सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,गांव देहात की सेक्सी चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सुहागरात की सेक्सी ब्लू: सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो, मेरी बहन और मेरे बीच में काफी खुलापन था, तब भी मुझे डर लगता था कि अगर मैं अपनी बहन से सेक्स के बारे में पूछूंगा तो वो गुस्सा न हो जाए और घर में न बता दे.

सेक्सी सेक्सी सेक्सी पिक्चर फिल्म

उसके दूध बिल्कुल अमरूद जैसे छोटे छोटे होंगे, ये देखकर ही पता चल रहा था. जबरदस्त सेक्सी हिंदी मेंमैं मना करती रही, पर ससुर जी नहीं माने और अपना थूक छेद में लगाकर लंड डालने लगे.

अब मैंने जल्दी से अपनी चूत की सफाई की और किचन में आकर खाना बनाने लगी क्योंकि मेरे ससुर के खाने का समय हो गया था. सेक्सी में वीडियो वीडियोदोस्तो आज की कहानी ऐसे ही मेरे एक मित्र ने मुझे भेजी है, जिसे मैं आपके समक्ष प्रस्तुत कर रही हूं.

मैंने भाभी के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और उनकी रसभरी चूचियों को चूसते चूसते नीचे आने लगा.सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो: घर पे आंटी ने मुझे कम्प्यूटर दिखाया और बताया कि इसमें प्राब्लम है, आप चेक कर लो.

मेरे जिस हाथ में बेल्ट थी, उसी हाथ से बाकी बची हुई बेल्ट को मैं रेशमा की नंगी गांड पर मारने लगा.’‘क्यों क्या हुआ?’‘ऐसे में तो बहुत अन्दर तक घुस रहा है आआह …’‘कुछ नहीं … बस तू मजे ले.

भीम सेक्सी पिक्चर - सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो

मैंने दरवाजा खोला, तो आंटी बोलीं- राज मेरे रूम में आओ, तुमसे काम है.तीन दिन बाद शनिवार था तो पक्का हो गया कि शनिवार को दारू पार्टी होगी.

भाई बहन सेक्स में किसी किस्म का खतरा भी नहीं होता है और घर में ही सेक्स हो जाता है तो जगह की भी दिक्कत नहीं रहती है. सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो मेरा लंड काफी ज्यादा फंसा सा जा रहा था इसलिए मैं ज्यादा तेजी से नहीं चोद रहा था.

नीता बोली- ऐसे कैसे सोने दूँ हर्षद, मेरी चूत में तभी से बहुत खुजली हो रही है, जब से तुम्हारा मोटा लंड गीता की चूत फाड़ कर खून से और वीर्य से लबालब होकर चूत से बाहर आया था.

सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो?

मैं यही सब सोच रहा था कि वो अचानक फिसल कर मेरे ऊपर गिर गईं और मेरा लंड उनके गांड की दरार में सैट हो गया, जो पहले ही उनके बिना ब्रा की चूचियों के छूने से और उनके पसीने से भीग चुके सेक्सी गोरे रंग को देख कर और सूंघकर जोश में आ गया था. उसी समय चाचा की तरफ से कुछ हलचल हुई तो मैंने देखा कि वो उठ कर गए और चाची के ऊपर लेट गए. अगले दिन मैं फिर उसी तरह पहुंची लेकिन आज मुझे पहुंचने में थोड़ी देर हो गयी.

मैंने कहा- ये सब क्या है? आप ये सब क्यों कर रही हो?वो कुछ नहीं बोलीं और फिर से लंड चूसने लगीं. मैंने मिहिरा से कहा- चलो अब सीरीस कंप्लीट देख लें?तो वो बोली- अभी रहने दो. वो बोलने लगीं- एक रात में मैं आई थी, लेकिन ललिता पहले से अन्दर चुदवा रही थी, तो मैं चुपचाप चली गई थी.

रेशमा ने फिर से मेरे दोनों गालों पर चुम्मी धर दी और कपड़े पहनने लगी. धारा ने अपने आप को थोड़ा हिला डुला कर इस तरह से पोजिशन बनायी कि वो घोड़ी की तरह चौपाया बन गयी और अपने भारी भरकम नितम्बों को शेखर के मुँह की तरफ़ कर दिया और अपना मुँह शेखर के पैरों की तरफ़ करके उसके लंड को अपनी जीभ से लपलपा कर चाटने लगी. पर वो तीनों असली मर्द थे, व्हिस्की और स्कॉच पीने वाले!उन्होंने कहा- ब्रीज़र तो नहीं है.

अब मैंने अपना हाथ हल्के से उनके पेट से ले जाते हुए उनकी चूत के आस-पास फिराने लगा।मैंने चोर नजर से अनुराग की ओर देखा तो वह देख कर हल्के से मुस्कुरा रहा था. जबरदस्ती जांच करवाने को कहती हूं तो मुझे और मेरी दीदी को मारते पीटते हैं और कहते है कि वो नामर्द नहीं है। हमारा खानदान ही बांझ है। हम दोनों अपनी मां बाप के बच्चे नहीं है इस तरह की गाली देते हैं।और सोनम रोने लगी.

मेरा एक हाथ उसकी कमर को थामे हुए था और दूसरा हाथ उसके मस्त गदराए चूतड़ को सहला रहा था.

पहला नाम मैंने समीर भैया का लिखा क्योंकि मुझे अपनी बुर की सील उनके ही लंड से तुड़वानी थी.

उसने नीचे शॉर्ट्स और ऊपर टी-शर्ट पहनी हुई थी, जिसमें उसका गदराया हुआ 36-30-38 का फिगर कातिलाना लग रहा था. मैंने उससे ये वादा भी कर लिया कि चाहे कुछ भी हो जाए, मैं तेरी और तेरे घर की इज्जत को बचाने के लिए कुछ भी कर सकता हूँ. धारा ने अपनी छोटी सी झीनी नाइटी के अंदर कुछ पहना तो था नहीं, तो जब वो घोड़ी की तरह झुक कर शेखर के लंड को चाटने का मज़ा ले रही थी उस वक्त वो अपनी नितम्बों को मटका-मटका कर शेखर को ललचा रही थी और झुकने की वजह से उसकी चिकनी चूत की झलक भी शेखर को दिखा रही थी.

हर धक्के के साथ देविका का सर ऊपर नीचे हो रहा था, साथ में उसके स्तन भी झूल रहे थे. गीता की बातें सुनकर मैं और जोश में आ गया और उसके दोनों स्तनों को बारी बारी से जोर से चूसने लगा. मेरे गर्म वीर्य की पिचकारियों का अहसास पाते ही उसी समय देविका भी झड़ गयी.

मैं सोचता रह गया कि क्लास का टाईम 4 बजे का है और ये इतनी जल्दी जाकर क्या करना चाहती है.

आंटी आहह आहहह करके अपनी गांड आगे पीछे करने लगी थीं और मेरे हर झटके का जवाब देने लगी, Xxx गांड का मजा लेने लगी. मैंने कहा- चाची, लंड की जरूरत है न!चाची बोलीं- हां जय, जब से तुमने मेरी पैंटी में मुठ मारी थी, मैं तभी तुम्हारे लंड के लिए तड़प रही हूँ. सोनी मेरी तरफ देखते हुए अपना चेहरा उचका कर इशारों में ही पूछा कि क्या हुआ?मैंने भी अपना सर ना में हिलाकर बता दिया कि कुछ नहीं.

नमस्कार दोस्तो, मैं सुधा फिर एक बार अपने एक हसीन इत्तफाक को बताने के लिए आप लोगों के सामने हाजिर हूँ. उस समय मेरी मम्मी ने मुझसे पूछा भी कि पूजा क्यों नहीं कर रहा है तो मैंने बहाना बना दिया कि मन नहीं कर रहा है. क्योंकि हम पहली बार मिल रहे थे तो हम एक दूसरे से इतना खुले भी नहीं थे.

ये सुनकर मैं भी राज़ी हो गयी थी कि एक साथ बाप बेटे का लंड लेकर भी देख लूंगी.

मैंने कहा- मैं तो आपको बहुत सती सावित्री समझता था और आप एक ब्वॉयफ्रेंड से बात करती हो!मॉम बस सॉरी सॉरी बोल रही थीं. भाभी- अच्छा, क्या उनके साथ आप अभी भी करते हो?मैं- हां, पर अब कभी कभी ही मौका मिलता है.

सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो अपनी सगी बड़ी बहन के सामने छोटी से लुल्ली लेकर गर्दन झुकाकर वो मेरे लौड़े को घूर रहा था. सीमा मुझ से 2 साल बड़ी थी और मुझे उसके बदन में सबसे अच्छे उसके बड़े बड़े स्तन लगते थे, उसके बिग बूब्स का साइज 36D था.

सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो मैं गया और पीछे से उनसे चिपक कर उस दिन के लिए सॉरी बोलने लगा क्योंकि उस दिन के बाद मॉम मुझसे बता नहीं कर रही थीं. भैया ने पास में लगी ड्रेसिंग टेबल पर रखी सरसों के तेल की शीशी को उठाया और ढेर सारा तेल अपने लंड पर लगा लिया.

तभी मैंने उनके चेहरे को देखा तो ऐसा लग रहा था जैसे ये मेरी मौसी नहीं, कोई जन्नत की परी हों.

अक्षरा सीरियल

मर्दो को तो मजा आएगा ही क्योंकि लंड को जो अहसास चूत के अन्दर मिलता है, वो कहीं और कहां मिलेगा. शुरू शुरू में मुझे स्कूल में परेशानी हुई … यहां मेरा कोई दोस्त या कोई जान पहचान वाला नहीं था. पिछले भागदोस्त की मौसी की चूत फाड़ दीमें अब तक आपने पढ़ा था कि देविका मौसी को मैंने सारी रात रगड़ कर चोदा था.

मैं उसकी मक्खन चूत को चाटने लगा, उसकी चूत मुझे इतनी प्यारी लग रही थी कि मुझसे रहा नहीं जा रहा था. तकरीबन आधा घंटा बाद आसिफ फिर से कमरे में तान्या को लेकर आया और बोला- इसका मेकअप फिर से ठीक कर दे. यहां मैं एक बात बताना चाहती हूं कि मेरे पति जब डयूटी चले जाते थे तो मैं मकान मालकिन, जिन्हें आंटी कहती थी, के साथ बैठ गपशप करके समय बिताती थी.

मैं कमरे में गया तो भाभी ने बेड में नई बेडशीट बिछाई थी और पूरा कमरा इत्र की सुगंध से महक रहा था.

गीता की बातें सुनकर मैंने कहा- हां गीता, तो हम क्यों अपना समय बर्बाद कर रहे हैं. पहले तो उसने सिर्फ फातिमा पर अपना जोर चलाया और हमारी बातें कम हो गईं. मैंने भाभी से पूछा- भाभी मैं अपना माल कहां निकालूं?भाभी बोलीं- मेरी चूत में ही निकाल दो … मेरी चूत काफी दिनों से प्यासी है.

मैंने पूनम से पूछा- तुमको कैसे पता लगा कि लंड से अब पानी निकालने वाला है?उसने जवाब दिया कि मैं शादीशुदा हूँ … मैंने अपने पति का लंड बहुत चूसा है. मैं सोचने लगा कि साला मैं गधा, बगल में इतनी मस्त माल को छोड़ दूर की तितलियों को निहारता रहा. पापा के दोस्त राजेश अंकल भी हफ्ते में एक दिन आकर मुझे खुश करके जाते हैं.

मैं आमोद कुमार आपको अञ्जलि के साथ होने वाली चुदाई कहानी के इस भाग में आनन्दित करने हाजिर हूँ. गांड का छेद चौड़ा करते हुए रेशमा ने खुली गांड से पाटिल जी के लौड़े का स्वागत किया.

चूंकि स्कूल में लड़कियों की यूनिफॉर्म स्कर्ट टॉप वाली थी, तो मैं आसानी से उसकी स्कर्ट उठा कर उसके चूतड़ों और बुर को मसल देता था. हिंदी सेक्सी चूत पोर्न कहानी मेरे दोस्त की जवान कुंवारी बहन की चुदाई उसी के सामने की है. तभी अञ्जलि चुदती हुई चीखकर कराही- आह्ह … ओह्ह … कम ऑन बेबी … फक … आह्ह … फक मी … आह्ह … यस … आह्ह … ओह्ह … फक … आह्ह फक मी फास्ट … उईई मांआआ मैं मरी रे … उईई ईईई!अञ्जलि की चूत झड़ गई.

वहां जाकर मैंने सपना से पूछा- अब भी दर्द है क्या?सपना- अब तो ठीक हूँ.

प्लीज़ एक बार दिखाओ न!मेरा भी मूड बन गया था, मैंने अपना पैंट खोला और मोटा लंड निकाल कर बहन को दिखा दिया. थोड़ी देर बाद मनीष ने मेरी चूत से लंड निकाल लिया और मेरी गांड के छेद पर अपना लंड को टिका कर धक्का मार दिया. मेरे काफी कहने करने पर भाभी जी लंड चूसने के लिए मान गईं और हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.

उसके बाद उस अस्पताल वाली नर्स और मेडिकल स्टोर वाली मोहतरमा की चुदाई को भी लिखूंगा. उनके चेहरे की मासूमियत मुझे ऐसी लग रही थी कि वो कदाचित एक छोटी ब च्ची हों, जिसको जिद के चलते कोई खिलौना चाहिए मतलब चाहिए ही हो.

जब मैं तुमको उसके सामने चोदूंगा तो तुम इस सबका इल्ज़ाम शिराज पर डाल देना. हमारे पहुंचते ही उन्होंने नीरज को भी शराब का ग्लास पकड़ाया, मुझसे पूछा कि मैं क्या पियूंगी. मैंने कहा- क्या मतलब?वो बोली- मुझे भी जरूरत है जीजू … बहुत दिन से मैं भी प्यासी हूँ.

वीडियो ओपन सेक्सी ब्लू

ये धारा का ही असर था शायद या फिर इतने सालों में गांड मारने की उसकी तमन्ना पूरी होने की ख़ुशी!खैर जो भी हो, चुदायी का तूफ़ान शांत हो चुका था और कमरे में सिर्फ़ धारा और शेखर की तेज-तेज साँसों का शोर सुनाई दे रहा था.

लगभग 10 मिनट के बाद उनकी चूत ने अपना कामरस निकाल दिया जो बहता हुआ बाहर मेरे टट्टों पर आ रहा था. कुछ देर दूध चूसने के बाद चाचा ने चाची की चड्डी भी उतार दी और खुद भी पूरे नंगे हो गए. ऐसा ही कुछ दिनों तक चला, फिर अचानक से समय ने करवट बदली और यशवंत भैया को किसी कारण से समस्तीपुर छोड़कर अपने गांव जाना पड़ा.

Xxx गांड का मजा मैंने लिया पड़ोसन आंटी की अनचुदी गांड मार कर! चूत चुदाई के बाद मैं आंटी के चूतड़ों पर हाथ फेरने लगा तो मेरा मन गांड में लंड घुसाने को हो गया. जल्दी से तैयार हो जाओ, या ऐसी नंगी घूमने चलोगी?रेशमा- वीरू जी, आज से ये रेशमा आपके इशारों पर नाचेगी. आदिवासी सेक्सी वीडियो जंगल कीतो मैंने अपने लंड को शांत और पैंट को सही किया।हम दोनों जेंट्स सेक्शन में जाकर कुछ जीन्स, पैंट, शर्ट और टीशर्ट पसंद की तो सोनम मुझे चेंजिंग रूम में चेक करने के लिए भेज दिया।मैं जीन्स और टीशर्ट पहन कर बाहर आया तो सोनम को पसंद नहीं आया।तो सोनम मेरे चेंजिंग रूम के अंदर आ गई- इसे उतारो, दूसरा पहनो.

हाँ इतना ज़रूर देख सका कि धारा एक नाइटी में अपने चेहरे पे मास्क पहने बैठी है. फिर मैंने जल्दी-जल्दी अपना काम खत्म किया और नहा धोकर उसके घर चला गया.

फिर मेरा होने वाला था, मैं पूछा- रबड़ी किधर निकालूं डार्लिंग?चाची बोलीं- अन्दर ही टपका दो राजा. रेशमा- चलिए आप तो कुछ करने वाले तो हो नहीं, जाइये बोल दीजिये पाटिल जी को कि रेशमा तैयार है उनके नीचे बिछने को. आज मेरी लाइफ का ये फर्स्ट टाइम था जब मैं किसी की जुबान को चूस रही थी.

शायद उम्र के हिसाब से उनकी शक्ति कम हो गयी थी तो वो खुद बिस्तर पर लेट गए और उन्होंने रेशमा को उनके ऊपर आने का इशारा किया. मैंने बाईक स्टार्ट की और उसे मेट्रो स्टेशन तक बातें करते हुए छोड़ दिया. अञ्जलि ने भी अपनी स्पीड बढ़ाते हुए थप थप थप की आवाज करती हुई लंड सवारी शुरू की.

भाभी ने भी मुस्कान देते हुए अपनी नजरें झुका लीं और धीमे से बोलीं- मी टू.

भाभी बहुत मुश्किल से उठीं और उन्होंने पास रखा एक रुमाल उठाया और बेड पर लगे हुए खून को साफ किया, अपनी बुर को साफ किया … और फिर ऐसी ही नंगी अपने बाथरूम में लंगड़ाती हुई चली गईं. अपने बर्थडे के ठीक दो दिन पहले मैं अपने दोस्त के साथ लॉज के बारे में इन्क्वायरी करने के लिए निकल गया.

शिराज हमारे सामने आ गया और अपनी बाज़ी की चुदाई देख कर बेशर्मों की तरह लुल्ली हिलाने लगा. मैंने धीरे से कान में कहा- आई लव यू जान … तुम्हें दर्द नहीं होगा, बल्कि मजा आएगा. मेरे ऑफिस में एक बड़ा सा रूम भी है, जहां पर बेड टीवी, सोफे सब लगे हुए हैं.

जाने से पहले मम्मी ने मेरे खाने आदि का पूछा तो मैंने कहा कि मैं बाजार में खा लूंगा. कोई कंप्यूटर भी खाली नहीं था जिस पर मैं प्रैक्टिस करके टाइम बिता सकूं. मेरी पिछली सेक्स कहानीट्रेन में मिली हॉट मॉडर्न भाभी की चूत चुदाईआपको अच्छी लगी और आप लोगों के मेल भी आए, उसके लिए आप सभी का धन्यवाद.

सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो मैं चूत के आजू बाजू अपने होंठों से चूमने लगा तो गीता सिहरकर आहें भरने लगी. मैंने स्कर्ट थोड़ी और ऊपर की और खुद को थोड़ा ठीक करके दरवाज़ा खटखटाया.

दिल्ली की हिंदी सेक्सी फिल्म

चाची का गहरे गले वाला ब्लाउज भी पूरा भीगा हुआ और साड़ी का पल्लू भी उनकी कमर पर बंधा था जिससे चाची के मम्मे बड़े ही कातिल लग रहे थे. मैं अभी भी सोनी की आंखों में ही देख रहा था और समझने की कोशिश कर रहा था कि सोनी ने ऐसा क्यों किया?मैंने अपनी भौंहों को ऊपर करके इशारे में पूछा- क्या हुआ?मेरे सवाल के जवाब में सोनी ने मेरा हाथ पकड़ कर अपने एक मम्मे पर रख दिया और अपनी आंखें बंद कर लीं. मॉम मेरे लंड को सहलाने लगीं और बोलने लगीं- तनु, तूने मुझसे पहले क्यों नहीं बोला कि तू मुझे चोदना चाहता है?मैंने कहा कि एक दो बार बोलना चाहा लेकिन हिम्मत नहीं कर पाया.

मैं यहां लंड मसलता, बदले में वो वहां चूचे भींचती और चूत में उंगली करती. फर्स्ट सेक्स Xxx अनुभव के बाद भाभी आंसुओं से भरी आंखों से भैया को देखती रहीं. माधुरी दीक्षित का एक्स एक्स वीडियोसंडे को पास के पार्क में छिपाकर रखी हुई मेरी क्रॉसड्रेसिंग किट ले आई.

फिर मेरे पास आकर बोला- जीजी, क्या हम लोग एक बार और वही गलती कर सकते हैं?मैं कुछ बोल ही नहीं पा रही थी.

उस दिन उसने लन्ड खूब जोर से चूसा और जैसे ही पानी निकला उसने सारा का सारा पी डाला।प्रिया– अरे वाह मजा आ गया। क्या टेस्टी रस रहता है ये तो! अच्छा हुआ आज मेरी सहेली का फोन आया और उसने मुझे सीमेन पीने की सलाह दी. ये सुन कर दिल को तसल्ली हुई कि चलो कल भी इस खूबसूरत हसीना का दीदार करने का मौका मिलेगा.

वो सारा रस पी गयी और मेरे लंड को चाट चाट कर मेरी बहन ने साफ़ कर दिया. धीरे धीरे उसको चूमते हुए मैंने उसका ड्रेस नीचे की तरफ खींचना चालू कर दिया. मैंने कई बार महसूस किया था कि समीर भैया का सामान बहुत मोटा था जिसको लेकर मुझे मज़ा भी आएगा और इतने मोटे सामान से चुदने के बाद बाकी सबके लंड का सामना मैं बड़ी आसानी से कर सकूँगी.

उसके अनुसार उसके पति आर्मी में हैं और साल में एक या दो बार ही घर आ पाते हैं.

ये नंगी भाभी सेक्स कहानी मेरे मकानमालिक की पुत्रवधू के साथ मेरी पहली चुदाई की है. फिर उसने मेरी तरफ देखा और प्यारी सी स्माइल देकर वह अन्दर दूसरे कमरे में चली गयी. एक दिन जब मैं ताऊ जी के घर गया तो मैंने भाभी को पहले ही देख लिया था कि भाभी बैठी हुई है.

दिल बनाना सिखाएंआज मैं बस तुम्हारा हूं, तुम मेरे साथ जो चाहो करो, मैं मना नहीं करूंगा. मैंने उसका हाथ पकड़ कर पूछा- कहां थी तुम … और फोन क्यों नहीं उठाया?उसने जवाब दिया कि वो अपनी बहन का मेकअप कराने में बिजी थी और फोन पिक नहीं कर पाई.

सेक्सी वीडियो देखने वाला मारवाड़ी

शिराज हल्के हल्के से अपने बहन की चूत को साफ करने लगा, तो मेरा ध्यान भी साबिरा की चूत की तरफ गया. उसकी शादी के बाद से ही हम दोनों में खूब जमती थी क्योंकि आपको तो पता ही है कि सलहज और जीजा में कुछ ना कुछ तो चलता ही रहता है. मैं भी अब पूरे जोश से झटके लगाने लगा और चुदाई की आवाज़ आना तेज हो गई.

उसने मुझे अपने पास बुलाया और बोली- माशाल्लाह … क्या चिकना और सुंदर लौंडा है. मेरी इस सेक्स कहानी में आपने शायद ये समझ लिया होगा कि मुझे कितने मर्द मिलने वाले हैं, जो मेरी चूत का भुर्ता बना देंगे. उसने मेरी गांड कैसे मारी और मुझे उससे कैसा लगा?हैलो फ्रेंड्स, मैं निखिल एक बार फिर से अपनी चुदाई कहानी में आपका मनोरंजन करने के लिए हाजिर हूँ.

इतने में मौसी ने मेरा लंड पकड़कर मेरी मॉम के सामने मुझे खड़ा कर दिया और बोलीं- एक बार चूसकर देख बहना, तेरे लड़के का लंड कितना रसीला है. मैं उसका सारा पानी पीने में खुद को तैयार करने लगा और जोर जोर से चूत को चाटने लगा. हाँ इतना ज़रूर देख सका कि धारा एक नाइटी में अपने चेहरे पे मास्क पहने बैठी है.

सचमुच हर्षद, तुम बहुत शातिर चोदू हो, बिल्कुल शादीशुदा अनुभवी मर्द के जैसे बहुत देर तक चुदाई करते हो. आंटी बोलीं- बाप रे!मैंने कहा- क्या हुआ?वो बोलीं- तेरा लंड तो बिल्कुल तैयार है.

मैंने नीता से कहा- क्या करें मौसम ही ऐसा बन गया था कि हम दोनों भी मजबूर हो गए थे.

मैंने होटल वालों से कहकर झट से एक कैब बुक करवा ली और रेशमा को लेकर पाटिल साहब के बंगले की तरफ निकल पड़ा. सेक्सी पिक्चर 2 साल लड़कीउसके बाद क्या हुआ?हाय फ्रेंड्स, आप लोगों को मेरा प्यार भरा नमस्कार. सेकसी लडकीयामैंने भाभी से पूछा- भाभी मैं अपना माल कहां निकालूं?भाभी बोलीं- मेरी चूत में ही निकाल दो … मेरी चूत काफी दिनों से प्यासी है. बिजली की फुर्ती से उसने अपना लंड मेरी गांड पर लगा कर मेरे दूध पकड़ लिए.

यही सब सोचते सोचते मैंने भी एक की जगह अनेक लंडों से चुदने की सोच बना ली.

वो नीचे की तरफ सीढ़ियों पर खड़ी होकर एक से दस तक गिनने लगी और हम सब छुपने लगे. जैसे ही किरण की नजर मुझ पर गयी, तो वो भी बिस्तर से नीचे उतर कर मेरे पास आ गयी. पांच मिनट तक चोदने के बाद उसने अपना मुँह मेरी चूत में घुसा दिया और जोर जोर से चूत चाटने लगा.

वो अपनी गांड हिला कर लंड को बार बार चूत में सैट करने की कोशिश कर रही थी और मैं उसकी चूत से लंड को हटा कर इधर उधर कर देता था. शायद उसकी तेज चीखें भी निकल रही होंगी क्योंकि उसके चेहरे की भंगिमाएं बता रही थीं. ऊपर से दो कातिल चूचियाँ … जो धारा के आगे पीछे होने की वजह से थिरक-थिरक कर माहौल को और भी हवस से भरपूर बना रहे थे.

महिला पुरुष का सेक्सी वीडियो

लेकिन फिर तुम्हें गांड भी मरवानी पड़ेगी।प्रिया- ठीक है … उसके लिए कहीं विदेश ले चलो; वहां गांड भी मरवा लूंगी।मैं- ठीक है. मैंने जैसे ही झटका मारा, मेरा लंड भाभी की गांड में आधे से अधिक अन्दर घुस गया. इस वक्त तक बॉस का लंबा चौड़ा लंड बिल्कुल शांत होकर ढीला पड़ चुका था.

अपनी चुदाई करवाने में मुझे भी अब काफी मज़ा आने लगा था, इसलिए अब मैं हमेशा चुदवाने के लिए तैयार रहती थी.

मेरा हाथ सरकता हुआ उसकी चूचियों को टटोल रहा था और उसके हाथ मेरी पीठ से धीरे-धीरे मेरे लंड तक पहुंच गए.

मजाक मजाक में वो मुझसे गर्लफ्रेंड को लेकर बात करने लगती थी तो मैं उससे कह देता था कि मुझे गर्ल फ्रेंड बनाने में कोई दिलचस्पी नहीं है. मैंने कहा- कभी कहा ही नहीं भाभी आपने … मैं खुद कबसे आपके जिस्म को भोगना चाहता था. राजस्थानी सेक्सी चलने वालीदूसरे दिन सुची और उसका भाई सौरभ अपने पापा के साथ घर चले गए क्योंकि उनकी छुट्टी खत्म होने वाली थी.

मैं- ठीक है जस्सी, लेकिन मुझे एक बात समझ में नहीं आ रही है कि क्लास 2 बजे है, मुझे मैडम ने फोन या मैसेज क्यों नहीं किया?जस्सी बोली- घर चलो पहले. मेरी मॉम ‘ऊईई ऊईई …’ चिल्ला कर कराहने लगीं और बोलीं- आंह बाहर निकाल ले तनु … दर्द हो रहा है. लंड चूत की चुसाई के बाद मैंने मॉम को सोफे पर लिटा दिया और चोदने लगा.

मुझे शर्माते हुए देखकर भैया ने कहा- तुम इन सबको अभी पहनो, उसके बाद केक काटना. Xxx चाची चुदाई कहानी में पढ़ें कि पढ़ाई के लिए मैं चाचा के घर रहता था.

लगभग एक पैग के बराबर शराब अपने लन्ड पर डाल दी थी जो निधि आराम से पी गई.

सरिता झूठे गुस्से से बोली- हटो हर्षद, मुझे बहुत काम है … प्लीज़ छोड़ दो मुझे. अञ्जलि ने अपनी चूत को लंडसवारी करवाने के लिए चूत के छेद में लंड को सैट किया और ‘आहहह …’ की आवाज करती हुई लंड पर बैठ गई. जब नीता स्वस्थ हो गयी तो वो अपने हाथों से मेरी गांड को मसलने लगी थी और साथ में मेरी गांड के छेद में अपनी उंगलियां फिराने लगी.

ಫೋಟೋ ಸೆಕ್ಸ್ मुंबई के ट्रैफिक में से रास्ता निकालते निकालते हमारी गाड़ी पाटिल जी के बंगले तक पहुंच गई. नंगी सेक्सी लड़की की कहानी में पढ़ें कि मेरे बिजनेस सहयोगी ने मेरी सहायिका के बदले अपनी सेक्सी PA मुझे सौम्प दी चुदाई के लिए.

कुछ देर बाद मुझे उसने फिर से सीधा लिटा दिया और कमर के नीचे तकिया रख कर मेरी टांगें फैला दीं और लंड अन्दर घुसा दिया. मेरी छोटी बहन मोनी छुपी रही क्योंकि उसे ढूंढने वाली हमारी साथ गांड रगड़वा रही थी. दूसरे आशिक से लड़ाई तीन महीने में ही हो गई थी। दूसरा आशिक मुझसे 3 साल छोटा था और उसे लगता था कि मैं उसकी गर्ल फ्रेंड हूं, उसकी जागीर।उसकी इस तंद्रा को मैंने जल्द ही छिन्न भिन्न कर दिया।अब जिस्म की प्यास बढ़ने लगी थी.

सेक्सी फॉरेन सेक्सी

वो मेरी ओर मुस्कुरा कर देखने लगीं और उसके बाद संजीदा हो गईं- हां ये तो है, पहले सैटल होना जरूरी है, फिर तो एक से बढ़ कर एक मंडराने लगेंगी. भाभी- अच्छा, क्या उनके साथ आप अभी भी करते हो?मैं- हां, पर अब कभी कभी ही मौका मिलता है. तो फ्रेंड्स, मैं आपको अपनी इस Xxx मास्टर सेक्स कहानी के अगले भाग में लिखूँगी कि उस दिन मेरे साथ क्या क्या हुआ.

जबरदस्ती जांच करवाने को कहती हूं तो मुझे और मेरी दीदी को मारते पीटते हैं और कहते है कि वो नामर्द नहीं है। हमारा खानदान ही बांझ है। हम दोनों अपनी मां बाप के बच्चे नहीं है इस तरह की गाली देते हैं।और सोनम रोने लगी. मैंने अंडरवियर भी नहीं पहनी थी, तो पजामे में मेरा लंड तम्बू बना रहा था.

दो और पैग वन्दना ने पिए और अचानक से उठ कर उसने भी अपनी ब्रा और पैंटी खोल दी.

आंटी ने बताया कि उन्होंने ललिता जी को मेरे रूम में आता देख लिया था और उनको पता चल गया था कि मैं ललिता जी को चोदता हूं. धारा अच्छे से जानती थी कि शेखर के मुँह में उसकी चूत को देख कर ढेर सारा पानी आ रहा होगा और वो उसकी मुनिया को अपने मुँह में भरने के लिए तड़प रहा होगा. अब मेरा लंड भी पूरे तनाव में आ गया था तो गीता की चूत से टकराने लगा था.

तभी लंड ने ज्वालामुखी छोड़ दिया, वीर्य की पिचकारियां गांड में निकलने लगीं. मैं जानता था कि उसे काफी तकलीफ होगी इसलिए मैंने उसे पूरी तरह से जकड़ लिया था ताकि वो हिल ना सके. फिर मैंने तकिए को उसकी गांड के नीचे से निकाला, जिस पर बहुत ज्यादा खून गिरा हुआ था.

मैं नंगी ही रही और दरवाज़ा बंद करके वापस अपने बिस्तर पर नंगी ही आकर लेट गयी.

सेक्सी पिक्चर वीडियो बीएफ वीडियो: मैंने भी साबिरा से कहा- अभी तू बाहर जा और देख तेरी अम्मी सोई या नहीं. जब भैया की शादी हुई तो मैंने सोचा क्यों ना भैया की सुहागरात देखी जाए.

पाठको, मैं राज शर्मामेरी पिछली कहानीपड़ोसन आंटी ने मुझे फंसाकर चूत चुदवा लीमें आपको अपनी पड़ोसन आंटी की चूत गांड चुदाई की कहानी बता रहा था. अब मैंने आंटी के पैरों को मोड़कर चोदना शुरू कर दिया, इससे आंटी दर्द से ‘आहहह उईई …’ करके चिल्लाने लगीं. तान्या ने दुबारा से मेरा मेकअप सही कर दिया और इसके बाद वो एक तेल की बोतल रख कर कमरे से चली गयी.

उसके बाद आसिफ भी मेरी गांड में झड़ गया और मुझे आगे गिरा कर मेरी पीठ पर ही लेट गया.

पर उसके शरीर से सलवार को अलग करने के लिए भी मुझे सोनी के सहायता की ज़रूरत थी. मैंने दीपाली के बाल पकड़े और तेज़ तेज़ धक्के लगाते हुए गालियां देने लगा- ले बहन की लवड़ी, तेरी गांड को तो मैं आज सुजा दूँगा … साली रंडी बना दूंगा तुझे!मैं अपने एक हाथ से उसके बाल पकड़ कर उसको बहुत तेज़ तेज़ चोदने लगा और कुछ मिनट के अन्दर ही दीपाली की गांड में लंड रस झाड़ दिया. भाभी मेरे होंठों से अपने होंठों को छुड़ा कर चिल्लाने लगीं- आंह दर्द हो रहा है … मैं मर जाऊंगी.