बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,बीएफ सेक्सी मां और बेटा

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहारी सुहागरात बीएफ: बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी, वो शायद बच्चेदानी में लगते हर झटके में चरम सीमा तक पहुंचने की कोशिश कर रही थी।करीब बीस मिनट की संगीन चुदाई के बाद दीदी दोनों टांगों को भींच चिहुंक चिहुंक कर झड़ने लगी और निढाल हो कर मेरे सीने पर गिर कर हांफने लगी।जब वो थोड़ी सामान्य हुई तो मैं उसे बकरी बना पीछे से पेलने लगा.

सेक्स मसाज बीएफ

ये ड्रेस इतना टाइट था कि मेरी फिगर का हर एक उभार उसमें साफ साफ नापा जा सकता था. सेक्सी बीएफ हिंदी दिखाओमैंने उसके चूतड़ों पर हाथ लगाया और लंड को उसकी चुत में धीरे धीरे उतारने लगा.

बेबी रानी ने कहा- मैं नहीं मानती … पिस इज़ पिस … तू कैसे बता सकता कौनसा अमृत किसने निकाला … हम दोनों की चूचियों का साइज अलग अलग है इसलिए चूची तो तू कुत्ते तू हाथ से फील करके बता देगा. बीएफ नंगी सेक्सी वीडियोआपको बता दूं कि इन्होंने मुझे गांड मारना सिखाया था तो मुझ पर इनका ज्यादा अहसान है.

वो मेरे कहने पर बिस्तर पर बैठ गई और मैं तौलिया लपेटकर बाथरूम में जाकर जल्दी से फ्रेश हो गया.बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी: फिर उसकी एक टांग को बीच में रख कर मैं दोनों साइड घुटने करके बैठ गया.

मैंने बात को आगे बढ़ाने की कोशिश करते हुए उसके पति के साथ उसके सेक्स संबंधों के बारे में पूछा तो वो नाराज हो गयी.वहाँ मैंने उसे एक और राउंड चोद दिया।अब मैं घर जाने के लिए तैयार होने लगा तो उसने मुझे किस किया और विदा कहा।साथ ही आगे फिर मिलने का वादा किया।तो दोस्तो, ये थी मेरी वर्जिन लड़की की सेक्सी चुदाई स्टोरी!उम्मीद है कि आपको पसंद आई होगी।मुझे मेल करके बताइए कि आपने वर्जिन लड़की की सेक्सी चुदाई स्टोरी पढ़ते समय मुठ मारी या चूत में उंगली की या नहीं?कृपया अपनी राय मुझे[emailprotected]पर मेल कर के दें।धन्यवाद.

बीएफ सेक्सी वीडियो मस्त चुदाई - बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी

बर्तन साफ़ करके वो मेरे पास सोफे पर आकर बैठ गईं और मुस्कुराते हुए कहने लगीं- कैसा लगता है वेट करना? वैसे संजय तुम में बहुत धैर्य है यार.ये बोल कर मैं वानी के उछलते चूचों को देख कर जोर जोर से अपने लंड को हिलाने लगा.

मुझे किसी से कोई बात नहीं करनी!इस पर वो लड़का बोला- देखिये, वैसे तो मैं आपको नहीं जानता. बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी फिर तुम दोनों एक एक करके मेरे मुंह में चूची दो और मेरे होंठ चूसो … मैं बता दूंगा कि कौनसी चूची किसकी है और यह भी बता दूंगा कि किसने होंठ चूसे … उसके बाद दोनों एक एक करके मुझे थोड़ा सा अमृत पिलाओ … मैं बता दूंगा कि कौनसा अमृत किसका है.

मैंने अब तक अपनी गर्ल फ्रेंड के साथ और उसकी कजिन सिस्टर के साथ सेक्स किया है.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी?

उसके बाद भाभी फेरे देखने के लिए नीचे चली गयीं।सुबह जब फेरे हो गये तो भाभी कमरे में आयी. थोड़ी देर बाद मम्मी का दर्द थोड़ा कम हुआ, तो मैंने सीधा होकर अपने लंड को थोड़ा बाहर निकाला और फिर से जोर का धक्का दे मारा. मम्मी की चुत चुदाई करते हुए मुझे आधे घंटे से ज्यादा समय हो चुका था.

मैं अपनी सभी दोस्तो को कहता हूं कि एक बार इस साइट पर जाकर आप भी ट्राई करें, कामुकता की दुनिया का मजा लें. ठीक है जीजू, ये लास्ट बात मान के लेटती हूं सिर्फ दो तीन मिनट के लिए; आपका हो जाय तो ठीक नहीं तो आप जानो!” निष्ठा ने तिक्त स्वर में कहा. मैंने उसकी बहन का जिक्र सुना, तो उससे पूछा- क्या वो इस अल्कोहल मिक्स वाली लिक्विड जैली को खाती है?पम्मी ने मेरे सर पर हाथ फेरा और चुत पर दबाते हुए बोली- नहीं यार, वो खुद इस अल्कोहल मिक्स वाली लिक्विड जैली को अपनी फुद्दी पर लगाती है.

सेक्स की सची कहानी में पढ़ें कि पहली एंकर ने मुझे अपने फ्लैट में बुलाया कहा कि वहां तीसरी वाली एंकर भी आयेगी. उसने नीचे से लंड को पकड़ कर चूत के मुहाने पर सैट किया और उस पर बैठती चली गई. गुड्डी रानी ने भन्नाने का नाटक करते हुए एक ज़ोर का मुक्का मेरी छाती पर मारा- चुप कर कमीने … ज़्यादा बक बक करेगा तो कुत्ते के अंडे फोड़ दूंगी.

फिर रात बारह बजे के बाद मुझे नींद सताने लगी, तो मैंने कमरे में जाकर आराम करना उचित समझा. आप भी अपना लिंग इतना लम्बा और मोटा कर सकते हो मैं आपको तरीका भी बता दूंगा।दोस्तो, मैंने और भैया ने अपना लंड इतना लम्बा और मोटा कैसे किया ये भी आपको बता देता हूँ.

फिर कई बार फंक्शन के दिनों में साथ काम करते हुए हमारी बातें हुईं और हम एक दूसरे को जानने लगे थे.

मैं बेफिक्र नंगी लेटी थी, तो जल्दी से उठ कर बैठ गई और इधर उधर देखने लगी.

जीजू, अगर मेरे बस में कुछ होगा तो जरूर जो आप चाहोगे वो मैं कर दूंगी पक्का; अब आप जल्दी से बता दो ये बी. मैंने डांटा- चुप हरामज़ादी … तेरी माँ भी चोद दूंगा खड़ी करके … मरी क्यों जा रही है रंडी? भोसड़ी वाली, पचास बार झड़ के फालतू टांय टांय कर रही बहन की लौड़ी. इधर मेरे लंड से रस का फव्वारा सा निकल निकल कर उसकी सलवार को भिगोने लगा था.

शायद पायल कुछ और ना पूछ ले, इस डर से प्रतिभा उसे थोड़ा हटाकर दूसरी बात करने लगी. नेहा अपने मम्मे को पकड़ कर मेरे मुंह में देती हुई बोली- ओह, तो और शुरूआत कैसे होती है?संजय गीत के मम्मे को होंठों से निकालता हुआ बोला- आज तुम दोनों की डबल चुदाई होगी, बताओ पहले कौन चुदेगी?गीत पीछे घूम कर नेहा की तरफ़ देखती हुई नेहा को बोली- अरे साली, ऐसे तो ये साले दोनों हमारी गांड की माँ चोद देंगे. भाभी जी ने भी हंस कर मुझे आंख मारी और कहा- जल्दी ही मिलती हूँ, तब तसल्ली से तारीफ़ कर लेना.

वो- आने दो, सब सह लूंगी … बस मुझे चोद दो जीजू।मैं- चिल्लाओगी तो नहीं?वो- नहीं, बिल्कुल नहीं, अब मुझे चोद दो प्लीज … जल्दी करो जीजू प्लीज।फिर मैंने अपना लंड उसकी बुर के छोटे से छेद पर सेट किया.

पहले एक मर्द मेरे साथ खेलता था और अब दोनों मेरे साथ हर जगह खेलने लगे थे. वो मुझे लेकर अन्दर जाने को मुड़ी तो मेरी निगाह उसकी ठुमकती गांड पर जा टिकी. गीत ने मेरे लौड़े को अपने हाथ में पकड़ा और अपनी जीभ को मेरे लंड की नोक पर टच कर दिया जिससे मैं सिहर उठा.

देखो, तुम्हें मेरी चूत सूजी हुई तो नहीं लग रही है?कहते हुए रुचि भाभी ने अपनी चूत को दिखा दिया और उसकी चूत की सांवली होंठनुमा फांकों को फैला दिया. मैंने कहा- मैं तो पहले से ही आप पर फ़िदा था … हां यदि आपकी तरफ से लिफ्ट न मिलती, तो अलग बात थी. ”किस बात का?”वो घर वालों को पता चल गया तो बापू तो मुझे जान से ही मार डालेगा.

वैसे तो आपके तजुर्बे ने तो मेरी हालत खराब कर दी थी, पर फिर भी मैं आपकी रंडी नैना आपसे चुदने के लिए तो हमेशा तड़पती रहूंगी.

तो शाही सर बिजली की तेज़ी से दौड़ कर गए और उन्होंने आगे जा कर दरवाजा बंद कर दिया. बाहर निकलते समय कमरे की चाबी काउंटर पर देते हुए कहा- अभी कुछ देर में मेरा मित्र आएगा, उसे आराम की जरूरत है.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी बहाने क्या कर रहे हो।सुनील हंस के कहने लगा- सुहानी चौधरी, मेरा लंड चूसो ना प्लीज।वो मेरे सामने खड़ा था. मैं- ओह शशि … यू आर सो ब्यूटीफ़ुल … कितना मस्त शरीर है तुम्हारा … एक एक अंग मस्त है शशि.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी उसकी आंखों में पानी आ गया था, पर फिर भी मैं पूरे जोश में उसके मुँह को चोद रहा था. इसलिये अब मैं चूची चूसते हुए दान्त भी गाड़ने लगा और दूसरी चूची को नींबू की भांति निचोड़ने लगा.

मेरा ईमेल है[emailprotected]भाभी सेक्स हिंदी कहानी का अगला भाग:जैसलमेर के रेत के टीले- 2.

गुजराती लड़कियों की फोटो

मैं उसे भावनात्मक रूप से पिघला रहा था कि वो मुझे सेक्स का मजा दे दे. दर्द से मैं चिल्ला रही थी … बिलबिला रही थी, लेकिन उन दोनों को कोई फर्क नहीं पड़ रहा था. रुचि भाभी इतनी कामुक लग रही थी कि अगर मैं अपने लंड पर हाथ को जोर से रगड़ देता तो मेरा छूट ही जाता.

तो लवी मुझे बिलकुल नई लगी।टीशर्ट में खुले छोड़े हुये मम्मे जो उसके हिलने से इधर उधर डोल रहे थे. पैसे देकर लोग सेक्सी रंडी की चुदाई करते हैं, मैं अपनी चूत चुदवाती हूँ. साथ ही मेरी चूचियों की बौड़ियों को वो दांतों से काट रहा था … जिससे मैं फिर मदहोश होने लगी थी.

पांच मिनट के बाद फिर मेरा वीर्य भी उसकी चूत में निकल गया और मैं भी उसके ऊपर निढाल हो गया.

यह जिन सौ चुम्मियों का ज़िक्र ऊपर मैंने गुड्डी रानी से किया उसको विस्तार से कहानी में पढ़ सकते हैं. मुझे बहुल मेल मिले, जिनसे साफ़ जाहिर था कि भाभियों और लड़कियों ने सबसे ज्यादा मजे किये हैं इस बीच. मगर रति के सामने वो नाटक करते हुए बोला- आ गयी मेरी बिजनेस वूमेन बेटी।रिया- जी डैड।रमेश- बेटी कैसा रहा तेरा इवेंट?रिया ने रमेश के छिछोरे सवाल पर उसे देखा और मुस्कराती हुई बोली- बहुत बढ़िया डैड, बहुत मजा आया।रमेश- गुड, कल के इवेंट में किधर से ज्यादा मजा आया? आगे से या पीछे से?रमेश के सवाल का मतलब रिया अच्छी तरह जानती थी.

इतना कह कर मैं लड़की को बांहों में लेकर उसके होंठ के चुंबन लेने लगा. मैंने समझ लिया कि इनकी चूत को कोई लंड नहीं मिला है, इसलिए ये चूत उठाए उठाए घूम रही थीं. अब तो अगले 15 दिनों तक जब तक शीला की सास का फोन नहीं आया कि कल उसका आदमी आएगा, दिन में दो तीन बार हर जगह, हर मुद्रा में चुदाई हुई.

क्या मस्त नमकीन स्वादभरी चूत थी ‘आह’मैंने फिर से अपनी जीभ को चूत की फांकों में लगा दी और ऊपर से नीचे तक फेरने लगा. वो मेरे बूब्स चूसने लगा और दूसरे हाथ से निक्कर के ऊपर से मेरे चूतड़ मसलने लगा.

मैं बिना दरवाजा खटखटाये उसके रूम में चला गया और उसको नंगी देख लिया. शैम्पू करने और नहाने के स्वरा जब कमरे में आई तो उसके बालों से निकलती खुशबू और टपकती पानी की बूंदों ने मुझे मदहोश कर दिया लेकिन मुझे अभी खुद पर नियंत्रण रखना था. मैं- अकेली हो?नेहा- जी, मम्मी अभी मार्किट गई हैं, घंटे भर में आएंगी.

सुबह घूमने का बहाना करते हुए हम अपने हॉस्टल में चले गए।फिर बाद में सब अपने अपने कॉलेज के लिए निकल गए।मैं और मेरी क्लास वाले सब मेरी जीत से बहुत खुश थे.

मैं अभी कुछ समझ पाता कि अचानक से वे दोनों ननद भाभी मुझ पर टूट पड़ीं. कहकर फोन रख दिया।आज मैं सोचने पर विवश हो गया कि खुशी मुझसे सचमुच प्यार करती है या मुझे अपने मतलब के लिए फांस रही है? फिर मैंने सोचा कि चलो ठीक ही है, सुंदर हसीनाओं का शरीर मुझे उपहार में मिल रहा है. हम सब पूरी तरह नंग धड़ंग होकर पीछे वाले कमरे में बैठे शराब और कवाब के मज़े ले रहे थे.

सरोज ने उल्टी पोजीशन में ही अपनी गर्दन और गाल मेरी गर्दन पर लगा दिए. अनीता अनुभवी खिलाड़ी थी, उसने मेरे लंड को खींचतान कर पैन्ट से बाहर करने की कोशिश की.

दादी बोली- ये अब खस्सी हो गया है, बस ऐसे ही करता रहेगा, निक्कमा कहीं का. पम्मी की चुदाई के बाद भी बहुत कुछ हुआ, जिसे पढ़ कर आप सब अपने लंड चुत को ठंडा किये बिना नहीं रह पाएंगे. संजय ने भी गीत की दोनों टांगों को ऊपर उठाया और उसके चूतड़ों के नीचे एक तकिया रखकर उसकी गांड को थोड़ा ऊँचा किया.

गाड़ी सेक्सी

वो चुदाई वाला प्यार नहीं … बल्कि देवर भाभी वाला स्नेह प्रेम!हाँ वो अलग बात है कि अब भाभी की झिझक और शर्म कम हो गयी है.

अभी आधा लण्ड ही अन्दर गया था कि घों घों करते हुए मनजीत बोली- बहुत दर्द हुआ, विजय. अब तो पिछले एक साल से तो चार झटके भी कभी महीने में एक या दो बार ही नसीब होते थे. कल मार लेना मेरी गांड।उसके बाद 4 बजे सुबह जल्दी में अपने घर आ गया।अगले दिन संडे था तो पढ़ाई का बहाना बना कर जरीना के घर चला गया.

उसके रूम का दृश्य सुहागरात के जैसा बना हुआ था, मगर मैं उसको अपनी मां के रूप में देखना चाह रहा था. तो फिर उन्होंने स्माइल पास की और बोलीं- मेरी कमर में अक्सर दर्द रहता है … तुम कोई ऐसा योग जानते हो, जिससे मेरी कमर का दर्द ठीक हो सके. मोनालिसा के सेक्सी बीएफउसकी उम्र लगभग 27-28 वर्ष रही होगी।लिफ्ट में मैंने उससे नाम भी पूछ लिया.

साली की चूत में लंड लगते ही वो उससे बुरी तरह से चिपक गयी और सिसकार कर उस लड़के को बांहों में भर लिया. फिर मेरी एक बांह को सहलाते हुए बोले- रंजीता तुम तो इतनी मस्त हो कि मैंने सोचा भी नहीं था। तुम्हारी जैसी लड़की कभी मेरी दोस्त बनेगी, ये कभी नहीं सोचा। मैं अकेला रहता हूँ और जिंदगी में कई दोस्त बनी मगर तुम उन सबसे सुंदर हो।वो हर बात अब खुल कर बोल रहे थे बिना किसी शर्म के।मैं उनके सवाल का बस सर हिला कर ही जवाब दे रही थी।रंजीता, सच कहूँ तुमसे … आज तक मेरी कभी किसी गोरी लड़की से दोस्ती नहीं हुई.

फिर मैंने लंड टिकाकर चूत में धक्का मारा तो भाभी की दर्द भरी आह्ह … निकल गयी लेकिन वो दर्द को बर्दाश्त कर गयी. इतना ही नहीं शीला के नाम से काशीराम आवास योजना में मकान भी दिलवा दिया था. अन्तर्वासना की समूह टीम का धन्यवाद करता हूँ जो समय समय पर हमें आपके रूबरू करवाते हैं.

दोस्त के मोबाइल पर ही मैंने देसी सेक्स चैट साइट में लॉग इन किया और फिर अपनी प्रोफाइल बनायी. उस दिन के बाद से मैं अपनी अकाउंटेंट मधुलिका दासगुप्ता, जो कि 44 साल की थी, के बारे में सोच कर मुठ मारने लगा था. मैंने उसे छेड़ने वाले अंदाज़ में पूछा- आपके पति ने कभी आपके साथ ये ट्राई नहीं किया?ये सुनते ही उसके चेहरे के हाव भाव बदल गए.

फिर मैंने एक गिलास में वोडका निकाल कर उसे चूमते हुए गिलास उसके होंठों से लगाया.

उन दोनों ने मुझे जोर से भींचा हुआ है और मुझे बीच में लेकर चोदा हुआ है, बारी बारी से दोनों ने मेरी चूत और गांड दोनों को ही चोदा हुआ है. रात को नहा कर कुछ भी पहनो, मुझे कोई फरक नहीं पड़ता और अब यहाँ कौन आएगा.

दो चार पलों में ही एक चूत ने मुंह के पास आकर दो तीन बूंदें अमृत की टपकाईं. पर वो दर्द हर लड़की के जीवन में एक बार सहना ही पड़ता है, तो आज ही क्यों नहीं. मेरे बूब्स से खेलने के बाद कमल ने मेरे पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया और उसे नीचे सरका कर मेरी टांगों से अलग करवा दिया.

एक बार हमें भी पिला दो अपनी जवानी का जूस।ये कहकर उसने तुरंत फिर से मेरे लंड के टोपे पर उसके सुराख के बिल्कुल ऊपर जीभ रख कर ऐसे अंदाज़ में घुमाई कि मैं बर्दाश्त न कर पाया. उसकी आंखों में आंसू आ गये थे लेकिन बिना परवाह किये मैंने दूसरा धक्का भी दे मारा. उसकी उम्र लगभग 27-28 वर्ष रही होगी।लिफ्ट में मैंने उससे नाम भी पूछ लिया.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी अब उनकी पकड़ और मेरे मुँह में घुसा उनका लंड का दबाव दोनों ही धीरे धीरे कम होते जा रहे थे. आह … नशीली सुगंध थी … ये चूतनिवास मस्त हो गया और हल्के हल्के हाथों से उन नाज़ुक पांवों को दबाने लगा.

ब्लू फिल्म जानवरों की

मेरी कहानियों के फैन कुछ ख़ास कपल और पाठिकाएं मेरे साथ व्हाट्सएप पर जुड़े हुए हैं और मुझे बता देते हैं कि उनको कहानी कैसी लगी. मुझे आशा है कि बाकी कहानियों की तरह ये कहनी भी आपको बहुत पसंद आयेगी और आपके लंड या चूत का पानी निकालेगी. वहां पर होटल में मैं और मेरे दोस्त ने दोनों लड़कियों को नंगी करके चूसना शुरू कर दिया.

वैभव ने हंस कर कहा- जैसी तुम्हारी मर्जी!उसने किसी को फोन लगाकर बुलाया और उसके आ जाने पर उसे अपनी जेब से निकाल कर एक लिस्ट थमाई. मैं झट से उसके कमरे में घुसा और उसे अपनी बांहों में भरकर अच्छे से उसके गालों को काटा, उसके होंठों को चूसा और खूब देर तक बांहों में भींचा. बीएफ का वीडियो दिखाएंउसने वापस से पूछा- तुम ये क्या कर रहे थे … बताओ नहीं, तो मैं यहां पर सब को बता दूंगी.

तो दोस्तो कैसी रही Xxx हॉस्टल लड़कियों की चुदाई कहानी?लिखियेगा मुझे[emailprotected]पर.

वो …” कहते हुए सानिया रुक गई।प्लीज यार … अब बता भी दो?”वो मुझे रात को नींद नहीं आई. मेरी पिछली कहानी थी:सेक्सी कॉलेज गर्ल ने जूनियर को बनाया सेक्स गुलामजो लोग मुझे नहीं जानते हैं उनके लिए बता दूं कि मैं बाहर से देखने में बहुत शरीफ और सीधी दिखती हूं लेकिन अंदर से बहुत ही अलग हूं.

मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]कहानी का अगला भाग:जवान लड़की को चुदाई का नशा-2. रुचि भाभी के चेहरे पर मैंने अपनी मां के चेहरे को सोचा और बहुत ही कामुक रोल प्ले के लिए खुद को तैयार किया. मैंने भाभी जी की चुत में हाथ लगाया, तो चुत हॉट थी और गर्म गर्म रस छोड़ रही थी.

उतने ऊंचे घराने की लड़की को भला मैं क्या उपहार दे सकता था।फिर भी मैंने बात जितने के लिए कहा- तुम क्या चाहती हो, कहो तो सही! धरती अंबर तारे सितारे जो कहोगी तुम्हारे कदमों में बिछा दूंगा।खुशी ने कहा- तुमने कह दिया संदीप तो मुझे सबकुछ मिल गया.

अंजू जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … आईआ … आईहह … मम्मी … स्सस … उफ्फ … हिमांशु … आह्ह।मैं उसकी चूत को चाटता रहा और वो मेरे सिर को अपनी चूत में दबाने लगी. यहां तक कि अगर कोई लेट्रिन या बाथरूम में भी जाएगा, तो दरवाजे बंद नहीं करेगा. गांड मारने का जो सुख मेरी सगी बीवी ने मुझे कभी नहीं दिया था वही सुख उसकी छोटी सगी बहिन मुझे दे रही थी.

घड़ी बीएफ हिंदी मेंअब एक हाथ मेरा कभी भाभी की चूचियों को नापता, तो कभी उनकी चूत की फांकों को सहलाता. और फिर मुझसे कहा- आप कमरा देख लीजिए और फ्रेश होकर ब्रेकफास्ट कर लीजिए.

भैया ने चोदा

फिर मैंने उसको गाल पर जोर से तमाचा मारा और जाकर उसको कॉन्डम लाने के लिए कहा. भावना ने मुझ पर झुक कर फिर से माऊथकिस करना शुरू कर दिया और अनीता ने मेरी शर्ट ऊपर सरका कर मेरे निप्पल और पेट को सहलाते हुए मुझे चूमना शुरू कर दिया. मैं उसे छेड़ते हुए पूछा- क्यों नीचे आग लग गई है क्या?वो मेरी छाती पर मुक्का मारते हुए बोली- आग लगाने के बाद पूछ रहे हो कि आग लगी है.

मैंने उससे पूछा- घर में कोई नहीं है?वो बोली- नहीं, मैं घर में अकेली हूं. इस पर उसने बोला- उनको कैसे पता चलेगा? मैं बोलूँगा नहीं और तुम भी मत बताना. मैं तेजी से धक्के मारने लगा और वह बोलने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… और जोर से!करीब 20 मिनट तक मैं उसे इसी आसन में चोदता रहा.

मैं अपनी गांड उठा उठा कर सर के लंड पर उचक उचक कर अपनी चुदाई करवाने लगी. कहानी के विषय में अपनी राय देने के लिए अपने विचार आप कमेंट बॉक्स में लिखें. मेरी एक पाठिका ने तो यहाँ तक कहा कि उन्हें और उनके पति को अंडरगारमेंट्स पहने ही दो महीने हो गए.

अब आगे मेरी न्यू सेक्स स्टोरी इन हिंदी में पढ़ें कि कैसे मैंने दूसरी भाभी की चूत चोदी:उस दिन मैं सुबह सुबह अपने ऑफिस के लिए निकल रहा था. रवि ने कविता को अपने मुंह के ऊपर बिठाया और कविता की अनछुई जवानी में अपनी जीभ घुसा दी.

मैं तो कभी भी उनके होते हुए आपको ना तो मैसेज करूंगा और ना ही मिलूंगा.

खुशी के होने वाले पति वैभव ने भी अपनी शादी पर जबरदस्त बैचलर पार्टी की व्यवस्था की थी. बोनी लड़की की बीएफकुछ ही देर की चुसाई के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और मैंने उसकी चूत का सारा रस पी लिया. हिंदी बीएफ सेक्स वीडियो एचडीरमेश ने हल्का धक्का लगाया और आधा लंड उसकी बीवी की चूत के अंदर घुस गया. कुछ दिन के बाद फिर ऐसा ही खुला मौका मिला तो मैंने उसकी कुंवारी गांड की चुदाई भी कर डाली.

अपने दोनों हाथों से अपने मोटे चूचों को थामते हुए उसने दोनों चूचों को आपस में एक दूसरे से रगड़ दिया.

मेरी पिछली सेक्स कहानीएक अनजान लड़की को दिया सम्पूर्ण आनन्दमें भर भरके प्यार देने के लिए आपको धन्यवाद. जिससे उसको थोड़ा होश आया।होश में आते ही सबसे पहले मुझे महसूस हुआ जैसे मेरे लण्ड पर किसी ने गर्म पानी सा डालना शुरू कर दिया हो। मैं समझ गया कि दर्द के कारण किट्टू का पेशाब निकल गया था।मेरी तो जैसे गांड ही फट गयी थी. कमरे में आकर हम दोनों ने एक पैग का मजा फिर से लिया और नमकीन खाकर कुछ भूख मिटाई.

मैं- शशि, कहीं ये सपना तो नहीं है ना कि तुम मेरे पास, मेरी बांहों में हो और मैं तुम्हें प्यार कर रहा हूँ!भाभी- सपना नहीं है संजय … बस मुझे ऐसे ही प्यार करना. पहले तो उसने ना में गर्दन हिलायी लेकिन मैंने उसके होंठों पर प्यार से किस करके कहा- प्लीज जान … एक बार कर दे ना!दोस्तो, हसीनाओं को छेड़ने के नियम में मैंने ये पढ़ा था कि लड़कियों को कैसे अपनी बात के लिए मनाया जाता है. मैं सोच रहा था कि इतना उम्दा आनन्द तो सुहागरात में भी नहीं मिला था … जो मीता ने दिया था.

ई-मेल सेक्स

मौसाजी जाग जाते तो!मैं- मुझे पता था तुम ऐसा कुछ नहीं करोगी कि चाचा जग जाएं और तुमने वही किया. चूत चोदने के लिए लौड़ों का खड़ा होना जरूरी था इसलिए मैंने संजय को बोला- लगता है अब सालियों की एक बार फिर से चूत चुसाई करनी पड़ेगी. रुचि भाभी- जल्दी आना मेरे प्यारे बेटे!उसने अपनी गांड घुमा कर दायें हाथ से मेरी तरफ खोल दी और अपने बायें हाथ से मुझे बाय किया.

मैंने बैठे हुए शशि भाभी को अपने गले लगा लिया और वो भी बड़े आराम से मेरी गोद में लेट सी गईं.

मैं- मर्दानगी वाले जुल्म? ऐसा क्या करते थे वो तुम्हारे साथ?वानी- जब मैं पैंटरी में टी-बैग शेल्फ से उतार रही होती थी तो वो अपने खड़े लंड को मेरी गांड से रगड़ देते थे.

अगले दिन मैं स्कूल गयी और मुझे स्कूल के एक अलग कमरे में ले जाकर फिर से टीचर ने चोदा. जैसे ही भाभी ने खीरा अंदर डाला खीरे ने मेरी झिल्ली को फाड़ दिया और मैं दर्द से चीख उठी. ब्लू फिल्म बीएफ सेक्सी व्हिडिओकुछ देर में मैं चाय लेकर आई और हम तीनों ने चाय पी।इस दौरान केवल सचिन ही मुझसे बात कर रहा था।उसने हम दोनों का परिचय करवाया।एक दूसरे को देख हम दोनों बस मुस्कुरा रहे थे।हम लोगों ने चाय खत्म की और सचिन जाने के लिए उठा.

आकाश अपने रूम के अंदर नहीं गया बल्कि लड़कियों के रूम की तरफ गया तो उसे बाहर से ही रवीना और कविता की खिलखिलाहट सुनाई दी. मैं तो कभी भी उनके होते हुए आपको ना तो मैसेज करूंगा और ना ही मिलूंगा. और ये भी बताया कि जब मैं नहा कर नीचे आ गया था तो भैया भाभी बाथरूम में नंगे नहाये थे और भैया ने बाथरूम में भाभी की चुदाई भी की थी।इस तरह से बातें करते हुए हम लोग कब घर पहुँच गये, पता भी नहीं चला।दोस्तो, भाभी ने मम्मी से यहाँ तक कह दिया है कि विपुल की शादी मेरी एक सहेली से करवा दीजिये.

कभी एकांत में निष्ठा को पकड़ कर चूम लेता या उसके बूब्स मसल लेता, बस यही सुख रह गया था. इस पर वो चौंकते हुए बोली- ऐसा क्यों?मैंने बताया- आपकी बहन शर्माती बहुत ज्यादा है और मुंह में तो मेरा (लंड) कभी नहीं लेती। अब तो बहुत मुश्किल से उसे मैं लाइन पर लाया हूँ, वरना शुरू में तो उसका बिल्कुल मन ही नहीं करता था.

निष्ठा तुम यहीं लेट जाओ और इसे अपने दोनों हाथों से पकड़ लो मैं तुम्हारे ऊपर आ के इसे अपनी कमर से हिलाता रहूंगा तो दो मिनट में इसका पानी छूट जाएगा.

ये कहते हुए उसने नेहा को आँख मारी और फिर से मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया और उन्होंने हमारे लौड़ों को पकड़ कर हमारे दोनों के लौड़े बिल्कुल पास पास कर लिए. इतना कहकर मैंने उसे अपनी टांगों के पास खींच लिया और उसके सिर को अपनी जांघों के बीच वाले हिस्से की ओर कर लिया. ” इतना कहते हुए शांति ने अपनी साड़ी खोल दी और बालों में लगा क्लिप हटाकर अपनी जुल्फें बिखरा दीं.

सेक्सी बीएफ वीडियो भेजना मैं बोली- तो उड़ा न साले … भैन्चोद … मैं तो कब से लंड लेने के लिए तैयार हूं. कुछ देर मैं ऐसे ही भाभी के पेट पर अपने लंड को उनकी चूत के अंदर किए हुए लेटा रहा।थोड़ी थोड़ी देर में मैं भाभी के चूत के अंदर लंड का झटका सा मार देता था.

हम लोग अब सानिया को अपने यहाँ पक्के तौर ही रख लेंगे। वह इधर-उधर की बातें भी नहीं करती और घर का काम करने में वह गौरी से भी ज्यादा होशियार है।”सच्ची?”और नहीं तो क्या? तुम्हें विश्वास नहीं हो रहा ना?”नहीं ऐसी बात नहीं है. गुंजन को अपनी जांघों की ओर घुमाया और फिर उसकी चूत में लंड लगाकर उसे अपने से चिपका लिया. हमारे साथ जैसे बिन्दू उठकर चलने लगी, भाभी ने उसे कहा- तुम यहीं बैठो, मैं जा रही हूँ न!भाभी सीढ़ियों पर आगे आगे चढ़ने लगी.

सेक्सी वीडियो चोदते हुए

राजे तू तो एक अनोखा ही आइटम है … तूने यह टेस्ट देकर मुझे भावुक कर दिया … मैं बहुत किस्मत वाली हूँ जो तू मिल गया … कोई झूठा वादा नहीं, कोई चूत के पीछे पागलपन नहीं … मैं सदके जाऊँ तुझ पर राजे. मैं बोला- देखो सुमीना, मैं आगे बढ़ने से पहले तुम्हें अपने और शिवानी भाभी के बारे में बताना चाहता हूं. जब हम दोनों की दोस्ती और गहरी हुई, तो मैं भी उन्हें अपने घर ही बुला लेती.

पर ये पक्का था कि दर्द से उसकी माँ, बहन गांड सब फट चुका था।धीरे धीरे मैंने किट्टू के चुचूकों को सहलाना शुरू किया. लेखक की पिछली कहानी:मालिक की बेटी की कामवासनाप्यारे दोस्तो, मैं बहुत दिनों से सोच रहा था कि आपके साथ अपने जीवन का भाभी सेक्स एक सच्चा किस्सा साझा करूं.

पर तब तक शीला नीचे पड़ा टॉवल उठाकर एक तरफ रख चुकी थी और बेडशीट ठीक कर रही थी.

तभी कमल ने मेरे पेटीकोट को घुटनों तक उठा कर अपना हाथ मेरी जांघों में दे दिया और मेरी जांघों पर हाथ फेरते हुए मेरी चूत को टटोलने लगा. कुछ देर टीवी देखने के बाद मुझे लगा कि शायद निष्ठा कोई अपना प्रिय सीरियल देखती हो इसलिए मैंने टीवी म्यूट कर दिया और उसे आवाज लगाई. अपने होंठों से स्वरा के होंठ चूसते हुए मैंने लण्ड को स्वरा की बुर में धकेला.

उसने चूत के मुंह को लंड के सुपारे पर रखकर आगे से सीट के सिर को पकड़ लिया था. मैं उठा और उसका हाथ पकड़ कर उसे अपने बिस्तर पर ले गया। बिस्तर पर लेटते ही मैंने उसकी टी शर्ट फिर से ऊपर उठाई और इस बार तो बड़े अधिकार से उसके मम्मे पकड़े और दोनों खूब कस कस के दबाये भी और चूसे भी। उसने भी झट से मेरा लंड पकड़ा लिया, और खूब हिलाया।मैंने कहा- लवी, अब तो डलवा ले, अब सब्र नहीं होता।वो बोली- एक मिनट रुको चाचू, एक बार मुझे चूस लेने दो. मुझे बहुल मेल मिले, जिनसे साफ़ जाहिर था कि भाभियों और लड़कियों ने सबसे ज्यादा मजे किये हैं इस बीच.

और यह कह कर उसकी नाइटी को पीछे से उठाया और झट से लोअर में से लण्ड निकाल कर उसकी चिकनी गांड के ऊपर रख दिया.

बीएफ सेक्सी चुदाई बीएफ सेक्सी: इस पर पायल ने कहा- हां, खुशी दीदी ने आपके गले के लिए ये सोने की चैन भेजी है और कहा है कि आप घरातियों की तरफ से ही शादी में शामिल हों. मैं- चल कुत्ते, अब आगे आ और अपनी मालकिन के प्यारे से छेद को चाट ले.

मैंने पूछा- दोनों ड्रेस स्कूल वाली?सर ने मेरे गाल पर चिकोटी ली और बोले- नहीं रे पागल … बाहर पहनने वाली कोई दूसरी ड्रेस के लिए बोला है. जानते हो रमित, उसने इतने कम समय में मेरे साथ बहुत अच्छा वक़्त बिताया है. मैं बेड पर बैठा और स्वरा जमीन पर बैठ कर चाय पीने लगी तो मैंने जिद करके उसे बेड पर बिठा लिया.

ये कहानी उस वक़्त की है, जब मैंने जवानी की दहलीज पर कदम रखा था और गाज़ियाबाद में रहता था.

वो जांघों में मेरी गर्दन भींच कर गांड उठा उठा कर मेरे मुँह पर हल्के हल्के झटके देने लगी. मैंने कहा- चलो करते हैं?नेहा- बस 5 मिनट!उसने टोप ओर स्कर्ट पहनी हुई थी. मेरे सोफ्ट और गर्म हाथ उसकी गोटियों को सहलाने लगे और मैंने पीछे से उनको हाथ में भर लिया.