटी के ऊपर से ही मसलने लगा.

अब उसके हाथों की पकड़ उसके बूब्स पर पहले से ज्यादा कसी हुई मालूम हो रही थी. मां ने एक बार मेरी आंखों में देखा और फिर अपने हाथ से अपनी आँखों को ढक लिया. वो मुझे मिस कॉल देती और मैं फ्री होते ही उससे फोन पर बात करने लगता.

कतरीना सेक्सी विडिओ

उसके मन में भी शायद वही सब उथल पुथल चल रही थी जो आसिफ के मन में चल रही थी.

फिर उसने एक और झटका मारा और आलिया के मुंह से गूं गूं करके आवाजें होने लगीं. पना लण्ड रिशा के चेहरे के करीब ले जाकर मैंने रिशा से कहा- अब केक खाने की तुम्हारी बारी है. चुत पर जीभ का अहसास पाते ही भाभी के मुँह से एक जबर्दस्त ‘आह … मर गई.

उसकी खिलती जवानी में उसके यौनांगों में कुछ कुछ अब महसूस होने लगा था. मिस्त्री ने मेरी बीवी की चूत की फांकों में अपना लंड रखा और चढ़ कर उसे चोदने लगा. देवर भाभी की बीएफमैं उसे चूमते हुए अपने एक हाथ को उसके मम्मे पर ले गया और दबाने लगा.

मगर जब कर के देखा तो पता चला के जो कुछ भी अब तक सुना था, इस शानदार एहसास के सामने कुछ भी नहीं था।जिस तरह मर्द औरत को अपने जिस्म के वज़न से कुचलता है, कैसे वो उसके मम्मों को चूसता है, कैसे निचोड़ता है। कैसे अपने लंड से औरत की चूत के अंदर तक की खुजली मिटाता है। और जब फिर औरत का पानी गिरता है … क्या स्वर्गिक अनुभव होता है. वो बहुत परेशान रहती थी कि उसका शौहर उसके साथ सही से सेक्स कर नहीं पाता था.

उसी समय मैंने मिस्त्री को आंख मारते हुए कहा- ऋतु इसने तो हमारी वीडियो बना ली. आंटी को गर्म करके मैंने उसकी चूत को लंड का मजा कैसे दिया?अन्तर्वासना के प्रिय पाठकों को मेरा नमस्कार!दोस्तो, मैं अन्तर्वासना का एक नियमित पाठक हूं. राजू बोला- अच्छा मां … मतलब तुम सुबह से ही चुदने के लिए तैयार थीं … अगर मुझे पहले पता होता, तो बाजार जाता ही नहीं … दिन भर तुमको चोदता रहता.

जेनिफर- अब इसने मुझे प्रपोज करने में छह महीने लगा दिए थे, तो थोड़ा बहुत मजाक तो चलता है. आज हम दोनों की पहली रात है पति पत्नी के रूप में, मगर आप सुहागरात मनाने आये ही नहीं. पानी के अंदर हमने खूब मस्ती की और मैंने एक बार उसकी चूत में लंड डाल दिया और 10 मिनट ऐसे ही खड़े रहे और माँ को चोदा.

वो बोलीं- तो क्या आप नहीं मिलोगे?मैंने बोला- मैं मिल तो सकता हूँ … पर दोपहर में मिल सकता हूँ.

लवली ने आकर मेरे लंड को पकड़ लिया और बोली- राजा, आज रात के बाद बहुत कुछ बदल जायेगा. फिर उसने मनुषा को अपनी गोद में उठा लिया और उसको बेडरूम की ओर लेकर गया.

मैं यह याद भी नहीं करना चाहता था कि मेरी उम्र 62 साल है और दिशा की सिर्फ 21 साल. मैं उस हॉट भाभी की चूत को धीरे धीरे सहलाने लगा तो उसकी चूत पानी छोड़ने लगी. मैं उनके पास पहुंचा तो उन्होंने बोला- जैसा मैं कहूं, तुम बस वैसा करते जाओ.

वो बोली- सारा ज्ञान आज ही आजमा लोगे क्या, मैंने जो कुछ सिखाया है वो सब आज ही कर लोगे?मैंने कहा- जब गुरू इतना अनुभवी है तो चेला उससे भी आगे होगा. ”दिव्या ने अपने बाल झटके और पानी की बूंदें मेरे चेहरे पर गिराते हुए बोली, ये लीजिए. उसने भी मुझे यह जवाब दिया- मैं भी तुम्हारे बारे में सोच कर अपनी चूत में उंगली कर रही हूं.

देसी भाभी की सेक्सी बीएफ बूंदें ऐसी थी कि भिगो नहीं सकती थी मगर फिर भी छोटे आकार में बौछारों के रूप में गिर रही थीं. (मैं इमोशनल खेल खेलकर अपने ऊपर उसकी मां का विश्वास बनाना चाह रहा था.

सौतेली मां और बेटी का सेक्सी वीडियो

मगर एक दो बार की मुलाकात में ही फिर वे अपना पार्टनर बदल लिया करते थे और फिर दूसरे के साथ ही व्यस्त हो जाते थे. फिर मैंने उस के ब्लाउज के बटन को खोल दिया और खड़े खड़े ही उस की दोनों चूचियों को हाथ में लेकर दबाने लगा. मैं भी उसको ऐसे ही चोदने लगा और आगे हो कर उसके होंठों पर चूसने और काटने लगा.

मैं- ऐसा नहीं है मोनिका … तुम्हारी कब सूजी?मोनिका बोली- अरे मेरी गांड में तो चूत से भी ज्यादा दर्द हुआ … कल पूरा दिन और पूरी रात मेरी गांड दर्द से बिलबिलाती रही. मैं गेट बंद करके घर में अन्दर गया और मैडम के कमरे के बाहर से देखने लगा. सेक्सी देसी देहातीवो मेरी इस भाषा से उत्तेजित हो गईं और उन्होंने लिखा- तो पहली चोदाई में आपका लंड इतनी देर तक कैसे चल गया.

वो दोनों एक दूसरे को बहुत प्यार करते हैं और उन दोनों ने सोच समझ कर कदम उठाया होगा.

तो साल में हमने सिर्फ 3 बार सेक्स किया।एक मैं जिसे साल के 365 में से 665 दिन सेक्स चाहिए. तान्या की चुत मिलने का सुनते ही भाई ने कहा- उसकी चुदाई पहली फुर्सत करूंगा.

इसके दो दिन बाद हम लोग फिर मिले और लगातार मिलते रहे लेकिन कभी एक दूसरे को छुआ भी नहीं. घर में घुसा, तो देखा कि भाभी ने रेड कलर का गहरे गले का नाइट गाउन पहन रखा था और बड़ी कातिलाना लग रही थीं. इसलिए!मैं- ओह … मैंने सोचा तुम भूल गए होंगे उस बात को! लेकिन तुम तो गलत ही सोच रहे।विवेक- मैं ऐसे किसी बात को नहीं भूलता प्रियंका जी.

मैं सिर्फ आज ही नहीं … मैं तुझसे रोज चुदूंगी … आह तेरे लंड से चुत की खाज मिटवाऊंगी … आह चोद साले.

थोड़ी देर बाद उसे मज़ा आने लगा और वो पूरा लंड मुँह में ले कर चूसने लगी. डायमंड शेप का टॉप जिसके पीछे सिर्फ डोरी थी या ये समझो एक रूमाल जिसको तिरछा करके बांधा गया हो और नीचे एक बहुत ही शॉर्ट स्कर्ट जो मुश्किल से उसकी गांड को ढक पा रही थी. ये सब इतना जल्दी में हुआ कि फिजा को संभलने का मौका नहीं मिला और वो अब आसिफ की बांहों में कैद हो गयी थी.

बीएफ सलमान खानभले ही वो दोनों रिश्ते में एक दूसरे के भाई बहन लगते थे लेकिन वो दोनों थे तो विपरीत सेक्स वाले. मां बोली- मगर तुम्हारे पापा इस बात के लिए मान जायेंगे?मैं बोला- पहले आप ये बताओ कि आपको मेरे साथ रहना है कि नहीं रहना है, उसके बाद पापा के बारे में सोचेंगे.

सेक्सी फिल्म का एप्स

यदि आप इस चुदाई की कहानी के बारे में कुछ और जानना चाहते हैं तो मुझे मेल करें. मैंने आश्चर्य में पड़कर उसे तौलिये को बिछाने दिया।अब सिम्मी झट से मेरी जांघों में बैठ गयी और मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर रगड़ने लगी. घर में सुल्ताना और शबनम एक साथ बोलीं- आपा, आप तो कल सुबह आने को कह रही थीं.

बहुत मस्त माल थी वो … मैं सोच रहा था कि इसकी चूत मिल जाए तो … मुझे उस सेक्सी माल की चूत मिली भी! कैसे? पढ़ें इस कहानी में!हैलो फ्रेंड्स, अन्तर्वासना पर आपका स्वागत है. मैं भी उससे बात करने लगा ताकि उसे भी पता चले कि मैं भी उसमें रूचि रखता हूँ. मेरा लंड जब उस लड़की की चूत से बाहर आता, तो चूत पर लगा रस और मेरा लंड चाट देता.

लंड का मुठ निकलते ही मैं उन पर ही ढेर हो गया और वे मेरे बाल सहला कर मुझे किस करने लगीं. आज मैं उस मुकाम पर पहुंच गई हूं जहां पर शायद ही कोई हो और शायद कोई और पहुंचना भी नहीं चाहता हो. जेनिफर की कामुक आवाजें मुझे और भी उत्तेजित कर रही थीं और मैं एकदम जंगली जानवर की तरह से जेनिफर को चोद रहा था.

10 मिनट के बाद मैं सारा माल उसकी गांड में डालकर रुक गया।फिर मेरा लंड थोड़ी देर में अपने आप ही बाहर आ गया. पहले तो हम दोनों सामान्य प्यार मुहब्बत की बातें करते थे, फिर धीरे धीरे हम आपस में खुलने लगे और सेक्स की बातें करने लगे … और फोन सेक्स करने लगे.

लेकिन शर्मीले स्वभाव का होने के कारण मैं उनसे ज्यादा बात नहीं कर पाता था.

मैं उनकी गर्दन दबाते हुये और स्पीड में झटके दे रहा था।थोड़ी देर में मैं लेट गया और दी को अपने ऊपर कर लिया। दी अपनी कमर में कर्व बना कर मेरे लौड़े पर उछलने लगी। दी के दोनों चूचे हवा में जोर जोर से हिल रहे थे।मैंने दोनों को पकड़ा और दबाने लगा। दी आंखें बंद कर पूरे मजे लेने लगी।मैंने उनकी गोरी गांड पर जोर से थप्पड़ मारा. तमिल सेक्स ब्लू फिल्ममैं ये भी समझती थी कि मुझे देख कर किसका मन नहीं टूटेगा … चाहे वो कोई भी हो. আদিবাসী এক্স এক্স ভিডিওपहले वाले लड़के ने मेरी बहन की टांगें फैला दीं और अपना लंड उसकी चुत में ठांस दिया. मैं उनकी चूत को चूसने लगा और फिर जल्दी से उनकी चूत में लंड को सेट कर दिया और उनको जोर जोर से चोदने लगा.

मैं बहुत बड़ी समस्या में हूं कि भाई-बहन के बीच में अगर ये रिश्ता हुआ तो समाज क्या बोलेगा.

उसने इतनी जोर से रीना के बूब्स को दबाया कि रीना की कराहटें निकल गयीं. काफ़ी देर तक हम एक दूसरे को बस फ़ील करते रहे और एक दूसरे को बांहों में भरे आपस में खोये रहे. सुनीता अपने चूतड़ों को फैलाये हुए अपनी चूत को चटवाने का मजा ले रही थी.

लंड और चूत ये दो ऐसे अंग हैं जो एक दूसरे की झलक भर भी पा लें तो तुरंत मचलने लगते हैं. मैंने बिना कोई जवाब दिए लंड को चुत की फांकों में फंसाया और एक करारा धक्का लगा दिया. उसको किसी से प्यार नहीं था बल्कि उसका जिस्म सिर्फ सेक्स की भूख मिटाना चाहता था.

सनी लियोन की फिल्म सेक्सी

आप क्या समझ रही हो? आप ही सबका सब कुछ देख लो? अपना कुछ …मैं- मतलब क्या है तुम्हारा?विवेक- कुछ नहीं. मैं- हां जी कौन?वो- आप इतना जल्दी भूल गए?मैं- नहीं जी … भूले तो नहीं है पर थोड़ा डाउट है. और याद रखना कि अगर लड़की कुंवारी है तो उसे इतना गीला कर दो जैसे वह पेशाब कर रही हो.

मैं- कैसा बराबर होना चाहिए?विवेक- यही कि तुमने मुझे अल्पना को चोदते देखा है.

मैंने कहा- भाभी मेरे दिल में आपके लिए बहुत इज्जत है, मगर मैं अब आपसे प्यार भी करने लगा हूं.

इसके आगे नसरीन सुनाएगी क्योंकि फिर नसरीन से मैं काफी दिन तक नहीं मिली थी. उसने बताया कि वो यहां बच्चा पैदा करने आए थे लेकिन उसका पति उसको प्रेग्नेंट नहीं कर पा रहा है, वो मेरी मदद चाहती थी. एक्स एक्स एक्स देहाती एचडीकल की तरह फिर से नींद में हिलने का बहाना करते हुए मैंने अपनी जांघ उसके लंड पर रख दी.

वो दोनों चुपचाप गर्दन नीचे करके मेरी बातों को सुन रहे थे लेकिन कुछ बोल नहीं रहे थे. हसित को हैरान देख कर सौरभ ने उससे कहा- है न मस्त चुत … मैंने कहा था न कि इसकी चूत मक्खन है. वो धीरे धीरे मेरे लंड को पकड़ने की कोशिश करते हुए मेरे लंड की शाफ्ट को रगड़ रही थी.

इस पर सेजल ने उसको एक ऑफर दिया और यह बोला कि वह सेजल के साथ 2 साल के लिए काम करें वह भी मुफ्त में।इसमें कोई बुराई नहीं थी क्योंकि सेजल के साथ अगर रहता तो बाकी लोगों से जान पहचान बनती और पैसे अपने आप निकल आते हैं. फिर मैंने उसे पलट के अपने नीचे मिशनरी पोज़ में कर दिया और फिर से चुदाई शुरू कर दी.

कुछ देर बाद वो मेरा सर अपनी चुत में दबाने लगी और एकदम से उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया.

तभी कोमल दीदी बोलीं- मोनिका एक प्रॉब्लम हो गई है यार!मोनिका- क्या हुआ दीदी?कोमल- मोनिका मुझे इस महीने पीरियड्स नहीं हुए हैं. तो फिर तो उस आनंद की कोई परिकल्पना ही नहीं है।उसके बाद गर्भवती होने का एहसास. वो हंसते हुए बोली- मैं भी तो जानूं … आखिर क्या होने लगता है?मैं- अच्छा अभी बताता हूँ कि क्या होने लगता है.

बिहारी सेक्सी बीएफ वीडियो मैंने दिशा का टॉप उतार दिया और संतरे के आकार की उसकी चूचियों से खेलने लगा. फिर मैंने चाची को बेड पर लिटाया और देर न करते हुए चाची की चूत पर अपने लंड को रगड़ने लगा.

उस खेल में किसी के साथ कोने में छिपना और एक दूसरे के शरीर पर हाथ रगड़ना. खुशी इसलिये हुई क्योंकि बीस साल मैं अपनी मां को तिल तिल मरते हुए देख रही थी, डैडी मम्मी की बिल्कुल केयर नहीं करते थे. उसके गोरे बदन पर उस नीली ब्रा में कैद उसकी गोरी गोरी मोटी चूचियां देख कर मेरे मुंह में पानी आने लगा.

हिंदी में सेक्सी वीडियो चलाएं

मुझे भी काफी तड़प हो रही थी उससे मिलने के लिए लेकिन मैं सब्र रखे हुए था. मैं चाहता था कि भाभी भी मुझे शीशे में से दिखाई पड़ती रहे और ऊपर से वो भी मेरे बदन के दर्शन करती रहे. भूमिका भी अब पागल हो रही थी और वह अपनी चूत की तरफ अपने हाथ को ले गई.

यह कहानी मेरे सपने का एक काल्पनिक हिस्सा है जो आज मैं प्रस्तुत कर रहा हूं. उसके बाद हम दोनों ने एक दूसरे को नंगा किया और फिर बाथरूम में घुस गये.

फिर सुबह नौ बजे जब मैं दीदी और जीजा जी साथ में ब्रेकफास्ट कर रहा था.

मैं गेट बंद करके घर में अन्दर गया और मैडम के कमरे के बाहर से देखने लगा. मैं बोला- पागल हो गयी है क्या, मैं पूजा के अलावा किसी और को अपनी बीवी नहीं बना सकता हूं. दीदी आवाज़ कमरे से बाहर तक जा रही थीं और मैं समझ गया कि जीजा जी भी आवाजें सुन रहे होंगे.

करीब 20 मिनट तक उसने मुझे चोदा और लंड बाहर निकाल कर मेरे मुँह के पास आकर मुँह में लंड देने लगा. सोनिया ने मेरे पैरों को फैला दिया और आकाश ने मेरी चूत में मुंह दे दिया और मेरी चूत को चूसने लगा. करीब पांच मिनट बाद दीदी बाथरूम से बाहर आ गईं और मेरे लंड को सहलाते हुए मुँह में ले लिया.

उस दिन शुक्रवार था, सोमवार को एडमिशन की प्रक्रिया होनी थी इसलिए हमें दो दिन वहीं रुकना था.

देसी भाभी की सेक्सी बीएफ: उधर उसने मुझसे कहा- चल कुतिया आज हम दोनों अन्दर चल कर लेस्बो करती हैं. उसने पहले चड्डी के ऊपर से ही मेरे लंड को छूकर देखा।उसके चेहरे पर एक बड़ी आश्चर्य वाली मुस्कान थी क्योंकि उससे प्रेम प्यार करते मेरा लंड भी पूरा अकड़ चुका था।मेरे तने हुये लंड को देख कर वो बोली- आप तो पूरे तैयार हुए फिरते हो।मैंने कहा- हाँ तैयार तो रहना पड़ता है.

मगर जो मेरे लंड से चुद रही थी वो जरूर पूरी तरह से संतुष्ट हो गई थी. अब मैं आपके लिए एक कहानी लेकर आया हूं जिसमें कहानी का किरदार ऐसा है कि उस हॉट गर्ल ने अपने भाई के दोस्त से पूरी प्लानिंग के साथ चुदाई करवाई वो भी उसको बताये बिना. वो सिसकारते हुए बोलने लगी- आह्ह… हैप्पी… खा जाओ मेरी चूत को, ये चूत सिर्फ सिर्फ तुम्हारी है.

कोमल दीदी बोलीं- क्या हुआ?मैं थोड़ा सा दरवाजा और खोल कर अन्दर घुस गया.

ये फिल्म देख कर मेरे मन में एक अलग सा विचार आया और मेरे दिमाग में एक आईडिया आ गया. यह देख मेरा लण्ड पूरा कड़क हो गया। मेरा मन करने लगा कि अभी दी के पास जाकर सब कुछ कर लूं।दी अपने जिस्म से खुद ही खेल रही थी. इस बार मैंने आधे से ज्यादा लंड उसके मुँह में डाल दिया और उसका मुँह चोदने लगा.